अगर संविधान इजाजत देते तो महिलाओं के आरोपियों को फंसी देने में ख़ुशी मिलती!


दिल्ली पुलिस कमिश्नर बीएस बस्सी ने कहा कि अगर देश का संविधान इजाजत देता तो महिलाओं से खिलाफ घिनौने अपराध करने वाले आरोपियों को फांसी पर चढ़ाने या गोली मरने में उन्हें ख़ुशी मिलती। लेकिन वे ऐसा इसलिए नहीं कर सकते क्योंकि उनके ऊपर मानवाधिकार को लेकर प्रतिबंध लगे हुए हैं।

आपको बता दें सालाना संवाददाता सम्मेलन में बीएस बस्सी ने बलात्कार के ऐसे दो मामलों का जिक्र किया जिसमें एक पीडिता दो महीने के बच्चे की माँ थी और दूसरी एक 80 साल की एक बूढ़ी महिला थी। ऐसे ही मामलों को देखते हुए बस्सी ने कहा कि महिलाओं को अपनी आत्मरक्षा करने की ट्रेनिंग दी जानी चाहिए।

bassi

बस्सी ने कहा की सेवानिवृत्ति के बाद यदि उन्हें राष्ट्र की सेवा करने का मौका मिला तो वह नहीं चुकेंगे। जब उनसे यह पुछा गया कि सेवानिवृत्ति के बाद वह किस पार्टी में शामिल होने जा रहे है, तो उस पर उन्होंने कहा की “29 फरवरी के बाद यह भी पता चल जाएगा”।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at

info@oneworldnews.com


Story By : AvatarNidhi Mudgill
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
%d bloggers like this: