काम की बात करोना

World Earth Day 2022 : इस अर्थ डे इन तरीकों से पृथ्वी को बचाने में दे अपना सहयोग

World Earth Day 2022 : जानें विश्व पृथ्वी दिवस का इतिहास, महत्व और इस साल की थीम!


Highlights –

. साल का एक दिन पर्यावरण को संरक्षित रखने के लिए समर्पित किया जाता है।

. यह एक वार्षिक आयोजन है जिसे दुनियाभर में पर्यावरण के देख – रेख और बचाव को मद्देनज़र रखते हुए आयोजित किया जाता है।

World Earth Day 2022 : साल का एक दिन पर्यावरण को संरक्षित रखने के लिए समर्पित किया जाता है और वह दिन है 22 अप्रैल का। इस दिन को अर्थ डे या पृथ्वी दिवस के रूप में हर साल मनाते हैं। यह एक वार्षिक आयोजन है जिसे दुनियाभर में पर्यावरण के देख – रेख और बचाव को मद्देनज़र रखते हुए आयोजित किया जाता है।

Read more- Healthy Liver : ऐसे रखें अपने लिवर को हेल्दी, यह नुस्खे आएंगे काम

अर्थ डे की स्थापना अमेरिकी सीनेटर जेराल्ड नेल्सन ने 1970 में एक पर्यावरण शिक्षा के रूप में की थी।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Earth Day (@world.earthday)

अर्थ डे का महत्व

पर्यावरण हमारा सबसे पहला चिंता का विषय होना चाहिए। पृथ्वी दिवस का महत्व इसलिए महत्वपूर्ण माना जाता है, क्योंकि इस दिन पर्यावरणविद ( Environmentalists ) ग्लोबल वार्मिंग और उससे होने वाले प्रभावों के बारे में बताते हैं। अर्थ डे पर्यावरण को लेकर जागरूकता फैलाना है। यह हमें अपने पर्यावरण के प्रति सचेत करता है। जिस हिसाब से पृथ्वी पर प्रदूषण बढ़ रहा है ऐसे में जागरूकता की काफी जरूरत है।

Read More- Egg Bad combination: अंडे के साथ इन चीजों को बिल्कुल न करें ट्राई हो सकता है  भारी नुकसान

अभी हाल ही में विश्व स्वास्थ्य संगठन के आंकड़ों से पता चलता है कि 42 लाख लोगों की मौत खुले स्थानों पर वायु प्रदूषण की चपेट में आने से होती है। दुनिया के लगभग 80 प्रतिशत शहरी इलाकों से एकत्र प्रदूषण सम्बंधी आंकड़ों से मालूम होता है कि हम में से लगभग हर व्यक्ति, हार्ट डिजीज़, फेफड़ों की बीमारियों , कैंसर, और कई तरह की भयंकर बीमारियों की चपेट में हैं। इसलिए यह बेहद जरूरी है कि हम पर्यावरण सम्बंधी मामलों पर गंभीरता से विचार करें।

Data WHO – अर्थ डे थीम 2022

संयुक्त राष्ट्र और यूनेस्को हर साल विश्व पृथ्वी दिवस के लिए एक थीम जारी करता है। इस थीम के जरिये लोगों को धरती के महत्व और प्रदूषण के प्रति जागरूक किया जाता है। इस साल की थीम हमारी धरती, हमारा स्वास्थ्य है ( Our Earth, Our Health ) . इस थीम का उद्देश्य हमारे स्वास्थ्य से जुड़ा हुआ है। इसका अर्थ यह है कि अगर हमारी धरती ठीक रहेगी तो हमारा स्वास्थ्य भी ठीक रहेगा।

पृथ्वी की उत्पत्ति 4.6 अरब वर्ष पहले हुई है। धरती के उत्त्पती के बाद ही जीवन संभव हो पाया है। 200 वर्ष पहले पृथ्वी की तस्वीर कुछ और थी। इस बदलाव का कारण मानव लोभ से जुड़ा हुआ है। धीरे – धीरे पृथ्वी पर पेड़ कम होते जा रहे हैं। आपको बता दें कि ऐसा अनुमान है कि अगर इसी रफ्तार से पृथ्वी पर पेड़ – पौधों की संख्या कम होता गई तो 2100 शताब्दी आते – आते पृथ्वी का तापमान 1.5 डिग्री सेल्सियस बढ़ जाएगा जिससे ग्लोबल वार्मिंग की स्थिति बड़े भयंकर तरीके से पैदा हो जाएगी। इसलिए यह बेहद जरूरी है कि धरती की सुरक्षा हमारी पहली प्रायोरिटी होनी चाहिए।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Earth Day (@world.earthday)

 

Quiz-

वर्ल्ड अर्थ डे कब है – 22 अप्रैल

वर्ल्ड अर्थ डे 2022 की थीम क्या है – हमारी धरती, हमारा स्वास्थ्य (Our Earth, Our Health)

वर्ल्ड अर्थ डे मनाने की शुरुआत कब हुई – 22 अप्रैल 1970

वर्ल्ड अर्थ डे का इतिहास

पृथ्वी दिवस मनाने की शुरुआत 22 अप्रैल 1970 से हुई। 1969 में सिएटल, वाशिंगटन में अमेरिकी सीनेटर जेराल्ड नेल्सन ने पर्यावरण के संरक्षण के लिए एक दिन पृथ्वी के नाम करने की घोषणा की। इसका रिजल्ट यह रहा कि 1970 के वसंत में पर्यावरण पर जन प्रदर्शन किया गया। इस राष्ट्रव्यापी जन आंदोलन में अमेरिका के स्कूल और कॉलेजों ने बढ़ – चढ़ कर हिस्सा लिया। यह सम्मलेन इतना सफल रहा कि इसमें 20 हजार से अधिक लोग इकट्ठा हुए।

पृथ्वी को संरक्षित रखना हम सब की ना ही मात्र ज़िम्मेदारी है बल्कि हमारा यह कर्तव्य भी है और मात्र एक ही दिन क्यों हम हर दिन अर्थ डे मना सकते हैं। इसकी शुरुआत हम अपने घर से कर सकते हैं, स्वयं से कर सकते हैं।

तो इस अर्थ डे पर्यावरण का अर्थ समझें और इसकी सुरक्षा की बागडोर अपने हाथों लें।

इन तरीकों से आप अपना सहयोग पृथ्वी को बचाने में दे सकते हैं।

. आसपास पेड़ – पौधे लगाएं

. प्लास्टिक बोतल यहाँ – वहाँ ना फेंके

. साइकिलिंग करें

. प्लास्टिक के बजाय कपड़े के थैले का इस्तेमाल करें

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Back to top button