दिल्ली: साइबर सुरक्षा के लिए अध्यापकों को दी जाएगी ट्रेनिगं

0
55
cyber
cyber

सुरक्षा बहुत बड़ी आवश्यकता है। फिर चाहे, सुरक्षा शरीर की करनी पड़े या कंप्यूटर या इम्पोर्टेन्ट ऑनलाइन डाटा की। इसी सिलसिले में दिल्ली में एक नई पहल शुरू होने जा रही है और वो है शिक्षकों को साइबर सुरक्षा के कई पहलू से अवगत कराना।राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) की नई पहल साइबर क्राइम की जानकारी को शिक्षकों को अवगत  करना है।एससीईआरटी द्वारा दिल्ली के अध्यापकों की साइबर सुरक्षा देने की पहल अब चालू हो चुकी है। सूत्रों की माने तो दिल्ली में 3847 टीचर्स और प्रिंसिपल को ट्रेनिंग सफलतापूर्वक दी जा चुकी है और इन्हें ट्रेनिंग का सर्टिफिकेट भी दिया जा चुका है।

इन शिक्षकों को मिलेगी ट्रेनिंग

“दिल्ली में ऑनलाइन कैपेसिटी बिल्डिंग प्रोग्राम एससीईआरटीद्वारा पीआरटी (प्राइमरी) अध्यापक और एनडीएमसी, दिल्ली कैंटेनमेंट बोर्ड, ईडीएमसी, एसडीएमसी और एनडीएमसी के अध्यापकों जैसे शिक्षा निर्देशालय के अंतर्गत आने वाले सभी अध्यापकों को साइबर सुरक्षा के लिए अलग-अलग तरीकों से ट्रेनिंग दी जाएगी है।”

1 अगस्त से शुरू होना नामांकन

एससीईआरटी के एक वरिष्ठ अधिकारी द्वारा यह सूचित किया गया है कि दिल्ली में कुल 2,530 अध्यापक और एनडीएमसी, डीसीबी और एमसीडी के तकरीबन 18 हजार शिक्षकों को साइबर क्राइम की ट्रेनिंग दी जाएगी और इसे ग्रहण करना हर अध्यापक का कर्तव्य है। इस ट्रेनिंग के लिए टीचर्स को नामांकन करना होगा। नामांकन की तारीख एक अगस्त राखी गई है जो 6 अगस्त तक जारी रहेगा।

6 अगस्त से जरूर करवाना पड़ेगा नामांकन

एससीईआरटीके वरिष्ठ अधिकारी का यह कहना है कि इसका नामांकन हर अध्यापकों को कराना अत्यंत आवश्यक है। इसलिए वे हर हालत में 6 अगस्त से पहले-पहले अपना नामांकन करा लें। इतना ही नहीं अगर वे नामांकन करा पाने और ट्रेनिंग के लिए जाने में किसी कारणवश असमर्थ हैं तो वे ऑफिसियल मेल ‘एससीईआरटी ओसीबीपी एट द रेट जी मेल डॉट कॉम’ पर कारण बताते हुए एक मेल कर सकते है। लेकिन, अगर अध्यापक स्वस्थ हैं या कोई विशेष परेशानी में नहीं हैं तो उन्हें प्रशिक्षण में पहुंचना बहुत जरूरी है।

8 अगस्त से शुरू होगी ट्रेनिंग

एससीईआरटी का कहना है कि सभी अध्यापक को नामांकन कराने के बाद 8 अगस्त से ट्रेनिंग पूरी सहूलियत के साथ दी जाएगी। ट्रेनिंग के दौरान शिक्षकों को साइबर सुरक्षा के कई पहलू के बारे में जानकारी दी जाएगी। यह ट्रेनिंग 8 अगस्त से 17 अगस्त तक चलेगी। इन दिनों के बीच सभी अध्यापकों को ट्रेनिंग पूरी करनी पड़ेगी।

क्या होती है साइबर सुरक्षा?

साइबर सुरक्षा इन्टरनेट और सिस्टम को सुरक्षा प्रदान करने से जुडी हुई है। इसमें विशेष प्राकार की तकनीक का इस्तेमाल कर सभी ऑनलाइन या कंप्यूटर में सेव किए गए ऑफलाइन डाटा को एक विशेष तकनीक की मदद से सुरक्षित रखा जाता है।

इस विषय को लेकर कई साइबर सुरक्षा कम्पनी कई तरह के एंटी-वायरस का निर्माण करती हैं जो सिस्टम को फिशिंग (Phishing), रेनसमवेएर(Ransomware), मालवेएर (Malware), और सोशल इंजीनियरिंग (Social engineering) आदि कई हैकिंग (Hacking) तकनीक से बचाते हैं। ये सभी हैकिंग तकनीक किसी भी कंप्यूटर से डाटा (Data) चुरा पाने में सक्षम होते हैं।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.com