Categories
वीमेन टॉक

जाने हमारे देश में आधी से ज्यादा महिलाएं क्यों नहीं लेती खुद अपने आर्थिक फैसले

क्या महिलाएं स्वयं पर निर्भर नहीं है?


अगर हम अपने देश की महिलाओं की बात करें तो हमारे देश में आधी से ज्यादा महिलाएं खुद अपने आर्थिक फैसले नहीं लेती. ये सब देख कर तो बस एक ही सवाल मन में आता है कि क्या महिलाएं स्वयं पर निर्भर नहीं है. हाल ही में किये गए एक सर्वे के अनुसार महिलाओं ने कहा कि वो अपने आर्थिक फैसलों के लिए खुद पर निर्भर नहीं हैं. यह सर्वे फाइनेंशियल प्लानिंग प्लेटफार्म एलएक्सएमई द्वारा किया गया है. फाइनेंशियल प्लानिंग प्लेटफार्म एलएक्सएमई में अपने साल 2020 में किये गए सर्वे में इस तरह के आंकड़े उपलब्ध कराए. हमारे देश में महिलाओं पर किया गया यह पहला सर्वे है. इस सर्वे में महिलाओं के हक की बात की गयी है।

और पढ़ें: जानें लॉकडाउन से लेकर स्वास्थ्य संबंधी समस्या तक साल 2020 महिलाओं के लिए कैसा रहा

जाने क्या बताती है फाइनेंशियल प्लानिंग प्लेटफार्म एलएक्सएमई सर्वे की रिपोर्ट

अगर हम फाइनेंशियल प्लानिंग प्लेटफार्म एलएक्सएमई सर्वे की माने तो सर्वे के आंकड़ों में पता चला है कि लगभग 66 प्रतिशत सिंगल महिलाएं अपने आर्थिक फैसले खुद से नहीं लेती. जबकि 28 प्रतिशत महिलाएं वित्त के मामले में पति या पिता पर निर्भर रहती है. बाकि की 5 प्रतिशत महिलाएं अपनी माँ की मर्जी से वित्त संबंधी फैसले लेती हैं. जाने सर्वे में किस उम्र की महिलाओं को शामिल किया गया है

फाइनेंशियल प्लानिंग प्लेटफार्म एलएक्सएमई सर्वे में 25 साल से 54 साल की 1250 महिलाओं को शामिल किया गया था. मुंबई, बेंगलूरू, दिल्ली, पुणे और जयपुर जैसे बड़े शहरों की महिलाएं इस सर्वे में शामिल हुई थी इस सर्वे में सिंगल महिलाओं को शामिल किया गया था. या फिर जो महिलाएं शादी के बाद पति से अलग हो कर बच्चों के साथ रहती हैं. 69 प्रतिशत महिलाएं अपने शादी के बाद अपने पति से अलग रहने के बाद भी अपने आर्थिक फैसले खुद नहीं लेती है उनका कहना है कि वो अपने आर्थिक फैसलों के लिए अपने पिता पर निर्भर हैं. साथ ही साथ इस सर्वे में उन महलाओं को भी शामिल किया गया है जो अपने बच्चों को सेविंग करना सिखाती हैं. हमारे देश में 91 प्रतिशत महिलाएं अपने बच्चों को पैसे से जुड़ी जानकारी देती हैं. इतना ही नहीं हमारे देश में हर दस में से नौ महिला अपने बच्चों को गुल्लक देकर सेविंग की आदत डाल रही हैं.

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments