Categories
लाइफस्टाइल

Lockdown: क्या है वो 5 चीजें जो आप लॉकडाउन हटते ही करना चाहते है?

वो चीजें जो आप लॉकडाउन के कारण नहीं कर पा रहे है?


कोरोना वायरस की वजह से पूरी दुनिया परेशान है और लगातार कोरोना वायरस से पीड़ित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है। इस वायरस को रोकने के लिए 21 दिन का लॉकडाउन लगा हुआ है। सभी लोग अपने घरो में ही है। वो चाह कर भी घर से बाहर नहीं जा पा रहे है। कुछ लोग जो वर्क फ्रॉम होंमे कर रहे है। उनको तो टाइम का कुछ खास पता नहीं चल रहा लेकिन वो लोग जो घर पर ही है और कुछ नहीं कर पा रहे है।  वो पूरी तरह फरस्टेट हो चुके है। वो लोग सब लॉकडाउन हटने का इंतजार कर रहे है ताकि उसके बाद वो लोग वो सारे काम कर पाए जो वो अभी नहीं कर पा रहे।

वो चीजें जो आप लॉकडाउन के बाद सबसे पहले करना चाहते है

जंक फ़ूड: लॉकडाउन के बाद से सभी लोग अपने अपने घरो में बंद है कोई कही नहीं जा पा रहा। हम जैसे लोग जो जंक फ़ूड लवर होते है। खास कर मोमोस लवर। उनकी तो जैसे बिना मोमोस के ज़िन्दगी ही अधूरी हो गयी हो। वो तो अब बस लॉकडाउन खत्म होने का इंतजार  कर  रहे है जैसी एक बार लॉकडाउन खत्म हो और वो जा कर मोमोस खा पाए।
ब्यूटी पलार: हमारी ब्यूटीफूल लड़ेस जो आज कल लॉकडाउन के कारण पलार नहीं जा पा रही है। वो भी लॉकडाउन खत्म होने का इंतजार कर रही है। जैसी एक बार लॉकडाउन  खत्म होता है उनका पहला काम होगा पलार जाना।
शॉपिंग: कुछ लोग बहुत ज्यादा शॉपिंग होलिक होते है उनकी ज़िन्दगी शॉपिंग से शुरू होती है, और शॉपिंग पर ही खत्म होती है। अभी लॉकडाउन के कारण वो लोग बाहर नहीं जा पा रहे है। जैसा की अभी मोसम बदला है और सबको गर्मियों का नया क्लासेन चाहिए। जिसके लिए वो लोग बहार मार्किट नहीं जा पा रहे।  इस लिए शॉपिंग होलिक लोग भी लॉकडाउन खत्म होने और उसके बाद शॉपिंग करने का इंतजार कर रहे है।

और पढ़ें: Lockdown के कारण स्कूल बंद हो गए ऐसे में कैसे बनाये बच्चों का शेड्यूल?

क्रिकेट लवर: स्पेसली हमारे बॉयज इनको क्रिकेट खेलना और देखना बहुत पसंद होता है। ये लोग आज कल लॉकडाउन के कारण घर पर है जिसमे न तो ये बहार क्रिकेट खेलने जा पा रहे है और न कुछ क्रिकेट में नया देख पा रहे है। इस लिए ये लोग भी लॉकडाउन  खत्म होने का इंतजार  कर रहे है।
घूमना – घूमना: घूमना एक ऐसा काम है, जो किसे नहीं पसंद। सबको घूमना फिरना बहुत पंसद होता है आज कल लोगो के पास बहुत टाइम है पर लॉकडाउन  के कारण वो कही बहार नहीं जा पा रहे। खास कर वो लोग जिनको घूमना बहुत पसंद होता है वो लोग तो बेसबरी से लॉकडाउन खत्म होने का इंतजार कर रहे है। जैसी ही लॉकडाउन  खत्म होगा ये लोग अपने ग्रुप के साथ कही न कही घूमने का प्लेन बना ही लगे।
ये वो 5 चीजे है जो हमे लगता है की हर कोई लॉकडाउन के बाद करेगा। और अगर आपके कुछ और प्लेन है तो वो आप हमे कमेंट कर के बता सकते है।
अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com
Categories
लाइफस्टाइल

Sarojini Nagar shopping guide: कैसे करें सरोजिनी नगर में शॉपिंग करते वक़्त मोल-भाव

Sarojini Nagar shopping guide: ये टिप्स अपनाएंगे तो सरोजिनी में कर पाएंगे बजट फ्रेंडली शॉपिंग


sarojini nagar shopping guide: शॉपिंग करना किसे पसंद नहीं होता है वो भी कम पैसे में ज़्यादा शॉपिंग? लड़कियों के लिए ये सोने पर सुहागे से कम नहीं होता है जब कम पैसों में डिफरेंट स्टाइल के डिफरेंट कपडे मिल जाएं। अगर आप दिल्ली में रहती हैं तो आपका ये सपना ज़रूर सच हो सकता है सरोजिनी मार्किट में। हालांकि ये तभी मुमकिन है जब आपको अच्छे तरीके से मोल-भाव करना आता हो। मगर ये भी बड़ी मुश्किल का कम है। मोल-भाव में माहिर होना अपने आप में एक हुनर है, खासकर जब आप सरोजिनी नगर में शॉपिंग करने जा रहे हों। दिल्ली और दिल्ली के आसपास रहने वाले लोग सरोजिनी नगर में शॉपिंग करने ज़रूर आते है, तो आज हम आपको कुछ टिप्स दे रहे हैं जो आपकी सरोजिनी नगर में शॉपिंग के वक़्त मदद करेंगे।

1. पहनावे पर दे ध्यान:

हम हमेशा दूसरे के कपड़ों को देखकर उनके बारे में एक राय बना लेते है, तो ऐसा सरोजिनी नगर के भइया क्यों नहीं कर सकते। जहां शॉपिंग करना और कपड़े खरीदना आपके लिए सिर्फ एक शौक है, वहीं दूसरी तरफ कपडे बेचना उनका मूल पेशा है और इसलिए उन्हें कपड़ों की अच्छी समझ होती है। अगर आपने ज़ारा की जैकेट पहनी है तो उन्हें वो भी पता चल जाता है और इससे वो आपके बजट का पता लगा सकते है। यही कारण है की आप अपने ब्रांडेड कपडे बाद के लिए रख लीजिये और सरोजिनी एकदम नॉर्मल कपडे पहन कर जाएं, भले ही यह आपको अजीब लगे, लेकिन इससे ही आपको अच्छी डील करने में मदद मिलेगी।

2. खुले पैसे रखे:

सोर्जिनी नगर में शॉपिंग करने के लिए सबसे बेसिक और इम्पोर्टेन्ट चीज़ है खुले पैसे और कैश, क्यूंकि किसी भी लोकल मार्किट में शॉपिंग के लिए ये सबसे जरूरी चीज है। अगर आप सरोजिनी नगर जा रहे हों तो खुले पैसे रखना न भूले, क्योंकि किसी स्वेट शर्ट को 200 रुपये में तय करने के बाद 2,000 रुपये का नोट बाहर निकालने से कोई अच्छा असर नहीं पड़ने वाला। खुले पैसे रखना ज़रूरी है ताकि आप दूकानदार को बोल सके की ‘भइया, और पैसे है ही नहीं’

और पढ़ें: Hair care in winter: ठण्ड में कैसे बचाए अपने बालों को रूखेपन से?

3. आखरी पसंद को पहले चुने:

शॉपिंग एक जांची-परखी तरकीब है। दूकान वाले भइया को ये बिलकुल दिखाने की ज़रूरत नहीं है की आप कुछ स्पेशल ढूंढ रही हैं इसलिए कैजुअल एक्ट करना बहुत ज़रूरी है। अपनी दूसरी पसंद को पहले चुनें ताकि आप उनका ध्यान इतना भटका दें कि जब आप अपनी पसंद के फैंसी क्रॉप टॉप को खरीदने वाली हो और इसे भइया कंफ्यूज हो जायें। किसी भी हालत में यह बिल्कुल भी ज़ाहिर न होने दें कि आप दुकान में केवल एक ही ड्रेस लेने आईं हैं, नहीं तो आप मोल-भाव करने का मौका गवां देंगी।

4. ज़्यादा मोल- भाव करे:

मोल-भाव का एक एहम नियम है की बताई हुई कीमत को कभी ना माने। यदि कोई आपको 400 रुपये में जैकेट बेच रहा है तो पहले उस जैकेट की आधी कीमत लगाएं भले ही यह बात चौंकाने वाली लगे, लेकिन यह सटीक तरीका है इससे आपकी बात बन सकती है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

How to make wedding memorable: कैसे बिना बजट को बिगाड़े बना सकते शादी को Happening?

How to make wedding memorable: फॉलो करे यह टिप्स जो आपकी शादी को बनाएगा यादगार


How to make wedding memorable: शादी में कई सारे काम होते है जैसे – शोपिंग और डेकोरेशन। इन सभी कामों मे मेहनत, एफर्ट्स और एनेर्जी लगती है। सब जानते है की शादी में 5 लाख खर्च होना भी एक आम बात है। शादी के खर्च के लिए हम रिश्तेदारों से मदद ले लेते है। जिससे आपकी आगे की पूरी लाइफ कर्ज़ चुकाने में निकलती है। बजट में रह कर भी शादी को शानदार बनाया जा सकता है। तो चलिए आपको बताते है कुछ आसान से टिप्स जिस से आप बना सकते है अपनी शादी को और भी हप्पेनिंग।

फॉलो करे यह टिप्स जो आपकी  कम बजट वाली शादी को बनाएगा यादगार:

1. महंगे कार्ड की जगह ई- इनवाइट यानी डिजिटल कार्ड का इस्तेमाल करे: एक समय था जब दूर रिश्तेदारों को शादी का कार्ड भेजने के लिए डाक  खाना  जाना पड़ता था। वही अब  हर किसी की लाइफ में टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल इस हद तक बढ़ चुका है। आज पूरी दुनिया फेसबुक, व्हाट्सएप्प और इंस्टाग्राम का इस्तेमाल करती  है। ऐसे में दूर रह रहे रिश्तेदारों को शादी का कार्ड  भेजने की बजाय ई-इनवाइट भेजें। प्रिंटेड कार्ड्स के मुकाबले इसमें आपका एक भी पैसा खर्च नहीं होगा क्योंकि इसे आप खुद ही बड़ी आसानी से किसी ऑनलाइन ऐप की मदद से या किसी ग्राफिक डिज़ाइनर दोस्त से बनवा सकते हैं।

2. रेंट पर ख़रीदे शादी के कपड़े : हर दूल्हा – दुल्हन का सपना होता है की वो इस ख़ास दिन पर सबसे बेस्ट दिखे क्यूंकि यह पल पूरी जिंदगी के लिए कैप्चर होता है। इसलिए सभी की यही कोशिश रहती है कि उनका वेडिंग आउटफिट बहुत सुंदर और स्पेशल हो, जिसके लिए वो अक्सर हज़ारों और कभी-कभी लाखों खर्च कर देते हैं। लेकिन बाद में उस ड्रेस को आप दोबारा पहनते भी नहीं है तो बेटर है की पैसा खर्च करने से ज्यादा आप अपना वेडिंग आउटफिट रेंट पर ले । आजकल ऐसी कई वेबसाइट्स हैं जहां से आप डिज़ाइनर कपड़े किराए पर ले सकते हैं।

और पढ़ें: अपनी रॉयल शादी के लिए इससे बेहतर डेस्टिनेशन आपको कही नहीं मिलेगा

3. सजावट  पर भी कम खर्च करे: महंगे डेकोरेशन पर पैसा खर्च करना फिज़ूलखर्ची है और इसके बिना भी आपकी शादी हो सकती है। सजावट के लिए गेंदे जैसे लोकल फूलों का इस्तेमाल करवाएं जिनकी शेल्फ लाइफ भी ज़्यादा है और ये सस्ते भी होते हैं। इसके अलावा अलग-अलग रंगों के दुपट्टों और लटकनों का इस्तेमाल करें, जो आपको बड़ी ही आसानी से किसी होलसेल मार्केट में बड़े ही कम दामों में मिल जाते है। वैसे भी ट्राइबल और ट्रेडिशनल डेकोर इन दिनों काफी ट्रेंड में है।

4. शादी में लिमिटेड गेस्ट लिस्ट बुलाए : शादी आपकी लाइफ का एक बहुत ही खास  दिन होता है इसलिए इसका हिस्सा बनने का हक भी आपकी लाइफ के सबसे खास लोगों को ही है जिनका आशीर्वाद आपके लिए बेहद मायने रखता है। इसलिए अपनी गेस्ट लिस्ट बहुत सोच-समझकर बनाएं और उन्ही लोगों को बुलाएं, जिन्हें आप वाकई में अपने इस खास दिन का हिस्सा बनाना चाहते हैं और जो सच में आपकी खुशी का हिस्सा बन कर खुश होंगे।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
धार्मिक

धनतेरस के दिन क्यों खरीदे जाते है नये बर्तन

बर्तन खरीदने के आलावा और क्या मान्यता है धनतेरस की


दिवाली की शुरुआत धनतेरस से होती है और भाई दूज तक रहती है।धनतेरस के दिन लक्ष्मी माता, कुबेर और भगवान धन्‍वंतरि की पूजा होती है, जिसे घर में हमेशा सुख और समृद्धि बनी रहती है। ऐसी माना जाता है इस दिन बर्तन, सोना, चांदी और झाड़ू खरीदना शूभ होता है। जिस तरह माता लक्ष्मी सागर मंथन से उत्पन्न हुई थीं उसी तरह भगवान धन्‍वंतरि भी उत्पन्न हुऐ थे। क्या आप जानते है की धनतेरस पर बर्तन खरीदने का रिवाज़ क्यों है?

बर्तन खरीदने की मान्यता:

कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि को धनतेरस मनाया जाता है। दरअसल इस दिन भगवान धन्‍वंतरि महालक्ष्मी की तरह सागर मंथन से उत्पन्न हुए थे। ऐसी मान्यता है की जब भगवन धन्‍वंतरि का जन्म हुआ था तो वो एक पात्र में अमृत लिए हुए थे। भगवान धन्‍वंतरि कलश लेकर प्रकट हुए थे इसलिए इस अवसर पर नये बर्तन खरीदे जाते है

वैसे इसकी एक और मान्यता भी है, धनतेरस के दिन धातु खरीदना भी शुभ माना जाता है लेकिन सिर्फ शुद्ध धातु जैसे की पीतल, तांबा,  चांदी, सोना। ऐसा कहा जाता है की इस दिन ख़रीदे हुए रत्नो में नौ गुने की वृद्धि हो जाती है।

Read more: Happy Birthday Hema Malini: 71 साल की हुई बी-टाउन की “Dream Girl”

घर के बहार दिया रखे:

धनतेरस के दिन सिर्फ बर्तन या धातु ही नहीं ख़रीदा जाता बल्कि दिए भी जलाये जाते है, मान्यता है कि अकाल मृत्यु से बचने के लिए घर के मैन गेट पर दिया रखने का भी रिवाज़ है। रात में इस दिन लंभी उर्म के लिए भगवान धन्वंतरि तथा समृद्धि के लिए कुबेर के साथ लक्ष्मी गणेश का पूजन करके लक्ष्मी माता को गुड़ और धान का लावा ज़रूर चढ़ाना चाहिए।

काले रंग के बर्तन ना ख़रीदे:

धनतेरस के दिन काले रंग की चीजों को ना ख़रीदे क्योकी धनतेरस एक बहुत ही शुभ दिन है जबकि काला रंग हमेशा से दुर्भाग्य का प्रतीक माना जाता है इसलिए धनतेरस के दिन काले रंग की चीजें को नहीं खरीदा जाता और सिर्फ यही नहीं बल्कि इस दिन आप चाकू, कैंची और दूसरी दारीदार चीज़ भी नहीं खरीदी जाती

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
बिना श्रेणी

#fridayweekend : शॉपिंग के लिए दिल्ली की ये 5 मार्किट है सबसे बेस्ट

पुराने फैशन से लेकर नए फैशन तक मिलती है सभी ड्रेसस आपको यहाँ


अगर आप शॉपिंग के शौकिन है, तो आपको एक बार दिल्ली जरूर जाना चाहिए। दिल वालो कि दिल्ली के मार्किट में घूमने के साथ- साथ खरीदने के लिए भी बहुत कुछ है। दिल्ली कि इन मार्किट में आपको नए फैशन से लेकर पुराने फैशन तक सब कुछ मिलता है। अगर आप भी फैशन के दिवानी है तो दिल्ली कि इन  5 बड़ी मार्किट में जरूर शॉपिंग करे। तो चलिऐ अब आपको बताते है दिल्ली की उन पॉच फैमस मार्किट के बार में जहाँ आपको आपकी हर पसंद की चीजें  मिल सकती है।

यहाँ हर चीज़ के लिए अलग-अलग मार्किट बनी हुई है। अगर हम दिल्ली को देश कि राजधानी की जगह खरीदारी की राजधानी बोले तो कुछ गलत नही होगा।

1. चांदनी चौक:
पूरानी दिल्ली के भीड़-भाड़ वाली गलियों में बनी ये मार्किट सबसे अच्छा परांपारीक पोशाक के लिऐ फैमस है। ये एक ऐसा मार्किट है जो 17वी शताब्दी से चल रही है आज भी यह अपने ग्राहकों को अनोखे डिज़ाइनों के कपड़े से सब को आकर्षित कर रहा  है। चॉदनी चौक दिल्ली के सबसे प्राचीन क्षेत्र  में आता है। मगर, इस मार्किट में शॉपिंग करना किसी चनौती से कम नही है, क्योकि यहा पर छोटी-छोटी गलीयों में बड़ी-बड़ी दुकाने है। इस मार्किट में लगभग आप सब कुछ पा सकते है। अगर आप चाँदी की चीज़ें खरीदना चाहते है तो भी ये मार्किट आपके लिऐ परफेक्ट है।


2. लाजपत नगर:
इस मार्किट को सेंट्रल मार्केट भी कहा जाता है। लाजपत नगर में प्रसिद्ध डिजाइनर बुटीक हैं। इसके अलावा, लाजपत नगर में जंक ज्वेलरी बहुत आसानी से मिल जाती  है।इसके अलावा दरियागंज, दिल्ली हाट और रानीबाग जैसे कुछ अन्य बाज़ार हैं जहाँ आपको लाजपत नगर मार्किट जैसी ही चीज़े मिलती है।

3. दिल्ली हाट:
दिल्ली हाट एक बड़ा मार्किट है जो एक गाँव के बाजार से काफी मिलता-जुलता है। यह भारतीय हस्तशिल्प और कलाकृतियों को खरीदने के लिए सबसे अच्छी जगह है। दिल्ली हाट सुबह 11 बजे खुलता है और रोज शाम को 8  बजे बंद होता है लेकिन रविवार को यह शाम 10 बजे तक बंद हो जाता है।
Read more: #FridayMood: होगी ‘Party All Night’ बस लिस्ट में शामिल करे यह 6 पंजाबी सॉन्ग
4. जनपत:
जनपथ बाजार चित्रों, चमड़े की वस्तु, कपड़े, जूते जैसी चिजें मिलती है। इस जगह कि खास बात है कि इस डेस्टीनेशन पर शॉपिंग करने के लिऐ आपको सौदेबाजी अच्छे से करने आनी चाहिए। क्योंकि यहां बहुत मोलभाव होता है। इस बाज़ार को तिब्बती बाजार भी कहा जता है।

5. सरोजनी नगर मार्किट:
लड़कियों कि सबसे फैवरेट मार्किट में से एक मार्किट सरोजनी नगर है जो नई दिल्ली में स्थित है। सरोजिनी मार्केट एक संपन्न बाजार भी है, जो सस्ती चीजों के लिए लोगों के बीच काफी मशहूर है। सोमवार को छोड़कर सरोजनी नगर बाजार सभी दिनों में खुला रहता है। यहां खरीदने के लिए शीर्ष चीजें डिजाइनर कपड़े, फैशन का सामान, मिठाई और अन्य चीज़े  है।

तो अगर आप भी इस वीकेंड सोच रही है कुछ इंट्रेस्टिंग करने को तो इन पॉच अच्छी  मार्किट में शॉपिंग के लिए जरूर जाए।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
स्वादिष्ट पकवान

FoodieSaturday: आखिर क्यों मशहूर है बाबा नागपाल की दुकान ?

शॉपिंग के साथ  अब “delicious”छोले भठूरे का भी मजा


शॉपिंग करने का ख्याल जब भी आता है तो लाजपत नगर का नाम ज़हन में जरूर आता है। बात चाहे एथनिक कपड़ों की हो या वेस्टर्न कपड़ो की लाजपतनगर शॉपिंग के लिए सबसे बेहतरीन जगह है। लेकिन लाजपत में आप सिर्फ शॉपिंग का ही नहीं बल्कि खाने का भी लुफ्त उठा सकते हैं, जी हाँ, लाजपत नगर खाने की जगह के लिए भी काफी मशहूर है। आपको बता दें कि लाजपत नगर में दिल्ली के बेस्ट छोले भठूरे मिलते हैं जिसका स्वाद आपको कहीं और के छोले भठूरे में नहीं मिलेगा।

शॉपिंग के साथ ले स्पाइसी छोले भठूरे का भी मज़ा

लाजपत नगर की बड़ी मशहूर दुकान  है ‘बाबा नागपाल’ जिनके यहाँ के छोले भठूरे काफी मशहूर है। अगर आप कभी शॉपिंग के लिए जाते हैं तो यहाँ के छोले भठूरे जरूर खाये। आपको बता दे कि बाबा नागपाल की दुकान 1996 से लाजपत नगर में है जिसे खुले हुए तक़रीबन 23 साल हो चुके है। यह दुकान सुबह 7:30  बजे खुलती है और दोपहर 3 बजे तक खुली रहती है। जिस बीच इनकी दुकान पर काफी भीड़ देखी जाती है।

इसके अलावा यहाँ पर छोले भठूरे की एक प्लेट 75  रूपए की  है। इन स्पाइसी छोले भठूरे के साथ आपको मिलेगा आंवले का अचार और मिर्च का अचार जिसके साथ छोले भठूरे का स्वाद और भी अच्छा हो जाता है। जैसे की छोले भठूरे एक पंजाबी डिश है तो इसके साथ पीने में कुछ स्पेशल भी होना चाहिए। आप इस छोले भठूरे के साथ मीठे में लस्सी भी पी सकते  है। यहाँ पर लस्सी 50 रूपर एक गिलास है।

यही नहीं आपको मेन्यू में यहाँ पर और भी बहुत कुछ खाने को मिलेगा जैसे की यह सुबह नाश्ते में कचोरी। साथ ही दिन में राजमा चावल जो खाने में काफी स्वादिष्ट होते है, तो अगर आप शॉपिंग के साथ इन छोले भठूरे को खाने का मज़ा लेना चाहते है आप लाजपत नगर जा सकते है। आपको बता दे कि यह दुकान मूल चाँद के मेट्रो स्टेशन से काफी नज़दीक है।

और पढ़ें: रानू मंडल का सफर : कैसे रातों -रात सोशल मीडिया ने बना दिया स्टार

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com