हॉट टॉपिक्स

जाने UGC एग्जाम से जुड़ी हर डिटेल, सरकार ने जारी की एग्जाम की नई गाइडलाइन

UGC एग्जाम की नई गाइडलाइन जारी


पिछले कुछ समय से पूरा देश कोरोना वायरस से परेशान था। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए। सरकार ने सभी एग्जाम को कैंसिल कर दिया गया था। अभी यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन यानि यूजीसी ने एग्जाम की नई गाइडलाइन जारी कर स्टूडेंट्स को राहतभरी खबर दी। यूजीसी की नई गाइडलाइंस के अनुसार फाइनल ईयर के एग्जाम किसी भी हाल में रद्द नहीं किए जाएंगे। हलाकि अभी सरकार ने यूजीसी एग्जाम का समय बदल दिया है। नई गाइडलाइंस के अनुसार यूनिवर्सिटीज के फाइनल ईयर के एग्जाम सितंबर महीने के अंत तक कराये जा सकते है। यूनिवर्सिटीज को यूजीसी के एग्जाम कराने के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों विकल्प दिए गए है। आइए विस्तार से जानते है यूजीसी एग्जाम की नई गाइडलाइंस के बारे में।

यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन की नई गाइडलाइंस का लाखों स्टूडेंट्स को लंबे समय से इंतजार था। अब जा कर सभी यूजीसी स्टूडेंट्स का इंतजार खत्म हुआ। ये खबर यूजीसी स्टूडेंट्स के लिए राहत भरी खबर है। मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने खुद यूजीसी एग्जाम की नई गाइडलाइंस की जानकारी दी।

यूजीसी एग्जाम से जुड़ी जरूरी बातें।

1. यूनिवर्सिटीज सितंबर महीने के अंत तक यूजीसी फाइनल ईयर के एग्जाम आयोजित कराएगी।

2. सितंबर के महीने में हालात और सहूलियत को देखते हुए यूजीसी एग्जाम ऑनलाइन और ऑफलाइन कराये जा सकते है।

3. यूजीसी एग्जाम बैकलॉग वाले स्टूडेंट्स के लिए अनिवार्य होंगे। ये छात्र ऑनलाइन या ऑफलाइन किसी भी तरह से परीक्षा दे सकते है।

और पढ़ें: जुलाई से बदलने वाले है बैंकिंग, एटीएम और सेविंग खातों से जुड़े कई नियम

4. अगर को स्टूडेंट किसी भी वजह से फाइनल ईयर का कोई एग्जाम नहीं दे पाता है तो उसे स्पेशल एग्जाम देने का मौका मिलेगा। जब भी यूनिवर्सिटी हालात के हिसाब से एग्जाम आयोजित करेगी तो वो स्टूडेंट उस समय वो एग्जाम दे सकता है। परन्तु इसका फायदा वो सिर्फ एक ही बार उठा सकता है।

5. अभी भी इंटरमीडिएट सेमेस्टर के लिए यूजीसी की 29 अप्रैल को जारी की गई गाइडलाइंस ही मान्य होंगी।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button
Hey, wait!

अगर आप भी चाहते हैं कुछ हटके वीडियो, महिलाओ पर आधारित प्रेरणादायक स्टोरी, और निष्पक्ष खबरें तो ऐसी खबरों के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करें और पाए बेकार की न्यूज़अलर्ट से छुटकारा।