Categories
पॉलिटिक्स भारतीये पॉलिटिक्स

लखीमपुर रैली- प्रदेश में कानून व्यवस्था सही नहीं है- मोदी

प्रदेश में कानून व्यवस्था सही नहीं है- मोदी


हर दिन 15-15 हत्याएं हो रही हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज लखीमपुर खीरी में चुनावी रैली कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहां प्रदेश में कानून व्यवस्था सही नहीं है । यह रैली दूसरे चरण के चुनाव के लिए की जा रही है। आपको बता दें दूसरे चरण का चुनाव 15 फरवरी को होने वाला है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

लखीमपुर खीरी में दूसरे चरण में चुनाव होने वाला है। आज दूसरे चरण के चुनाव के लिए प्रचार का आखिरी दिन है। अपनी रैली के दौरान पीएम ने सपा, बसपा और कांग्रेस को आड़े हाथों लिया है।

लोगों के जीवन में कोई बदलाव नहीं

रैली को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा कि अभी तक राज्य में अधिकतर कांग्रेस, सपा और बसपा की सरकार बनी है पर क्या इन्होंने अभी तक लोगों के जीवन में बदलाव लाया है। साथ ही कहा है कि साल 2014 में लोगों ने सभी पार्टियों को साफ कर दिया था। बाकी सिर्फ दो कुनबों के लोग 2014 में जीते थे।
अपनी रैली के दौरान ने मुख्यमंत्री अखिलेश सिंह यादव की चुटकी लेते हुए कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था सही नहीं है।
साथ ही कहा है ‘जेल से गैंग चलते हैं, हर दिन बलात्कार और हत्याएं होती है इसे आप राज्य में अखिलेश जी काम कहेंगे या सपा का करनामा?’
साथ ही कहा है ‘आज दिल्ली में एक ऐसा भाई बैठ है आपका जो आपकी सेवा करना चाहता है बस एक मौका तो दीजिए।‘
मोदी ने सपा और कांग्रेस के गठबंधन पर वार करते हुए कहा है कि सपा ने कांग्रेस के साथ हाथ मिलाकर डॉ लोहिया की बेइज्जती की है जिन्होंने कांग्रेस का विरोध किया था।

क्या कहा मोदी ने लखीमपुर में

-साल 2014 में परिवार नहीं टूटा
-हड़बड़ी में तीसरा घोषणापत्र जारी
-10 मुद्दे लाने पर भी यूपी में बचने की संभावना नहीं है।
-हर दिन 15-15 हत्याएं हो रही है।
-मोदी ने कहा कि उत्तर प्रदेश को सपा-कांग्रेस की राजनीति ने तबाह कर दिया है।
-बीजेपी की सरकार बनी तो छोटे किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा।
-उत्तर प्रदेश की वजह से 30 साल बाद पूर्ण बहुमत की सरकार बनी, बीजेपी की सरकार बनने की पहली ही मीटिंग में किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
पॉलिटिक्स भारतीये पॉलिटिक्स

अखिलेश और राहुल की की मेरठ मे दूसरी रैली

अखिलेश और राहुल ने आज मेरठ मे दूसरी बार रैली की


यूपी चुनाव के दौरान सपा और कांग्रेस में हुए गठबंधन के बाद आज दूसरी बार अखिलेश और राहुल ने एक रैली की। यह रैली मेरठ में की गई थी।

एक तरफ संसद तो दूसरी तरफ मेरठ में कसे गए तंज

जहां एक ओर अखिलेश और राहुल मेरठ में रैली कर रहे थे। वहीं दूसरी ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संसद में राहुल पर तंज कस रहे थे।
यूपी में पहले चरण का चुनाव 11 फरवरी को होना है। पहले चरण के चुनाव मेरठ में भी होना है। इसलिए यहां चुनाव प्रचार का दौर चल रहा है। इससे पहले को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह यहां पदयात्रा करने आने वाले थे। लेकिन व्यापारी की हत्या के कारण वहां पदयात्रा रद्द करनी पड़ी। इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी यहां यात्रा की।

राहुल गांधी और अखिलेश सिंह यादव

और पढ़े : राहुल गांधी ने यूपी की रैली में अखिलेश को बताया ‘ठीक लड़का’
चुनाव प्रचार के द्वारा सभी पार्टियां जनता को लुभाने में लगी है।

आज की इस रैली के दौरान राहुल गांधी ने कहा कि मोदी जी आते हैं और क्रोध फैलाते हैं, यहां से ये मैसेज जाना चाहिए कि इस प्रदेश में नफरत नहीं फैलाई जा सकती। मोदी जी से हम कहना चाहते हैं कि हम यूपी के साथ खड़े हैं इसे तोड़ा नहीं जा सकता।
और पढ़े : सपा ने जारी की उम्मीदवारों की पहली लिस्ट
स्कैम की परिभाषा ने मुझे हैरान कर दिया

अखिलेश यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले दिनों स्कैम की जो परिभाषा बताई उसने मुझे हैरान कर दिया। हैरान इसलिए क्योंकि इसमें मायावती का भी नाम था। आखिर मायावती को इसमें क्यों शामिल किया गया जबकि बीजेपी तीन बार यूपी में उनकी सहयोगी रह चुकी है।

इस मौके पर सपा और कांग्रेस के कार्यकर्ता यूपी को ये साथ पसंद है का बैनर लेकर आए थे।

इसके अलावा तख्यियां अखिलेश और राहुल को संबोधित करते हुए लिखा था करण अर्जुन आ गए मोदी तो गयो।
इससे पहले अखिलेश और राहुल ने रोड़ शो किया था।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
पॉलिटिक्स भारत भारतीये पॉलिटिक्स

संसद में प्रधानमंत्री ने भूकंप के बहाने राहुल गांधी पर कसा तंज

धरती मां रुठ गई है इसलिए आया भूकंप- मोदी


संसद में बजट सत्र के दौरान आज प्रधानमंत्री ने कल राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया। इस दौरान उन्होंने कालेधान, नोटबंदी का बार बार विरोध करने वाले कांग्रेस पर निशाना साधा।

भूकंप के बहाने राहुल गांधी की ली चुटकी

इस दौरान संसद में प्रधानमंत्री कल उत्तर भारत में के कई हिस्सों में आएं भूकंप के बारे में भी बोला। उन्होंने कहा कि लोगों को जो असुविधा हुई है उसके लिए वे संवेदना रखते है।

संसद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

और पढ़े : उरी हमले के बाद पहली बार जनसभा को संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री

भूकंप के बहाने बिना नाम लिया आज प्रधानमंत्री मोदी ने राहुल गांधी पर निशाना साधा। बड़े व्यंग्यात्मक रुप से कहा कि भूकंप आ ही गया, इसके पीछे कोई तो कारण होगा? धरती मां रुठ गई होगी। आखिर भूकंप आया क्यूं? जब को ई स्कैम में भी सेवा नम्रता का भाव देखता है तो धरती मां भी दुखी हो जाती है और भूकंप आ जाता है।

पूरे परिवार को देश का लोकतंत्र सौंप दिया गया है

वहीं कल विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा था गांधी परिवार के लोगों ने देश के लिए जान दी जबकि संघ परिवार से एक कुत्ता भी नहीं आया।
इसी बात का जवाब देते हुए आज प्रधानमंत्री ने संसद में कहा कि कांग्रेस की कृपा से लोकतंत्र बचा हुआ है। लेकिन हम कुत्तों वाली परंपरा से नहीं आते। कांग्रेस ने एक ही परिवार को पूरे देश का लोकतंत्र सौंप दिया है।

और पढ़े : प्रधानमंत्री के जी-20 में आतंकवाद का मुद्दा उठाने से बौखलाया पाकिस्तान

प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि हममें में से कई लोग है जो देश की आजादी के लिए जान नहीं दे पाए लेकिन देश के लिए जी तो सकते हैं। आजादी से लेकर अबतक रास्ते में कहीं जन शक्ति को भूला दिया गया है। मैं आह्वान करता हूं कि हम अपनी जनशक्ति को पहचाने देश को आगे बढाने की दिशा में काम करें।

हाल में हुई नोटबंदी को लेकर विपक्ष पर द्वारा किए हंगामे को लेकर मोदी ने कहा कि पहले दिन से चर्चा करने को तैयार थे लेकिन विपक्ष डरा हुआ था इससे सराकर को फायदा ना हो जाए। रेल बजट को लेकर कहा कि जब रेल बजट पहली बार पेश हुआ तब ट्रांसपोर्ट सेक्टर अलग था। अब चीजें अलग हैं। किसी को जिम्मा लेना पड़ेगा कि जो चीजें गलत हो गई उन्हें देखें, हम इस दिशा में आगे बढ़ रहे हैं।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
पॉलिटिक्स

इस बार ऐतिहासिक बजट पेश हो रहा है : प्रणव मुखर्जी

इस बार ऐतिहासिक बजट पेश हो रहा है


आज से साल 2017 के आम बजट का आगाज हो गया। बजट का आगाज देश के राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने किया। इससे पहले आज राष्ट्रपति मुखर्जी संसद पहुंचे। जहां स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनका स्वागत किया।

राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने अभिभाषण के साथ बजट सत्र का आगाज किया। संसद में भाषण देते हुए राष्ट्रपति ने सरकार की उपलब्धियां गिनाई। साथ ही नोटबंदी और सर्जिकल स्ट्राइक की सराहना की जिस पर पीएम समेत सांसदों ने भी तालियां बजाई।

भाषण देते हुए प्रणव मुखर्जी ने कहा कि इस साल का बजट ऐतिहासिक बजट है। पहली बार इस बजट में रेल बजट को आम बजट में शामिल कर लिया है। आपको बता दें 93 सालों से चला रहा रेल बजट इस बार से अलग से संसद में पेश नहीं किया जा रहा है।

संसद में अभिभाषण देते हुए राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी

और पढ़े : राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का चीन दौरा, जानिए क्या कहा…

आईये चलिए जाने अभिभाषण की कुछ अहम बातें

  • कालेधन-बेनामी संपति के खिलाफ कड़े कानून।
  • आतंक के सामने देश बिल्कुल नहीं झुकेगा।
  • राष्ट्रपति ने कहा कि 8 नवंबर को नोटबंदी को लेकर लिया गया फैसला साहसिक था लंबे समय से चल रहे कालेधन के मुद्दे और जाली करेंसी ने लिए यह एक बड़ा फैसला था।
  • वरिष्ठ नागरिकों को पहली बार पेंशन पर मिलेगा 8 फीसदी रिटर्न।
  • पहली बार तीन महिला पायलट बनी।
  • सरकार ने नारी शक्ति को बढाया और सेना में दिया बराबरी का मौका
  • वहीं प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व के तहत गर्भवती महिलाओं की उचित देखरेख और उनकी सुविधाओं को लेकर विशेष ध्यान दिया गया है।
  • पीएम मृदा योजना के तहत 2 लाख करोड़ का लोन दिया गया। 5.6 करोड़ का लोन के आवेदन प्राप्त हुए थे।
  • गरीब किसानों की भी सरकार ने मदद की। अच्छे मानसून और किसान योजनाओं से फायदा, किसानों को सॉयल हेल्थ कार्ड दिया गया। खरीफ की फसल में 6 फीसदी की वृद्धि।
  • इंद्रधनुष योजना को तहत देश को पोलियो मुक्त बनाया। इस योजना को तहत हर बच्चे को टीका लगा। लगभग 55 लाख बच्चों को टीका लगाने का लक्ष्य।
    महिलाओं के लिए उज्जवला योजना लाई गई जिसके तहत 5 करोड़ लोगों को गैस कनेक्शन मिलें।

और पढ़े : जीएसटी बिल पर राष्ट्रपति ने किया हस्ताक्षर

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
भारत

आरबीआई ने बढ़ाई एटीएम से कैश निकालने की लिमिट

नोटबंदी के 50  दिन पार होने के बाद रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने एक बार फिर आम आदमी को कैश  के मामले में थोड़ी राहत दी है।

 

एटीएम से निकलेगें 10000

आरबीआई ने अब एटीएम से कैश निकालने को लिमिट को बढ़ा दिया है। अब आप एटीएम से  एक दिन में 10000 निकाल सकते है। इससे पहले इसकी लिमिट 4500 रुपए थी। इसके साथ ही चालू खाताधारक(करेंट अकॉउट होल्डर) अपनी बैंक ब्रांच से एक बार में एक लाख रुपए निकाल सकते है। जबकि पहले इसकी लिमिट 50,000 रुपए थी। लेकिन बचत खाते(सेविंग अकॉउट) से अब भी पूरे सप्ताह में 24,000 रुपए ही निकाले जा सकते हैं।

लेकिन ओवरड्राफ्ट तथा कैश क्रेडिट खातों से भी कैश निकालने की सीमा को 50 हजार से बढ़ाकर एक लाख प्रति सप्ताह कर दी गई है।

और पढ़े : एटीएम से अब निकलेगा पिज्‍जा

अब बार-बार एटीएम के चक्कर नहीं लगाने पड़ेगें

एसबीआई के चीफ इकोनॉमिक एडवाइजर सौम्य कांति ने कहा है ‘बैंक कैश  लिमिट को लेकर  बैंक सकरात्मक तरीके से आगे बढ़ रही है। लेकिन एटीएम की कैस लिमिट बढ़ने के कारण अब लोगों को बार-बार एटीएम के चक्कर नहीं लगाने पड़ेगें’।

8 नवंबर से शुरु हुई नोटबंदी के बाद से देश 22,000 एटीएम में रोजाना लगभग 13000 करोड़ रुपए डाले जा रहे थे। इतना कैश आने के बावजूद भी एटीएम के बाहर लोगों की लंबी लाइन लगी होती थी। इसकी सबसे बड़ी वजह थी कई एटीएम और बैंक में कैस मौजूद नहीं होना। इसके साथ ही कैश  निकालने की एक लिमिट तय की गई थी। कैस लिमिट होने के कारण लोगों को बार-बार कैस निकालने के लिए बैंक और एटीएम का सहारा लेना पड़ता था।

आपको बता दें 8 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1000 के नोट को अमान्य करार दे दिया था। जिसके बाद से पूरे देश में कैश की किल्लत पूरे देश में हो गई थी क्योंकि नए 500 और 2000 के नोट में कमी थी.

आरबीआई ने पहले लिमिट के तौर पर एटीएम से 2000 रुपए और  बैंक 5000 रुपए निश्चित की थी।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at

info@oneworldnews.in
Categories
पॉलिटिक्स

केजरीवाल ने राहुल गांधी के दलाली वाले बयान की निंदा

केजरीवाल ने राहुल गांधी के दलाली वाले बयान की निंदा


केजरीवाल ने राहुल गांधी के दलाली वाले बयान की निंदा :- नियंत्रण रेखा पर सर्जिकल ऑपरेशन के बाद देश में बढ़ते सबूतों की मांग के बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राहुल गांधी के ‘दलाली’ वाले बयान की निंदा की है।

दलाली वाली टिप्पणी सही नहीं है

केजरीवाल ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा ‘मैं उनके बयान की निंदा करता हूं। सेना के लिए ऐसे शब्दों का इस्तेमाल ठीक नहीं है। खून की दलाली संबंधी टिप्पणी राहुल गांधी ने ठीक नहीं किया है।‘

उनका बयान गलत है। उन्होनें यह भी कहा कि पीएम का कदम देश की सुरक्षा के लिए सही है। ऐसे समय में सबको मोदी का साथ देना चाहिए। यहां तक कि राहुल को भी पीएम का साथ देना चाहिए। सर्जिकल ऑपरेशन पर राजनीति बिल्कुल नहीं होनी चाहिए।

अरविंद केजरीवाल

यहाँ पढ़ें : सर्जिकल स्‍ट्राइक के सबूत मांगने वालों को आड़े हाथ लिया अक्षय कुमार ने

सेना के मामलों को राजनीतिक तौर पर नहीं लेना चाहिए

सेना के बारे में  बात करते हुए केजरीवाल ने कहा कि सेना देश की रक्षा कर रही है। हमें इस मुद्दे को राजनीतिक तौर पर नहीं लेना चाहिए। हमें राजनीतिक मतभेदों का दूर कर सेना का साथ खड़ा होना चाहिए। जवानों की शहादत और बहादुरी के लिए ऐसे शब्दों का इस्तेमाल करना ठीक नहीं है। इस दौर में सभी दलों को पीएम मोदी का साथ देना चाहिए न कि उनकी उपेक्षा करें।

इससे पहले गुरुवार को राहुल ने कहा था ‘मोदी जवानों की दलाली कर रहे है। राहुल का कहना था कि हमारे जवानों अपना खून दिया है। जम्मू कश्मीर में जिन्होंने अपना खून दिया है जिन्होंने हिंदुस्तान के लिए सर्जिकल स्ट्राइक किया है। उनके खून के पीछे आप छुपे हुए हो, उनकी आप दलाली कर रहे हो, ये बिल्कुल गलत है। हिंदुस्तान की सेना ने हिंदुस्तान का काम किया है। आप अपना काम कीजिए, आप हिंदुस्तान के किसान की मदद कीजिए, आप  हिंदुस्तान की सेना को सांतवें पे कमीशन में बढ़ा कर दीजिएये आपका काम है ये आपकी जिम्मेदारी है।“

शुक्रवार को बढ़ते विवाद के बीच  राहुल गांधी ने ट्वीट करके कहा है कि सर्जिकल ऑपरेशन को मेरा पूरा समर्थन है। लेकिन मैं अपनी तरफ से स्पष्ट करना चाहता हूं कि सेना का राजनीतिक उपयोग का मैं समर्थन नहीं करूंगा।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
भारत

सीजफायर का उल्लघंन बाद पीएम मोदी ने लिए दो अहम फैसले

सीजफायर का उल्लघंन बाद पीएम मोदी ने लिए दो अहम फैसले


सीजफायर का उल्लघंन बाद पीएम मोदी ने लिए दो अहम फैसले:- कल पाकिस्तान द्वारा सीजफायर का उल्लघंन करने के बाद आज भारत सरकार ने दो अहम फैसले लिए है। सीजफायर के उल्लघंन के बाद आज सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दो अहम फैसले लिए हैं।

पीएम ने लिए दो अहम फैसले

प्रधानमंत्री ने पहले फैसले में पाकिस्तान को मोस्ट फेवर्ड नेशन के दर्जे को लेकर होने वाले समीक्षा बैठक को टालकर अगले सप्ताह कर दिया है।

दूसरे पीएम मोदी ने सुरक्षा मामलों की कैबिनेट कमेटी की बैठक करने का फैसला लिया है। जिसमें एलओसी में बार-बार हो रहे सीजफायर की उल्लघंन पर चर्चा की जाएगी।

भारतीय जवानों ने सार्जिकल ऑपरेशन किया

सीजफायर के उल्लघंन को लेकर आज सुबह विदेश व रक्षा मंत्रालयों की संयुक्त प्रेस बीफ्रिंग की गई। डीजीएमओ लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने बताया सेना ने सीमा  पार से ज्यादातर घुसपैठ नाकाम की। उन्होंने कहा- कल रात हमने एलओसी पर आतंकी गुटों के लॉन्च पैड पर सर्जिकल ऑपरेशन किया।

इससे पहले कल पाकिस्तान ने सीजफायर का उल्लघंन किया। जिसमें एक भी भारतीय जवान का नुकसान नहीं हुआ है। ब्लकि इस फायरिंग में दो  पाकिस्तानी जवान ढेर हो गए है। 24 घंटों के अंदर पाकिस्तान ने चार जगहों पर सीजफायर का उल्लंघन किया जा चुका है।

भारतीय जवान

यहाँ पढ़ें : इस्‍लामाबाद के आसमान में दिखें एफ-16 विमान

पाकिस्तान के दो जवान शहीद

पाकिस्तान की मीडिया रिपोर्ट के अनुसार  पाकिस्तान के दो जवान इस शहीद हुए। पाक की तरफ से मेढर, नौशेरा, नौगाम में गोलीबारी की जा रही है। इससे पहले सब्जियां में कल फायरिंग की गई थी।

पाकिस्तानी पीएम नवाज शरीफ और सेनाध्यक्ष राहील शरीफ की सेना के अफसरों से संयुक्त मुलाकात के बाद यह फायरिगं तेज हुई है।

दो बार सीजफायर का उल्लघंन किया गया

आपको बता दें 18 सितंबर को उरी में आतंकी हमले के 18 भारतीय जवान शहीद हो गए थे। जिसमें जैश-ए-मोहम्मद का हाथ था। जिसके बाद भारत में आक्रोश  फैला हुआ है।

इसके दो दिन बाद ही 20 सितंबर को पाकिस्तान ने सीजफायर का उल्लघंन किया था।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
भारत

‘मोस्ट फेवर्ड नेशन’ पर पुर्नविचार करेगा भारत

‘मोस्ट फेवर्ड नेशन’ पर पुर्नविचार करेगा भारत


‘मोस्ट फेवर्ड नेशन’ पर पुर्नविचार करेगा भारत :- सिंधु जल समझौते को रद्द करने की बातचीत के बीच भारत, पाकिस्तान को एक और झटका देने जा रहा है।

मोस्ट फेवर्ड नेशन के दर्जे पर पुर्नविचार

भारत पाकिस्तान को दिए ‘मोस्ट फेवर्ड नेशन’ के दर्जे पर पुर्नविचार करने जा रहा है। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 29 सितंबर को एक बैठक बुलाई है। इस बैठक में विदेश मंत्रालय और वित्त मंत्रालय के अधिकारी मौजूद होंगे।

उरी हमले के बाद भारत सरकार लगातार पाकिस्तान को कड़ा संदेश देता आ रहा है। इसी सूची में ‘मोस्ट फेवर्ड नेशन’ के दर्जे पर पुर्नविचार करने जा रही है।

नरेंद्र मोदी

यहाँ पढ़ें : सिंधु जल संधि के रद्द होने से पाकिस्तान पर क्या होगा असर…

डब्लूटीओ ने दिया था दर्जा

साल 1996 में डब्लूटीओ के व्यापार संघ के जनरल एंग्रीमेंट के तहत भारत पाकिस्तान को मोस्ट फैवर्ड नेशन का दर्जा दिया गया था। जिस पर भारत और पाकिस्तान ने साइन किया जिसके तहत वह दोनों एक दूसरे की व्यापारिक संगठनों में सहायता करेंगे साथ ही डब्लूटीओ के बाकी देशों के साथ भी पसंदीदा व्यापार संगठन के तौर पर व्यवहार करेंगे।

एसोचैम के अनुसार साल 2015-16 में 641 डॉलर बिलियन का व्यापार किया है। जबकि पाकिस्तान ने 2.67 डॉलर बिलियन का व्यापार किया है।

सोमवार को हुई थी बैठक

इससे पहले सोमवार को प्रधानमंत्री ने ‘सिंधु जल संधि’ योजना के लिए एक बैठक बुलाई थी। जिसमें सिंधु नदी के छह सहायक नदियों के जल के लेकर विचार किया गया था। जिसका पानी भारत से होकर पाकिस्तान के ओर जाता है।

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा पाकिस्तान के साथ सिंधु जल समझौते के बाद तत्कालीन पीएम जवाहर लाल नेहरु ने संसद में कहा था ‘हमने कीमत देकर शांति खरीदी है। लेकिन भारत अब शांति के लिए आतंकवादियों के हमले सहने को तैयार नहीं।‘ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को उच्चस्तरीय बैठक में सिंधु जल समझौते की समीक्षा की। इसमें उन्होंने साफ कहा ‘रक्त के साथ पानी नहीं बह सकता।’

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
पॉलिटिक्स

उरी हमले के बाद पहली बार जनसभा को संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री

उरी हमले के बाद पहली बार जनसभा को संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री


उरी हमले के बाद पहली बार जनसभा को संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री:- केरल के कोझिकोड में चल रही बीजेपी की तीन दिवसीय राष्ट्रीय परिषद की बैठक में आज प्रधानमंत्री हिस्सा लेगें। प्रधानमंत्री आज कोझिकोड में एक जनसभा को भी संबोधित करेंगें। उरी आतंकी हमले के बाद यह पहला मौका होगा जब प्रधानमंत्री भाषण देगें।

तीनों सेना प्रमुखों से मिलें मोदी

केरल के लिए रवाना होने से पहले मोदी ने आर्मी, नेवी और एयरफोर्स के प्रमुखों से मिले। 7 लोक कल्याण मार्ग पर उरी हमले की रणनीति को लेकर बैठक की। इस बैठक में उरी हमले बाद सरकार क्या कारवाई कर सकती है इस पर बातचीत हुई है।

दूसरे दिन की बैठक में मुख्य मुद्दा पंजाब, उत्तराखंड, उत्तरप्रदेश, गोवा में होने के चुनाव होगें। इसके बाद ही प्रधानमंत्री की रैली होगी।

लोगों को किया जाएगा सम्मानित

इसके बाद बैठक में शाम को दीनदयाल उपाध्याय के साथ काम करने वाले लोगों को सम्मानित किया जाएगा। इसके साथ ही एक एग्जिबिशन का उद्घाटन किया जाएगा जिसमें केरल के इतिहास को दिखाया जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

यहाँ पढ़ें : तेजप्रताप यादव और शहाबुद्दीन को सुप्रीम कोर्ट ने भेजा नोटिस

इसके बाद बीजेपी के तमाम वरिष्ठ एक दूसरे से मिलेगें जिसमें प्रधानमंत्री मोदी भी शामिल होगें। शाम को मलयाली डायरेक्टर अली अकबर द्वारा निर्देशित एक नाटक प्रस्तुत किया जाएगा जिसका थीम राष्ट्रीयता होगा।

1700 नेता होगें शामिल

इसके बाद रविवार को मोदी राष्ट्रीय परिषद को संबोधित करेंगे। इसके साथ ही 25 सितंबर दीनदयाल उपाध्याय की 100वीं जयन्ती के समारोहों का उद्धाटन करेंगे।

उम्मीद की जा रही है कि इस बैठक में केंद्रीय मंत्री, पार्टी शासित राज्यों के मंत्री, सांसद, पार्टी के राष्ट्रीय नेता और पार्टी विभिन्न राज्य इकाइयों के शीर्ष नेता इस बैठक में हिस्सा ले रहें हैं। बैठक मे बीजेपी  के आला नेता गरीबी उन्मूलन के प्रयास के तहत दलितों तक पहुंच बनाने के लिए गरीब कल्याण एजेंडे को आगे बढाया जाएगा। बैठक में बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व सहित 1700 से ज्यादा नेता शामिल हो रहे हैं।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in