Categories
साहित्य और कविताएँ

आइए जाने किताबों को पढ़ने के फायदे

आइए जाने किताबों को पढ़ने के फायदे


आइए जाने किताबों को पढ़ने के फायदे:- आप के बहुत दोस्‍त होंगें लेकिन किताबें ए‍क व्यक्ति की सब से अच्छी दोस्त मानी जाती है। मगर कई लोगों को किताबें बोरिंग भी लगती है, वहीं दूसरी तरफ बहुत से लोगों को किताबें पढ़ना बहुत ही अच्छा लगता है। जिन लोगों को किताबें पढ़ना अच्छा लगता है उन्हें हर टॉपिक की किताबें पढ़ना अच्छा लगता है और वो हर टॉपिक की किताब पढ़ सकते है। वैसे तो किताबों से दोस्ती करने के लिए हमें बचपन से ही कहा जाता है। किताबों से दोस्ती करने से हमारे ज्ञान के भंडार में वृद्धि होती है। साथ ही हमारे व्यक्तित्व में भी निखार लाती है। इस दोस्‍ती से हमारे स्वास्थ्य पर भी कई सकारात्मक प्रभाव देखने को मिलते है।  चलिए आज हम आप को बताते है, किताबों को पढ़ने के फायदों के बारे में।

किताबें

किताबों को पढ़ने के फायदें

  • हर रोज किताबों को पढ़ने से आप का हर दिन खुशनुमा बना रहता है। जब भी आप फ्री हो तब किताबों को पढ़ सकते है। इस से आपका समय का सदुपयोग भी होता है और आप का समय भी आसानी से कट जाता है। इससे हम खाली वक्‍त में भी अच्‍छी बातें सोच पाते है।
  • किताब पढ़ने की आदत आप के दिमाग को लंबे वक्‍त के लिए जंवा रख सकती है। जिन लोगों का पेशा रचनात्मक कार्यों का होता है उन को किताबों जरूरी पढ़नी चाहिए। किताबें पढ़ने वालें लोगों का दिमाग अन्य लोगों की तुलना में ज्‍यादा होता है। साथ ही दिमाग करीब 32 प्रतिशत अधिक फ्रेश रहता है।
  • ऐसा माना जाता है, कि किताबों को पढ़ने वालों का आईक्यू लेवल अच्छा होता है। इस आदत से व्यक्ति रचनाशील बनता है और साथ ही सभी सवालों के जवाबों को सटिकता के साथ हल कर सकता है।
  • दरअसल, तनाव होने पर व्यक्ति के शरीर में हार्मोन में बदलाव होते है। किताबों को पढ़ने से व्यक्ति का मन शांत होता है और वह कार्टिसोल के स्तर को कम करता है। जिस से हम तनाव से दूर रहते है। इसलिए हमें किताबें पढ़नी चाहिए। तनाव दूर होने के साथ एक नए ज्ञान की प्राप्ति होती है।
Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in