Categories
काम की बात करोना

जाने वैक्सीन लगवाने के बाद एक्सरसाइज आपके लिए कितना फायदेमंद हो सकता है…

जाने वैक्सीन शॉट के बाद वर्कआउट से क्या है लाभ


पिछले साल से फैला कोरोना वायरस आज भी रुकने का नाम नहीं ले रहा है। अभी भी लोग इस कोरोना वायरस से परेशान और डरे हुए हैं। इस कोरोना वायरस से बचने के सिर्फ दो ही तरीके हैं एक सभी सावधानी बरतना और दूसरा वैक्सीन लगवाना। अभी इस कोरोना वायरस से छुटकारा पाने के लिए पूरे देश में वैक्सीन ड्राइव चल रही हैं ताकि हमारे देश के सभी लोगों का अच्छे से टीकाकरण हो सके। लेकिन हम यह भी जानते है कि हमारे देश में मौजूद किसी भी वैक्सीन की प्रभावशीलता 100 प्रतिशत नहीं है। अगर आप वैक्सीन की प्रभावशीलता बढ़ाना चाहते है तो इसका एकमात्र तरीका है स्वस्थ जीवनशैली का पालन करना और नियमित रूप से व्यायाम करना। कोरोना वैक्सीन को लेकर डॉक्टर के द्वारा यह सलाह भी दी जा रही है कि वैक्सीन शॉट लेने से 24 घंटे पहले आपको शारीरिक रूप से एक्टिव रहना होगा इससे आपके शरीर में अधिक एंटीबॉडी बनाने में मदद मिलेगी और यह आपकी इम्यूनिटी का सपोर्ट कर सकता है। तो चलिए आज जानते है वैक्सीन शॉट लेने के बाद आपका वर्कआउट करना आपके लिए कितना फायदेमंद है।

अपनी बॉडी की सुनें: आपको वैक्सीन के बाद अपनी बॉडी की सुननी चाहिए। वैक्सीन शॉट लेने के बाद आपकी बॉडी किस तरह रिएक्ट करती हैं आपको यह ऑब्जर्व करना। वैक्सीन शॉट के बाद देखा जा रहा है कि कुछ लोगों में एक जैसे लक्षण दिखाई दें रहे है जैसे थकान, बुखार या हाथ में दर्द आदि का अनुभव होना रहा है। सबसे पहले आपको वैक्सीन शॉट के बाद देखना चाहिए कि आप कैसा महसूस कर रहे हैं, उसके बाद ही आपको रेगुलर वर्कआउट करने का फैसला लेना चाहिए।

और पढ़ें: बच्चों में ज्यादा शिकायतें करने की आदत में इन टिप्स से लाएं सुधार

वर्कआउट बदलें: अगर आप अपनी वैक्सीन शॉट के बाद होने वाले साइड इफेक्ट्स को सहन कर सकते हैं, तो उसके बाद आपको वर्कआउट करने में कोई समस्या भी नहीं होगी। इसके अलावा आप इसके साइड इफेक्ट्स के अनुसार ही वर्कआउट की इंटेसिटी डिसाइड कर सकते हैं। जैसे अगर वैक्सीनेशन के बाद आपके हाथ में दर्द हो रहा है तो आप अपने पैरों और कोर के लिए एक्सरसाइज करें या अगर आप सुस्त महसूस कर रहे हैं तो आप HIIT कसरत करने के बजाय टहलने जा सकते हैं।

सावधानी बरतें: वैक्सीनेशन के बाद आपके लिए अपना ध्यान रखना जरूरी होता है। क्योंकि वैक्सीन का आखिरी डोज लेने के बाद भी, वैक्सीनेशन को पूरा होने में कम से कम 2 सप्ताह का टाइम लगता है। इसलिए आपको बंद जगहों पर वर्कआउट करने से बचना चाहिए और खुले में ही वर्कआउट करना चाहिए। जहां शायद ही कोई वेंटिलेशन हो या जहां लोग मास्क हटा कर वर्कआउट कर रहे हो।

वैक्सीनेशन के बाद वर्कआउट: अभी तक ऐसा कोई भी तरीका नहीं मिल पाया है जिसे ये पता चल पाए कि आपका शरीर कोविड-19 वैक्सीन पर कैसे प्रतिक्रिया देगा। इसलिए अभी हमारे डॉक्टर्स सभी लोगों को यही सलाह दे रहे है कि जिस दिन आप वैक्सीन शॉट ले रहे हैं, उस दिन और शॉट लेने के एक से दो दिन बाद तक कोई वर्कआउट प्लान न करें। खास कर दूसरा डोज़ लेने के बाद।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
सेहत

जाने योग कोरोना के माइल्ड इंफेक्शन को दूर करने में कैसे है बेहद फायदेमंद

कोरोना के माइल्ड इंफेक्शन को दूर करने के लिए ये 3 योगासन है बेहद फायदेमंद


हर साल हमारे देश में 21 जून को अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। इस मौके पर हर कोई सुबह उठकर योग करता है। योग को और उसके महत्व को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने के लिए साल 2015 में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत की गई थी। इस साल सातवां अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस मनाया जा रहा है। आज के समय में हम में से ज्यादातर लोगों की जिंदगी में योग एक अहम हिस्सा बन चुका है। जैसा की हम सभी लोग जानते है कि आज के समय में हमारा लाइफस्टाइल काफी ज्यादा भागदौड़ भरा हो गया है। इस भागदौड़ भरी जिंदगी में हमे खुद को स्वस्थ बनाए रखने के लिए हम सभी लोगों को योग की आवश्कता पड़ती है। अभी चल रहे कोरोना काल में तो योग का महत्व पहले से और भी ज्यादा बढ़ गया है। कोरोना से ठीक होने के बाद भी योग ने लोगों को मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ बनने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

कोरोना के माइल्ड इंफेक्शन को दूर करने में योग है बेहद फायदेमंद

क्या आपको पता है कोरोना के माइल्ड इंफेक्शन को दूर करने में योग बेहद फायदेमंद है सिर्फ हमने ही नहीं बल्कि मेडिकल एक्सपर्ट्स ने भी इस बात को माना है कि योग के द्वारा माइल्ड इनफेक्शन कॉम्प्लिकेशंस और पोस्ट इनफेक्शन कॉम्पेक्सिटी को कंट्रोल करने में मदद मिलती है। इतना ही नहीं इसके साथ ही साथ नार्मल डे में भी योग इम्युनिटी बढ़ाने के साथ ही कोरोना से बचाव में भी हमारी मदद करता है। इसलिए उन योग व एक्सरसाइज टेक्नीक्स के बारे में जाने जो इंफेक्शन फेज, पोस्ट इंफेक्शन कॉम्प्लीकेशन फेज में शरीर को क्योर करने में हमारी मदद करते है।

अनुलोम-विलोम: आपको बता दे कि अनुलोम विलोम करते हुए नाक के एक नथुने से सांस छोड़ते हैं और फिर जिससे सांस छोड़ी है उसी से वापस सांस लेते है। अगर आप अनुलोम विलोम करना चाहते है तो इसके लिए सबसे पहले आपको अपनी सुविधानुसार पद्मासन, सिद्धासन, स्वस्तिकासन अथवा सुखासन में बैठना होगा। उसके बाद आपको अपने हाथ के अंगूठे से नासिका के दाएं छिद्र को बंद करना होगा। उसके बाद नासिका के बाएं छिद्र से 4 तक की गिनती में सांस भरें और उसके बाद दूसरे नासिका के छिद्र से छोड़ दे। आपको लगातार कुछ समय तक यह करते रहना है।

Read more: जाने क्या होता है गुड टच और बैड टच, क्यों जरूरी होता है इसके बारे में बच्चों को बताना

कपालभाति: अगर आप रोजाना कपालभाति करते है तो इससे आपके फेफड़ों की क्षमता में सुधार आएगा। साथ ही साथ यह आपके सांस लेने के रास्ते से बलगम को साफ करता है और आपको राहत देता है। इसके लिए आपको सबसे पहले आराम से बैठना होगा उसके बाद अपनी कमर को सीधा और आँखे बंद करनी होगा। उसके बाद आपको अपनी हथेलियों को अपने घुटनों पर रखना होगा और नाक के द्वारा तेजी से सांस लेनी और छोड़नी होगी।

साई से आपको मिलती है राहत: आपको बता दे कि यह प्राणायाम का ही हिस्सा है। इसलिए यह ब्रीदिंग टेक्नीक कई मामलों में कारगर है। यह आपके शरीर में ऑक्सीजन के फ्लो को बढ़ाता है साथ ही साथ आपके शरीर को हल्का महसूस करने में मदद करता है। इस योगासन को करने के लिए सबसे पहले आपको नाक के अंदर सांस भरनी है। उसके बाद आपको ज्यादा से ज्यादा सांस को अंदर लेने के बाद सांस छोड़ते हुए पाउट बनाना होगा। उसके बाद आपको अपने लिप्स को सिकोड़ कर एक चोंच जैसा बनाना होगा। उसके बाद आपको थोड़ी सी हा की आवाज के साथ सांस को बाहर छोड़ना होगा।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.comगुड टच और बैड टच

Categories
सेहत

44 की उम्र में भी दिखना चाहते हैं हॉट, तो पूजा बत्रा से लें इंस्पिरेशन

जाने पूजा बत्रा के योगासन के बारे में


योगा हमारे लिए कितना जरूरी है और इससे हमेंकितने फायदे मिलते हैं ये शायद हमेंआपको बताने की जरूरत नहीं है। योग हमारे ज़िन्दगी का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता है बॉलीवुड सेलेब्स से लेकर आम लोगों तक सभी इससे अपने रोजाना के रूटीन में शामिल करते है। अगर हम बॉलीवुड सेलेब्स की बात करें तो हमारे बॉलीवुड सेलेब्स भी अपने सोशल अकाउंट पर अक्सर योग करते हुए फोटो और वीडियो शेयर करते रहते है। शिल्पा शेट्टी और मलाइका के योगा पोज़ के बारे में भला कौन नहीं जानता। लेकिन आज हम आपको बताने वाले है पूजा बत्रा के योगासन के बारे में। जिनके कारण वो 45 की उम्र में भी बेहद हॉट और सेक्सी लगती है।

और पढ़ें: क्या आप जामुन के ऐसे अनोखे फायदों के बारे में जानते हैं..

त्रिकोणासन: त्रिकोणासन खड़ी मुद्रा में करने वाला एक बेहद ही महत्वपूर्ण योगाआसन है। इस योगासन को करते हुए आपका शरीर त्रिकोण की आकृति का हो जाता है। यह त्रिकोणासन योगासन कमर दर्द से हमें छुटकारा दिलाने के साथ हमे मोटापा घटाने में भी मदद करता है। इतना ही नहीं, इस त्रिकोणासन योगासन से डायबिटीज पर भी काबू किया जा सकता है।

पादांगुष्ठासन: पादांगुष्ठासन एक बेहद ही कठिन योगासन है लेकिन पूजा बत्रा अपने चेहरे पर मुस्कान के साथ इस कठिन आसन को भी कर लेती है। इस पादांगुष्ठासन योगासन में पैर के अंगूठे पर पूरे शरीर का भार होता है। आपको बता दे कि इस योगासन से पैरों की मांसपेशियों को मज़बूती मिलती है।

पद्मा मयूरासन: पद्मा मयूरासन योगासन को करना भी कोई आसान आम नहीं है। आपको बता दे कि पद्मा मयूरासन योगासन करते हुए हमारा शरीर मोर की तरह हो जाता है। यह एक हैंड बैलेंसिंग आसन है। इस योगासन से आपको पेट और पाचन संबंधी सभी विकारों से जड़ से छुटकारा मिल जाता है। यह पद्मा मयूरासन योगासन शरीर तो फिट रखता है। साथ ही साथ यह योगासन चेहरे की चमक दमक को बनाए रखने में भी फायदेमंद होता है।

सेतुबंधासन: यह बात तो आप जानते ही होंगे कि पुल को सेतु भी कहा जाता है। यह हम इसलिए पूछ रहे है क्योंकि अब हम सेतुबंधासन योगासन के बारे में बात करने वाले है इस योगासन में हमे अपने शरीर को सेतु यानी की ब्रिज के आकार में करना होगा। इसलिए इसे योगासन को सेतुबंधासन कहा जाता है। इस योगासन से पीठ की मासपेशियों को मज़बूती मिलती है साथ ही साथ फेफड़ों और थायरॉइड के लिए भी इसके बड़े फायदे होते है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
सेहत

जाने ‘Respiratory System’ को बूस्ट करने वाली ब्रीथिंग एक्सरसाइज के बारे में

जाने कोरोना काल में फेफड़ों या रेस्पिरेटरी सिस्टम को मजबूत बनाने वाली एक्सरसाइज के बारे में


एक्सरसाइज हमारे लिए कितनी फायदेमंद होती है ये शायद हमें आपको बताने की जरूरत नहीं है। यह हमारे शरीर को स्वास्थ्य रखने में हमारी मदद करती है। अगर हम बात करें फेफड़ों के स्वास्थ्य की तो हमारे लिए फेफड़ों की अच्छी देखभाल करना हमेशा महत्वपूर्ण होता है और आज के समय में तो ये और भी ज्यादा महत्वपूर्ण हो गया है। इस समय हम सभी लोग कोरोना महामारी से जूझ रहे हैं जो हमारी श्वसन पथ को प्रभावित करती है। सभी लोग से ये बार बार कहा जा रहा है कि अच्छे स्वास्थ्य के लिए सामाजिक दूरी और हर समय मास्क पहनना बेहद जरूरी है। क्योंकि अगर आपके फेफड़े हेल्दी हुए तो आप इस कोरोना महामारी से आसानी से लड़ सकते हैं। इसलिए इस बुरे वक़्त में आपको अपने फेफड़ों या रेस्पिरेटरी सिस्टम को मजबूत बनाने के लिए एक्सरसाइज करना जरूरी है। तो चलिए आज हम आपको कुछ ऐसे ब्रीथिंग एक्सरसाइज के बारे बताएंगे जिसे आपका रेस्पिरेटरी सिस्टम मजबूत बनेगा।

ओसियन ब्रीथ: ओसियन ब्रीथ को उज्जायी प्राणायाम के नाम से भी जाना जाता है। यह एक संस्कृत के शब्द “उज्जायी” से लिया गया है। जिसका अर्थ होता है जितना। आपका इस तरह से सांस लेने का अभ्यास आपकी एकाग्रता में सुधार कर सकता है। आपके पूरे शरीर से तनाव को कम कर सकता है और शरीर के आंतरिक तापमान को नियंत्रित कर सकता है। साथ ही साथ आपके फेफड़ों के कार्य को बढ़ावा भी दे सकता है। इस उज्जायी प्राणायाम में आपको नासिका और अर्ध-बंद दोनों ग्लोटिस से गहरी सांस लेनी होगी है।

और पढ़ें: गर्मियों में वर्कआउट के दौरान ध्यान रखें ये चीजे, न करे ये कॉमन मिस्टेक्स

एब्डोमेन ब्रीथिंग: डायाफ्रामिक श्वास को पेट की श्वास या पेट श्वास के नाम से भी जाना जाता है। जो आपके पूर्ण ऑक्सीजन विनिमय को प्रोत्साहित करता है। इस तरह की श्वास हृदय की धड़कन को धीमा कर देती है और हमारे ब्लड प्रेशर को स्थिर भी रखता है। साथ ही साथ पेट की सांस लेने से तनाव में कमी भी आती है। आपकी स्ट्रेचिंग में वृद्धि की दक्षता और बेहतर शरीर जागरूकता को बढ़ावा देने में मदद करती है।

लिप्स को सिकोड़कर ब्रीथिंग करना: इस तरह की एक्सरसाइज में आप अपनी नाक से सांस लेते हैं और अपने लिप्स को थपथपाकर धीरे-धीरे सांस छोड़ते हैं। ऐसे में सांस की कमी महसूस होने पर आपके सिकोड़े हुए लिप्स आपके फेफड़ों में अधिक ऑक्सीजन प्राप्त करने में मदद करते है और आपको शांत करने में मदद करते है। इससे आप नियंत्रित तरीके से सांस ले सकें है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

सावधान! वर्कआउट के लिए कहीं आप भी तो नहीं इस्तेमाल कर रही हैं नार्मल ब्रा..

Beware if you are using normal bra during the workout.


स्पोर्ट्स ब्रा हैं कई फायदे

आज के समय में लोगों का जैसा लाइफस्टाइल है। हर किसी को योगा और एक्ससाइज करना बहुत जरुरी है। कुछ महिलाएं तो प्रतिदिन नियमित रुप से योगा और एक्ससाइज करती ही हैं। इनमें से कुछ वर्किंग हैं तो कुछ हाउस वाइफ जो अपनी डेली रुटीन में योगा को शामिल करती हैं। महिलाएं डेली रुटीन में इसे शामिल तो कर लेती हैं लेकिन यह नहीं जानती कि उन्हें वर्कआउट करते वक्त कैसी ब्रा पहननी चाहिए। कुछ महिलाएं बिना ब्रा के तो, कुछ नार्मल ब्रा में वर्कआउट करती हैं । लेकिन आपको पता है यह दोनों तरीके ही गलत हैं। वर्कऑउट करते वक्त हमेशा महिलाओं को स्पोर्टस ब्रा का इस्तेमाल करना चाहिए। तो चलिए आज आपको बताते हैं वर्कऑउट के लिए क्यों फायदे हैं स्पोर्टस ब्रा..

Image Source-Protips Dickssporting Goods

शरीर के तापमान और पसीने को संतुलित रखने में मदद करती है…

स्पोर्टस ब्रा का फेबरिक थोड़ा एड़वांस होता है। जिसके कारण यह शरीर से निकलने वाले पसीने को रोकने में मदद करती है। वर्कऑउट करते वक्त जब बॉडी में बहुत ज्यादा पसीना बाहर आता है तो स्किन का एयर फ्लो बढ़ता है। इस दौरान यह आपको कूल और स्किन को ड्राई रखने में मदद करती है।

और पढ़ें: Chaitra Navratri 2021: क्या आप भी कोरोना काल मे रख रहे हैं व्रत?

ब्लड सर्कुलेशन में मददगार

सामान्य ब्रा  में इलास्टिक लगी होती है। इसे पहनकर वर्कऑउट करने से ब्लड सर्कुलेशन की समस्या होती है। लेकिन अगर आप स्पोर्टस ब्रा पहनकर वर्कऑउट करते हैं तो आपका ब्लड सर्कुलेशन भी सही से काम करता है।  इतना ही नहीं इसको लंबे समय  तक पहनकर वर्कऑउट किया जा रहा है।


ब्रेस्ट में दर्द कम होता है.

फिजिक्ल एक्टिविटी के समय ब्रेस्ट की मसल्स पर असर  पड़ता है। जिससे आपको समस्या होने लगती है। कई बार तो बॉर्डी के ऊपर वाले हिस्से में दर्द भी होने लग जाता है। इसी दर्द से निजात पाने के लिए वर्कऑउट करते वक्त स्पोर्टस ब्रा का इस्तेमाल करना चाहिए। सामान्य ब्रा में वायर होती है इसमें वायर नहीं होती है जिससे आपको वर्कऑउट करते वक्त आराम मिलता है।

कैसी स्पोर्टस ब्रा लें…

1-     जब भी आप स्पोर्टस ब्रा लें तो उसके कप साइज पर जरुर ध्यान दें। साइज न तो बड़ा लें और न ही छोटा, कप का साइज ऐसा हो जो आपको सही सपोर्ट दे सके।

2-     खरीदते वक्त फेबरिक का ध्यान दें। क्योंकि ब्रा का फेबरिक जितना सॉफ्ट होगा। वर्कऑउट में उतनी ही सुविधा होगी।

3-     शॉपिंग करते वक्त जैसे आप सामान्य ब्रा की पट्टियों पर ध्यान देते हैं वैसे ही इनकी पट्टियों पर भी ध्यान दें। हमेशा सॉफ्ट पट्टी वाली ब्रा ही खरीदें। अगर आप हाई इन्पैक्ट वर्कआउट के लिए चौड़ी स्ट्रैप वाली स्पोर्टस ब्रा लें और वॉकिंग और योगा के लिए लो इम्पैक्ट वाली स्पोर्ट ब्रा लें।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
मनोरंजन

Shilpa Shetty से सीखें दिन की शुरुआत करने का बेस्ट तरीका, पहाड़ों के बीच दिखीं योग करती

Shilpa Shetty का एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब धमाल मचा रहा है


बॉलीवुड एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी को आज किसी पहचान की जरूरत नहीं है। शिल्पा शेट्टी बॉलीवुड की उन एक्ट्रसेस में से एक है जिन्होंने अपनी शानदार एक्टिंग से लोगों को अपना दीवाना बनाया ही है साथ साथ ही उन्होंने अपनी फिटनेस से भी लोगों का दिल जीता है। शिल्पा शेट्टी बॉलीवुड की एक ऐसी एक्ट्रेस है जो हमेशा फिट एंड ग्लैमरस नजर आती हैं। साथ ही साथ वो हमेशा सोशल मीडिया पर भी एक्टिव रहती है अभी हाल ही में शिल्पा शेट्टी ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से एक वीडियो शेयर किया है जिसे देख कर आप उनसे दिन की शुरुआत करने के टिप्स तो जरूर ले सकते हैं। दरअसल शिल्पा शेट्टी अपनी इस वीडियो में पहाड़ों के बीच शांति से बैठकर योग करती नजर आ रही हैं और उनकी इस वीडियो को फैंस द्वारा खूब पसंद भी किया जा रहा है। इतना ही नहीं फैंस इस वीडियो पर अपने खूब रिएक्शन  दे रहे हैं।

 

और पढ़ें: जानें 1982 से लेकर अब तक कितनी बार सर्जरी करा चुके है अमिताभ बच्चन, मौत को भी दे चुके हैं मात

जैसे की हम सभी लोग जानते है कि शिल्पा शेट्टी ने इससे पहले भी योग से जुड़ी कई वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर की है। जिसमें उन्होंने आपने फैंस को कई हेल्थ टिप्स भी शेयर किये है। शिल्पा शेट्टी ने इस हेल्थ वीडियो को अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर शेयर करते हुए लिखा ‘कुछ समय प्रकृति के साथ जरुर रहे और खुले आसमान में सांस लें और पूरे वातावरण को फिल करें। आगे शिल्पा बताती है कि यह वीडियो थोड़ा पुराना है यह वीडियो तब का है जब मैं कुछ समय के लिए मनाली गई थी। उस दौरान ही मैंने फैसला किया था कि हर सुबह कुछ समय मैं प्रकृति के बीच अकेले बैठूंगी।

आपको जल्द इन फिल्मों में नजर आएंगी शिल्पा शेट्टी

बॉलीवुड की फिटनेस क्वीन शिल्पा शेट्टी जल्द ही आपको इन दो फिल्मों में नजर आएगी। शिल्पा शेट्टी की पहली अपकमिंग फिल्म है ‘निकम्मा’ और दूसरी फिल्म है ‘हंगामा 2’। इस फिल्म में शिल्पा शेट्टी परेश रावल के साथ काम कर रही है। इस तरह इन फिल्मों के द्वारा शिल्पा शेट्टी लंबे अरसे बाद सिल्वरस्क्रीन पर वापसी करने जा रही हैं।

 

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

जानें रोजाना योगासन करने से आपको कैसे मिल सकती है हेल्दी और ग्लोइंग स्किन

जानें हेल्दी और ग्लोइंग स्किन पाने में योग का योगदान


क्या आपको पता है हमारे डेली ब्यूटी रूटीन में, मन और दिमाग की शांति और आध्यात्मिक संतुलन एक बेहद जरूरी भूमिका निभाते हैं.  इस बात पर भले ही हमारा ध्यान नहीं जाता, लेकिन हमारी त्वचा से जुड़ी अधिकतर समस्याएं हमारे शरीर के फ्लूइड्स में असंतुलन होने से हमारा रक्त संचार खराब होने लगता है और एक्सरसाइज ना करने से ओर अधिक तनाव होने लगता हैं. लेकिन इन सभी चीजों को संतुलित करने में योग हमारी काफी ज्यादा मदद करता है. इतना ही नहीं योग हमारी त्वचा की खूबसूरती बढाने में हमारी मदद करता है.  तो चलिए आज हम आपको रोजाना योगासन करने के फायदे बताएंगे और साथ ही जाने रोजाना योगासन करने से आपको कैसे मिल सकती है हेल्दी और ग्लोइंग स्किन.

 

रक्त संचार: शायद अगर अपने ध्यान दिया हो तो स्किन में इंफ्लेमेशन और फ्री रेडिकल्स के कारण हमारी स्किन पर एजिंग साइन दिखने लगते है. क्या आपको पता है रोजाना योग का अभ्यास करने से चेहरे में रक्त का प्रवाह बढ़ता है साथ ही साथ ऑक्सीजन और अन्य पोषक तत्वों को स्किन की सेल्स तक पहुँचता है. आपको रोजाना उत्तानासन पोज़ करना चाहिए क्योकि इसमें सिर नीचे की ओर जाता है जिससे स्किन को ब्लड की आपूर्ति होती है और आपकी सेल्स को ऑक्सीजन बूस्ट मिलता है.

 

और पढ़ें: जानें सर्दियों में अदरक का काढ़ा पीने के अद्भुत फायदे, एलर्जी से लेकर पाचन तक में है बेहद फायदेमंद

 

 

झुर्रियों को कम करे: क्या आपको पता है योग जितना आपकी सेहत के लिए फायदेमंद है उतना ही ये आपकी त्वचा के लिए फायदेमंद है. रोजाना योग करना आपकी त्वचा को टाइट और स्मूथ बनाने के लिए भी बहुत फायदेमंद है. रोजाना योग करने से आपके माथे की मांसपेशियों और आंखों के आस-पास की स्किन को हम करने में मदद मिलती है.

 

चेहरे का फैट: अक्सर लोगों के सामने ये समस्या आती है जब उनको एक समय के बाद अपने गाल और चेहरे पर आ रहा फैट उनको बिलकुल भी पसंद नहीं आता.  ऐसे में आप योग कर के इस फैट को कम कर सकते है गाल, होंठों और जबड़े के लिए भी योग आसन मौजूद हैं. इनकी सहायता से आप अपने चेहरे का फैट कम कर सकते है.

 

डबल चिन: अपने अक्सर लोगों में डबल चिन देखा होगा.  लेकिन क्या आपको पता है ये समस्या लोगों में कहां से पैदा होती है अक्सर लोगों में डबल चिन मुख्य रूप से अत्यधिक वजन, कोलेजन की कमी और बढ़ती उम्र के कारण होता है. जो हमारे चेहरे की अपीयरेंस को खराब कर सकता है. इसलिए आपको रोजाना योग करना चाहिए इससे आपको इस तरह की समस्या नहीं आती.

 

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

क्या आपकी सफलता आपके अकेलापन का कारण है अगर हाँ तो ऐसे करें खुद को हैंडल

‘जीवन में सफलता’ जाने आज क्यों यह एक सब्जेक्टिव टॉपिक बन चुका है


हम सभी के लिए हमारे जीवन में सफलता का अलग-अलग मतलब होता है आज के समय में ‘जीवन में सफलता’ यह एक सब्जेक्टिव टॉपिक बन चुका है. इसे लेकर सभी लोगों की अपनी महत्वकांक्षाएं होती हैं और सभी की अपनी परिभाषाएं होती हैं.  इतना ही नहीं  सफलता का हमारे लिए क्या मतलब है.  किसी उद्देश्य को फॉलो करना किसी भी व्यक्ति के जीवन को दिलचस्प बना देता है. क्योकि जब हमारे पास कोई लक्ष्य होता है तो हम हर दिन खुद को बिस्तर से बाहर निकलने और कुछ नया करने के लिए मोटिवेट कर पाते हैं. लेकिन ये बात भी सच है कि हमें खुद को यह याद दिलाते रहना चाहिए कि लाइफ की क्वालिटी इस बात पर निर्भर करती है और हम कैसा महसूस करते है अगर आपके जीवन का उद्देश्य सिर्फ पैसा कमाना ही है और कुछ नहीं, तो आप जल्द ही यह महसूस करेंगे कि पैसे से आप वास्तव में संतोष नहीं खरीद सकते है.  इससे आपको निराशा और अकेलेपन की भावना आएगी.

 

और पढ़ें: अगर आपके दोस्त या करीबियों की है शादी, तो उन्हें दे ये प्रैक्टिकल और शानदार गिफ्ट

 

 

जानें अकेलेपन को कैसे हैंडल करें

बॉडी को हेल्दी बनाएं: सबसे पहले आपको अपने शरीर को हेल्दी बनाएं रखना होगा क्योंकि शरीर एक ऐसी चीज है जो हर परिस्थिति में आपका साथ देता है. पैसा से भले आप सबसे बड़ी हवेली खरीद सकते है या फिर बहुत बड़ी कार ले सकते है लेकिन आप पैसे से कभी स्वास्थ्य नहीं खरीद सकते है. अगर आपका स्वास्थ्य खराब है तो भले आपके पास कितना भी पैसा क्यों ही न हो आपको कभी भी अच्छा महसूस नहीं हो सकता है. इसलिए सबसे पहले आपको अपने शरीर को हेल्दी बनाएं रखना होगा.

 

मेडिटेशन: अगर आप खुद से मिलना चाहते है तो आप मेडिटेशन का रास्ता अपना सकते है. आप योग के साथ-साथ  मेडिटेशन करने से आपको माइंडफुलनेस का अभ्यास होता क्योंकि मेडिटेशन आपको आपके शरीर और दिमाग के बारे में जागरूक होने में मदद करेगा.  मेडिटेशन आपको खुद अपने साथ एक रिलेशन स्थापित करने में भी मदद करती है.

 

खुद से बातें करें: अगर आपको भी अकेलेपन महसूस होता है और इससे खत्म करना चाहते है. तो आप वॉक, और सेल्फ टॉक का सहारा ले सकते है. वैसे भी वॉक को एक हेल्दी एक्टिविटी के तौर पर जाना जाता है. अगर इससे नियमित रूप से जाये तो ये शरीर के साथ-साथ दिमाग के लिए भी फायदे होता हैं.

 

जितना हो सके अपने दोस्तों और करीबी लोगों से बात करें: जब भी आपको अकेलापन महसूस हो तो आप अपने दोस्तों या फिर अपने करीबी लोगों से बात कर सकते है. अपने मन की बातें उनसे शेयर कर सकते हैं. अगर आपकी लाइफ में भी ऐसे लोग है जो आपसे प्यार करते है आपकी केयर करते हैं तो आप बुरे समय से भी मुस्कुराते हुए डील कर सकते है.

 

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
मनोरंजन

जाने बॉलीवुड की उन हसीनाओं के बारे में, जिन्होंने अपनी प्रेगनेंसी के दौरान भी नहीं छोड़ा योगासन करना

जाने प्रेगनेंसी के दौरान योग करने के फायदे


योगा हमारे स्वास्थ्य के लिए कितना फायदेमंद होता है ये बात शायद हमे आपको बताने की जरूरत नहीं है. आपने देखा कि अक्सर हमारे बॉलीवुड सितारें भी योगा के जरिए अपनी फिटनेस और फ्लैक्सिबिलिटी बढ़ाते रहते हैं साथ ही साथ वो योग से अपना स्ट्रेस भी घटाते रहते हैं. अनुष्का शर्मा से लेकर करीना कपूर खान तक हर बॉलीवुड सेलिब्रिटी योगा को अपना बेस्ट फ्रेंड मानते हैं. आज हम आपको उन बॉलीवुड सेलिब्रिटीज के बारे में बतायेगे, जिन्होंने अपनी प्रेगनेंसी के दौरान भी योगा करना नहीं छोड़ा क्योकि प्रेगनेंसी के दौरान भी योगा बेहद फायदेमंद माना जाता है. इन योगासन को प्रीनेटल योगा कहा जाता है. प्रेगनेंसी के दौरान योगा करने से आपका शरीर फ्लैक्सिबिलिटी होने के साथ साथ आपकी मसल्स को रिलैक्स भी करता है।

करीना कपूर खान: करीना कपूर ने अपनी पहली प्रेगनेंसी के दौरान योगा करना नहीं छोड़ा था. करीना कपूर ने अपनी प्रेगनेंसी के दौरान जिम की जगह योगा को चुना क्योंकि यह आपके पूरे शरीर के स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है. अभी करीना कपूर दोबारा प्रेगनेंट है और इस बार भी वो योग के सहारे ही अपनी फिटनेस और फ्लैक्सिबिलिटी बनाए रखने में जुटी हैं.

और पढ़ें: जानें बॉलीवुड की कौन-कौन सी अदाकारा रखती है रॉयल परिवार से नाता

अनुष्का शर्मा: अभी अनुष्का शर्मा प्रेगनेंट हैं और इन दिनों भी उन्होंने योग करना नहीं छोड़ा। शायद आपने देखा भी होगा कि कुछ समय पहले अनुष्का शर्मा ने शीर्षासन करते हुए अपनी एक फोटो शेयर की थी. जिसमे वह अपने हाथों के बल जमीन पर हैं और उनके पैर आसमान की तरफ है. अनुष्का के डॉक्टर ने उन्हें आश्वासन दिया कि यह एक्सरसाइज उनके और उनके बच्चे दोनों के लिए सुरक्षित है.

एमी जैक्सन: एमी जैक्सन अभी प्रेगनेंट नहीं है लेकिन जब उनका पहला बेबी हुआ था तो उन्होंने भी अपने  शरीर और दिमाग को एक्टिव और शांत रखने के लिए योग का सहारा लिया था। अपनी प्रेगनेंसी के दौरान एमी जैक्सन ने इंस्टाग्राम पर अपनी एक फोटो शेयर करते हुए लिखा था कि वह अपने शरीर, दिमाग और आत्मा को योगा के जरिए एक्टिवेट कर रही हैं। इतना ही नहीं बच्चा होने के बाद भी एमी जैक्सन ने जिम के बजाए योग को ही चुना.

सोहा अली खान: सोहा अली खान हमेशा से ही योगा प्रैक्टिस करती रहती है सोहा अली खान अपनी प्रेगनेंसी से पहले भी अपने योगासनों की फोटो अपने सोशल एकाउंट्स पर शेयर करती रहती थी. सोहा अली खान ने प्रेगनेंसी के दौरान भी योग का साथ नहीं छोड़ा था.उनका कहना है कि योगा करने से उन्हें लेबर और हार्मोनल उतारचढ़ाव की समस्या में काफी  ज्यादा फायदा महसूस हुआ है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com