विश्व स्वास्थ दिवस-चलो स्वस्थ जीवन की ओर

0
98
world health day

विश्व स्वास्थ दिवस फैलाएगा जागरूकता


रोजमर्रा की भागदौड़ भरी ज़िन्दगी में अपने स्वास्थ पर ध्यान देना तो मानो जैसे लोग भूल ही गए है अपने स्कूल कॉलेज और  दफ्तर के 10 से 6 वाले रूटीन के बाद जब कुछ वक़्त मिलता है तो भी लोग अपनी जिंदगी की बची जिम्मेदारियों में लग जाते है ऐसे में हमारे शरीर का क्या? जो दिन रात हमारे लिए काम करता है और थकता है। शरीर को हर बार नज़र अंदाज़ कर दिया जाता है अच्छी सेहत की बात तो सभी करते है लेकिन किसी के पास अब वक़्त नहीं है  इसलिए आज 7 अप्रैल को दुनिया भर में स्वास्थ और चिकित्सा की जागरूकता  फ़ैलाने के लिए विश्व स्वास्थ दिवस मनाया जाता है इस दिन को खासतौर पर इस लिए मनाया जाता है ताकि लोग अपने स्वास्थ और बीमारियों को गंभीरता से ले कर उपचार और बचाव के लिए जागरूक हो सके।

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइज़ेशन द्वारा हुई शुरुआत

सन 1948 में वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइज़ेशन द्वारा 7 अप्रैल को विश्व स्वास्थ दिवस की शुरुवात की गयी थी और यह लक्ष्य रखा गया था की जल्द ही विश्व को रोग मुक्त और स्वस्थ बनाया जायेगा. लेकिन बिगड़े दिनचर्या,प्रदूषित वातावरण ,दूषित जल ,अनियमित खान पान,और नए नए वायरस को देखते हुए ऐसा लक्ष्य कुछ नामुमकिन सा लगता है लेकिन यदि जनता में बिमारियों और रोगो की जागरूकता फैलाई जाये तो संभव है की कम ही समय में रोग की जड़ को पकड़कर उसका निदान किया जा सकेगा .

विज्ञान जगत की उन्नति और विश्व स्वास्थ

चिकित्सक विज्ञान की उपलब्धियों को देखते हुए अंदाज़ा लगाया जा सकता है की कुछ ही वर्षो में हर बीमारी का उपचार करना संभव हो जायेगा. लेकिन बीमारियों से लड़ने के लिए सिर्फ बीमारी का उपचार होना ही काफी नहीं है ,जरूरी है की व्यक्ति अपने शरीर और बीमारियों को लेकर जागरूक रहे ताकि सही वक़्त में उपचार कर स्वस्थ जीवन को बरक़रार रखा जाये।बिमारियों के उपचार होने के बावजूद कई बार ऐसा देखने मिलता है की मरीज़ अपनी बीमारी का पता लगाने में विलम्ब कर देता है और अपनी दुविधा बढ़ा लेता है ऐसे में जरूरी है की बीमारी और उसके लक्षण का पता हर व्यक्ति को हो .
शरीर का रखना होगा ख़ास ख्याल
स्वस्थ शरीर की चाह  तो हर व्यक्ति को होती है ,ऐसे में जरुरत है की रोज के दिनचर्या में ज़रा सा बदलाव कर स्वस्थ जीवन में कदम रखे,जंक फ़ूड को नज़रअंदाज कर पौष्टिक आहार का सेवन करें.जरूरी है की हर व्यक्ति नियमित रूप से अपने स्वास्थ का परिक्षण करवाता रहे ताकि यदि कोई भी रोग आपके स्वस्थ शरीर में होने वाला हो तो उसकी रोकथाम शुरू कर दिया जाये

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.in