Categories
सेहत

अगर आप भी हाई ब्लड प्रेशर है, तो ये कुछ खास जूस आपके लिए जो बढ़ाएंगे आपका इम्यूनिटी सिस्टम

हाई ब्लड प्रेशर क्या है और ये क्यों होता है?


हाई ब्लड प्रेशर एक बेहद ही खतरनाक बीमारी है। अगर इस बीमारी में जरा भी लापरवाही की गई तो इंसान को हार्ट अटैक से लेकर स्ट्रोक तक कई घातक बीमारियां हो सकती हैं। हाई ब्लड प्रेशर होने का मुख्य कारण है, हमारी अनियमित जीवनशैली और तनाव भरे वर्क स्ट्रेस में हाई ब्लड प्रेशर की समस्या आम हो गई है। ऐसे में अगर आप चाहते हैं कि आपका हाई ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहे तो आपको ऐसे खाद्य पदार्थों से बचे जिनमें सोडियम की मात्रा ज्यादा होती है। हाई ब्लड प्रेशर की समस्या तब होती है, जब हमारी रक्त धमनियों पर ज्यादा बल लगाता है, जिसकी वजह से रक्तचाप का स्तर बढ़ जाता है। अगर वक्त पर इस बीमारी का इलाज नहीं कराया गया तो मरीज को हार्ट अटैक भी आ सकता है। इस लिए जरूरी है आप अपने लाइफस्टाइल तथा डाइट में कुछ परिवर्तन। कुछ ऐसी चीजे खाये और पिए जिससे आपका हाई ब्लड प्रेशर नियंत्रण में रहे।

हाई ब्लड प्रेशर के रोगी इन जूस का करें सेवन:

चुकंदर का जूस: चुकंदर में एंटीऑक्सीडेंट तत्व होते हैं जो शरीर को रोगों से लड़ने की क्षमता प्रदान करते हैं। ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में बीटरूट का जूस बहुत फायदेमंद होता है। साथ ही ये डायबिटीज के रोगियों के लिए बहुत लाभदायक होता है। इसके सेवन से न केवल मीठा खाने की तलब को शांत किया जा सकता है बल्कि इसके सेवन से आप चुस्त और दुरुस्त भी होते हैं।
टमाटर का जूस: टमाटर सब्जी के स्वाद को बढ़ाने के साथ-साथ सलाद के रुप में भी काफी पसंद किया जाता है। साथ ही टमाटर पाचन शक्ति को  बढ़ाता है और पेट से जुड़ी समस्या जैसे अपच, कब्ज़, दस, जैसी समस्याओ को कम करता है। और शरीर में खून की कमी को भी दूर करता है। इसके सेवन से भूख लगने वाले हार्मोंस भी कंट्रोल में रहते हैं, जिससे आप आसानी से वजन कम कर सकती है। और साथ ही ये हाई ब्लड प्रेशर को भी कंट्रोल करता है।

और पढ़ें: जाने किन- किन चीजों को खाने से मिलता है विटामिन सी और क्या है इसके फायदे?

 
अनार का जूस: अनार एक ऐसा फल है। जिसके नियमित सेवन से हमें अच्छा स्वास्थ्य मिलता है। अनार खाने में जितना स्वादिष्ट होता है उतना ही पाचक और हमारे शरीर में रक्त वृद्धि करने वाला भी होता है। और साथ ही अनार में विटामिन और पोटेशियम भी भरपूर होता है, जो रक्त संचार को सुचारू बनाने में मदद करता है।
 
खट्टी फलों का जूस: खट्टी फलों में विटामिन सी भरपूर मात्रा में होता है इन फलो के ताज़े रस में पोटेशियम, फोलेट और प्राकृतिक साइट्रस बायोफ्लेवोनॉइड्स से भरपूर होता है। जो रक्तचाप के स्तर को कम रखने में मदद करते हैं, चयापचय में सुधार करते हैं और हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करते हैं।
अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com
Categories
सामाजिक

अगर आप भी चाहते हैं सुरक्षित आंखें तो मोबाइल और लैपटॉप से थोड़ी दूर बनाएं

पोष्टिक भोजन का सेवन करें।


आंखें हमारे जीवन का सबसे अनमोल उपहार है। क्योंकि आंखों के द्वारा ही हमें दुनिया को देखते हैं। इसके अलावा भी कई काम करते हैं। हमारी खूबसूरती को चार चांद लगाती है हमारी आंखे। इस खुबसूरत चीज की हमें बहुत ज्यादा ध्यान रखना पड़ता है। नहीं तो ये आपको धोखा दे देगी है। अगर आप चाहते है कि आपकी सबसे खूबसूरत चीज है आपको धोखा न दें तो जरा इसका ख्याल रखें।

खूबसूरत आंखे

तो चलिए आपको बताते है किन-किन कारणों से आंखें खराब होती हैं

लगातार जांच करवाते रहें

अगर आप चाहते है आंखो में प्रॉब्लम न होतो लगातार इसकी जांच करवाते रहें। खासकर डायबिटीज वाले पैसेंट जरुर इलाज करवाएं। क्योंकि डायबिटीज का सीधा असर आंखो पर पड़ता है।

कम कमप्यूटर चलाएं

आज के आधुनिक युग लोग सारा-सारा दिन अपने फोन और लैपटॉप कमप्यूटर में व्यस्त रहते हैं। इनकी रोशनी का सही असर आंखो पर पड़ता हैं। इसलिए इनका प्रयोग कुछ संभल करें। साथ ही नियमित तौर पर नींद लें। क्योंकि नहीं सोने से भी आंखो पर बुरा असर पड़ता है।

पोषक तत्व खाएं

विटामिन ए की कमी के कारण आंखों में प्रॉब्लम होती है। इसलिए हमें खाने में पोषक तत्व से भरपूर आहार लेना चाहिए। जैसे हरी साग सब्जी और विटामिन ए से भरपूर दूध मक्खन, गाजर टमाटर, पपीता, अंडे, शुद्ध घी आदि का सेवन करना चाहिए। प्रत्येक दिन 8 से 9 गिलास पानी पीना आंखों के लिए बहुत लाभकारी सिद्ध होता है।

नियमित रुप से सफाई करें

अगर आपकी आंखों मे जलन होती है, आंखों में सूजन होती है, पीलापन आना, धुंधला दिखने जैसी समस्याएं होती है। तो अपनी आंखों की बराबर सफाई करें। दिन में कम से कम 3-4 ठंडे पानी से धोखा चाहिए।

जूस पीएं

प्रतिदिन गाजर का जूस पीने से आंखों की रोशनी बढ़ती है। सेब के सेवन और उसका जूस पीने से आंखों की ज्योति तेज होती है। इसके साथ ही अगर आप सुबह-सुबह नंगे पैर घास पर चलते हैं तो आपकी आंखें तेज होती है।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.in

Categories
सेहत

जानिए फ़ायदे लौकी के जूस के

क्या आप जानते है की लौकी के कितने फ़ायदे हैं?


लौकी से तो हम सभी परिचित हैं ही क्योंकि यह वही सब्ज़ी है जिसे हमारी माँ बचपन में ज़बरदस्ती खिलाया करती थी। और काफ़ी लोगों को तो बड़े होने के बाद भी यह कुछ ख़ास नही लगता। साधारण सा दिखने वाला लौकी अपने अंदर कितने ही गुण छिपाए हुए है। इसमें 96% पानी होता है तो इसलिए यह जूस बनाने के लिए श्रेष्ठ है। यह आपके नज़दीकी बाज़ार में आसानी से मिल जाता है। इस में विटामिन C, विटामिनB, पोटैशिअम, सोडीयम, फ़ाइबर जैसे पोषक तत्वों की भरमार होती है। इसमें फ़ैट और कलेस्टरॉल की मात्रा कम होती है और परिणामस्वरूप यह उन लोगों में बहुत प्रचलित है जो अपनी सेहत का ख़याल रखना पसंद करते है।

कैसे बनायें लौकी का जूस? यह बनाना अत्यधिक आसान है। इसे बनाने के लिए पहले लौकी को छील लें और अंतिम हिस्सों को काट लें। अब इसे ग्राइंडर में डालकर पीस लें और इसे स्वादिष्ट बनाने के लिए उसने काली मिर्च, पुदीना और नींबू स्वादानुसार डाल लें। लौकी का जूस बनाने के लिए इसमें आवश्यकता अनुसार पानी भी  डाल लें।अगर आप इसे और स्वादिष्ट बनाना चाहते हैं तो इसमें खीरा भी डाल लें। इसे ताज़ा पियें भी तो इसमें मोजूद आयरन की वझह से यह काला पड़ सकता है।

लौकी का जूस

यहाँ पढ़ें : क्या सच में डाइटिंग से होते है आप पतले

फ़ायदे लौकी के जूस के:

  1. यह वज़न घटाने में सहायता करता है क्योंकि इसमें कैलोरी ना के बराबर होती है। अगर आप भी वज़न घटाना चाहते हैं तो आज से ही लौकी का जूस पीना प्रारम्भ करें।
  2. इसके फ़ाइबर और पानी की मात्रा से पाचन शक्ति को सुधारने में सुधारने में सहायता मिलती है। जो लोग किसी भी प्रकार की पाचन सम्बंधी बीमारी से जूझ रहे हैं उनके लिए यह एक उत्तम दवा है।
  3. गरमियों में इसका जूस पीने से शरीर को ठंडक मिलती है। गरमियों में शरीर का ठंडा रहना ज़रूरी होता है इसमें मोजूद 96% पानी शरीर को ठंडा रखता है।
  4. इस के जूस में यदि तिल का तेल डालकर पिआ जाए तो यह नींद ना आने की बीमारी को भी ठीक करता है।
  5. यह मूतीय सम्बंधी रोग का भी इलाज करता है यदि इसमें नींबू का रस डालकर पिआ जाए तो।
  6. लौकी के जूस के प्रतिदिन सेवन से रक्तचाप नियंत्रण में रहता है।
  7. इसके सेवन से बाल सफ़ेद नही होते और यह बालों से सम्बंधित अन्य बीमारियों के लिए भी एक बेहतरीन उपाय है।
  8. नियमित रूप से लौकी के जूस का सेवन करने से रक्त की सफ़ाई होती है और त्वचा पर दाने निकालने की सम्भावना कम होती है और साथ ही साथ यह त्वचा को सुंदर भी बनाता है।
  9. लौकी के जूस में आमला पाउडर और जयतून का तेल मिलाकर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को अपने बालों पर लगाकर आधे घंटे के लिए छोड़ दें और फ़ीट शैम्पू से धो दें। हफ़्ते में एक बार ऐसा करने से आपके बाल और भी सुंदर हो जाएँगे।
  10. लौकी और आमला के जूस को बराबर मात्रा मेल मिलाकर सिर पर मालिश करें। इससे सिर की शुश्कि  ख़त्म होती है।
Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in