Categories
सेहत

जाने वर्क प्लेस पर पुरुषों के मुकाबले महिलाओं को क्यों होता है ज्यादा स्ट्रेस

जाने पुरुषों के मुताबिक महिलाओं को क्यों करना पड़ता है अधिक तनाव और डिप्रेशन का सामना


जैसा की हम सभी लोग जानते हैं कि आज के समय में ज्यादातर लोग काम के कारण स्ट्रेस से गुजर रहे होते है। लेकिन अक्सर देखा जाता है कि ऑफिस में लड़कों के मुकाबले लड़कियां ज्यादा स्ट्रेस में रहती हैं। इसका एक बड़ा कारण है कि लड़कों को तो बस आपका ऑफिस संभालना होता है लेकिन महिलाओं को ऑफिस और घर दोनों ही चीजें संभालनी होती है। जिसके कारण कई बार उनको डिप्रेशन और तनाव का सामना भी करना पड़ता है। हाल ही में हुए एक शोध के अनुसार, ऑफिस में पुरुषों के मुकाबले महिलाओं को अधिक स्ट्रेस झेलना पड़ता है। जिसके कारण उन्हें कई सारी मानसिक समस्याओं का सामना भी करना पड़ता है। ऐसे में महिलाओं के लिए बहुत जरूरी होता है कि वो समय रहते खुद को स्ट्रेस से दूर रखें।

Pic Credir- Pixabay

और पढ़ें:  जाने ‘Respiratory System’ को बूस्ट करने वाली ब्रीथिंग एक्सरसाइज के बारे में

जाने महिलाओं को क्यों होता है ज्यादा स्ट्रेस

ये बात तो हम सभी लोग जानते है कि अक्सर महिलाएं भावनात्मक तौर पर कमजोर और अस्थिर होती हैं। जिसके कारण उनको अक्सर वर्क प्लेस पर वर्क प्रेशर का दवाब महसूस होने लगता हैं। अक्सर महिलाओं के साथ देखा जाता है कि उनको उनके काम के अनुसार प्रमोशन और पगार नहीं मिलती जबकि हमेशा उनसे अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद की जाती है। वही दूसरी तरफ कुछ महिलाओं को तो अपने ऑफिस और घर के बीच संतुलन भी बिठाना पड़ता है, जिसके कारण कई बार उनको काफी पीड़ा का सामना भी करना पड़ता है। जिसके कारण कई बार महिलाएं स्ट्रेस का शिकार भी हो जाती है।

वर्क प्लेस पर कर्मचारियों का सहयोग

वर्क प्लेस पर मैनेजमेंट को अपनी महिला कर्मचारी के साथ सहयोग करना चाहिए। मैनेजमेंट को अपने महिला कर्मचारी को जरूरत पड़ने पर हमेशा उससे सहयोग करना चाहिए। जब भी उनसे घर से काम करने की जरूरत हो, उससे वर्क फ्रॉम होम की अनुमति दी जानी चाहिए। इतना ही नहीं हर कंपनी में मैनेजमेंट को महिलाओं के साथ होने वाले भेदभाव को भी कंट्रोल करना चाहिए। जिसे की महिलाएं फ्री माइंड होकर काम कर सके और उनको अपने वर्क प्लेस पर स्ट्रेस भी फील न हो।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com