चंद्रयान- 2 की लॉन्चिंग में आई बाँधा, जाने क्या है बड़ी वजह ?

0
Chandrayaan 2
Chandrayaan 2

लॉन्च होने से 56 मिनट पहले आई तकनीकी खराबी


भारत का मिशन चंद्रयान -2 की लॉन्चिंग आज सुबह 2 बज कर 51 मिनट पर होने वाली थी.लेकिन तकनीकी खराबी की वजह से चंद्रयान- 2 की लॉन्चिंग को 56 मिनट पहले रोक दिया गया.चंद्रयान-2 में तकनीकी ख़राब आने से इसरो के वैज्ञानिक ये पता लगाने में लग गए की लॉन्चिंग से 56 मिनट पहले तकनीकी कमी कहां से आई?

इसरो प्रवक्ता बीआर गुरुप्रसाद ने तकनीकी खराबी को लेकर यह बयान देते हुए कहा कि जीएसएलवी-एमके3 लॉन्च व्हीकल में कमी आने की वजह से लॉन्चिंग रोक दी गई है. लॉन्चिंग की अगली तारीख जल्द ही घोषित कर दी जाएगी .

जाने लॉन्चिंग से पहले क्यों आई चंद्रयान-2 में तकनीकी खराबी  

इसरो के मुताबिक जिस समय लॉन्चिंग रोकी गई, उस समय काउंटडाउन का आखिरी चरण था. कुछ मिनट पहले ही क्रायोजेनिक इंजन में लिक्विड हाइड्रोजन भरा गया था.क्रायोजेनिक इंजन और चंद्रयान-2 को जोड़ने वाले हिस्से को लॉन्च व्हीकल कहते हैं.इस हिस्से में ही प्रेशर लीकेज था.लॉन्च के लिए जितना प्रेशर होना चाहिए उतना नहीं था. लगातार घटता जा रहा था. इसलिए इसरो के मून मिशन चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग को रोक दिया.

इससे पहले पिछले साल जीसैट-11 को मार्च-अप्रैल में भेजा जाना था लेकिन जीसैट-6 ए मिशन के नाकाम होने के बाद इसे रोक दिया गया. 29 मार्च को रवाना जीसैट-6 ए से सिग्नल लॉस की वजह इलेक्ट्रिकल सर्किट में गड़बड़ी हो गई थी. इसके अलावा ऐसा  बताया जा रहा है कि अगर आने वाले इन चार दिनों में  चंद्रयान- 2 की लॉन्चिंग नहीं होती है तो इस मिशन को लांच करने में  तीन महीने लग सकते है. इसरो के वैज्ञानिक  कड़ी कशिश कर रहे है की वो इस तकनीकी कमी को जल्द ठीक करे और इसे लांच करे.

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here