Categories
धार्मिक

जाने देश में उत्तर से दक्षिण तक कैसा मनाई जाती है विजयदशमी

 

सभी जगह राम भगवान की पूजा नहीं  होती है


 

आज  पूरे देश में अच्छाई की बुराई की जीत को बड़ी ही धूमधाम से मनाया जायेगा। देश के हर कोने में विजयदशमी का त्यौहार  बड़े ही धूमधाम के साथ मनाया जाएगा।

देश के अलग-अलग हिस्सों में इसे मानने का तरीका भी अलग-अलग है।

पश्चिम बंगाल

पश्चिम बंगाल में विजय के इस दिन के साथ एक दुख भी होता है। क्योंकि मां की विदाई होती है। इस दौरान शादीशुदा महिला एक दूसरे को सिंदूर लगाकर खुशी जाहिर करती है। और इस विजय दिवस को मनाती है। जिसके बाद माता की विदाई की जाती है।

महाराष्ट्र

महाराष्ट्र में भी नौ दिन तक माता की पूजा अराधना की जाती है। लेकिन 10वें दिन यहां ज्ञान की देवी सरस्वती की वंदना की जाती है। इस दिन स्कूल जाने वाले बच्चे अपनी पढ़ाई मे देवी का आर्शीवाद पाने के लिए मां सरस्वती के तांत्रिक चिंहों की पूजा करते हैं।

पूरे देश में धूमधाम के साथ दशहरा मनाया जा रहा है

बस्तर

बस्तर आम तौर पर नक्सली प्रभावित इलाका होने के लिेये जाना जाता है। लेकिन आज हम आपको बताते है यहां विजयदशमी कैसे मनाई जाती है। यहां राम की रावण पर विजय को नहीं माना जाता है ब्लकि यहां के लोग विजयदशमी को मां दंतेश्वरी की अराधना को समर्पित एक पर्व के रुप में मनाते हैं। दंतेश्वरी माता बस्तर के लोगों की आराध्य देवी हैं जो मां दुर्गा का ही रुप हैं और यहां यह पर्व पूरे 75 दिन तक चलता है। इस त्यौहार की शुरुआत श्रावण मास के अमावस्या से होती है और इसका समापन आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी को ओहाडी पर्व से होता है।

कुल्लू

ठंडी वादियो में बसा कुल्लू। कुल्लू की विजयदशमी भी आमतौर के विजय दिवस से अलग है। इस दौरान यहां राम की पूजा नही की जाती है। ब्लकि यहां तो यहां के ग्रामीण देवता की पूजा होती है। ग्रामीण देवता के तौर  पर मुख्य देवता भगवान रघुनाथ जी की पूजा करते हैं। साथ ही सज धजकर ढोल नगाड़ों पर नाचते हैं।

मैसूर

विजयदशमी के दिन पूरे शहर को लाइटों से सजाया जाता है। फिर हाथियों का श्रृंगार कर पूरे शहर में भव्य जूलुस निकाला जाता है

 

 

Categories
लाइफस्टाइल

सेक्स लाइफ को बेहतर बनाने के लिए करे ये काम

सेक्स लाइफ को बेहतर बनाने के तरीके


अगर आप कैलोरी के प्रति सचेत है और अधिक वजन कम करने के लिए स्वास्थ्यवधक भोजन ग्रहण करते है। एक दिलचस्प शोध मे यह पता चला है कि कम खाने से न लोगो का वजन कम करने मे मदद मिलती है और तनाव को कम करता है जिससे सेक्स लाइफ बेहतर हो जाती है।

सेक्स टिप्स

कम कैलोरी ग्रहण करने वाले समूह के लोगों की नींद बेहतर हुई है और उनका वजन भी घट गया है। मोटापे के शिकार लोग अगर कम कैलोरी ले तो उनकी नींद और यौन प्रणाली बेहतर होती है।

ऐसे मे लोग अपने पार्टनर को शारीरिक सुख की अनुभूति नही करा पाते है। लेकिन आदतों को अपनी जीवनशैली मे शामिल कर सेक्स लाइफ को बेहतर बनाया जा सकता है।

तनाव खराब सेक्स लाइफ का एक प्रमुख कारण है। इसके लिए काफी हद तक हमारा लाइफ स्टाइल जिम्मेदार है। तनाव से बचने के लिए दिन के कामो का सही प्रबंध करे और ऑफिस और घर को अलग रखें। नियमित योग कर भी तनाव से बचा जा रहा है।

एक्सरसाइज

सेक्स लाइफ को बेहतर बनाने के तरीके

  •  हेल्दी सेक्सुअल जीवन व अच्छे सेक्स के लिए सकारात्मक सोच जरुरी होती है।
  • सेक्स लाइफ का भरपूर आनन्द लेने के लिए शरीर का फिट रहना भी जरुरी है। इसलिए हर रोज एकसरसाइज करें।
  • इसके अलावा यदि आप चाहें, तो जाँगिंग भी कर सकती है, क्योकि जागिंग करने से भी बेहतर सेक्स मे मदद मिलती है और शरीर फिट रहता है।
  • दो टोबलस्पून आवंले के रस मे एक एक टीस्पून सूखे आवंले का चूर्ण और शहद मिलाकर दिन मे दो बार ले इससे सेक्स पावर बढ़ती है।
  • गुलाबी, लाल, बैंगनी व जामूनी रंग की प्रकति गरम होती है, ये रंग सेक्स पावर बढाती है इसलिए अपने बेडरुम मे इन रंगो का अधिक से अधिक इस्तेमाल करे।
  • अच्छी सेक्स लाइफ का केवल तन से ही लेना देना नही रहता, बल्कि आपकी मन व संतुष्टि भी मायने रखती है।

जरुरी टिप्स

  • हफ्ते मे दो-तीन बार सेक्स करने से रोगप्तिरोधक क्षमता बढ. जाती है।
  • एंकलबोन के नीचे ऐडी मे सर्कुलर मसाज करने से सेक्सुअल उतेजना बढती है।
  • ध्यान रखे कि सेक्स के बीच गैप होना भी जरुरी है, खासतौर पर कोई इंफेक्सन पीरियडस, सेक्सुअल प्राब्लम्स आदि होने पर सेक्स नही करना चाहिए।
Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in