Categories
लाइफस्टाइल

जानें सरोजिनी नगर के सस्ते कपड़ो का राज

Why sarojini nagar is so cheap? जाने सरोजिनी नगर की खासियत


Why sarojini nagar is so cheap: सरोजिनी नगर दक्षिण दिल्ली का एक हिस्सा है। दिल्ली का ये हिस्सा अपनी मार्केट के लिए काफी ज्यादा मशहूर है। अगर आप दिल्ली या फिर दिल्ली के पास कही रहते है तो आपको भी सरोजिनी नगर के बारे में अच्छे से पता होगा और आप भी इस मार्किट में स्ट्रीट शॉपिंग के लिए एक न एक बार तो जरूर ही गए होंगे। दिल्ली की इन मार्किट में आपको कपड़ों से लेकर होम डेकोर और यहाँ तक की किचेन यूटीलिटीज़ तक की सभी चीजे काफी कम पैसों में मिल जाती है। यहाँ आप 100 रुपए की चीज को आराम से 20, 30 रुपए में खरीद सकते हैं। कॉलेज के बच्चों और बजट शॉपिंग पसंद करने वाले लोगों की ये मार्किट बेहद ही पसन्दीदा मार्किट में से एक है। तो चलिए आज हम आपको बतायेगे आखिर कैसे आपको सरोजिनी नगर में इतने सस्ते कपड़े और बाकी चीजे मिल जाती है।

सरोजिनी नगर मार्केट की खासियत

दिल्ली की सरोजिनी नगर मार्केट उन लड़कियों के लिए एक वरदान से कम नहीं है जो फैशन की शौकीन होती है। सरोजिनी नगर मार्केट के लेटेस्ट इंडियन, वेस्टर्न और इंडो वेस्टर्न आउटफिट्स आपका दिल जीत के लिए काफी है। अगर हम सरोजिनी नगर मार्केट की शान की तो बात करें तो यहाँ के स्टाइलिश कपड़ों से लेकर डिज़ाइनर बैग्स तक सब कुछ इस मार्किट की शान है। इस मार्किट में आपको इतने ऑप्शन मिलेंगे की आपके लिए कुछ भी चुनना काफी ज्यादा मुश्किल हो जायेगा। इस मार्किट की एक ओर खासियत यह है कि यहाँ आप भले स्टाइल लुक क्रिएट करने के मन से आओ या फिर पार्टी की तैयारी के लिए यहाँ से आप कभी निराश हो कर नहीं जाएंगे।

और पढ़ें: अगर आप भी लेते है स्ट्रीट साइड से कपड़े, तो इन बातों का रखें विशेष ध्यान

Image source – Business Today

जाने सरोजिनी मार्किट में कपड़े सस्ते होने का कारण

एक्सपोर्ट सरप्लस: सरोजिनी नगर मार्किट की गलियों में बिकने वाले ज़्यादातर ब्रैंडेड कपड़े एक्सपोर्ट सरप्लस वाले होते है। एक्सपोर्ट सरप्लस ये शब्द अपने भले कई लोगों से सुना होगा लेकिन आप अगर इसका मतलब नहीं जानते हैं तो हम आपको बताते है कि Zara, H&M, Mango जैसे कई हाई-एंड ब्रैंड्स के कपड़ों की मैन्युफैक्चरिंग इंडिया समेत कई और देशों में होती है। यह काम उन देशों में होता है ज्यादा पर लेबर कॉस्ट काफी ज्यादा कम होती है। सभी गारमेंट एक्सपोर्टर किसी भी कपड़े का ऑर्डर मिलने पर उसके 4-5 पीस एक्स्ट्रा बनवाता है। यानि की अगर ऑर्डर 100 पीस का है तो इसके 105 पीस बनते है और उसके बाद जब ऐसी बहुत सारे ब्रैंड्स के बहुत सारे कपड़े बच जाते है तो वो सरोजिनी नगर के दुकानदारों को बल्क में बच देते है इन कपड़ों की कॉस्ट सरोजिनी नगर के दुकानदारों को ¼ या उससे भी कम कीमत पड़ती है जिसके कारण यहाँ हमे कपड़े सस्ते मिल जाते है।

रिजेक्टेड पीस: एक्सपोर्ट सरप्लस के अलावा सरोजिनी नगर मार्केट में बिकने वाले कपड़े रिजेक्ट पीस भी होते है। यानि की जब भी कोई ब्रैंडेड कपड़ों का ऑडर आता है तो कंपनी उन कपड़ों को एक्सपोर्ट करने के पहले ब्रैंड का क्वॉलिटी चेक करती है यानि की तैयार किये गए कपड़े ब्रैंड के क्वॉलिटी स्टैंडर्ड्स पर खरे उतरते हैं या नहीं। अगर उनमें से कुछ पीस ब्रैंड के क्वॉलिटी स्टैंडर्ड्स पर खरे नहीं उतर पाते तो उस कंडीसन में उन पीसो को रिजेक्टेड कर दिया जाता है। जो बाद में आपको सस्ते दामों में सरोजिनी नगर मार्केट में मिल जाते है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

अगर आप भी लेते है स्ट्रीट साइड से कपड़े, तो इन बातों का रखें विशेष ध्यान

कैसे आप अपने स्ट्रीट साइड से खरीदे कपड़ों को हाई-एंड और महंगा दिखा सकते है।


Street side shopping tips: इस बात में तो सभी लोग हामी भरते होंगे कि भले आप H&M से शॉपिंग कर लो या फिर Zara से लेकिन जो मज़ा सरोजिनी नगर और कोलाबा कॉज़वे की भीड़ में शॉपिंग करने में आता है वो कही ओर नहीं आता। क्योकि इन बाजारों में आप अपने अनुसार मोल भाव कर सकते है और 500 की चीज को 150 रुपए में भी खरीद सकते है। जो सुख आपको 500 की चीज़ 150 रुपए में खरीदने में मिलता है वो आपको कही और नहीं मिल सकता। ये सुख हर कोई नहीं समझ सकता। इसे वो ही लोग समझ सकते है जो इस तरह की मार्किट से शॉपिंग करते है। लेकिन कई लोगों की शिकायत होती है कि इन मार्किट से खरीदे गए कपड़े बहुत आसानी से पहचाने जाते हैं। ये देखने में भी काफी अजीब लगते है। लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स देंगे जिनकी सहायता से और छोटे-मोटे बदलाव कर आप इन कपड़ों को हाई-एंड और महंगा दिखाया जा सकता है।

Image source – ytimg.com

क्लेंज़: आपने देखा होगा कि स्ट्रीट साइड में बिकने वाले कपड़े लगातार कई दिनों तक खुले में टंगे रहते है जिसके कारण इनमें काफी ज्यादा धूल-मिट्टी इकट्ठा हो जाती है। इसलिए आपको स्ट्रीट साइड से कपड़े लेने के बाद इनको अच्छे से धोना चाहिए। आपको इन कपड़ों को धोते समय इनमें डिटर्जेंट के साथ डेटॉल या सैवलॉन जैसे एंटिसेप्टिक भी शामिल करने चाहिए।

फैब्रिक पर दें ध्यान: अक्सर स्ट्रीट साइड से खरीदे गए कपड़ों का फैब्रिक बेस्ट क्वॉलिटी का नहीं होता है। क्योंकि ये कपड़े या तो किसी बड़े ब्रांड की कॉपी या डुप्लीकेट होते हैं। इसलिए आपको स्ट्रीट साइड से कपड़े खरीदते हुए डिज़ाइन या ट्रेंड के साथ साथ फैब्रिक को भी अच्छे से देख लेना चाहिए।

और पढ़ें: ये पांच चीजें बताती है कि आपका ब्रा साइज है गलत

Image source – wonder wardrobes

बटन्स और ज़िप: आपने देखा होगा कि अक्सर स्ट्रीट साइड की दुकानों पर मिलने वाले कपड़े रिजेक्टेड पीसेज़ होते हैं। जिसका कारण अक्सर इनमें लगे अलग-अलग बटन्स या खराब ज़िप होती हैं। अगर आपके खरीदे कपड़ों में भी ऐसा कुछ है तो इसके बटन्स और ज़िप बदलवा लें जिससे आपके कपड़े में कोई कमी न रह जाए।

स्टाइलिंग: ये एक बहुत ही इम्पोर्टेन्ट पॉइंट हैं। आप स्ट्रीट साइड से खरीदे कपड़ों को भी उतने ही ध्यान से स्टाइल करें जितने ध्यान से आप बाकी कपड़ों को करते है। इन्हे अच्छे एक्सेसरीज़ और फुटवेयर के साथ मैच करें। आप चाहो तो बेल्ट्स और जैकेट्स जैसे एलिमेंट्स का इस्तेमाल कर सकते हैं इससे आपको एक बेहतर लुक मिलेगा।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

सरोजिनी से लेकर कमला नगर तक दिल्ली की कुड़िया कर रही है शॉपिंग को मिस !

दिल्ली की 5 बेस्ट शॉपिंग मार्केट्स




अगर आप भी उन शॉपिंग होलिक लड़कियों में से है जिन्हे शॉपिंग करना बेहद पसंद होता है. तो अपने भी कोरोना काल के दौरान इस मार्केट्स को बहुत ज्यादा मिस किया होगा. अगर आप कभी दिल्ली घूमने गए हैं या फिर दिल्ली में रहते हैं तो अपने भी दिल्ली की ये सभी शॉपिंग मार्केट्स जरूर घूमी होगी और आपको भी इन मार्केट्स के बारे में पता होगा की कौन सी मार्किट कब बंद होती है और खुलती. किस मार्किट में क्या खास मिलता है. इन मार्केट्स में एक्सप्लोर करने को इतना कुछ है कि कब सुबह से शाम हो जाएगी आपको एहसास भी नहीं होगा. बेहद बिज़ी होने के साथ ही ये एक बहुत वाइब्रेंट और इंट्रेस्टिंग जगह है जहां आप कभी अपने दोस्तों के साथ घूमने जाते थे. तो चलिए आज हम आपको दिल्ली की बेस्ट शॉपिंग मार्केट्स के बारे में बतायेगे जिन्हें आजकल हम सभी कर रहे हैं मिस!

सरोजिनी नगर: सरोजिनी नगर मार्किट तो दिल्ली की लड़कियों की जान है. दिल्ली में रहने वाली हर लड़की एक बार तो जरूर सरोजिनी नगर मार्किट गई होगी. यहाँ आपको चीजें बेहद ही सस्ती और लेटेस्ट डिजाइन के साथ मिलती है दिल्ली की कॉलेज गर्ल्स की ये फेवरेट मार्केट है. दिल्ली यूनिवर्सिटी, आई पी, जे.एन.यू सभी जगहों से स्टूडेंट्स यहां हर दिन शॉपिंग के लिए आते है. सरोजिनी मार्केट की सबसे बेस्ट पार्ट है बार्गेनिंग. यहाँ आप अपने मन मुताबिक पैसे कम करवा सकते है. आप  तो यहाँ से सिर्फ 50 रुपये में भी कपडे खरीद सकते है.

और पढ़ें: कैसे करें सरोजिनी नगर में शॉपिंग करते वक़्त मोल-भाव

जनपथ: सरोजिनी नगर मार्किट के बाद दिल्ली की लड़कियों जो जनपथ की मार्किट पसंद आती है. सिर्फ एक गली में सिमटी जनपथ की मार्किट में आपको कई ट्रेंडी आउटफिट्स मिल जाएंगे. यहां कई दुकानें जूलरी की है जंक जूलरी लवर्स के लिए जनपथ की मार्किट एक बेस्ट मार्केट हो सकती है. इस गली की मार्केट के अलावा भी आपको रोड की तरह आपको कई छोटे-छोटे स्टोर्स मिल जाएंगे. यहाँ से भी आप अच्छी शॉपिंग कर सकती है.

कमला नगर: 
 शॉपिंग के लिए कमला नगर भी अच्छा ऑप्शन है. नॉर्थ कैम्पस के बीच पॉपुलर इस मार्केट में ब्रैंड्स से लेकर स्ट्रीट शॉप्स तक के ढेरों ऑप्शन्स है. कमला नगर मार्किट डीयू के स्टूडेंट्स के बीच फूड पॉइंट और हैंग आउट प्लेस के तौर पर काफी फेमस है. कमला नगर मार्किट से आप ब्रैंड्स के लेटेस्ट कलेक्शन से शॉप कर सकते है.

लाजपत नगर: अगर आपको एथनिक वेयर पसंद है और आप लेटेस्ट एथनिक वेयर लेना चाहते है वो भी अपने बजट में तो लाजपत नगर मार्किट आपके लिए एक बेस्ट ऑप्शन है. लाजपत में आपको कपड़ों के साथ-साथ होम डेकोर और फैब्रिक्स भी मिल जाते है. यहां कई फैशन स्टूडेंट्स अपने लिए सस्ते फैब्रिक की शॉपिंग करने आते है.

मॉनेस्ट्री: मॉनेस्ट्री मार्किट लड़कों के लिए एक बेस्ट शॉपिंग मार्किट है. यहां लड़कों के लिए एक से बढ़कर एक कलेक्शन मौजूद होता है. लड़कों के विंटर वेयर से लेकर समर्स तक, हर मौसम के लिए यहां बेस्ट कपड़े मिल जाएंगे वो भी आपके बजट में.

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com