दिल्ली में न जाए इन डरावनी जगहों में

0
58

डर से करवाएगी रूबरू,दिल्ली की वो खौफनाक जगह


तकनीक और विकास में इतना बेहतरीन प्रदर्शन करने वाली दिल वालो की दिल्ली की चर्चा तो हर जगह है. मगर क्या आप जानते हैं की दिल्ली में कुछ जगह ऐसी भी हैं जहाँ जाने में इंसान की रूह तक काँप जाए. ये जगह किन्ही हादसों और अदृश्य शक्तियों के कारण खौफनाक हो चुकी हैं.

दिल्ली कैंटोनमेंट-

दिल्ली केंट की इस जगह की स्थापना ब्रिटिश इंडियन आर्मी ने की थी. ये जगह पूरी तरह हरियाली से भरी हुई है. कहा जाता है की इस जगह अक्सर सफ़ेद लिबास पहने गाड़ियों का पीछा करती नज़र आती है. अनुमान है की ये किसी महिला की आत्मा हो सकती है जिसे अब तक कई लोगो द्वारा देखा जा चुका है.

दिल्ली कैंटोनमेंट

फ़िरोज़ शाह कोटला –

1354 में फिरोज शाह कोटला द्वारा बनवाया गया ये किला अब धीरे-धीरे  खंडहर में तब्दील हो चला है. लोगो ने यहाँ कई हैरान करने वाली घटनाएं देखी हैं. बताया जाता है की हर गुरुवार यहाँ कुछ मोमबत्तियों को जलते देखा जाता है.  इन्हे कौन जलाता है इस बात से तो  सभी अनजान है. लेकिन जाहिर है की ये किसी अदृश्य शक्ति के कारण सकता है.

फ़िरोज़ शाह कोटला

मालचा महल –

दिल्ली के दक्षिण इलाके में हरियाली के बीच बसे इस महल को आज से 700 साल पहले  फिरोज शाह तुगलक द्वारा बनाया गया था. शासन के ख़त्म होने के बाद ये महल एक खण्डर में बदल गया. सन 1985 में अवध घराने की बेगम अपने 2 बच्चो ,5  नौकरो और 12 कुत्त्तों के साथ आयी थी.  इसी महल में विलायत बेगम ने 19 सितम्बर 1993 में आत्महत्या कर ली थी. जिसके बाद माना जाता है की बेगम की आत्मा इस महल में भटकती रहती है.

मालचा महल

भूली भातियारी ,झंडेवालान

तुगलक वंश का शिकारगाह होने वाले इस महल की देखभाल एक भूली भातियारी महिला के नाम पर पड़ा है. अक्सर इस महल में एक बूढी महिला की आवाज़ सुनाई देती है जो लोगो को डरने के लिए काफी है.

भूली भातियारी ,झंडेवालान

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.in