Categories
भारत

साध्वी यौन शोषण मामले में राम रहीम को आज मिलेगी सजा

हरियाणा और पंजाब में इंटरनेट सेवा हुई ठप


यौन शोषण के मामले में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम सिंह को सीबीआई के विशेष अदालत ने 10 साल की सजा सुनाई गई है। राम रहीम को 376, 511 और 506 के तहत सजा सुनाई गई है। इससे पहले जज जगदीप सिंह हेलीकॉप्टर से रोहतक पहुंचे। जहां जेल को ही अदालत में तब्दील कर दिया गया था।

राम रहीम सिंह

सजा की ऐलान से पहले जज ने दोनों पक्षों को अपने-अपने पक्ष रखने के लिए 10 मिनट का मौका दिया था। जिसमें अभियोजन पक्ष ने उम्र कैदी की सजा की मांग की। वहीं दूसरी ओर बचाव पक्ष ने उनके समाज सेवी होने का दावा किया और कम से कम सजा की मांग की।

इन सबके के दौरान राम रहीम जज के सामने हाथ जोड़ के खड़ा रहा। इस दौरान उसके आंखे से आंसू आ गए और वो खूब रोया। रोते हुए राम रहीम ने जज से माफी भी मांगी और बोला जज साहब मुझ पर रहम करो।

सजा की ऐलान से पहले ही सिरसा में बाबा के समर्थकों ने दो गाड़ियों को आग लगा दी।

। इससे पहले शुक्रवार को उन्हें साध्वी के साथ रेप मामले में दोषी करार दिया गया था। सजा के लिए आज रोहतक जेल के ही कोर्ट रुम में तबदील कर दिया गया है। सीबीआई जज जगदीप सिंह लगभग 11.30 बजे तक कोर्ट में सजा का ऐलान करने के लिए पहुंच जाएंगे।

स्कूल कॉलेज भी है बंद

सुरक्षा के मद्देनजर किसी भी संदिग्ध होने पर उस पर तुरंत गोली चलाने के आदेश दिए गए हैं। नाजुक हालात के देखते हुए। आज हरियाणा और पंजाब में इंटरनेट सेवा का बाधित कर दिया गया है। ताकि इंटरनेट के द्वारा कोई भी झूठी अफवाह न फैलाई जा सकें।

इससे पहले शुक्रवार को फैसले आने के बाद ही हिंसा को देखते हुए सैकड़ो डेरा समर्थकों को पहले ही हिरासत मे ले लिया गया है। सेना अर्धसैनिक बल और राज्य पुलिस के जवानों को तैनात किया गया है। हरियाणा में रोहतक और सिरसा समेत कई जिलों के स्कूल और कॉलेज बंद कर दिए गए हैं।

साधुओं ने की फांसी की मांग

अब तक की मिली जानकारी के अनुसार पंजाब के अबोहर में डेरा के 6 समर्थकों को गिरफ्तार किया गया है। इससे पहले भी 8 समर्थकों के गिरफ्तार किया गया था। इन सभी को सार्वजनिक संपति को नुकसान पहुंचाने के मामले में गिरफ्तार किया गया है।

पंजाब, हरियाणा और दिल्ली में बाबा के समर्थकों की संख्या ज्यादी है। इसकी को देखते हुए यहां सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। अतरिक्त सेना बल को तैनात किया गया है।

वहीं यूपी के वाराणसी में साधुओं ने राम रहीम के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए फांसी की मांग की है।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in

Categories
पॉलिटिक्स भारतीये पॉलिटिक्स

विपक्षी दल हार को सम्मान के साथ स्वीकर करें- केंद्रीय मंत्री वैंकेया नायडू

केंद्रीय मंत्री वैंकेया नायडू ने कहा विपक्षी दल हार को सम्मान के साथ स्वीकर करें


पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के परिणाम आने के बाद से ईवीएम मशीन पर सवाल या निशाना लगाएं जा रहे है। पंजाब में केजरीवाल की हार और यूपी में मायावती की हार ने ईवीएम पर सवाल खड़ा कर दिया है। ईवीएम पर बार-बार उठते सवालों के बीच आज केंद्रीय मंत्री वैंकेया नायडू में जवाब दिया है।

वैंकेया नायडू

ईवीएम पर सवाल न उठाए

आज लोकसभा के बाहर नायडू ने कहा कि विपक्षी दल हार को सम्मान के साथ स्वीकार करें। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जहां तक ईवीएम में छेड़छाड़ की बात है तो विपक्षी दलों को यह नहीं भूलना चाहिए कि जब परिणाम उनके पक्ष मे आते है तो वही ईवीएम सही हो जाते है। वहीं, जब परिणाम विरोध में आते हैं तो ईवीएम में कमियां नजर आने लगती है। यह दोहरा व्यवहार किसी के लिए भी शोभा नहीं देता।

इससे पहले आज ईवीएम पर सवालों उठाने वाले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पत्रकार वार्ता कर एक बार फिर ईवीएम पर सवाल उठाते हुए आरोप लगाया था कि पंजाब विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी के वोट अकाली दल गठबंधन और कांग्रेस को ट्रांसफर किए गए। केजरीवाल में बुधवार को आरोप लगाया कि आप को पंजाब से बाहर रखने के लिए ईवीएम में छेड़छाड़ की गई।

ईवीएम की विश्वसनीयता पर सवाल उठाते हे केजरीवाल ने कहा कि भाजपा और अकालिओं के गठबंधन को 30 फीसदी वोट कैसे मिल गए।

काला दिवस मनाएंगी मायावती

वहीं मायावती ने यूपी मे कहा कि यह लोकतंत्र की हत्या की जीत है। मोदी 325 सीटें जीते लेकिन उनके चेहरे पर रौनक नजर नहीं आ रही है। जिस भाजपा ने मुस्लिम उम्मीदवार नहीं उतारे उसे मुस्लिम इलाको से इतने वोट कैसे मिले।

मायावती ने कहा कि अप्रैल की 11 तारीख को काला दिवस मनाएंगी और इस मामले को अदालत तक लेकर जाएंगी।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
पॉलिटिक्स भारत

यूपी में बीजेपी और पंजाब में कांग्रेस है आगे- एग्जिट पोल

यूपी में बीजेपी है आगे- एग्जिट पोल


पांच राज्यों में हुए चुनाव को लेकर एग्जिट पोल आना शुरु हो गए। एग्जिट पोल की माने तो यूपी में बीजेपी की सरकार बना रही है। पंजाब विधानसभा चुनाव के नतीजे 11 मार्च को आएंगे। लेकिन नतीजे आने पहले ही एग्जिट पोल के अनुसार तो पंजाब में कांग्रेस की सरकार बन रही।

वहीं दूसरी ओर आम आदमी पार्टी भी बहुमत की सरकार का दावा कर सकती है। उत्तराखंड और मणिपुर में भी चुनाव नतीजे में कुछ अंतर कम ही लग रहा है। यहां भी बीजेपी ही बड़ी पार्टी के रुप मे उभरकर बाहर आएगी।

बिहार में एग्जिट पोल गलत साबित हुआ

यूपी के एग्जिट पोल के अनुसार बीजेपी यहां सरकार बनाती नजर आ रही है। वहीं सपा और कांग्रेस का गठबंधन दूसरे नंबर पर है। मायावती का पार्टी बीएससपी तीसरे नंबर पर है। बीजेपी और सपा और कांग्रेस के गठबंधन में 161 से 265 सीटों का अंतर होगा।

आज चाणक्य के अनुमान के अनुसार बीजेपी को यूपी में 285 सीटों की बढ़त मिल रही है। वहीं राहुल गांधी ने यूपी में अपनी जीत का दावा किया है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा “यूपी में हम जीतेंगे और 11 मार्च को बात करेंगे। बिहार मे भी एग्जिट पोल गलत साबित हुए थे।“ हालांकि उन्होंने एग्जिट पोल पर बोलने से इंकार कर दिया है।

पंजाब में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच टक्कर

वहीं पंजाब की बात करें तो एग्जिट पोल के अनुसार पंजाब की सत्ता पर काबिज अकाली दल को 117 सीटों मे से ईकाई की संख्या में सीट नहीं मिलेंगी। वहीं सीवोटर की मानें तो पंजाब को आम आदमी को पूर्ण बहुमत के साथ 63 सीटें मिल रही है। वहीं एक्सिस के अनुसार कांग्रेस पूर्ण बहुमत के साथ प्रदेश में अपनी सरकार बनाएंगी। अन्य की मानें तो पंजाब के मुकाबला कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच है।

उत्तराखंड में बीजेपी की सरकार बनती दिख रही है। वहीं मणिपुर में राज कर रही कांग्रेस का सफाया होगा और बीजेपी के पैर वहं पड़ेगे।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
पॉलिटिक्स

पंजाब में चुनाव प्रचार थमा, आइए जानें चुनाव प्रचार में क्‍या रहा खास

आइए जानें पंजाब चुनाव प्रचार में क्‍या रहा खास


पंजाब में होने वाले विधानसभा चुनाव प्रचार गुरुवार को पांच बजे थम गया. प्रचार के दौरान सभी पार्टियों ने मतदाता को लुभाने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक दी हैं. पंजाब में मतदान चार फ़रवरी को होने वाला हैं और इसमें करीब दो करोड़ मतदाता वोट देने वाले हैं. 22615 मतदान केंद्रों पर वोट डाले जाएंगे.


और पढ़े : अकालियों ने पंजाब के भविष्य को बर्बाद कर दिया है- राहुल गांधी

पंजाब चुनाव के मैदान में उतराने वाली बड़ी पार्टीः-

  • शिरोमणी अकाली दल-बीजेपी का गठबंधन
  • कांग्रेस
  • आम आदमी पार्टी

अलग-अलग राजनीतिक दलों के कुल 1145 उम्मीदवारों को चुनाव मैदान में उतारा है.


और पढ़े : चुनाव तक ‘आवाज-ए-पंजाब’ राजनीतिक पार्टी नहीं बनेगी
पंजाब चुनाव प्रचार के दौरान कई दिलचस्प किस्से हुए. किसी नेता की जुबान फिसली तो किस पर आरोप लगा. आइए जानें, पंजाब में चुनाव प्रचार के दौरन हुए किस्‍सों के बारे में.

  • पंजाब के सीएम प्रकाश सिंह बादल 11 जनवरी को लंबी विधानसभा के रत्ता खेड़ा में चुनाव के तहत आयोजित संगत दर्शन कार्यक्रम में शामिल होने आए थे. तभी उन पर एक व्‍यक्ति ने जूता फेंका दिया. वो जूता एक सुरक्षाकर्मी से टकराकर सीएम के सिर में जा लगा था. जूता फेंकने वाले व्‍यकित को सुरक्षाकर्मियों ने फौरन ही गिरफ्तार कर लिया था.
  • चुनाव प्रचार के दौरन पंजाब के उपमुख्यमंत्री सुखबीर बादल की फिसल गई थी जुबान. दरअसल, जलालाबाद में उपमुख्‍यमंत्री जनसभा को संबोधति कर रहे थे, उस दौरन वह बोले, पंजाब में तीनों पार्टियों में सबसे बुरी पार्टी अकाली दल है. लेकिन बाद में उन्होंने अपनी गलती को सुधार कर लिया था.
  • आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत मान पर शराब पीकर जनसभा संबोधित करने पहुंचने के आरोप लगे थे. भगवंत मान जलालबाद से सुखबीर बादल के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं, वह ए‍क दिन मोगा की पुरानी अनाज मंडी में जनसभा को संबोधित करने पहुंचे, जब मान बोलने के लिए उठे तो वह 5 मिनट तक ऑडियंस को फ्लाइंग किस ही देते रहे और फिर लड़खड़ाकर गिर गए.
  • पंजाब के उपमुख्‍यमंत्री सुखबीर सिंह बादल 9 जनवरी को जलालाबाद के कंदवाल गांव में रोड शो कर रहे थे, वहां उनके काफिले पर कुछ लोगों ने पथराव कर दिया. सुखबीर और संबंधित अधिकारियों की गाड़ियां तेजी से आगे निकलने की वजह से उनका बचाव हो गया, मगर उनके समर्थकों की गाड़ियों में लोगों ने तोड़-फोड़ की. इसमें चार लोग जख्मी भी हो गए थे.
  • दिल्‍ली के उपमुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया 10 जनवरी को पंजाब के मोहाली में जनसभा करने पहुंचे थे. जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, कि पंजाब के मतदाता ये मानकर वोट करें, कि अरविंद केजरीवाल को मुख्यमंत्री बनाना है. इस बयान के बाद जबदस्‍त राजनीति शुरू हो गई थी और आखिर में खुद अरविंद केजरीवाल ने यह कहा, कि पंजाब का ही कोई नेता यहां का सीएम होगा. मैं दिल्‍ली का मुख्‍यमंत्री हूं.

अब अगर हम पिछले कुछ हफ्तों में हुई घटनाओं पर नज़र डालें तो चुनाव के नतीज़े दिलचस्प आने की उम्मीद है. आम आदमी पार्टी पहली बार पंजाब के चुनावी मैदान में उतरी है और ऐसा लग रहा है, कि इसी वजह से पुरानी पार्टियों शिरोमणी अकाली दल-बीजेपी गठबंधन और कांग्रेस का चुनावी गणित बिगाड़ गया है. दरअसल, अकाली दल-बीजेपी गठबंधन और कांग्रेस के नेताओं ने आम आदमी पार्टी के ख़िलाफ़ आक्रमक बयानबाजी की. इस बयानबाजी से ये साफ हो रहा है, कि आप पुरानी पार्टियों को कड़ी चुनौती दे रही है.

राजनीतिक पार्टियों ने विरोधी दल की छवि को बिगाड़ने के लिए समर्थकों ने स्टिंग ऑपरेशन के वीडियो और ऑडियो रिकॉर्डिंग का सहारा भी लिया. साथ ही चुनाव प्रचार के दौरान सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर ग़लत ख़बरों भी चलाई गई.

बात घोषणा पत्र की

राजनीतिक पार्टियों ने अपने घोषणा पत्र में मतदाताओं को आटा, चावल, दाल, देसी घी, चीनी और दूध जैसी चीजें और लाखों नौकरियां देने का वादा किया है, साथ ही राज्य से नशे का कारोबार ख़त्म करने और किसानों की कर्ज माफी की बात भी की. हर पार्टी का घोषणा पत्र करीबन एक जैसा ही रहा. घोषणा पत्र से ऐसा लगा, कि पंजाब बहुत गरीब राज्‍य है.

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in