हॉट टॉपिक्स

उत्तराखंड बना देश का पहला राज्य, जो बनाएगा दूध से पेट फूड, इससे बनेगी कुत्तो की सेहत

दूध से तैयार किया जा रहा है पालतू कुत्तों का पेट फूड ‘छुरपी’


उत्तराखंड बना देश का पहला राज्य, जो पालतू कुत्तों की सेहत बनाए रखने के लिए दूध से तैयार करेगा पेट फूड. इस पेट फूड का नाम है ‘छुरपी’. दूध से तैयार किया जा रहा छुरपी पालतू कुत्तों की सेहत बनाएगा. उत्तराखंड में दूध से तैयार की जाने वाली छुरपी की कीमत बाजारों में 750 रुपये प्रति किलो तक होगी. इससे उत्तराखंड के हजारों दुग्ध उत्पादकों की आमदनी भी बढ़ेगी.

जाने सबसे पहले छुरपी की शुरुआत किस देश से हुई थी

छुरपी बनाने की शुरूआत सबसे पहले पड़ोसी देश नेपाल में हुई थी. जिसके बाद दार्जिलिंग में कुछ लोगों ने छुरपी बनानी शुरू कर दी थी. उत्तराखंड  में दुग्ध विकास विभाग ने सबसे पहले सहकारी क्षेत्र में पेट फूड के रूप में छुरपी का उत्पादन शुरू कर दिया है.

लाखामंडल, सुमाड़ी, जखोला और कमेडी के ग्रोथ सेंटरों में छुरपी बनाने की शुरूआत की गई है. ग्रोथ सेंटरों में छुरपी को तैयार करके बंगलूरू की एक कंपनी को बेचा जा रहा है. इतना ही नहीं, विभाग की माने तो छुरपी बनाने से दुग्ध समितियों से जुड़े पांच हजार से अधिक दुग्ध उत्पादकों को इसका फायदा मिलेगा.

और पढ़ें: जानें संविधान लागू होने से पहले किन अनुच्छेदों में बदलाव किया गया

पालतू जानवर होने के फायदे

जाने  कैसे बनाई जाती है ‘छुरपी’

क्या आपको पता है छुरपी कैसे बनाई जाती है. अगर नहीं तो कोई बात नहीं। आज हम आपको बतायेगे, कि छुरपी कैसे बनाई जाती है. जिस तरीके से दूध से पनीर बनाया जाता है, ठीक उसी तरह छुरपी भी तैयार की जाती है. लेकिन हमें पनीर में नमी की मात्रा दिखती है जबकि छुरपी में नमी की मात्रा को पूरी तरीके से निकाल कर उससे सख्त बनाया जाता है. उसके बाद इससे छोटे-छोटे टुकड़ों में बांटने के बाद इसे महीने भर तक सुखाने के बाद छुरपी तैयार की जाती है. छुरपी में प्रोटीन की मात्रा 60 प्रतिशत है.

हमारे देश में अभी तक किसी भी राज्य में सहकारी क्षेत्र में छुरपी का उत्पादन नहीं किया जाता है. उत्तराखंड देश का पहला ऐसा राज्य है जो पेट फूड के रूप में दूध से छुरपी बना रहा है. क्या आपको पता है यह योजना खासकर पर्वतीय क्षेत्रों के दूरस्थ गांवों के उन दुग्ध उत्पादकों की आर्थिकी को मजबूत करेगी, जो अपने दूध को बाजार तक नहीं पहुंचा पाते हैं.

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button