लाइफस्टाइल

ये योगासन करेंगे फर्टिलिटी को बूस्ट करने में आपकी मदद

3 योगासन जो बूस्ट करेंगे आपकी फर्टिलिटी को


योग हमारे लिए कितना जरूरी होता है ये शायद हमें आपको बताने की जरूरत नहीं है। आज हम आपको फर्टिलिटी को बूस्ट करने वाले योगासन के बारे में बताने जा रहे है। वैसे तो विभिन्न योगासन, मुद्राओं और ब्रीदिंग टेक्नीक के जरिए आप अपने फर्टिलिटी के स्तर को बढ़ा सकते है। आपको बता दे कि हमारे शरीर में फर्टिलिटी यानी प्रजनन क्षमता कम होने का सबसे बड़ा और सबसे आम कारण हमारा तनाव और चिंता होती हैं। आपको बता दे कि योग आपकी मानसिक स्थितियों जैसे तनाव, अवसाद और अन्य समस्याओं को कम करता है। जो कुछ समय बाद इमोशनल डिसऑर्डर्स का कारण बन सकता है। जब हम योग का अभ्यास करते हैं तो हम अपने शरीर में हार्मोन और केमिकल के उत्पादन को बढ़ाते है। जो आपको दिन भर खुश और रिलैक्स महसूस कराने में आपकी मदद करते है। साथ ही साथ यह हमारे मानसिक स्वास्थ्य को बूस्ट भी करते है। तो चलिए आज उन योगासन के बारे में जानते है जो फर्टिलिटी को बूस्ट करने में मदद करते है।

सेतु बंधासन: इस योगसन के लिए सबसे पहले आपको फर्श पर लेटना होगा। उसके बाद अपने पैरों को फर्श पर रखते हुए अपने घुटनों को मोड़ना होगा। और अपनी एड़ियों को अपने नितम्बों के नजदीक लाएं। उसके बाद जैसे ही आप टैलबोन को ऊपर की ओर उठाते हैं और नितम्बों को भी ऊपर उठाते हैं, तो आपको सांस बाहर छोड़ देनी चाहिए। उसके बाद आपको अपनी जांघों और भीतरी पैरों को समानांतर रखना होगा। अपनी उंगलियों को इंटरलॉक करें और अपने हाथों को अपने पेल्विस के नीचे रखें। उसके बाद अपनी जांघों को ऊपर उठाएं और फर्श तक समानांतर रखें। और अपने घुटनों को एड़ी के ऊपर सीध में रखें। उसके बाद आपको अपने सीने को ठोड़ी की ओर उठाना होगा। आपको रोज इस मुद्रा में आप 30 सेकंड से 1 मिनट तक रहना होगा। और जब आप इस आसन से बाहर आना चाहेंगे तो आपको इसके लिए अपनी सांस छोड़नी होगी और रीढ़ को धीरे धीरे नीचे लाना होगा।

और पढ़ें: समर प्रेग्नेंसी के दौरान आपको अपनी बॉडी को हाइड्रेट रखने के लिए इन चीजों को करना चाहिए अपनी डाइट में शामिल

चतुरंगा दंडासन: चतुरंगा दंडासन को आपको प्लैंक पोजीशन से शुरू करना होगा। जैसे ही आप सांस छोड़ते हैं, अपने शरीर को हाफ पुश-अप में नीचे करें। ध्यान रखे इस समय अपर आर्म फर्श के समानांतर हो। उसके बाद आपको अपनी कोहनी को मोड़कर 90 डिग्री का कोण बनाना होगा। ध्यान रखें आपकी कोहनी आपकी पसलियों के किनारों को छूती हो। और इस समय आपके कंधे स्ट्रेच हो रहे हों। उसके बाद आपको अपनी कलाई और कोहनी को फर्श से लंबवत रखें। रोज आपको इस पोजीशन में 10 15 सेकंड बने रहना चाहिए।

बद्ध कोणासन: इस बद्ध कोणासन योगासन के लिए सबसे पहले आपको अपने पैरों को सीधा सामने फैलाकर बैठना होगा। उसके बाद धीरे धीरे आपको अपनी सांस छोड़ते हुए अपने घुटनों को मोड़कर अपनी एड़ी को पेल्विस की और खींचना होगा। और अपने घुटनों को बाहर की और नीचे रखें तथा पैरों के तलवों को एक साथ लाएं। उसके बाद आपको धीरे धीरे आराम से अपनी एड़ी को पेल्विस के करीब लाना होगा। उसके बाद आपको अपने पैरों के दोनों अंगूठों को हाथों से पकड़ना होगा। आपको रोज इस मुद्रा में 1 से 5 मिनट तक बने रहना होगा।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Back to top button
Hey, wait!

अगर आप भी चाहते हैं कुछ हटके वीडियो, महिलाओ पर आधारित प्रेरणादायक स्टोरी, और निष्पक्ष खबरें तो ऐसी खबरों के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करें और पाए बेकार की न्यूज़अलर्ट से छुटकारा।