Categories
पॉलिटिक्स

ये कहाँ  झाड़ू लगा रही है हेमा मालिनी, यहाँ देखिये वायरल वीडियो 

संसद के बाहर चलाया गया स्वच्छ भारत अभियान


देश को स्वच्छता की ओर जागरूक करने के लिए संसद के बाहर लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला की अगुवाई में सभी नेताओ  ने झाड़ू लगाया .जी हाँ, स्वच्छ भारत अभियान को चलाने  हेतु आज संसद के बाहर हेमा मालिनी झाड़ू लगाती हुई नज़र आई. जिसकी तस्वीर तेज़ी से  सोशल  मीडिया पर वायरल हो रही है. साथ ही हेमा मालिनी ने लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला की तारीफ  करते हुए कहा  कि यह काफी सराहनीय है कि महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर संसद में ‘स्वच्छ भारत अभियान’ को पूरा करने के लिए लोकसभा अध्यक्ष ने पहल की. मैं अगले सप्ताह मथुरा वापस जाऊंगी और वहां इस अभियान को आगे बढ़ाऊंगीं.’

हेमा मालिनी के साथ झाड़ू लगाते दिखे कई दिग्गज नेता  

आपको बता दे कि संसद में स्वच्छता अभियान सुबह 9 बजे शुरू हुआ. जिसमे स्पीकर ओम बिड़ला सहित भारतीय जनता पार्टी के कई दिग्गज मंत्रियों और सांसदों ने संसद के बाहर झाड़ू लगाया .साल 2014 में केंद्र में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) की अगुवाई वाली सरकार बनते ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वच्छता पर ख़ास ध्यान दिया था. उन्होंने इसके लिए देश में स्वच्छता अभियान को शुरू किया.

वही ओम बिड़ला को  19 जून को 17वीं लोकसभा के अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया . उन्हें राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन ने अपना उम्मीदवार बनाया था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सदन में बजट सत्र के तीसरे दिन बिड़ला के समर्थन में प्रस्ताव पेश किया जिसके बाद उसे पारित कर दिया गया.

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.com

Categories
पॉलिटिक्स भारत भारतीये पॉलिटिक्स

संसद में प्रधानमंत्री ने भूकंप के बहाने राहुल गांधी पर कसा तंज

धरती मां रुठ गई है इसलिए आया भूकंप- मोदी


संसद में बजट सत्र के दौरान आज प्रधानमंत्री ने कल राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया। इस दौरान उन्होंने कालेधान, नोटबंदी का बार बार विरोध करने वाले कांग्रेस पर निशाना साधा।

भूकंप के बहाने राहुल गांधी की ली चुटकी

इस दौरान संसद में प्रधानमंत्री कल उत्तर भारत में के कई हिस्सों में आएं भूकंप के बारे में भी बोला। उन्होंने कहा कि लोगों को जो असुविधा हुई है उसके लिए वे संवेदना रखते है।

संसद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

और पढ़े : उरी हमले के बाद पहली बार जनसभा को संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री

भूकंप के बहाने बिना नाम लिया आज प्रधानमंत्री मोदी ने राहुल गांधी पर निशाना साधा। बड़े व्यंग्यात्मक रुप से कहा कि भूकंप आ ही गया, इसके पीछे कोई तो कारण होगा? धरती मां रुठ गई होगी। आखिर भूकंप आया क्यूं? जब को ई स्कैम में भी सेवा नम्रता का भाव देखता है तो धरती मां भी दुखी हो जाती है और भूकंप आ जाता है।

पूरे परिवार को देश का लोकतंत्र सौंप दिया गया है

वहीं कल विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा था गांधी परिवार के लोगों ने देश के लिए जान दी जबकि संघ परिवार से एक कुत्ता भी नहीं आया।
इसी बात का जवाब देते हुए आज प्रधानमंत्री ने संसद में कहा कि कांग्रेस की कृपा से लोकतंत्र बचा हुआ है। लेकिन हम कुत्तों वाली परंपरा से नहीं आते। कांग्रेस ने एक ही परिवार को पूरे देश का लोकतंत्र सौंप दिया है।

और पढ़े : प्रधानमंत्री के जी-20 में आतंकवाद का मुद्दा उठाने से बौखलाया पाकिस्तान

प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि हममें में से कई लोग है जो देश की आजादी के लिए जान नहीं दे पाए लेकिन देश के लिए जी तो सकते हैं। आजादी से लेकर अबतक रास्ते में कहीं जन शक्ति को भूला दिया गया है। मैं आह्वान करता हूं कि हम अपनी जनशक्ति को पहचाने देश को आगे बढाने की दिशा में काम करें।

हाल में हुई नोटबंदी को लेकर विपक्ष पर द्वारा किए हंगामे को लेकर मोदी ने कहा कि पहले दिन से चर्चा करने को तैयार थे लेकिन विपक्ष डरा हुआ था इससे सराकर को फायदा ना हो जाए। रेल बजट को लेकर कहा कि जब रेल बजट पहली बार पेश हुआ तब ट्रांसपोर्ट सेक्टर अलग था। अब चीजें अलग हैं। किसी को जिम्मा लेना पड़ेगा कि जो चीजें गलत हो गई उन्हें देखें, हम इस दिशा में आगे बढ़ रहे हैं।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
पॉलिटिक्स

कांग्रेस ने की ई अहमद की जांच कराने की मांग

कांग्रेस ने की ई अहमद की जांच कराने की मांग


एनडीए सरकार के समय में राज्यमंत्री रहे केरल के सांसद ई अहमद की मौत ने तूल पकड़ लिया है। आज ई अहमद के मौत को लेकर तीन बार संसद स्थागित कर दी गई। वाम सदस्यों और कांग्रेस ने ई अहमद के निधन से जुड़े हालात की जांच की मांग की है।
दो बार के स्थगन के बाद एक बजे की कार्यवाही शुरु होने पर भाजपा के सदस्यों ने अपने स्थान पर खड़े होकर मेरठ के किसी मामले का जिक्र किया और कह कि यह एक गंभीर घटना है।

संसद भवन

तृणमूल कांग्रेस ने गिरफ्तारी का किया विरोध

उधर दूसरी ओर तृणमूल कांग्रेस के सौगत राय ने पार्टी के दो सदस्यों सुदीप बंदोपाध्याय और तापस पाल को सीबीआई द्वारा गिरफ्तार किए जाने का मामला उठाते हुए आरोप लगाया कि राजनीतिक मकसद से केंद्र सरकार द्वारा सीबीआई का दुरुपयोग किया जा रहा है।

इस बीच कांग्रेस के सदस्य भी अपने स्थान पर खड़े होकर कुछ कहते देखे कहते देखे गए लेकिन भाजपा सदस्यों के हंगामे में उनकी बात सुनी नहीं जा सकी।
हंगामा बढ़ते देख अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने कार्यवाही करीब दस मिनट बाद ही दिनभर के लिए स्थगित कर दी। इससे पूर्व सुबह 11 बजे सदन की बैठक शुरु होने पर तृणमूल कांग्रेस सदस्य नारेबाजी करते हुए अध्यक्ष के आसन के समीप आ गए। तृणमूल सदस्यों के हाथों में पोस्टर थे जिन पर लिखा था कि अलोकतांत्रिक तरीके से हमारे सांसदो को गिरफ्तार किये जाने के विरोध में ये हमारी लोकतांत्रिक लड़ाई है।

आंध्रप्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग

वहीं कांग्रेस सदस्य संभवत पूर्व केंद्रीय मंत्री और लोकसभा सदस्य ई अहमद के निधन के हालात को लेकर कोई मुद्दा उठाना चाह रहे थे। हालांकि हंगामे में उनकी बात स्पष्ट तौर पर सुनी नहीं जा सकी। तेलगू देशम पार्टी के कुछ सदस्यों को अपने स्थान से ही पोस्टर दिखाते देखा गया जिन पर आंध्रप्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिये जाने की मांग की गई थी।

आपको बता दें आम बजट के पहले दिन राष्ट्रपति के अभिभाषण के दौरान ई अहमद अचानक गिर गए थे।उसके बाद उन्हें अस्पताल लेकर जाया गया। जहां उन्हें डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
पॉलिटिक्स

इस बार ऐतिहासिक बजट पेश हो रहा है : प्रणव मुखर्जी

इस बार ऐतिहासिक बजट पेश हो रहा है


आज से साल 2017 के आम बजट का आगाज हो गया। बजट का आगाज देश के राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने किया। इससे पहले आज राष्ट्रपति मुखर्जी संसद पहुंचे। जहां स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनका स्वागत किया।

राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने अभिभाषण के साथ बजट सत्र का आगाज किया। संसद में भाषण देते हुए राष्ट्रपति ने सरकार की उपलब्धियां गिनाई। साथ ही नोटबंदी और सर्जिकल स्ट्राइक की सराहना की जिस पर पीएम समेत सांसदों ने भी तालियां बजाई।

भाषण देते हुए प्रणव मुखर्जी ने कहा कि इस साल का बजट ऐतिहासिक बजट है। पहली बार इस बजट में रेल बजट को आम बजट में शामिल कर लिया है। आपको बता दें 93 सालों से चला रहा रेल बजट इस बार से अलग से संसद में पेश नहीं किया जा रहा है।

संसद में अभिभाषण देते हुए राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी

और पढ़े : राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का चीन दौरा, जानिए क्या कहा…

आईये चलिए जाने अभिभाषण की कुछ अहम बातें

  • कालेधन-बेनामी संपति के खिलाफ कड़े कानून।
  • आतंक के सामने देश बिल्कुल नहीं झुकेगा।
  • राष्ट्रपति ने कहा कि 8 नवंबर को नोटबंदी को लेकर लिया गया फैसला साहसिक था लंबे समय से चल रहे कालेधन के मुद्दे और जाली करेंसी ने लिए यह एक बड़ा फैसला था।
  • वरिष्ठ नागरिकों को पहली बार पेंशन पर मिलेगा 8 फीसदी रिटर्न।
  • पहली बार तीन महिला पायलट बनी।
  • सरकार ने नारी शक्ति को बढाया और सेना में दिया बराबरी का मौका
  • वहीं प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व के तहत गर्भवती महिलाओं की उचित देखरेख और उनकी सुविधाओं को लेकर विशेष ध्यान दिया गया है।
  • पीएम मृदा योजना के तहत 2 लाख करोड़ का लोन दिया गया। 5.6 करोड़ का लोन के आवेदन प्राप्त हुए थे।
  • गरीब किसानों की भी सरकार ने मदद की। अच्छे मानसून और किसान योजनाओं से फायदा, किसानों को सॉयल हेल्थ कार्ड दिया गया। खरीफ की फसल में 6 फीसदी की वृद्धि।
  • इंद्रधनुष योजना को तहत देश को पोलियो मुक्त बनाया। इस योजना को तहत हर बच्चे को टीका लगा। लगभग 55 लाख बच्चों को टीका लगाने का लक्ष्य।
    महिलाओं के लिए उज्जवला योजना लाई गई जिसके तहत 5 करोड़ लोगों को गैस कनेक्शन मिलें।

और पढ़े : जीएसटी बिल पर राष्ट्रपति ने किया हस्ताक्षर

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
भारत

भारतीय संसद पर हमले की आशंका

भारतीय संसद पर हमले की आशंका


भारतीय संसद पर हमले की आशंका:- सार्जिकल ऑपरेशन के बाद से पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई बौखलाई हुई है। सूत्रों की मानें तो पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी भारत में आतंकी हमला करवा सकती हैं।

मसूद अजहर संसद पर करवा सकता है हमला

एक अंग्रेजी अखबार की खबर के अनुसार आईएसआई ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद से कहा है कि कैसे भी करके भारत मे हमलाकर सर्जिकल ऑपरेशन का बदला लिया जाए।

अबतक मिली जानकारी के अनुसार जैश-ए-मोहम्मद का सरगना मसूद अजहर फिर से भारतीय संसद पर हमला करने की तैयारी कर रहा है।

इससे पहले साल 2001 में जैश-ए-मोहम्मद ने अफजल गुरु की मदद से संसद पर हमला किया था।

भारतीय खुफियां एजेंसी और जम्मू कश्मीर की सीआईडी को जानकारी मिली है कि पाक अधिकृत कश्मीर पर किए गए सर्जिकल ऑपरेशन का बदला लेने की तैयारी कर रहा है जिसके दिखते हुए सुरक्षाबलों को सतर्क कर दिया गया है

भारतीय संसद

दिल्ली सचिवायल भी निशाने पर

भारतीय खुफियां एजेसियों को मिली जानकारी के मुताबिक जैश-ए- फिदायीन अगर संसद पर हमला करने में नाकाम होते है तो वो दिल्ली सचिवालय. लोटस टैंपल और अक्षरधाम पर हमला कर सकते है।

अबतक मिली जानकारी के अनुसार जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी अगर किसी प्रमुख स्थान  पर हमला नही कर पाए तो वो भीड़ भाड़ वाली जगहों पर भी हमला कर सकते हैं।

वैसे तो उरी हमले के बाद से ही भारतीय संसद की सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। लेकिन अब दोबारा  ऐसे हालात को देखते हुए संसद की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

कड़ी हुई संसद की सुरक्षा

कुछ दिनों पहले ही आम आदमी पार्टी के सांसद भगवत मान द्वारा संसद की वीडियो बनाए जाने के बाद ही संसद की सुरक्षा स्थिति की समीक्षा की गई थी। यह वीडियो सोशल साइट पर बहुत वायरल भी हुई थी।

एक फिर भी किसी गड़बड़ी की आशंका को देखते हुए संसद की सुरक्षा को एक बार फिर बढ़ा दिया गया है। खुफिया एजेंसियों द्वारा दी गई जानकारी के आधार पर संसद में लगातार सुरक्षा का जायजा लिया जा रहा है।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in