Categories
सामाजिक

मानसिक स्वास्थ्य के लिए खराब है ये आदतें

मानसिक स्वास्थ्य के लिए खराब है ये आदतें


कई लोग इस बात से अंजान होते है कि उनकी साधारण सी लगने वाली आदते उनके मानसिक स्वास्थय को नाकारात्मक रुप से प्रभावित कर रही है। आज हम आपको उन आदतों के बारे मे बताएंगे जो आपके मानसिक स्वास्थ्य के लिए ख़राब है |

मानसिक स्वास्थय

· दिमाग की दुश्मन आदते-

आपके शरीर के फिटनेस के स्तर से लेकर आपकी शोशल मीडिया में सहभागिता, सभी आपके मूड, सकारात्मकता, और आपके मानसिक स्वास्थ्य को नकारात्मकक ढ़ंग से प्रभावित कर सकते हैं। तो चलिये जानते हैं ऐसी ही कुछ आदतों के बारे में जो आपके मानसिक स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित हो सकती हैं।

· शाम स्क्रीन के साथ बिताना-

हफ्ते मे एक दो बार काम के बाद थियेटर मे फिल्म देखना या कुछ देर नियमित टीवी देखना शायद फायदे मंद हो सकता है। लेकिन हर रोज देर रात स्क्रीन के सामने समय बिताना बहुत बुरी आदत है। इसलिए इससे शरीर और दिमाग दोनो थकते है। इससे दूर होने के लिए टीवी देखते समय कुछ काम करते रहे।

टॉक्सिक रिलेशन

· टॉक्सिक रिलेशन-

टॉक्सिक रिलेशन से निकलना कई बार मुश्किल हो जाता है। तो बेहतर होगा कि थोड़ा समय खुद को दें और ये जानने की कोशिश करें कि आप एक टॉक्सिक रिलेशन में हैं। किसी वैज्ञानिक के अनुसार दीर्घकालिक, नकारात्मक सामाजिक संबंधों सूजन से जुड़े होते हैं, जो कि हृदय रोग, कैंसर, उच्च रक्तचाप आदि का कारण भी बन सकते हैं। हानिकारक संबंध, जैसे साथी के साथ संबंध, सहकर्मी के साथ संबंध, परिवार और दोस्तों के साथ संबंध भी कम आत्मसम्मान, चिंता और अवसाद का कारण बन सकते हैं।

· सुस्त जीवन जीना

शारीरिक श्रम के अभाव और अवसाद की उच्च दर के बीच गहरे संबंध की बात को साबित किया गया है। यहां तक कि हफ्ते में तीन बार एक्सरसाइज कर अवसादग्रस्त भावनाओं और नकारात्मकता को बीस प्रति शत तक कम कर सकते हैं।

Categories
लाइफस्टाइल

क्या ये आदतें बदलने की ज़रूरत आपको बदलने की ज़रूरत हैं

आदतें बदलने की ज़रूरत


हम अक्सर कुछ ऐसी हरकतें करते है जो लोगो को और कुछ समय बाद हमे खुद को पसंद नहीं आती। हमारे कुछ ऐसी आदतें होती है जो हम सभी को पता होती है कि गलत है पर उनको बदलना हमारे लिए थोड़ा मुश्किल से हो जाता है। और तो और कुछ आदतें ऐसी भी होती है जिनके बारे में हमे पता भी नहीं होता है और वो हमारी जीवनशैली का हिस्सा बन जाती है। इसलिए हमें ऐसी आदतें बदलने की ज़रूरत है।

फ़ोन का प्रयोग न करें

जानते है कि वो कौन सी आदतें है:-

  • लोगो के साथ होते हुए भी फ़ोन का प्रयोग करना

अक्सर ऐसी स्तिथि होती है जहाँ हम काम के कारण फ़ोन के प्रयोग करना पड़ता हैं। और उस स्तिथि में आपके पास उसके अलावा कोई और चारा नहीं होता। पर अधिकतर समय आप दोस्तों के साथ होते हुए भी अपना फ़ोन इस्तेमाल करते रहते है जो बहुत गलत होता है।

  • लाइट्स बंद ना करना

हम कमरे से निकलते है और सभी स्विच बंद किए बिना ही आ जाते है। इससे ना जाने कितनी बिजली का नुक्सान होता है। ये हमारा फ़र्ज़ है कि हम कमरे से निकलते ही सब बिजली के स्विच को बंद करे

यहाँ पढ़ें : जानिए क्यों एकांत में रहना होता है अच्छा

  • लोगो की बात काटना

ये बहुत ही बदतमीज़ी और बुरी बात होती है कि जब लोग बात कर रहे हों और हम उनको बीच में टोक दे। ये बताता है कि आप उनकी इज़्ज़त नहीं करते है। ये बहुत ही अशिष्ट और अस्वीकृत व्यव्हार होता है।

शिकायत न करे
  • हर जगह देरी से पहुँचना

हर चीज़ का एक तय समय होता है। और हर काम के लिए देरी से पहुँचने का मतलब है कि आपका काम अव्यवस्थित ढंग से होता है। ये बता है कि आपको समय का कोई ध्यान नहीं रहता। ये दूसरे लोगो पर आपकी छवि गलत बनाता है।

  • हर बात की शिकायत करना

हम बहुत ही भाग्यशाली है कि हमारे पास हर वो चीज़ है जो किसी दूसरे के पास नहीं है। फिर भी हम हर समय किसी न किसी चीज़ के बारे में शिकायत करते रहते है। ये बात हम समझते ही नहीं की हम कितने खुशकिस्मत है कि हमारी ज़िन्दगी काफी बेहतर है।

हमारी ज़िन्दगी में ये कुछ ऐसी आदतें है जिन पर हम ध्यान नहीं देते। इसलिए अपनी हरकतों और आदतों पर ध्यान दे। आपकी इन्ही आदतों से किसी को बुरा लग सकता है।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in