Categories
हॉट टॉपिक्स

लॉकडाउन के दौरान शादी करना पड़ गया महंगा मेहमान बनकर पहुंच गई पुलिस: अरे रुक ज़ाते कुछ दिन?

लॉकडाउन के बीच शादी में कैसे पहुंच गई पुलिस


कोरोना वायरस के कारण पूरी दुनिया इस  महामारी से परेशान है।और बहुत सारे देशों में लॉकडाउन चल रहा है। अभी लोगो को अपने अपने घरो में रहने की हिदायत दी जा रही है। सभी को सोशल डिस्टिंग बनाये रखने को कहा गया है। और जिसके कारण कोई न तो किसी से मिल रहा है न कोई किसी के घर जा रहा है और लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने वाले को पुलिस सजा और जुर्माना दोनों ही लगा रही है। इसी बीच अभी एक खबर आयी की साउथ अफ्रीका में दो लोगो ने अपनी शादी रचाई। चलिए विस्तार जानते है कि हुआ क्या था?

किसने और कहा रचाई शादी।

जैसा की सभी लोगो को पता है की अभी पूरी दुनिया में लॉकडाउन चल रहा है। और सभी को बहार जाना मना है ऐसे में साउथ अफ्रीका से एक खबर आई की एक दूल्हा और दुल्हन ने लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करते हुए अपनी शादी का आयोजन किया।  इतना ही नहीं उन्हने और भी 50 लोगो को अपनी शादी में बुलाया। सोशल मीडिया से मिली जानकारी के मुताबिक साउथ अफ्रीका में जबुलानी जुलु और उसकी दुल्हन नोमथान्दाजो मकीजे ने रविवार को अपनी शादी का आयोजन किया था और फिर हुआ कुछ यु की वहा शादी में महमानों के साथ साथ पुलिस भी पहुंच गई। और इसके बाद पुलिस ने दोनों को नियमों का उल्लंघन करने के चलते गिरफ्तार कर लिया।

और पढ़ें: अगर आपका भी लॉकडाउन होने से बढ़ रहा स्ट्रेस? तो ये खास टिप्स से मिलेगी आपको राहत

 लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने पर क्या सजा मिली।

साउथ अफ्रीका में एक दूल्हा और दुल्हन ने लॉकडाउन बीच शादी करने और 50 ओर लोगो को शादी में बुलाने के लिए पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया और साथ ही शादी में आये 50 लोगो को भी गिरफ्तार कर पुलिस स्टेशन ले गयी। और इसके बाद सभी को 4,100 रुपये का जुर्माना देने के बाद बेल दे दी गई।
अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com
Categories
भारत

रूस करेगा भारत के साथ एक अरब का सयुंक्‍त निवेश कोष

रूस करेगा भारत में निवेश


रूस करेगा भारत के साथ एक अरब का सयुंक्‍त निवेश कोष भारत के बुनियादी ढांचा क्षेत्र में रूस ने पहली बार 50 करोड़ डॉलर तक की राशि के निवेश पर सहमति जताई है। साथ ही रूस एक अरब की राशि वाले रूस भारत निवेश कोष की स्थापना के लिए करीबन इतनी ही राशि नवगठित नेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर इंवेस्टमेंड फंड में भी निवेश करने वाला है।

रूस और भारत

आरडीआईएफ के मुख्य कार्यकारी किरील दिमित्रेव ने यह जानकारी साझा करते हुए कहा है, कि इस ‘रूसी प्रत्यक्ष निवेश कोष’ से भारत में रूसी कारोबारी गतिविधि के लिए आकर्षक निवेश के अवसरों और विकास’ का समर्थन करेगा।

भारत के प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी और रूस के राष्‍ट्रपति पुतिल के बीच आज कई अहम समझौते हुए है। इन में सबसे अहम है , हेलिकॉप्टर डील पर हुआ समझौता। इस समझौते में पांच बिलियन डॉलर मतलब कि 33,500 करोड़ रूपये तक के रक्षा समझौते पर हस्‍ताक्षर हुए है ।

इस रक्षा समझौते के तहत रूस भारत को जीमन से हवा में मार करने वाली एस-400 मिसाइल उपलब्‍ध करवाएगा।

भरी मात्रा में मीढियाकर्मी मौजूद

गोवा राज्‍य में ब्रिक्स और बिम्सटेक की मीडिया कवरेज की व्यवस्था भी अपने आप में एक बड़ा आयोजन है। इस आयोजन को कावर करने के लिए देश विदेश से आए मीडियाकर्मियों को पल पल की जानकारी मिलती रहे इसके लिए कई मीडिया सेंटर बनाए गए हैं। यहां भारतीय मीडिया के लिए दो सेंटर है तो वहीं विदेशी मीडिया के लिए एक मीडिया सेंटर बनाया गया है। बता दें, इस बिक्‍स समिट में भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ ब्राजील, रूस, चीन और दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति हिस्सा लेने आए है।

बिक्‍स के बारे में

आज से 16 अक्‍टूबर तक चलने वाला बिक्‍स सम्‍मेलन आठवां है। इस समिट की शुरूआत साल 2011 में हुई थी। इस के सदस्‍य है, ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका। इस बिक्‍स समिट का मकसद है आर्थिक और राजनीतिक मोर्चे पर पश्चिमी देशों को चुनौती देना।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in