लाइफस्टाइल

जानिए क्या ना करे लड़ाई के बाद

लड़ाई नहीं, प्यार करे


हर किसी में लड़ाई और थोड़ी बहुत बहस होती रहती है। अब चाहिए वो भाई- बहन हो, दोस्त हो या पति पत्नी हो थोड़ी लड़ाई झगडा तो सब में होता है। अब ज़्यादातर लोग तो ये मानते है कि लड़ाई से प्यार बढ़ता है। माना जाता है कि लड़ाई के कारण रिश्ते और गहरे हो जाते है, इसलिए लड़ना हर रिश्ते के लिए अच्छा होता है। पर प्यार तभी बढ़ता है जब लड़ाई के बाद एक दूसरे को समझा जाए और एक नतीजे पर आया जाए। हम सब जानते है कि लड़ाई के बाद हमे क्या करना चाहिए पर ये नहीं जानते कि लड़ाई के बाद क्या ना करे।

जानिए क्या ना करे लड़ाई के बाद
लड़ाई को शांति से सुलझाए

तो जानिए की क्या ना किया जाए लड़ाई के बाद

  • ज़बरदस्ती बात करने ना जाए

अगर आपको लगता है कि अभी आपको थोड़ा और समय लेना चाहिए और दूसरे व्यक्ति को भी थोड़ा समय देना चाहिए तो, वो समय ले और उन्हें भी दे। अगर आप ज़बरदस्ती बात करने जाएंगे तो बात और बिगड़ सकती है।

  • माहौल थोड़ा ठंडा होने दे

आप अगर मसला सुलझाना ही चाहते तो पहले माहौल थोड़ा ठंडा होने दे। ज़ाहिर सी बात है कि आप और आपके साथी थोड़ा गुस्से में होंगे, तो पहले गुस्सा शाँत होने दे। इससे आप दोनों जब थोड़ा शाँत होंगे तो आप दोनों एक दूसरे की बात आसानी से समझेंगे।

जानिए क्या ना करे लड़ाई के बाद
बात को समझने की कोशिश करे
  • आरोप ना लगाए

आरोप लगाना सबसे आसान काम होता है और सबसे बुरा भी। अगर आप दोनों ही एक दूसरे पर आरोप लगाते रहेंगे तो बात सुलझने की बजाये और ज़्यादा उलझ जायेगी।

लड़ाई होना जायज़ है क्योंकि जब दो लोग मिलते है तो ज़रूरी नहीं की उनके विचार आपस में मिले। हर किसी की सोच और जीवनशैली में अंतर होता है जिसके कारण लोगो में बहस या लड़ाई हो जाती है। इसलिए लड़ाई के बाद शान्ति से काम ले।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Back to top button