Categories
हॉट टॉपिक्स

Coronavirus: लॉकडाउन से दुनिया में कुछ अच्छी खबरें भी दे रहा है positive रहना भी जरूरी हैं

Pollution after coronavirus: कोरोना के कारण भारत समेत पूरी दुनिया में हुआ प्रदूषण कम


Pollution after coronavirus: इस समय पूरी दुनिया कोरोना वायरस की चपेट में है। और कई देशो में लॉकडाउन चल रहा है। और इस सयम कोरोना से संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं।  इससे संक्रमित लोगों की संख्या दुनिया में बढ़कर 721,902 हो गई है। दुनिया में कोरोना वायरस ने 33,965 से ज्यादा लोगों की जान ले ली है। इटली, स्पेन और अमेरिका में कोरोना वायरस कहर बरसा रहा है। चीन के बाद इटली में कोरोना वायरस की वजह से मरनेवाले लोगों की संख्‍या बहुत तेजी से बढ़ी है। अब सबसे ज्यादा मौत के लिहाज से इटली सबसे ऊपर है। कोरोना वायरस चीन के वुहान से अन्‍य देशों में फैला है। अमेरिका में अब कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या एक लाख को पार कर गयी है और भारत में भी ये संख्या एक हजार से ऊपर जा चुकी है। और अभी भारत में भी 21 दिन का लॉकडाउन चल रहा है लेकिन लॉकडाउन से सब खराब हो रहा हो, ऐसा भी नहीं है। इस दौरान कई अच्छी चीजें भी हुईं।
 
कम हो गया प्रदूषण: कोरोना वायरस चीन के वुहाल से शुरू हुआ था और सबसे पहले चीन ने वुहान को लॉकडाउन किया और फिर आस-पास के प्रदेशों को। चीन का प्रदूषण विश्वव्यापी समस्या बन गया था। और गहरी धुंध जनजीवन को प्रभावित कर रही थी। लॉकडाउन से फैक्ट्रियां बंद हुई और गाड़ियां भी। नतीजा सुखद रहा। प्रदूषण खत्म हो गया, खासकर नाइट्रोजन ऑक्साइड का। नासा ने ट्वीट करके बताया कि चीन के प्रदूषण में 50 फीसद से ज्यादा की कमी आई है। भारत में भी जनता कफ्र्यू और सोमवार के लॉकडाउन में इसे महसूस किया गया। अभी लॉकडाउन के कारण सड़को पर गाड़िया नहीं चल रही जिसके कारण भारत में प्रदूषण में कमी पायी गयी।
और पढ़ें: जाने किन- किन चीजों को खाने से मिलता है विटामिन सी और क्या है इसके फायदे?

साफ हो गईं वेनिस की नहरें: पर्यटकों का प्रिय शहर वेनिस धीमी मौत मर रहा था। क्रूज, स्टीमर और दूसरे जलयानों व पर्यटकों के भारी दबाव से नहरें सिल्ट से भर गई थीं। कई ऐतिहासिक इमारतों की नींव में पानी भर रहा था, महज 15-16 दिन के लॉकडाउन से शहर की स्थिति बदल गई। नहरें दोबारा नीली दिखाई देने लगीं। यहां तक मछलियां भी नहरों में दशकों बाद दिखाई दीं।

 
उदारता और मानवता की भावना: लॉकडाउन के बीच पुरे देश में लोग मदद के लिए आगे आ रहे। सभी अपने अपने इस्थर पर अपना योगदान दे रहे है। बॉलीवुड से ले कर आम आदमी तक योगदान दे रहा है। ये चीजे पुरी दुनिया में हो रही है। न्यूयॉर्क की एक रिपोर्ट के अनुसार 1300 लोगों ने 72 घंटे तक जरूरतमंदों तक दवाएं और राशन पहुंचाया। ऐसी ही खबरें ब्रिटेन, फ्रांस और इटली से भी आईं।
 
सामाजिक ताना-बाना हुआ मजबूत: सामाजिक ताना-बाना का उदाहरण जनता कर्फ्यू के समय देखने को मिला था। जब लोगो ने घरों की बालकनी में आकर आपातकालीन सेवाएं दे रहे लोगों के अभिवादन के लिए ताली, थाली व घंटे बजाए। स्वास्थ्य कर्मियों के सम्मान में काफी बढ़ोतरी देखी गई है। और कुछ ऐसी ही तस्वीरें स्पेन, इटली की भी सामने आयी जिसमे लोग अपनी बालकनी से ही एक-दूसरे को ढांढस बंधाने के लिए गिटार बजा रहे या गाना गा रहे हैं।
अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com
Categories
हॉट टॉपिक्स

Delhi AQI today: दिल्ली की हवा में आया सुधार, AQI में देखने को मिली गिरावट

Delhi AQI today: दिल्ली-एनसीआर में गुरूवार को  हुई बारिश से प्रदूषण हुआ कम


Delhi AQI today: आज सुबह दिल्ली-एनसीआर में बारिश के साथ ठंड बढ़ गई तो वही कुछ इलाको में ओले पड़ने से प्रदूषण भी धुल गया। बारिश से दिल्ली के प्रदूषण स्तर में भी तेजी से गिरावट देखने को मिली जिस से लोगो ने राहत की साँस ली। हालांकि, AQI में गिरावट 27 नवंबर की शाम से ही देखने को मिल गई थी। आपको बता दें की केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार दिल्ली में आज सुबह बारिश के बाद आईटीओ में एयर क्वालिटी इंडेक्स में प्रदूषण का स्तर 149 और आनंद विहार इलाके में 184 दर्ज किया गया।

दिल्ली में बारिश से हुई हवा साफ़

मौसम विभाग के अनुसार आगे तापमान में और गिरावट दर्ज की जा सकती है। साथ ही मौसम विभाग ने यह कहा है की दिल्ली और उत्तर- पश्चिम भारत में पश्चिमी विक्षोभ की वजह से बारिश हो रही है जिसकी वजह से हवा की गति में भी बढ़ोत्तरी देखने को मिल रही है,  इससे आगे प्रदूषण का स्तर और भी कम होने की संभावना है। हवा की गुणवत्ता औसत दर्जे पर पहुंच सकती है। लेकिन 29 नवंबर को एक बार फिर प्रदूषण का स्तर बढ़ने का अंदेशा है और 1  दिसंबर  से ठण्ड भी बढ़ने का अनुमान लगाया जा रहा है।

दिवाली के बाद से ही दिल्ली की प्रदूषण  स्तर  बढ़ते  हुए देखा गया जिस से लोगो का खुले  में साँस लेना  भी मुश्किल हो गया था। वही अब AQI में   आई  गिरावट से दिल्ली के लोगों  को बड़ी राहत मिली है जिस से अब लोग लोग खुल कर साँस  ले पा रहे है।

और पढ़ें: 26/11 Mumbai Attack को हुए 11 साल, आज भी ताज़ी है उस शाम की यादें

कैसे  नापा  जाता है एक्यूआई ?

एक्यूआई 0 से 50 के बीच यानी ‘अच्छा’ है, 51 से 100 के बीच यानी ठीक – ठीक है’, 101 से 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 से 300 के बीच ‘खराब’, 301-400 के बीच ‘बिल्कुल ख़राब है’, 401 से 500 के बीच ‘गंभीर’ और 500 के पार ‘बेहद गंभीर  इमरजेंसी ’ माना जाता है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
बिना श्रेणी

Odd-Even Rule: आज है ओड-इवन का आखरी दिन, स्कीम को आगे बढ़ाने के है आसार

Odd-Even Rule: ओड इवन को बढ़ाने पर फैसला आज, दिल्ली की इमेज की है फ़िक्र


Odd-Even Rule: ओड इवन का आज दिल्ली में आखरी दिन हैं और प्रदुषण के स्तर को देखते हुए शायद ओड इवन की स्कीम को आगे बढ़ाया जायेगा। इसके संकेत दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने पहले ही दे दिए थे। उन्होंने कहा की, ज़रूरत पढ़ने पर ओड इवन को बढ़ाया जा सकता है। अगर दिल्ली में प्रदूषण के स्तर की बात करे तो आज भी खतरनाक है। द्वारका इलाके में एयर क्वालिटी इंडेक्स 700 के पार दर्ज किया गया है।

ओड-इवन को बढ़ाने पर फैसला आज:

दिल्ली में प्रदूषण का स्तर बढ़ रहा है और एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) बेहद गंभीर स्थिति में पहुंच गया है। प्रदूषण को देखते हुए दिल्ली सरकार ने 4 से 15 नवंबर तक ऑड-ईवन योजना लागू करने का फैसला किया था और इसके अनुसार शुक्रवार को यह योजना का आखिरी दिन है। ऐसे अनुमान लगाए जा रहे हैं की जिस तरह से प्रदुषण बढ़ रहा है शायद ओड इवन को आगे बढ़ाया जा सकता है, और आज दिल्ली सरकार इस मामले पर फैसला ले सकती है।

और पढ़ें: राफेल और सबरीमाला मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने कही यह बड़ी बात

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने वायु प्रदूषण पर बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा था कि, मुझे लोगों की सेहत की चिंता है और देश की राजधानी दिल्ली की जो इमेज बन रही है उसकी भी चिंता है। अगर दिल्ली में इतना स्मोग होगा तो क्या इमेज बनेगी।’

उन्होंने कहा, ‘हम सब देख रहे हैं कि दिल्ली में प्रदूषण 10 अक्टूबर से पराली जलने की वजह से बढ़ा। पंजाब, हरियाणा में बारिश की वजह से दिल्ली में धुआं कम हो गया था, लेकिन बारिश थमते ही दिल्ली में प्रदूषण का स्तर फिर बढ़ गया है, क्योंकि पराली अभी भी जलाई जा रही है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
बिना श्रेणी

दिवाली पर प्रदूषण से करे स्किन का इस तरह बचाव

फॉलो करे यह टिप्स और रखे अपनी स्किन की देखभाल


देश भर  में दिवाली के त्योहार को लेकर बड़े ही जोरों शोरो से तैयारी चल रही है। लेकिन वही दीवाली के आते ही धुंध और हवा में प्रदूषण भी दिखने लगता है जिसकी वजह से बाहर साँस लेना भी मुश्किल हो जाता है। क्योंकि प्रदूषण ना केवल हमारी सेहत को नुकसान पहुंचाता है, बल्कि यह स्किन के लिए हानिकारक भी होता है।

आपको बता दें की प्रदूषण के वजह से स्किन बेजान और रूखी हो जाती  है। साथ ही स्किन प्रॉब्लम्स भी जैसे एक्ने, पिंपल्स, ब्लैकहेड्स और ब्रेकआउट्स हो सकते हैं। इसलिए जरूरी है कि आप दिवाली के समय में पॉल्यूशन से अपनी स्किन को बचाये ताकि आपकी स्किन को कोई नुकसान ना पहुँचे। इसलिए आज हम आपको बताएँगे स्किन की देखभाल करने के लिए कुछ ऐसे टिप्स जिसे आपकी स्किन को इस दिवाली नहीं पहुँचेगा  कोई नुक्सान

फॉलो  करे यह टिप्स और रखे अपनी स्किन की देखभाल

1.बाहर सनस्क्रीन लगा कर जरूर निकले

आप जब भी घर से बाहर निकले पहले सनस्क्रीन जरूर लगाएं। पूरी तरह सन प्रोटेक्शन पाने के लिए सनस्क्रीन कम से कम एसपीएफ 30 वाला होना चाहिए। साथ ही अपने चेहरे को दुपट्टे से जरूर ढक  कर रखे ।

2.एंटी-ऑक्सिडेंट का सेवन प्रदूषण से बचने  के लिए जरूर करे

दिवाली में मिठाई ना खाएं ऐसे कैसे हो सकता है । अगर आप चाहते है कि दिवाली पर आपकी स्किन ग्लो करे और आपकी त्वचा को कोई नुकसान ना हो, तो आपको मिठाईयां भूलकर हरी सब्जियां खाने पर फोकस करना होगा। एंटीऑक्सिडेंट्स फ्री रेडिकल्स से लड़ने का सबसे बेहतर तरीका हैं और एंटी-ऑक्सिडेंट्स की सही मात्रा के लिए सही आहार लेना जरूरी है। सब्जियां और फल जैसे टमाटर, गाजर, शकरकंद और हरी पत्तेदार सब्जियां जरूर खाएं।

3.ज्यादा से ज्यादा पानी पिए

अगर आप चाहते है की आपकी त्वचा हमेशा खिली- खिली रहे तो ज्यादा पानी पिए जो शरीर से सभी टॉक्सिन्स को बाहर निकालने में मदद करता है इसलिए आपको अपने पानी का सेवन बढ़ाने की आवश्यकता है। दिन में कम से कम 7-8 गिलास पानी पिएं।

और पढ़े: दिवाली पर माँ लक्ष्मी को करे इस प्रकार प्रसन्न

4. विटामिन ई

अपनी स्किन पर ऐसा मॉइश्चराइज़र लगाए जो विटामिन ए, सी, और ई से समृद्ध हो। मेकअप लगाने से पहले मॉइश्चराइज़र का उपयोग करें। यह आपकी त्वचा की रक्षा करेगा और प्रदूषण से लड़ने में मदद करेगा। रात में, सोने से पहले, अपने चेहरे पर विटामिन ई ऑयल लगाएं और अच्छी तरह से मालिश करें। सोने से पहले अतिरिक्त तेल पोंछ लें। विटामिन ई उम्र बढ़ने के संकेतों को रोकता है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
भारत

प्रदूषण का बढ़ता स्तर, सांस लेना हुआ मुश्किल

दिल्ली में सांस लेना हुआ मुश्किल


भारत की राजधानी दिल्ली में कल सभी लोगों ने प्रदूषित हवा में साँस ली। माना जा रहा है कि हवा में आम तौर से नौ गुना ज्यादा प्रदूषण था। इस तरह बढ़ते प्रदूषण सांस लेना मुश्किल हो रहा है, प्राधिकारियों ने कई जगहों को गंभीर रूप से प्रदूषित घोषित कर दिया।

आनंद विहार, जिसको हमारे शहरों का प्रदूषण हॉटस्पॉट माना जाता है, इन जगहों को सबसे ज़्यादा प्रदूषित बताया जा रहा है। वहाँ PM10  था और सुरक्षित सीमा 100 होने के बावजूद वहाँ 962 सूक्ष्मकण पाये गये। यह सभी अंक दिल्ली प्रदूषण कंट्रोल समिति ने इक्खटा किए।

प्रदूषण का बढ़ता स्तर

दिल्ली की हवा इस समय इतनी ज्यादा प्रदूषित है की साँस लेने के लिए भी साफ़ हवा नहीं है। गाड़ियों और कारखानों के कारण प्रदूषण स्तर तो बढ़ ही रहा है, और साथ ही आजकल इस त्योहारों के समय में पटाखों के कारण यहाँ की वायु और प्रदूषित होगी।

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन ने इस विषय को गंभीरता पूर्वक लेते हुए मीटिंग भी रखी थी। चीन से आ रहे पटाखे दिल्ली के कई मशहूर बाज़ारों में बेचे जा रहे है। आप की मंत्री ने पटाखे न फोड़ने के लिए अभियान शुरू किया।

अब ये कदम हम सभी को उठाना है और अपनी हवा को अपने लिए सुरक्षित और साफ़ रखने की कोशिश करनी है। अगर ऐसे ही हम यहाँ की हवा को दूषित करते रहे तो हम कही से साफ़ हवा भी नहीं खरीद पाएंगे और इंसान इसी दूषित हवा में दम घोंट देगा।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in