Categories
हॉट टॉपिक्स

क्या आपको पता है मास्क पहनने से पहले और बाद में, किन बातों का खास ध्यान रखना चाहिए

जाने कोरोना पर लेटेस्ट अपडेट : मास्क पर दें खास ध्यान 


पिछले कुछ महीनों से चल रहे कोरोना वायरस के कारण अभी पूरी दुनिया परेशान है. अभी दुनियाभर में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़कर 44,748,845 हो गए है. जबकि कोरोना संक्रमण से मरने वालो की सख्या 1,179,062 हो गयी है. अभी भी भारत में यह संक्रमण रुकने का नाम नहीं ले रहा है. अभी भी हमारे देश में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ता  जा रहे है. अभी भारत में कोरोना संक्रमण के मामले 8,038,765 हो गए है जबकि कोरोना संक्रमण से मरने वालो की सख्या 120,563 हो गयी है. ऐसे में अभी पूरी दुनिया को सिर्फ कोरोना वैक्सीन का ही इंतजार है. ताकि सभी लोगों को जल्द से जल्द इस कोरोना वायरस से निजात मिल सके. हालांकि, इस दौरान लोगों की मास्क पहनने की आदत और टेस्टिंग ने काफी हद तक लोगों को कोरोना वायरस से बचा कर रखा है. लेकिन अपने देखा होगा कि कुछ लोग मास्क पहनने में भी लापरवाही करते है. तो चलिए आज हम आपको बतायेगे की मास्क पहनने से पहले और बाद में, किन बातों का ध्यान रखना चाहिए.

सक्रिय मरीजों की संख्या और नये मामलों में आयी कमी

अगर आप अभी भी रोज कोरोना वायरस का लेटेस्ट अपडेट देखते है, तो आपको दिख रहा होगा कि अभी कोरोना वायरस के नए केस कम आ रहे हैं. इसके बीच एक अच्छी खबर ये है कि अभी अस्पतालों में बेड खाली हैं. और जो नए मरीज आ रहे हैं, तो उन्हें आसानी से बेड मिल पा रहे है. अभी देश ने कोरोना वायरस के नए केस कम हुए तो वो सिर्फ टेस्टिंग और लोगों की मेहनत की वजह से ही संभव हुआ है. लेकिन आप इसका मतलब ये बिलकुल भी न समझे कि अभी हमारे देश में कोरोना का संक्रमण खत्म हो गया है। बल्कि आपको आने वाले महीनों में काफी ज्यादा सतर्क रहना है. क्योकि आने वाले महीनों में बहुत सारे त्योहार है और आपको बाहरी लोगों से मिलने से बचना होगा क्योकि बाहरी लोगों से मिलते जुलने से केस बढ़ सकते हैं.

ध्यान रखने योग्य महत्वपूर्ण बातें

1. लोगों बातचीत करते हुए, सांस लेते हुए या पसीने से बचने के लिए आपको अपने मास्क को नीचे नहीं करना चाहिए, इससे आपका मास्क गंदा या संक्रमित हो सकता है.
2. डब्ल्युएचओ के गाइडलाइन्स के अनुसार, मास्क पहनने से पहले और मास्क हटाने के बाद हाथों को अच्छे से साफ करना बहुत जरुरी है.
3. कोरोना वायरस से बचने के लिए मास्क पहनना बेहद जरूरी होता है. यह आपके बोलने, खांसने, छींकने के दौरान बाहर निकलने वाले ड्रॉपलेट्स को रोकता है.
4. डब्ल्युएचओ के गाइडलाइन्स के मुताबिक, हमें कोरोना वायरस से बचने के लिए कम से कम 6 फीट की दूरी का ध्यान रखना चाहिए. और बार-बार हाथ धोना के साथ साथ मास्क और चेहरे को हाथ से छूने से बचना चाहिए.
अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com
Categories
हॉट टॉपिक्स

भारत में कोरोना का कहर, एक लाख पार हुआ मरने वालों का आंकड़ा

भारत में कोरोना का कहर जारी


पिछले कुछ महीनों से भारत समेत पूरी दुनिया कोरोना वायरस से परेशान है. अगर हम बात करें भारत कि तो अब तक भारत में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 64 लाख से अधिक हो गई है. वहीं, 64 लाख 73 हजार 544 लोग संक्रमण से स्वस्थ हो चुके हैं. केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सुबह आठ बजे जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार भारत में एक दिन में संक्रमण के 81,484 मामले सामने आये. जिसके साथ ही कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 64,73, 544 हो गई. इन सबके बीच एक राहत भरी खबर भी सामने रही है, जिसके तहत भारत में ऑक्सफोर्डएस्ट्राजेनेका वैक्सीन का ट्रायल सही दिशा में जा रहा है.

क्या कहना है कोविड-19 पर जॉन हॉपकिंस विश्वविद्यालय का 

जॉन हॉपकिंस विश्वविद्यालय के अनुसार, कोरोना वायरस के संक्रमण से ठीक होने वालों के मामले में अभी भारत पहले स्थान पर है. भारत के बाद दूसरे स्थान पर ब्राजील और अमेरिका है. जॉन हॉपकिंस विश्वविद्यालय के मुताबिक कोरोना वायरस मामलों के परिप्रेक्ष्य में हमारा देश अमेरिका के बाद दूसरा सर्वाधिक प्रभावित देश है. जबकि अगर हम मृतकों की संख्या के आधार पर देखे तो ये बिलकुल उल्टा है. यानि कि मृतकों की संख्या के आधार पर भारत अमेरिका और ब्राजील के बाद तीसरे स्थान पर है.

और पढ़ें: जाने क्यों कोविड-19 की रिकवरी के बेहद फायदेमंद है प्रोटीन डाइट

क्या कहती है केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट 

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कल यानि की शुक्रवार को बताया कि अब तक हमारे देश में कुल 53,52,078 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं. जिससे ठीक होने की राष्ट्रीय दर 83.70 फीसदी हो गई है. जबकि अगर हम बात करें कोरोना वायरस से मृत्यु दर की तो वो अभी 1.56 प्रतिशत है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, भारत में अभी 9,42,217 मरीजों का कोरोना वायरस का इलाज जारी है, जो कुल मामलों का 14.74 प्रतिशत है.

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
हॉट टॉपिक्स

लॉकडाउन को हुए पांच महीने पूरे, जाने कोरोना अपडेट और देश की स्थिति

जाने कोरोना लॉकडाउन से ले कर अनलॉक तक की सारी दासता


लॉकडाउन को आज पांच महीने पूरे हो चुके है. इस महामारी से न सिर्फ भारत ब्लकि पूरी दुनिया परेशान है. अभी पूरी दुनिया पर कोरोना का संकट बरकरार है. देश में कोरोना संकट को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 मार्च को जनता कर्फ्यू  का आह्वान किया  था. प्रधानमंत्री ने यह जनता कर्फ्यू जनता के लिए जनता द्वारा लगाया गया कर्फ्यू था. हालांकि जनता कर्फ्यू सिर्फ एक दिन के लिए ही था. उसके बाद 24 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की. जिसे आज पूरे पांच महीने हो चुके हैं. इस दौरान देश में संपूर्ण लॉकडाउन से लेकर अनलॉक होने तक कई तरह के बदलाव आए है. इन पांच महीनों में लोगों की जिंदगी से लेकर अर्थव्यवस्था तक सब कुछ बुरी तरह से प्रभावित हो गया है.

और पढ़ें: हमारे देश में हर तीसरी महिला होती है पेल्विक कंजेशन सिंड्रोम की शिकार

जाने कोरोना लेटेस्ट अपडेट

अगर हम बात करें कोरोना की मौजूदा स्थिति की तो आज देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या करीब 31 लाख के पार हो चुकी है. जिसमें 57 हजार से अधिक लोगों की मौत हुई है. हमारे लिए बस थोड़ी सी राहत की बात यह है कि अब तक कोरोना को करीब 23 लाख लोगों मात दे चुके हैं. केंद्र सरकार के अनुसार अब तक देश में कोरोना के कुल 3.52 करोड़ से ज्यादा टेस्ट हो चुके है.  रिपोर्ट्स की मानें तो सब कुछ ठीक रहा तो अगले दो से तीन महीनों के अंदर भारत को पहली कोरोना वायरस की वैक्सीन ‘कोविशील्ड’ भी मिल सकती है.

देश में दूसरी बार 8 दिनों में बढ़े 5 लाख कोरोना मरीज

अभी तक हमारे देश में कोरोना के मामले 31 लाख के पार हो गए है. ऐसा दूसरी बार हो रहा है जब मात्र 8 दिनों में 5 लाख कोरोना के मामले सामने आएं है. 14 अगस्त को देश में 25 लाख कोरोना मरीज थे. जबकि आज 24 अगस्त को ये आंकड़ा 31 लाख के पार  कर चुका है. वहीं 6 अगस्त तक देश में 20 लाख कोरोना मरीज थे. अभी तक देश में 22,80,567 लोग कोरोना से स्वस्थ हो चुके है. इस समय कोरोना से ठीक होने वाले मरीजों की दर बढ़कर 74.90 फीसदी हो गयी है.

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com