Categories
मनोरंजन एजुकेशन

URI:The Surgical Strike Movie Review: विक्की कौशल अपने अभिनय के लिए लूट रहे है वाह- वाही!

जाने क्या था सर्जिकल स्ट्राइक? विक्की कौशल का बेहतरीन अभिनय दिला सकता है फिल्म को बड़ी सफलता 


सर्जिकल स्ट्राइक सेना के द्वारा किया जाने वाला एक विशेष प्रकार का हमला होता है यह हमला पूरी तरह गुप्त होता है. इस हमले की सूचना  कुछ चुनिंदा लोगो को ही होती है और इस हमले में सबसे पहले रणनीति तैयार की जाती है. इसमें समय, कमांडोज की संख्या, किस जगह पर हमला किया जायेगा इन बातो का विशेष ध्यान रखा जाता है. हमले के  दौरान यह भी ध्यान रखा जाता है कि जिस स्थान को टारगेट किया जायेगा वहीं पर हमला हो. साथ ही सिविलियन इलाकों को कोई नुकसान ना हो. इससे पब्लिक प्लेस, या आम जनताम और उसके उपयोग से साधनों को कोई नुकसान ना पहुंचे और इस प्रकार के आक्रमण में अगर वायु-बल का इस्तेमाल किया जाता है तो उसमें भी यह कोशिश की जाती है कि सटीक बमबारी की जाए जिसमें आस-पास की सुविधाएँ कम से कम क्षतिग्रस्त हों.

भारत और पाकिस्तान के रिश्तो की बारे में तो पूरी दुनिया जानती है पाकिस्तान ने किस तरह भारत की दोस्ती का जवाब पीछे से वॉर कर के दिया है कई बार पाकिस्तान ने भारत की LOC में  घुसपैठ करने की कोशिश  और कई बार भारत ने इसे नजरअंदाज किया पर पाकिस्तान ने भारत के शांत रहने और नजरअंदाज करने का फायदा उठाया। एक बार फिर पाकिस्तान ने 18 सितंबर को उरी में  घुसपैठ की. जिसमे कई भारतीय सैनिक और भारतीय लोग  मारे गए इस घटना के बाद भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ कड़ा कदम उठाने  का फैसला लिया उसके बाद हुआ सर्जिकल स्ट्राइक

सर्जिकल स्ट्राइक 28-29 सितंबर को भारतीय सेना द्वारा किया गया था. ये उरी हमले के खिलाफ पाकिस्तान के लिए मुँह तोड़ जवाब था 18 सितंबर को चार भारी हथियारों से लैस आतकवादियो ने जम्मू कश्मीर के पास उरी गाँव में एक बड़ा हमला किया और ये हमला बहुत ही घातक था 18 सितंबर को सुबह 5:30 पर चार उग्रवादियों ने LOC पार कर के उरी में हमला किया 3 min में उन लोगो ने ग्रेनेड फैके थे इन लोगो ने सैनिकों के टैंट पर आग लगा दी और इसमें 17 जवान शहीद हुए थे चार उग्रवादियों और सेना के बीच ये फायरिंग 6 घटे तक चली इसके बाद भारतीय सेना ने उग्रवादियों को मार. इस में 17 जवान शहीद हुए और 25-30 को गहरी चोट आई.

Read more: मनमोहन सिंह के बाद अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बनेगी बायोपिक फिल्म

पाकिस्तान को उरी हमले का जवाब

उरी हमले का बदला लेने और पाकिस्तान को सबक सीखने की लिए भारत ने सर्जिकल स्ट्राइक किया उरी हमले के बाद जब प्रधानमंत्री जब वॉर रूप में गए थे तो उसी दिन से सर्जिकल स्ट्राइक के तैयारी शुरू कर दी.  10 दिन की तैयारी के बाद ये ऑपरेशन किया गया और उरी हमले के ठीक 11 दिन बाद भारतीय सेना ने उग्रवादियों के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक किया जिसमे 18 भारतीय सैनिक कश्मीर के उस हिसे गए जहाँ पाकिस्तान सेना तैनात रहती है. भारत ने बीती रात नियंत्रण रेखा के पार स्थित आतंकी शिविरों पर सर्जिकल हमले किए जिनमें आतंकवादियों को भारी नुकसान पहुंचा है और बुहत सारे आतंकवादी मारे गए हैं. सेना द्वारा आतंकवादियों को निशाना बनाने के लिए अचानक की गई इस कार्रवाई के बारे में घोषणा सैन्य अभियान महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल रणवीर सिंह ने आनन-फानन में बुलाए गए संवाददाता सम्मेलन में की.

विक्की कौशल का दमदार अभिनय

विक्की कौशल की फिल्म आज बड़े परदे पर रिलीज़ हो गयी और उनका दमदार अभिनय लोगो को काफी लुभा रहा है. हाल ही में विक्की कौशल दिल्ली आये थे और उन्हने एक प्रेस  कांफ्रेंस  में बताया की उनकी फिलम उरी : द सर्जिकल स्ट्राइक में काम करके काफी मज़ा आया और उन्होंने काफी कुछ सीखा भी.  आपको बता दे, यह इस साल के पहली बड़ी रिलीज़ मूवी है.

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.in

Categories
मनोरंजन

सर्जिकल स्‍ट्राइक के सबूत मांगने वालों को आड़े हाथ लिया अक्षय कुमार ने

सर्जिकल स्‍ट्राइक के सबूत मांगने वालों को आड़े हाथ लिया अक्षय कुमार ने  


सबूत मांगने वालों को आड़े हाथ लिया

सर्जिकल स्‍ट्राइक के सबूत मांगने वालों को आड़े हाथ लिया अक्षय कुमार ने  :-  बॉलीवुड के जाने-माने अभिनेता अक्षय कुमार ने सर्जिकल स्‍ट्राइक के सबूत मांगने वालों को और आर्टिस्‍ट्स को बैन करने की मागं करने वालों को आड़े हाथ लिया है। अक्षय ने कहा, कि इस तरह की मांग करने वाले लोगों को शर्म करनी चाहिए। इन सबसे पहले उन जवानों के परिवार की चिंता करनी चाहिए, जिन्‍होनें देश के लिए अपनी जान दे दी।

अक्षय कुमार, अभिनेता

यहाँ पढ़ें : मद्रास हाईकोर्ट : तमिलनाडु के कार्यवाहक मुख्यमंत्री को चुनाव करने का आदेश नहीं

वीडियो मैसेज में अक्षय ने कहा

अभिनेता अक्षय कुमार ने अपने फेसबुक वॉल पर ए‍क वीडियो मैसेज डाला है। इस वीडियों मैसेज में अक्षय कुमार ने कहा है, कि मै आज आप से एक स्‍टार की तरह बात नहीं कर रहा हूं। मैं आज आप से बात कर रहा हूं एक आर्मीमैन के बेटे की तरह। मैं कई दिनों से लगातार देख रहा हूं न्‍यूज चैनल में और न्‍यूजपेपर्स में अपने ही देश के लोगों को अपनों से बहस करते हुए। कोई सर्जिकल स्‍ट्राइक के सबूत मांग रहा है,, तो कोई आर्टिस्‍ट्स को बैन करने की मांग कर रहा है।

कोई इस बात से डर रहा है कि वॉर होगी या नहीं। अरे शर्म करो। साथ ही अक्षय कुमार ने कहा, कि अरे, यार ये सब बहस बाद में कर लेना, पहले ये सोचो सरहद पर किसी ने अपनी जान दे दी है। हमें 19 जवान उरी हमले में शहीद हो गए और एक 24 साल का जवान नितिन यादव कश्‍मीर के बारामुला में शहीद हो गया है। क्‍या उन जवानो की फैमिली या हमारे हजारों फौजियों के परिवार को चिंता होगी कि कोई फिल्‍म रिलीज होगी या नहीं या फिर कोई आर्टिस्‍ट बैन होगा या नहीं। उनकी परिवारों की सिर्फ एक ही चिंता है, उनका भविष्‍य। मगर हमारी चिंता है उनका आज और कल सही होना चाहिए। अगर वो है, तो आज मै हूं, आप है। वो नहीं तो हिन्‍दुस्‍तान नहीं, जय हिन्‍द।

आप भी सुने अक्षय कुमार का वीडियो मैसेजः

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
भारत

भारत के फैसले के बाद तीन और देश नहीं करेंगे सार्क सम्मेलन में शिरकत

भारत के फैसले के बाद तीन और देश नहीं करेंगे सार्क सम्मेलन में शिरकत


भारत के फैसले को तीन देशों का समर्थन

भारत के फैसले के बाद तीन और देश नहीं करेंगे सार्क सम्मेलन में शिरकत:- पाकिस्‍तान के इस्लामाबाद में इसी साल नवंबर में होने जा रहे दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन यानि सार्क शिखर सम्मेलन में भारत देश भाग नहीं ले रहा है। भारत के इस फैसले को पड़ोसी देशों बांग्लादेश, अफगानिस्तान और भूटान ने समर्थन किया है। सूत्रों के हवाले से आई ख़बर के अनुसार, इन तीनों देशों ने भी सार्क शिखर सम्मेलन में शिरकत नहीं करने का निर्णय लिया है।

भारत के फैसले को तीन देशों का समर्थन

बांग्लादेश ने सार्क के अध्‍यक्ष को लिखा संदेश

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, सार्क के मौजूदा अध्यक्ष नेपाल को भेजे एक संदेश में बांग्लादेश ने यह कहा है, कि बांग्लादेश के अंदरूनी मामलात में एक देश द्वारा बढ़ते दखल ने ऐसा माहौल पैदा कर दिया है, जिस के कारण नवंबर 2016 में इस्लामाबाद में 19वें सार्क सम्मेलन का सफल आयोजन मुमकिन नहीं है।

यहाँ पढ़ें :‘मोस्ट फेवर्ड नेशन’ पर पुर्नविचार करेगा भारत

साथ ही संदेश में यह भी कहा गया है, किे सार्क या दक्षेस की प्रक्रिया की शुरुआत करने वालों में शामिल रहे बांग्लादेश की क्षेत्रीय सहयोग और संपर्क में प्रतिबद्धता हमेशा मजबूत रही है, मगर उसका मानना है कि यह अधिक सौहार्दपूर्ण माहौल में ही आगे बढ़ सकता है और इस सब के चलते बांग्लादेश इस्लामाबाद में प्रस्तावित शिखर सम्मेलन में शिरकत करने में असमर्थ है।

सार्क शिखर सम्मेलन

सार्क सम्‍मेलन रद्द पहले भी हुआ है

आप को बता दें, कि यह सार्क शिखर सम्मेलन तब तक नहीं हो सकता, जब तक की इसके सभी सदस्य शामिल नहीं होते है। वैसे ये कोई पहला बार नहीं हुआ है, कि सार्क सम्मेलन रद्द हुआ हो, ऐसा पहले भी हो चुका है और कई बार सार्क शिखर सम्मेलन देर से भी हुए हैं। मगर इस बार देर से होने के भी आसार नहीं लग रहे।

उरी हमले के बाद मोदी ने उठाए कई अहम कदम

भारत के प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी हाल ही में हुए उरी हमले के बाद से पाकिस्तान को सख्त संदेश देना चाहता है और इसके लिए पिछले दिनों में कई कदम उठा चुके हैं। बता दें, उरी हमले में 18 जवान शहीद हो गए।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
विदेश

कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा नहीं- पाकिस्‍तान

कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा नहीं- पाकिस्‍तान


कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा नहीं- पाकिस्‍तान :- भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में भाषण दिया, जिसका पाकिस्‍तान ने पलटवार किया है। पाकिस्तान ने पलटवार करते हुए कहा, कि भारत देश की ओर से संयुक्त राष्ट्र महासभा में उसके ‘आंतरिक मामले’ बलूचिस्तान के मुद्दे को उठाना अंतरराष्ट्रीय नियमों का खुला उल्लंघन है। साथ ही कहा, कि कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा नहीं है, बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्वीकार्य विवाद है।

सबसे बड़ा झूठ, कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है

भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की ओर से महासभा में दिए गए भाषण पर पाकिस्‍तान की स्थायी प्रतिनिधि मलीहा लोधी ने ट्वीट कर के कहा है, कि ‘भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज का भाषण झूठ और निराधार आरोपों का पुलिंदा है। साथ ही कहा है, कि सबसे बड़ा झूठ यह है, कि कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है और कश्मीर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्वीकार्य विवाद है। कश्‍मीर संयुक्त राष्ट्र के एजेंडा में सबसे पुराना विषय है और पूरी दुनिया इसे स्वीकार करती है।

पाकिस्तान की स्थायी प्रतिनिधि मलीहा लोधी

यहाँ पढ़ें : कश्मीर के शांति बहाली के लिए सर्वदलीय बैठक, बनाई जा सकती है नई रणनीति

बलूचिस्‍तान पाकिस्‍तान का आंतरिक मामला

पाकिस्‍तान की स्थायी प्रतिनिधि मलीहा लोधी ने एक और ट्वीट में कहा है, कि पाकिस्तान के आंतरिक मामले बलूचिस्‍तान के मुद्दे को उठाना संयुक्त राष्ट्र चार्टर और अंतरराष्ट्रीय नियमों का खुला उल्लंघन है। साथ ही यह भी कहा, कि यह सच नहीं है कि भारत ने पाकिस्तान के साथ बातचीत के लिए कोई भी शर्त नहीं रखी है।

भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज

सुषमा स्‍वराज के पाकिस्‍तान के लिए तीखे प्रहर

21 सिंतबर को पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने भाषण के दौरान कश्‍मीर का राग आलाप था और भारत पर कई बड़े आरोप लगाए थे। 26 सिंतबर यानि कल भारतीय विदेश मंत्री ने सयुंक्‍त महासभा में पाकिस्‍तान पर तीखे प्रहर करते हुए कहा कि जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा था, है और रहेगा। कश्मीर को भारत से हासिल करने का पाकिस्तान देश का मंसूबा कभी कामयाब नहीं होगा। भारत ने पाकिस्‍तान के साथ मित्रता के साथ हर विवाद को सुलझाने की कोशिश की गई, बिना किसी शर्त के। मगर हमें इस के बदले में क्या मिला, पठानकोट का हमला, उरी जैसा आतंकी हमला?

उरी हमला

18 सिंतबर को उरी में आंतकी हमला हुआ था। जिसमें 18 जवान शहीद हो गए।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
भारत

सुप्रीम कोर्ट में सिंधु नदी समझौते को लेकर दी चुनौती

सुप्रीम कोर्ट में सिंधु नदी समझौते को लेकर दी चुनौती


सुप्रीम कोर्ट ने कहा जल्‍द सुनवाई की जररूत नहीं

सुप्रीम कोर्ट में सिंधु नदी समझौते को लेकर दी चुनौती:- आज सुप्रीम कोर्ट में सिंधु नदी समझौते को लेकर चुनौती दी गई है। जिस में यह कहा गया है, कि वर्ष 1960 की संधि अंवैधानिक है और यह याचिका एमएल शर्मा ने दाखिल की है। इस याचिक के अनुसार जवाहर लाल नेहरू द्वारा हस्ताक्षर की गई यह संधि असंवैधानिक है। मगर सुप्रीम कोर्ट इस याचिका पर यह कहा कि इस मामले को जल्द सुनवाई की कोई जरूरत नहीं है।

सुप्रीम कोर्ट

कोर्ट को राजनीति से दूर रखिए

वहीं चीफ जस्टिस ठाकुर ने यह कहा है, कि यह संधि वर्ष 1960 की है जबकि अब 2016 चल रहा है। हमें इस मामले में जल्द सुनवाई की कोई जरूरत नहीं दिखाई पड़ती है। दूसरी तरफ वकील एमएल शर्मा का कहना है, कि ऐसा करने पर इस मामले में राजनीति दखलअंदाजी बढ़ेगी। जिसपर सुप्रीम कोर्ट का कहना था, कि राजनीति से कोर्ट को दूर रखिए, याचिका पर सामान्य तरीके से ही सुनवाई की जाएगी।

सिंधु जल समझौता

यहाँ पढ़ें ; सिंधु जल संधि के रद्द होने से पाकिस्तान पर क्या होगा असर…

उरी में हमले के बाद

आप को बता दें, कि हाल ही उरी आतंकी हमले में 18 जवान शहिद हो गए, इस के बाद से देश में इस बात को लेकर काफी चर्चा है कि भारत, पाकिस्तान पर कार्रवाई के नाम पर क्या कदम उठाएगा? तमाम विकल्पों में से एक विकल्प सिंधु जल समझौते को खत्म करने का भी है। ख़बरों के अनुसार भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार यानि आज सिंधु जल समझौते के बारे में एक बैठक करने जा रहे हैं और इस बैठक में कई उच्च अधिकारी शामिल होंगे।

सिंधु जल समझौते का पाकिस्तान के लिए महत्व क्‍या है

दरअसल पाकिस्तान देश के दो-तिहाई हिस्से में सिंधु और उसकी सहायक नदियां आती हैं। वहीं पाकिस्तान की 2.6 करोड़ एकड़ ज़मीन की सिंचाई इन नदियों पर निर्भर करती है। अगर भारत देश पानी रोक दे तो पाक में पानी संकट पैदा हो जाएगा, खेती और जल विद्युत बुरी तरह प्रभावित हो जाए्गों।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
भारत

उरी हमले के लिए 7RCR पर बैठक जारी

उरी हमले के लिए 7RCR पर बैठक जारी


उरी हमले के लिए 7RCR पर बैठक जारी:- उरी में सेना के कैंप पर हुए आतंकी हमले को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी आज राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजि‍त डोभाल, केन्‍द्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, अरूण जेटली, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर और सेना के कई प्रमुख के साथ बैठक कर रहे है। यह बैठक प्रधानमंत्री आवास 7RCR पर जारी है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की बैठक से पहले राजनाथ सिंह ने नॉर्थ ब्लॉक में सीआरपीएफ के डीजी समेत गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक मीटिंग भी की है।

दरअसल, रविवार यानी कल उरी में सेना के कैंप पर आतंकी हमला हुआ है, जिसमें पाकिस्तान की सीमा से आतंकवादी दाखिल हुए और हमले में 17 जवानों शहीद हुए है और 20 जवान घायल है। जवानों की शहादत को लेकर हर देशवासी की आंखें नम हैं तो वहीं लोगों के बीच गुस्सा भी है। सियासी के हुक्मरान इस हमले की निंदा और बयानबाजी कर रहे हैं, तो हर देशवासी सख्त कार्रवाई की उम्मीद कर रहा है।

वहीं उरी हमले में मारे गए आतंकियों के पास से जो हथियार मिले है, उन हथियारों पर ‘मेड इन पाकिस्तान’ की मुहर लगी है। ऐसे में भारत सरकार पर पड़ोसी मुल्क के खिलाफ कार्रवाई के लिए काफी दबाव बना रहा है।

शहीद जवानों के शव को श्रद्धांजलि दी

उरी हमले की संयुक्त राष्ट्र महा सचिव बान की मून ने कड़ी निंदा की है और साथ ही  फ्रांस ने कड़ी निंदा करते हुए कहा है, कि वह आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में भारत देश के साथ खड़ा है, साथ ही फ्रांस ने कश्मीर में शांति की जरूरत पर भी बल दिया है।

दूसरी ओर, कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती श्रीनगर में शहीद जवानों के शव को श्रद्धांजलि दी। देश के अलग- अलग शहरों में जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए प्रदर्शन किए गए है।

पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ पाकिस्तानी चैनल को दिए एक इंटरव्यू में भारत को धमकी देते हुए कहा है, कि ‘हमारा वजूद खतरे में आया तो भारत पर परमाणु हमला भी कर सकते हैं। अगर हमारी जमीन पर हमला होता है तो पाकिस्तान परमाणु हमले से गुरेज नहीं करेगा।

नरेन्‍द्र मोदी के साथ बैठक जारी

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in