विश्व ओजोन दिवस, जाने धरती पर जीवन जीने के लिए कितनी जरूरी है ओजोन परत

विश्व ओजोन दिवस का इतिहास


हर साल 16 सितंबर को विश्व ओजोन दिवस मनाया जाता है. यूनाइटेड नेशन के द्वारा 23 जनवरी, 1995 को आम सभा में पूरे विश्व में ओजोन परत के प्रति लोगों में जागरूकता लाने के लिए 16 सितंबर को विश्व ओजोन दिवस के रूप में मनाने का प्रस्ताव पारित किया गया था. उस समय पर लक्ष्य रखा गया कि पूरी दुनिया में 2010 तक ओजोन फ्रेंडली वातावरण बनाया जाए. हालांकि आज इतने सालों बाद भी हम अपने लक्ष्य से काफी दूर है. ओजोन परत को बचाने की दिशा में विश्व ने उल्लेखनीय कार्य किया है. हम हमेशा से सुनते आ रहे है कि प्राकृतिक वातावरण में मनुष्य को अपना दखल नहीं देना चाहिए और यह बात सच भी है. हमारी सुरक्षा के लिए पृथ्वी पर सभी मनुष्यों को सुरक्षा कवच के बीच में रखा गया है. जिससे लोग आज कल प्रदूषित करते जा रहे है. ओजोन परत के बारे में भले ही लोग ज्यादा कुछ नहीं जानते लेकिन इतना जानना सबके लिए बेहद जरूरी है कि यह पृथ्वी और पर्यावरण के लिए एक सुरक्षा कवच का कार्य करता है. 

क्या है ‘ओजोन परत

‘ओजोन परत’ हमारे पृथ्वी के वायुमंडल की एक परत है और ‘ओजोन’ आक्सीजन के तीन परमाणुओं से मिलकर बनने वाली एक गैस है. ओजोन परत हमें सूरज से आने वाली अल्ट्रावायलेट किरणों से बचाती है. 1913 में फ्रांस के भौतिकविदों फैबरी चार्ल्स और हेनरी बुसोन ने ओजोन परत की खोज की थी. क्या आपको पता है ओजोन वायुमण्डल में बहुत ही कम मत्रा 0.02% में पाई जाती हैं. हमारी पृथ्वी से लगभग 30-40 किमी की ऊंचाई पर ओजोन गैस का 91% हिस्सा एकसाथ मिलकर ओजोन की परत का निर्माण करता है.

और पढ़ें: जाने क्यों मनाया जाता है अंतर्राष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस, साथ ही जाने नागरिक अधिकारों के बारे में

जाने ओजोन के हमारे स्वास्थ्य और पर्यावरण पर प्रभाव

  1. सांस लेते समय ओजोन के अंदर जाने से हमारी छाती में दर्द, खांसी, गले में जलन और सांस की नली में सूजन आदि हो सकती है.
  2. इसके कारण हमारे फेफड़ों के काम करने की गति में कमी आ सकती है.
  3. ओजोन ब्रोंकाइटिस और अस्थमा के रोगियों के लिए काफी खतरनाक होता है.  
  4. ओजोन के कारण आपको कार्डियोवैस्कुलर बीमारी हो सकती है. जो कि आपके दिल को प्रभावित कर सकती है.
  5. ओजोन वनों, पार्कों, वन्यजीवन इत्यादि सहित वनस्पति और पारिस्थितिक तंत्र को नुकसान पहुंचाती है.

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments