Categories
हॉट टॉपिक्स

Jharkhand Election 2019: मतदान के बीच हुआ नक्सली हमला, जान-माल का कोई नुकसान नहीं

Jharkhand Election 2019: विकास के स्तर को रोकने के लिए नक्सलियों की चाल, मतदान के बीच उड़ाया पुल


Jharkhand Election 2019: झारखंड विधानसभा के प्रथम चरण के चुनाव के लिए मतदान शुरू हो गया है। यहां दोपहर 3 बजे तक मतदान होगा। चुनाव आयोग ने प्रथम चरण में नक्सल प्रभावित इलाकों के होने के कारण मतदान का समय 3 बजे तक रखने का फैसला लिया गया है। यहां नक्सल प्रभावित 6 जिलों की 13 विधानसभा सीटों पर 37,83,055 मतदाता 189 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे। सबसे अधिक 28 उम्मीदवार भवनाथपुर सीट से चुनाव लड़ रहे हैं।

गृह मंत्री की अपिल:

गृह मंत्री अमित शाह ने झारखंड के लोगों से बड़ी संख्या में मतदान करने की अपील की है। अमित शाह ने ट्वीट कर कहा है कि, झारखंड को भ्रष्टाचार और नक्सलवाद से मुक्त रखने और यहां विकास की गति को बनाये रखने के लिए एक स्थिर और पूर्ण बहुमत वाली सरकार आवश्यक है। प्रथम चरण के सभी मतदाताओं से अपील करता हूं कि अधिक से अधिक संख्या में मतदान कर झारखंड को विकास के पथ पर आगे बड़ाऐ रखने में योगदान दें।

मतदान के बीच नक्सली हमला:

झारखंड में मतदान के बीच बड़ी खबर आ रही है, गुमला जिले के विष्णुपुर विधानसभा क्षेत्र में नक्सलियों ने मतदान को प्रभावित करने के लिए बड़ा धमाका कर एक पुल को ही उड़ा दिया है। विष्णुपुर विधानसभा क्षेत्र में आज मतदान हो रहा है। हालांकि इस घटना में अबतक किसी के घायल होने की खबर नहीं आई है। गुमला के डिप्टी कमिश्रनर शशि रंजन ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि हमले की वजह से मतदान पर कोई असर नहीं पड़ा है। पुलिस ने इलाके में कॉम्बिंग ऑपरेशन शुरू कर दिया है।

और पढ़ें: The Family Man season 2: फिर वापस आ रहा है श्रीकांत, शुरू हुई आज से शूटिंग

7.12 फीसदी ही हुई है वोटिंग:

झारंखड में मतदान धीरे-धीरे रफ्तार पकड़ रहा है। अब तक राज्य में 7.12 फीसदी वोटिंग हो चुकी है। ताजा अपडेट के मुताबिक अब तक लोहरदगा में 11.68 फीसदी, डाल्टेनगंज में 10.07 प्रतिशत, पांकी विधानसभा में 9.02 फीसदी, विश्रामपुर में 9.5 फीसदी वोटिंग हुई है। छतरपुर विधानसभा में अब तक 10.08 फीसदी, हुसैनाबाद में 9.07 फीसदी वोटिंग की खबर है। नक्सल प्रभावित गढ़वा में अब तक 11 फीसदी मतदान हुआ है। वहीं भवनाथपुर में 10 प्रतिशत मतदाता अबतक वोट डाल चुके हैं।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
हॉट टॉपिक्स

Constitution day 2019: 26 नवंबर को मनाया जाता है संविधान दिवस, जाने इससे जुडी कुछ खास बातें

Constitution day 2019: क्यों मानते है संविधान दिवस??


Constitution day 2019: आज़ादी मिलते ही देश को सही तरीके से चलाने के लिए संविधान बनाने की दिशा में काम शुरू कर दिया गया था। भारतीय संविधान को 29 अगस्त 1947 को स्थापित किया गया था और इसके अध्यक्ष थे डॉ. भीमराव अंबेडकर। दुनिया भर के संविधान को बारीकी से पढ़ने के बाद डॉ. अंबेडकर ने बाकी सदस्यों सहित भारतीय संविधान का मसौदा तैयार कर लिया। 26 नवंबर 1949 को इसे भारतीय संविधान सभा के सामने लाया गया और इसी दिन संविधान को सभा द्वारा अपना लिया गया। यही वजह है की हर साल 26 नवंबर को संविधान दिवस मनाया जाता है।

विश्व का सबसे बड़ा संविधान:

भारतीय संविधान दुनिया का सबसे बड़ा संविधान है, और इसी के आधार पर भारत को दुनिया का सबसे बड़ा गणतंत्र माना जाता है। भारतीय संविधान में 448 अनुच्छेद, 12 अनुसूचियां शामिल हैं। यह 2 साल 11 महीने और 18 दिन में बनकर तैयार हुआ था। जनवरी 1948 में संविधान का पहला प्रारूप चर्चा के लिए प्रस्तुत किया गया। 4 नवंबर 1948 से शुरू हुई यह चर्चा तकरीबन 32 दिनों तक चली थी। इस अवधि के दौरान 7,635 संशोधन प्रस्तावित किए गए जिनमें से 2,473 पर विस्तार से चर्चा हुई।

संविधान की स्थापना:

26 नवंबर, 1949 को लागू होने के बाद संविधान सभा के 284 सदस्यों ने 24 जनवरी 1950 को संविधान पर हस्ताक्षर किए, और इन सबके बाद 26 जनवरी को भारतीय संविधान लागू कर दिया गया। ऐसा कहा जाता है की जिस दिन संविधान पर हस्ताक्षर किये जा रहे थे उस दिन बहुत ज़ोर से बारिश भी हो रही थी, और प्राचीन भारतीय मान्यताओं के अनुसार इसे शुभ संकेत के रूप में देखा गया।

और पढ़ें: महाराष्ट्र में महा ड्रामा: एक और ट्विस्ट के चलते बीजेपी को पेश होना होगा सुप्रीम कोर्ट में

टाइपिंग से नहीं लिखा गया था संविधान:

भारतीय संविधान की मूल कृति हिंदी और अंग्रेजी दोनों में ही हस्तलिखित है। भाषाओं में संविधान की मूल प्रति को प्रेम बिहारी नारायण रायजादा ने लिखा था। रायजादा का खानदानी पेशा कैलिग्राफी का था। उन्होंने नंबर 303 के 254 पेन होल्डर निब का इस्तेमाल कर संविधान के हर पेज को बेहद खूबसूरत इटैलिक लिखावट में लिखा है।

हीलियम से भरे गैस कक्ष में रखा गया है संविधान:

भारतीय संविधान के हर पेज को चित्रों से आचार्य नंदलाल बोस ने सजाया है। इसके अलावा इसके प्रारंभिक पेज को सजाने का काम राममनोहर सिन्हा ने किया था। वह नंदलाल बोस के ही शिष्य थे। संविधान की मूल प्रति भारतीय संसद की लाइब्रेरी में हीलियम से भरे केस में रखी गई है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
हॉट टॉपिक्स

Maharashtra politics news updates: महाराष्ट्र में महा ड्रामा: एक और ट्विस्ट के चलते बीजेपी को पेश होना होगा सुप्रीम कोर्ट में

Maharashtra politics news updates: अजित पवार को मनाने में जुटी NCP


Maharashtra politics news updates: महाराष्ट्र में नई सरकार को लेकर अभी भी वॉर जारी है।  शनिवार को देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री और अजित पवार ने उप-मुख्यमंत्री पद की शपथ ली, जिसका शिवसेना-कांग्रेस और एनसीपी ने विरोध  किया है।  अब यह मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंच गया है।  सुप्रीम कोर्ट में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी ने याचिका दाखिल कर महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के उस आदेश को रद्द करने की मांग की है जिसमें उन्होंने सूबे में सरकार बनाने के लिए देवेंद्र फडणवीस को आमंत्रित किया था। आज इस मामले पर जस्टिस एनवी रमना, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस संजीव खन्ना की बेंच सुनवाई करेगी। यह सुनवाई सुप्रीम कोर्ट की कोर्ट नंबर 2 में रविवार सुबह 11:30 बजे से होगी

NCP का 51 विदायको का दवा:

51 विधायकों के हस्ताक्षर के साथ एनसीपी विधायक दल के नेता जयंत पाटील राजभवन पहुंचे हैं। जयंत पाटील का कहना है कि राज्यपाल ‘भगत सिंह कोश्यारी’ दिल्ली में हैं, ऐसे में उनसे मुलाकात नहीं हो पाई है।

थोड़ी देर में शुरू होगी सुनवाई:

महाराष्ट्र मामले पर थोड़ी देर में सुनवाई शुरू होने वाली है और दोनों पक्षों के लोग कोर्ट पहुंचने लगे हैं। महाराष्ट्र कांग्रेस के नेता पृथ्वीराज चव्हाण, रणदीप सुरजेवाला, अभिषेक मनु सिंघवी अभी सुप्रीम कोर्ट पहुंचे हैं। अभिषेक मनु सिंघवी से पत्रकारों ने सवाल किया तो वह बिना कोई प्रतिक्रिया दिए मुस्कराते हुए आगे बढ़ गए।

और पढ़ें: फडणवीस फिर बने महाराष्ट्र के सीएम, अजित पवार बने डिप्टी सीएम

मुंबई होटल में शिफ्ट हुए कांग्रेस विधायक:

कांग्रेस के विधायकों को अब जयपुर नहीं भेजा जाएगा। 30 विधायकों को मुंबई के JW मेरिएट होटल में शिफ्ट किया गया है।

सुप्रीम कोर्ट में होगा आज फैसला:

शनिवार सुबह अचानक बीजेपी सरकार ने शपथ दिलाने के खिलाफ शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट रविवार को सुबह 11.30 बजे सुनवाई करेगी। शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस शनिवार शाम सुप्रीम कोर्ट पहुंची और नई सरकार को 24 घंटे के भीतर बहुमत साबित करने का निर्देश देने की अपील की थी। बीजेपी से नाता तोड़ चुकी पार्टी ने इस मामले में शीर्ष अदालत से शनिवार ही रात याचिका पर सुनवाई करने का अनुरोध किया है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
हॉट टॉपिक्स

Sanjay Raut: महाराष्ट्र की राजनीति में आया नया मोड़, ठाकरे नहीं तो राउत बन सकते है मुख्यमंत्री

Sanjay Raut: महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री की रेस में संजय राउत भी चल रहे है आगे


Sanjay Raut: महाराष्ट्र की राजनीति  में हलचल ख़त्म होने का नाम ही नहीं ले रही है। कांग्रेस, शिवसेना और एनसीपी गठबंधन पर आज यानी शुक्रवार को मुहर लग सकती है लेकिन इन सब से पहले एक खबर आ रही है की अगर मुख्यमंत्री पद के लिए शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे नहीं मानते हैं तो पार्टी के सांसद संजय राउत ये पद संभाल सकते हैं। हालांकि, शिवसेना और बीजेपी दोनों अब भी यह दावा कर रही है कि सरकार बनने के सारे रास्ते खत्म नहीं हुए हैं।

संजय राउत भी चल रहे है आगे:

शिवसेना में उद्धव ठाकरे के बाद सीएम पद की रेस में संजय राउत ही आगे चल रहे हैं।इससे पहले गुरुवार को हुई बैठक में एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने शिवसेना चीफ उद्धव ठाकरे को समझाने की कोशिश  कि उन्हें मुख्यमंत्री के रूप में उतरना चाहिए। बैठक में मौजूद रहे शिवसेना सांसद संजय राउत और आदित्य ठाकरे ने भी उद्धव को सीएम पद संभालने के लिए कहा। शुक्रवार को दिल्ली के बाद मुंबई में मुलाकातों का फाइनल दौर होगा।  जहां पर शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी आपस में बैठक भी करने वाले है। ऐसा माना जा रहा है कि शाम में प्रेस कॉन्फ्रेंस में नई सरकार के फॉर्मूले का ऐलान भी  होगा।  यह भी तकरीबन तय है कि उद्धव ठाकरे ही अगले मुख्यमंत्री होंगे।

और पढ़ें: राजनाथ सिंह की अगुवाई वाली रक्षा कमेटी में साध्वी प्रज्ञा को मिली बड़ी जिम्मेदारी

पत्रिकरता के दौरान हुई थी मुलाक़ात

15 अक्टूबर 1961 को जन्मे राउत सोमवंशी के समुदाय से आते है। मुंबई के एक कॉलेज में स्नातक करने के बाद उन्होंने बतौर पत्रकार अपने करियर की शुरुआत मराठी अखबार से की थी। पत्रकारिता के दौरान ही राज ठाकरे से मुलाकात हुई और फिर राउत की जिंदगी में नया मोड़ आ गया। उस वक्त राज ठाकरे की शिवसेना में चलती थी और वह बालासाहेब ठाकरे के बेहद करीब थे।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
हॉट टॉपिक्स

Anil Ambani resigns: रिलायंस कम्युनिकेशन के डायरेक्टर अनिल अम्बानी ने दिया इस्तीफा, हुआ था 30 हज़ार करोड़ का घाटा

Anil Ambani resigns: जानिए क्यों दिया रिलायंस कम्युनिकेशन के डायरेक्टर ने इस्तीफा


Anil Ambani resigns: बंद हो चुके टेलीकॉम कंपनी रिलायंस कम्युनिकेशन के चैयरमेन अनिल अम्बानी ने निर्देशक के पद से इस्तीफा दे दिया है। शुक्रवार को जारी तिमाही नतीजों के अनुसार कंपनी को 30 हजार करोड़ से अधिक का घाटा हुआ था। यह कॉर्पोरेट इतिहास में वोडाफोन-आइडिया के बाद दूसरा सबसे बड़ा घाटा है।

और किन-किन अधिकारीयों ने दिया इस्तीफा:

कंपनी ने बयान जारी करते हुए कहा है कि अनिल अंबानी के अलावा छाया विरानी, रायना कारानी, मंजरी काकेर और सुरेश रंगाचर ने भी इस्तीफा दे दिया है। इनमें से अनिल अंबानी, छाया विरानी और मंजरी काकेर ने 15 नवंबर को इस्तीफा दिया था, वहीं रायना कारानी ने 14 नवंबर और सुरेश रंगाचर ने 13 नवंबर को इस्तीफा दिया था।

कितने का हुआ घाटा:

प्राइवेट सेक्टर इन दिनों मंदी की जबरदस्त मार झेल रहा है। कई मल्टीनेशनल कंपनियों पर आर्थिक मंदी का असर साफ दिखाई दे रहा है। इस कड़ी में देश की कंपनियों में शामिल रिलायंस कम्युनिकेशंस भी इससे बची नहीं है। क़र्ज़ के बोझ से बड़ी रिलायंस कम्युनिकेशन को जुलाई-सितंबर की तिमाही में करीब 30,142 करोड़ रुपये का एकीकृत घाटा हुआ है। उच्चतम न्यायालय द्वारा सांविधिक बकाये पर फैसले के मद्देनजर देनदारियों के लिए प्रावधान की वजह से कंपनी का घाटा इतना ज्यादा पहुंच गया है।

और पढ़ें: महाराष्ट्र में इस सरकार का होगा गठन

दिवाला प्रक्रिया में चल रही कंपनी ने इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 1,141 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था। उच्चतम न्यायालय के दूरसंचार कंपनियों के सालाना समायोजित सकल राजस्व की गणना पर फैसले के मद्देनजर कंपनी ने 28,314 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है। आरकॉम ने कहा कि यदि इसके लिए प्रावधान किया जाता तो उसका नुकसान 1,668 करोड़ रुपये और बढ़ जाता। तिमाही के दौरान कंपनी की परिचालन आय घटकर 302 करोड़ रुपये रह गई जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 977 करोड़ रुपये थी।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
बिना श्रेणी

Odd-Even Rule: आज है ओड-इवन का आखरी दिन, स्कीम को आगे बढ़ाने के है आसार

Odd-Even Rule: ओड इवन को बढ़ाने पर फैसला आज, दिल्ली की इमेज की है फ़िक्र


Odd-Even Rule: ओड इवन का आज दिल्ली में आखरी दिन हैं और प्रदुषण के स्तर को देखते हुए शायद ओड इवन की स्कीम को आगे बढ़ाया जायेगा। इसके संकेत दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने पहले ही दे दिए थे। उन्होंने कहा की, ज़रूरत पढ़ने पर ओड इवन को बढ़ाया जा सकता है। अगर दिल्ली में प्रदूषण के स्तर की बात करे तो आज भी खतरनाक है। द्वारका इलाके में एयर क्वालिटी इंडेक्स 700 के पार दर्ज किया गया है।

ओड-इवन को बढ़ाने पर फैसला आज:

दिल्ली में प्रदूषण का स्तर बढ़ रहा है और एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) बेहद गंभीर स्थिति में पहुंच गया है। प्रदूषण को देखते हुए दिल्ली सरकार ने 4 से 15 नवंबर तक ऑड-ईवन योजना लागू करने का फैसला किया था और इसके अनुसार शुक्रवार को यह योजना का आखिरी दिन है। ऐसे अनुमान लगाए जा रहे हैं की जिस तरह से प्रदुषण बढ़ रहा है शायद ओड इवन को आगे बढ़ाया जा सकता है, और आज दिल्ली सरकार इस मामले पर फैसला ले सकती है।

और पढ़ें: राफेल और सबरीमाला मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने कही यह बड़ी बात

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने वायु प्रदूषण पर बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा था कि, मुझे लोगों की सेहत की चिंता है और देश की राजधानी दिल्ली की जो इमेज बन रही है उसकी भी चिंता है। अगर दिल्ली में इतना स्मोग होगा तो क्या इमेज बनेगी।’

उन्होंने कहा, ‘हम सब देख रहे हैं कि दिल्ली में प्रदूषण 10 अक्टूबर से पराली जलने की वजह से बढ़ा। पंजाब, हरियाणा में बारिश की वजह से दिल्ली में धुआं कम हो गया था, लेकिन बारिश थमते ही दिल्ली में प्रदूषण का स्तर फिर बढ़ गया है, क्योंकि पराली अभी भी जलाई जा रही है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लेटेस्ट

Delhi University protest: पहली बार ‘डीयू’ में स्टूडेंट्स और टीचर्स मिलकर कर रहे हैं विरोध

39 मंजिला बिल्डिंग के निर्माण पर लिखा पीएम को लेटर


Delhi University protest: दिल्ली यूनिवर्सिटी में चल रहे विरोध ने पहली बार टीचर्स और स्टूडेंट्स एक साथ ला दिया है। दरअसल सेंट्रल गवरन्मेंट डीयू के साथ वाली ज़मीं पर एक 39 मंजिला बिल्डिंग बनाना चाहती है, लेकिन अब इस बिल्डिंग के निर्माण को रोकने के लिए टीचर्स और स्टूडेंट पूरा ज़ोर लगा रहे है। स्टूडेंट्स हड़ताल पर बैठ चुके है और विरोध शुरू हो चूका है। इस मामले पर मंगलवार को दिल्ली यूनिवर्सिटी टीचर्स असोसिएशन (DUTA) की ओर से प्रधानमंत्री को लेटर भी लिखा गया है। इस लेटर में कहा गया है की जमीन पर प्राइवेट बिल्डिंग की जगह हॉस्टल बनाए जाए। आज शिक्षक और स्टूडेंट इस मामले के तहत ‘एलजी हाउस’ तक साइकल रैली निकलेंगे और वहीं दूसरी ओर एबीवीपी (ABVP) और एनएसयूआई (NSUI) की ओर से भी प्रदर्शन को आंदोलन में बदलने की तैयारी चल रही है।

DUTA के वाईस-प्रेजिडेंट डॉ. आलोक रंजन का कहना है उन्होंने ने इस मामले पर पीएम को लेटर लिखा है की इस मसले पर वो अपनी नज़र डाले, और 39 मंजिला इमारत के निर्माण पर रोक लगवाने का आदेश भी दिया है। उन्होंने ने लेटर में ये भी लिखा है की इस बिल्डिंग की जगह हॉस्टल बनाए जाएं क्योंकि कई सारे स्टूडेंट्स को हॉस्टल नहीं मिल पाता है। अगर इस पर रोक नहीं लगवाई कई तो हमें कोर्ट जाने पर मजबूर होना पड़ेगा।

और पढ़ें: महाराष्ट्र में लागू हुआ राष्ट्रपति शासन, जानिए महाराष्ट्रा मामले की 10 एहम बातें

क्या है पूरा मामला:

सोमवार को डीयू की आर्ट्स फैकल्टी धरने के साथ-साथ क्रमिक भूख हड़ताल भी शुरू हुई है। इसमें शामिल डीयू के कैंपस डिवेलमेंट कमिटी के मेंबर डॉ. रसाल सिंह कहते हैं की, यह जमीन डिफेंस की है और दिल्ली रेल कॉरर्पोरेशन को पब्लिक यूज के लिए दी गई थी। मगर डीएमआरसी (DMRC) ने इसे प्राइवेट बिल्डिर को दे दिया। वहीं, दिल्ली यूनिवर्सिटी स्टूडेंट्स यूनियन (डूसू) जल्द ही इस मसले को लेकर रक्षा मंत्रालय, एलजी, डीएमआरसी से के अधिकारियों से मिलेगी। डूसू का कहना है कि यह निर्माण डीयू प्रशासन के सुस्त रवैए का नतीजा है। डूसू और एबीवीपी जल्द ही सीनियर अधिकारियों से मिलेगा। डूसू सभी कॉलेजों की यूनियन को भी इस मुद्दे से जोड़ रहा है। डीयू प्रशासन की ओर से इस मसले पर राष्ट्रपति और एलजी से अपील की जा चुकी है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
हॉट टॉपिक्स

रामजनम भूमि: वर्डिक्ट आने से पहले सख्त हुई लोगो की सुरक्षा, तैनात हुई RAF

वर्डिक्ट आने तक स्कूल-हस्पताल को खुले रखने का दिया गया निर्देश


उत्तर प्रदेश सरकार ने अयोध्या ज़मीन विवाद पर कुछ नए और कड़े कदम उठाये है। इस पर अयोध्या में राम जनम भूमि जाने वाले सभी मार्गों को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है और इसके साथ ही दोपहिया और चार पहिया वाहनों को भी रोक दिया गया है। अब सघन चेकिंग के बाद ही यात्री और श्रद्धालु राम नगरी की तरफ पैदल प्रवेश कर पा रहे हैं।

RAF संभालेगी मोर्चा:

अयोध्या में संभावित तौर पर फैसले को लेकर प्रदेश के एडीजी अभियोजन आशुतोष पांडे ने अयोध्या में कमान संभल ली है।अयोध्या की सुरक्षा को लेकर एडीजी अभियोजन आशुतोष पांडे ने सर्किट हाउस में पुलिस अधिकारियों के साथ मीटिंग भी की. अयोध्या की सुरक्षा में सिविल पुलिस के साथ पीएसी, आरएएफ को लगाया गया है. इसके साथ ही एटीएस भी अयोध्या पर नजर रख रही है साथ ही खुफिया एजेंसी को भी सतर्क रखा गया है. ड्रोन कैमरे से अयोध्या की निगरानी की जा रही है। बुधवार से ही अयोध्या की सड़कों पर आरएएफ की टीमें नजर आने लगी है। भारी संख्या में पीएसी के जवान अयोध्या पहुंच चुके हैं। जनपद के लगभग दो सौ स्कूलों में सुरक्षाबलों को ठहराया जा रहा है इसके साथ ही रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन, होटल, धर्मशाला जैसी भीड़ भाड़ वाली जगहों पर पुलिस की नजरे है।

Read more: अयोध्या पर फैसला आने से पहले अंबेडकर नगर में पुलिस हुई अलर्ट

स्कूल और हस्पताल खुले रहेंगे:

ऐसा कहा जा रहा है की अयोध्या के चप्पे-चप्पे पर पुलिस की नजर होगी। हालांकि जिला प्रशासन कोशिश कर रहा है कि अस्पताल स्कूल खुले रहें और अयोध्या का वातावरण सामान्य रहे। बता दें, एडीजी अभियोजन आशुतोष पांडे पूर्व में अयोध्या में हुए धर्म संसद को सकुशल संपन्न करा चुके हैं। जिससे एक बार फिर शासन ने आशुतोष पांडे पर भरोसा जताया है।

होंगे 16 हजार स्वयंसेवी तैनात:

पहले फैजाबाद पुलिस ने सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक सामग्री पर नजर रखने के लिए 16 हजार स्वयंसेवियों को तैनात किया है । वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी ने बताया कि राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर जब आदेश आयेगा, उस समय शांति कायम रखने के लिए जिले के 1,600 स्थानों पर भी इतनी ही संख्या में स्वयंसेवियों को रखा गया है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
हॉट टॉपिक्स

KaamKiKhabar : देश और दुनिया की लेटेस्ट खबरें – 1st November

देश और दुनिया की लेटेस्ट खबरें


1. आज सोनिया गाँधी के साथ खास बैठक में नज़र आएंगे महाराष्ट्र कांग्रेस के नेता, संजय रावत से भी मुलाकात करेंगे शरद पवार:

महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए बीजेपी-शिवसेना के बीच हो रही खींचतान के बीच आज महाराष्ट्र कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगे।

2. लद्दाख और जम्मू कश्मीर में लागू हुआ 106 केंद्रीय कानून:

देश की जन्नत कहे जाने वाले जम्मू-कश्मीर और लद्दाख केंद्र शासित प्रदेश बन गए। गुरुवार को सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन कानून लागू हो गया। इसके साथ ही दोनों प्रदेशों में कई बड़े बदलाव भी हो गए।

3. CM योगी ने रन फॉर यूनिटी का किया शुभारंभ, पटेल को दी श्रद्धांजलि:

सरदार वल्लभभाई पटेल की 144वीं जयंती पर लखनऊ के हजरतगंज में पटेल प्रतिमास्थल से रन फॉर यूनिटी का आयोजन किया गया जिसमें भारी संख्या में लोगों ने हिस्सा लिया।

4. वोडाफोन ने दिया बयान, भारत में कारोबार बंद करने की बातें है अफवाह:

वोडाफोन ने भारतीय मीडिया के कुछ हलकों में चल रही निराधार अफवाहों को खारिज किया और कहा कि हमने भारतीय बाजार से निकलने का फैसला नहीं लिया है।

5. निर्भया कांड: पीड़िता की माँ बोली आरोपियों को बहुत पहले से ही मिल जानी चाहिए थी फ़ासी:

निर्भया कांड के दोषियों को सुप्रीम कोर्ट द्वारा दी गई फांसी की सजा में अब सिर्फ सात दिन बाकी हैं। इस पर गैंगरेप पीड़िता की मां आशा देवी ने कहा है कि आरोपियों को फांसी बहुत पहले ही हो जानी चाहिए थी, सुप्रीम कोर्ट ने 2017 में उन्हें सजा सुनाई थी। बीते सात साल से मैं संघर्ष कर रही हूं।

6. फाइव स्टार होटल की तरह है दिल्ली पुलिस का नया मुख्यालय, हेलीपैड के साथ-साथ है और भी कई सुवोधायें:

दिल्ली के जय सिंह रोड पर स्थित 18 मंजिला इमारत अब दिल्ली पुलिस का नया मुख्यालय होगी. गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को वल्लभभाई भाई पटेल की जयंती पर इस बिल्डिंग का उद्घाटन किया।

7. धोनी के संन्यास के सवाल पर भड़के रोहित, कप्तानी को लेकर कहा- देश के लिए खेलना अहम:

भारतीय टीम के हिटमैन यानि रोहित शर्मा ने टीम की कमान किसको सौंपी जाए इस पर अपने विचार व्यक्त किये है। उन्होंने कहा की टीम की कमान किसी को भी सौंपी जाए इससे कोई फर्क नहीं पड़ता, टीम के लिए खेलना ज़रूरी है

और पढ़े: देश और दुनिया की लेटेस्ट खबरें

8. अनुष्का के लेटर ने ट्रोलर्स को दिया करारा जवाब, फैंस ने  किया जम कर सपोर्ट:

अनुष्का शर्मा ने पिछले काफी समय से तमाम मुद्दों पर हो रही अपनी ट्रोलिंग को लेकर सोशल मीडिया पर एक लंबा नोट लिखा है। उन्होंने ट्रोलर्स और अफवाह फैलाने वाले लोगों की कड़े शब्दों में निंदा की है और उनके इस ट्विटर पोस्ट पर कई लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की है।

9. करीना कपूर काएगी महला और पुरुष टी-२० वर्ल्ड कप ट्रॉफी का उद्घाटन:

करीना कपूर खान शुक्रवार को मेलबार्न में पुरूष व महिला टी-20 विश्व कप की ट्रॉफी का उद्घाटन करेंगी। ये वर्ल्डकप अगले साल ऑस्ट्रेलिया में होंगे।

10. ख़तम नहीं हुआ है देश के लिए आईएस का खतरा, ले सकता है बगदादी अपना बदला:

आईएस का सरगना अबू बकर अल-बगदादी मारा जा चुका है। भले ही उसका नामोनिशान मिट चुका है, लेकिन उसका संगठन अब भी दुुनिया के लिए खतरनाक बना हुआ है। इतना ही नहीं, अमेरिकी कार्रवाई में बगदादी की मौत का बदला लेने के लिए आईएस हमला कर सकता है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
हॉट टॉपिक्स

KaamKiKhabar : देश और दुनिया की लेटेस्ट खबरें – 23th october

 देश और दुनिया की लेटेस्ट खबरें


1. कमलेश हत्याकांड में एक और खुलासा, गुजरात प्रदेश अध्यक्ष को थी अशफाक के लखनऊ जाने की जानकारी

कमलेश तिवारी तक पहुंचने के लिए शेख अशफाक हुसैन ने हिंदू समाज पार्टी के गुजरात प्रदेश अध्यक्ष जैमिन दवे बापू का सहारा लिया था। उसने पहले फेसबुक पर रोहित कुमार सोलंकी के नाम से फर्जी आईडी व फर्जी आधार कार्ड बनवाया। इसके बाद जैमिन से संपर्क कर पार्टी में शामिल हुआ।

2. नोबेल विजेता अभिजीत बनर्जी ने बैंकों में सरकारी हिस्‍सेदारी घटकार 50 फीसदी से कम करने की वकालत की

पीएम मोदी से मुलाकात के बाद अभिजीत बनर्जी ने आर्थिक मंदी पर बोलने से इनकार कर दिया। हालांकि उन्होंने कहा कि बैंकिंग सेक्टर संकट में है, हालात डरावने हैं और हमें और सावधान रहने की ज़रूरत है। अभिजीत बनर्जी ने कहा कि व्यवस्था को ज्यादा चौकस होना पड़ेगा ताकि किसी भी बैंक में संकट आने से पहले उसे रोका जा सके।

3. तिहाड़ जेल में शिवकुमार से सोनिया गांधी ने की मुलाकात

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बुधवार को पार्टी नेता और कनार्टक के पूर्व मंत्री डी.के. शिवकुमार से तिहाड़ जेल में की। शिवकुमार को ईडी ने धनशोधन के एक मामले में तीन सितंबर को गिरफ्तार किया था। उनकी जमानत याचिका अदालत में लंबित है और ईडी की जांच जारी है।कांग्रेस का कहना है कि केंद्रीय एजेंसियों ने राजनीतिक प्रतिशोध के कारण निशाना बनाया था, इसलिए नहीं कि उन्होंने कानून का उल्लंघन किया।

4. दिल्ली के कनॉट प्लेस में एनकाउंटर, गोलीबारी के बाद दो बदमाश गिरफ्तार

दिल्ली के कनॉट प्लेस में बुधवार सुबह पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गई। शंकर मार्केट में हुए एनकाउंटर में दो बदमाशों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

5. इजरायल पर जामिया यूनिवर्सिटी में बवाल, छात्रों पर हमले से तनाव, पुलिस फोर्स तैनात

जामिया मिलिया इस्लामिया में मंगलवार को छात्र गुटों के बीच झड़प होने से माहौल तनावपूर्ण हो गया। यूनिवर्सिटी के एक कार्यक्रम में इजरायल को पार्टनर बनाए जाने के विरोध में कुछ छात्र पिछले नौ दिनों से हड़ताल पर बैठे हैं। वे मामले में अनुशासनहीनता के लिए यूनिवर्सिटी प्रशासन से पांच छात्रों को कारण बताओ नोटिस भेजे जाने से नाराज हैं। घटना के प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, हड़ताली छात्र परिसर में मार्च निकाल रहे थे। इसी दौरान जब वे लोग पदयात्रा करते हुए कुलपति दफ्तर के पास पहुंचे तो उन पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया। इससे कई छात्रों को गंभीर चोटें आईं। घायलों को होली फैमिली अस्पताल में भर्ती कराया गया।

6. इस दिवाली किसानों को मिल सकती है सौगात,पीएम मोदी करेंगे ऐलान

मोदी सरकार दिवाली से पहले देश के किसानों के लिए एक बड़ी सौगात का ऐलान कर सकती है। रबी फसलों की रोपाई शुरू होने से पहले सरकार सीजन की प्रमुख फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) में वृद्धि की घोषणा कर सकती है।

7. हेल्थ सेक्टर में मोदी सरकार का बड़ा फैसला , करोड़ो लोगो का होगा सस्ता इलाज

पीएम मोदी की सफल योजनाओ की जब भी बात होती है तब आयुष्मान भारत- प्रधानमंत्री जान आरोग्य का जिक्र जरूर होता है। सरकार की इस योजना को हेल्थ सेक्टर में एक बड़ा कदम माना जाता है।  इस सेक्टर को लेकर सरकार ने एक बड़ा ऐलान किया है। केंद्र सरकार देश के हर जिले में कर्मचारी राज्य बीमा यानी ESI अस्पताल की स्थापना करेगी।  सरकार ने देश भर के कामगारों को सस्ता इलाज देने के लिए ये फैसला किया है। इसकी जानकारी मोदी सरकार में श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने दी।

और पढ़े: देश और दुनिया की लेटेस्ट खबरें

8. कनाडा में ‘सिंह बनाएगा किंग’, जगमीत सिंह के हाथ में आई सत्ता की चाबी

कनाडा में 21 अक्टूबर को हुए आम चुनाव के नतीजे आ गए हैं और मौजूदा प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो एक बार फिर सत्ता पर विराजमान होने के करीब हैं।  नतीजों के अनुसार वह बहुमत के करीब हैं यानी कि वह अल्पमत सरकार बना सकते हैं। जस्टिन ट्रूडो की पार्टी को बहुमत के आंकड़े के लिए 13 सीटों की जरूरत है। इस बीच कनाडा में सिख नेता जगमीत सिंह एक किंगमेकर की तरह बनकर उभरे हैं और उनकी पार्टी को इतनी सीटें मिली हैं कि सरकार बनवाने की स्थिति में हैं।

9. बोरिस जॉनसन के ब्रेग्जिट विधेयक ने संसद में पहली बाधा को पार किया

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन अपने ब्रेग्जिट विधेयक के लिए मंगलवार को संसद की पहली बाधा पार करने में कामयाब रहे। संसद में वोटिंग के दौरान उनके प्रस्ताव को 299 के मुकाबले 329 मतों का समर्थन मिला। इसका मतलब है कि यूरोपीय संघ के साथ ब्रेग्जिट समझौता अब कानून बन सकता है लेकिन 3 दिन के भीतर हाउस ऑफ कॉमन्स में इस पर सहमति बनानी होगी।

10. BCCI के लिए आज बड़ा दिन, भारतीय क्रिकेट में होंगे कई बदलाव

भारत के सबसे सफल कप्तानों में से एक सौरव गांगुली बुधवार को मुंबई में होने वाली सालाना आम बैठक में बीसीसीआई के 39वें अध्यक्ष बनेंगे जिससे सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति का 33 महीने से चला आ रहा शासन खत्म हो जाएगा। बीसीसीआई अध्यक्ष पद के लिए गांगुली का नामांकन सर्वसम्मति से हुआ है जबकि जय शाह सचिव होंगे। उत्तराखंड के माहिम वर्मा नए उपाध्यक्ष होंगे।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com