Categories
बिना श्रेणी

कॉमेडिन जिनको हंसी की जगह मिली जेल की हवा और सोशल मीडिया पर लोगों की नफरत

साल की शुरुआत में ही मुनव्वर फारुकी को बिना सबूत के मिली जेल की हवा


कॉमेडियन एक ऐसा शख्स जो अपनी बातों से उदास चेहरों पर हंसी की एक मुस्कुराहट ले आते हैं. लेकिन पिछले कुछ समय से देखा जा रहा है कि कॉमेडियन पर अपने ही द्वारा की गई कॉमेडी के कारण सुर्खियों में बने रहते हैं. आज ‘काम की बात’ में हम ऐसे ही कॉमेडियन की हिस्ट्री बताएंगे जो कॉन्ट्रोवर्सी में बने रहते हैं.

 

मुनव्वर फारुकी

 

साल  की शुरुआत ही कॉमेडियन की गिरफ्तारी से हुई है. मुनव्वर फारुकी पहले भी अपनी कॉमेडी के कारण खबरों में बने रहते हैं. अक्सर पॉलिटिक्ल कॉमेडियन के कारण वह सुर्खियों में बना रहता है. इस साल की शुरुआत में ही कॉमेडियन मुनव्वर फारुकी को इंदौर में विरोध का सामना करना पड़ा है. इंदौर में मुनव्वर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. उस पर आरोप है कि इंदौर के एक कैफे में कॉमेडी के दौरान  हिंदू देवी देवताओं का मजाक उड़ाया और गृहमंत्री अमित शाह पर गोधरा कांड के लिए आपत्तिजनक मजाक किया था. इस बात का दावा बीजेपी की विधायक मालिनी गौर के बेटे एकलव्य गौर ने किया. जिसके बाद मुनव्वर समेत उसके चार साथियों एडविन एंटनी प्रकाश व्यास, प्रतीम व्यास और निलिन यादव के खिलाफ आईपीसी की धारा 295-A, 298, 269,288 और 34 के तहत मामला दर्ज किया है. वहीं इस बारे में एकलव्य गौर ने मीडिया को बताया कि वह और उसके साथी बकायदा टिकट खरीदकर कॉमेडी शो में पहुंच थे. जहां फारुकी को कॉमेडियन के तौर बुलाया गया था. एकलव्य का कहना है कि वहां हिंदु देवी देवताओं का मजाक बनाया गया. इतना ही नहीं गृहमंत्री अमितशाह पर अनुचित जिक्र भी किया गया था. वह हमेशा ही अपने शो में इस तरह की टिप्पणियां करता है. आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद हमने पहले शो के रुकवाया और बाद में इन्हें तुकोगंज पुलिस थाने ले गए.  इन सबके बीच जिस वीडियो का जिक्र लगातार किया जा रहा है पुलिस पड़ताल  में वह वीडियो में नहीं मिली. तुकोगंज को पुलिस का कहना है कि उन्हें मुनव्वर के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिल पाया है. लेकिन हैरानी की बात यह है कि अभी तक इस मामले में मुनव्वर और सदाकत खान को जमानत नहीं मिल पाई है.

 

और पढ़ें: किसान आंदोलन में स्लोगन और बॉयकॉट का नारा बना रहा है इसे और मजबूत

 

कुणाल कामरा

 

लंबे समय से यह देखा जा रह है कि कॉमेडियन को भी टारगेट किया जा रहा है. कभी सवाल पूछने पर तो कभी लोगों को हंसाने को लेकर. कुणाल कामरा दूसरा नाम है जो हमेशा अपने बयानों के कारण खबरों में बने रहते हैं. कुणाल साल 2019  के लोकसभा चुनाव से पहले अंबानी के घर के बाहर क्लिपबोर्ड लेकर बैठ गए थे. हाल ही में एक्टर सुशांत सिंह की मौत के बाद आर भारत न्यूज चैनल द्वारा लगातार लोगों को टारगेट बनाए जाने बाद कुणाल और अनुराग कश्यप आर भारत के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी के लिए  के चप्पल तोहफे के तौर पर ले गए थे. कुणाल हमेशा ही अपनी कॉमेडी में राजनीति को रखते है.  वह हर एक राजनीति घटना पर तेज नजर रखते हैं. पिछले साल अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर चलती बहस के बीच कुणाल ने एक ट्वीट कर अदालत की अवमानना के दायरे में आ गया था. दरअसल कुणाल ने एक ट्वीट करते हुए सुप्रीम कोर्ट की फोटो पर तिरंगा की जगह भगवा झंड़ा लगा दिया था. इसके बाद तो कुणाल पर अवमानना का केस बनना तय था और हुआ भी कुछ ऐसा ही न्यायमूर्ति अशोक भूषण, न्यायमूर्ति आर सुभाष रेड्डी और न्यायमूर्ति एम. आर.शाह की पीठ ने नोटिस जारी कर  कुणाल को जवाब देने का निर्देश दिया था.  इस बारे में अटॉर्नी जनरल के.वेणुगोपाल ने कुणाल  के खिलाफ आप राधिक अवमानना की कार्यवाही शुरु करने पर सहमति देते हुए कहा था कि ट्वीट खराब भावना के तहत किए गए थे और यह समय है जब लोग समझें कि शीर्ष अदालत पर ढिठाई से हमला करने पर अदालत अवमानना अधिनियम 1971 के तहत सजा हो सकती है. आपको बता दें अदालत के कारण बताओ के बाद भी कुणाल ने माफी मांगने से इंकार कर दिया था.

अग्रिमा जोशुआ

 

मुंबई से  ताल्लुक रखने वाली कॉमेडियन अग्रिम जोशुआ का नाम पिछले साल जुलाई के महीने में लॉकडाउन के दौरान सुर्खियों में आया. इससे पहले तक बहुत कम ही लोग इसे जानते थे. अग्रिमा का एक वीडियो क्लिप खूब वायरल हुआ जिसमें यह दिखाने की कोशिश की गई  कि वह मराठा गौरव छत्रपति शिवाजी महाराज का मजाक उड़ रही है. कुछ सेकेंड की इस वीडियो ने अग्रिमा के खिलाफ एफआईआर तक दर्ज करवा दी. लोगों द्वारा तरह-तरह की धमकियां दी जानी लगी. यहां तक की उसे रेप की धमकियां दी जाने लगी. शुभम मिश्रा ने तो उसे दम भर गालियां दी और रेप की धमकी दी थी. जबकि वीडियो के पूरे हिस्से में अपमान जैसा कुछ दिखा नहीं था. दरअसल अग्रिमा जोशुआ ने अपने कॉमेडी शो में समुद्र में बन रही छत्रपति शिवाजी महाराज की मूर्ति का  जिक्र करते हुए क्वेरा के जवाब का जिक्र किया था. जिसकी वीडियो को एडिट करके लोगों को सामने प्रस्तुत किया. इस सारी घटना के बाद अग्रिमा ने सोशल मीडिया पर माफी भी मांगी थी.

 

कीकू शारदा

 

कॉमेडी नाइटस विथ कपिल में हम सभी कीकू शारदा की कॉमेडी से लोटपोट हो जाते हैं. लेकिन आपको पता है इनकी यही कॉमेडी इनको जेल की हवा तक खिला चुकी है. साल 2016 में बाबा राम रहीम की जीवनी पर बनी फिल्म एमएसजी2 की रिलीज से पहले ही कॉमेडी नाइट्स विद कपिल में इस फिल्म  के सीन एक कॉमेडी एक्ट पेश किया था. जिसके बाद यह कहते हुए कीकू पर एफआईआर दर्ज की गई थी उससे भक्तों की आस्था पर ठेस पहुंच सकती है.

सुरलीन कौर

 

 

सुरलीन कौर भी लॉकडाउन के दौरान अपने कॉमेडी वीडियो के कारण सुर्खियों में आ गई थी. सुरलीन हमेशा ही अपनी कॉमेडी में वेद, संस्कृत, कामसूत्र का जिक्र करती थी. लेकिन स्कॉन पर कॉमेडी करना उसे महंगा पड़ गया. अपनी कॉमेडी में सुरलीन ने स्कॉन के ऋषि मुनियों और हिंदू धर्म पर टिप्पणी की थी. जिसके पर स्कॉन ने आपत्ति जताते हुए एफआईआर दर्ज करवाई थी. जिसके बाद सुरलीन कौर को माफी मांगनी पड़ी थी.

 

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
हॉट टॉपिक्स

बिहार चुनाव में जेडीयू खोता भाषा की मर्यादा का बाण

शासन से लेकर निजी रिश्तों पर बयान


बिहार में चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहे है नेताओं के बयानों में भाषीय मर्यादा शून्य होती जा रही है. सत्तारूढ़ पार्टी द्वारा आएं दिन ऐसे बयान दिए जा रहे है जो वोटों के समीकरण को बिगाड़ सकते हैं. 

आज जेडीयू के नेता संजय झा ने लोजपा के अध्यक्ष चिराग पासवान को “जमुरा” कह दिया. संजय झा ने जमुई के सांसद के लगातार शराबबंदी पर सवाल उठाने और  उनकी सरकार बनने पर जेडीयू के विधायको को सजा देने की बात पर जवाब देते हुए आज कहा “जैसे उनकी फिल्में फ्लॉप हुई है वैसे ही उनकी राजनीति भी फ्लॉप हो जाएगी. कंगना के जिक्र करते हुए संजय झा ने कहा कंगना के साथ फिल्मी करियर की शुरुआत की थी आज अपने अभिनय के कारण वह इतनी दूर पहुंच गई है, सुशांत ने बिना किसी पृष्टभूमि के बॉलीवुड में अपनी जगह बना ली थी. चिराग एक जमुरा है जो किसी की धुन पर नाच रहा है”

वही इसके जवाब में चिराग ने कहा अगर मैं “जमुरा” हूं तो “मदारी” कौन है. सब कह रहे हैं मैं प्रधानमंत्री के इशारे पर काम कर रहे हूं. इस हिसाब से अगर आप मुझे जमुरा कह रहे है तो आपलोग लगातार प्रधानमंत्री का अपमान कर रहे हैं.

नीतीश कुमार में विवादित बयान

पहले चरण के चुनाव से पहले मुख्यमंत्री ने लगातार राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के कार्यकाल और उनकी निजी जीवन पर टिप्पणी की. वैशाली में चुनावी रैली के दौरान एक विवादित बयान देते हुए उन्होंने कहा कि किसी को प्रजनन ने बारे में क्या मालूम है, आठ-आठ, नौ- नौ बच्चे पैदा करते हैं. बेटियों पर भरोसा ही नहीं है, कई बेटियां पैदा हो गई उसके बाद बेटा हुआ है. इसके जवाब में तेजस्वी यादव ने कहा -मैं पहले भी कह चुका हूं, वो हमारे अभिभावक तुल्य है अगर वो मुझे गाली भी देंगे तो मैं उसे समान पूर्वक ग्रहण करूंगा.

और पढ़ें: पहले चरण का चुनाव प्रचार खत्म होते ही, महागठबंधन की आंधी का जिक्र

स्कूल कॉलेज बनवाएं

एक और रैली के दौरान लालू प्रसाद यादव के राज का जिक्र करते हुए कहा “जब लोगों को मौका मिला था तो एक स्कूल बनवाया था, आरजेडी और तेजस्वी का बिना नाम लिए मुख्यमंत्री ने कहा ” अगर पढ़ना चाहते हो तो अपने बाप से पूछो माँ से पूछो कोई स्कूल, कॉलेज बन रहा था? जरा पूछ लो जब राज करने का मौका मिला तो ग्रहण करते रहे , अब जब अंदर चले गए तो पत्नी को राजगद्दी पर बैठा दिए हैं।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
मनोरंजन

दीपिका पादुकोण और कंट्रोवर्सी का पुराना रिश्ता है, जानें कुछ प्रसिद्ध कंट्रोवर्सी के बारे में

‘न्यू ईयर पार्टी’ से ले कर ‘RK टैटू’ तक की कॉन्ट्रोवर्सी


बॉलीवुड की सबसे ज्यादा चहेती एक्ट्रेसेस में से एक हैं दीपिका पादुकोण. दीपिका ने अपनी एक्टिंग, खूबसूरती, टैलेंट और दोस्ताना व्यवहार से सभी के दिलों में अपनी एक खास जगह बना ली है. आज दीपिका पादुकोण और उनके पति रणवीर सिंह की जोड़ी को ज्यादातर लोग एक आइडियल सेलिब्रिटी कपल मानते है. इतनी लोकप्रिय होने के बाद भी दीपिका पादुकोण अक्सर कॉन्ट्रोवर्सीज में घिरी रहती है. अभी हाल ही में उन्हें ड्रग्स लेने के मामले में नारकोटिक्स डिपार्टमेंट ने पूछताछ के लिये बुलाया था. तो चलिए आज हम आपको दीपिका से संबंधित कंट्रोवर्सीज के बारे में बतायेंगे .

करण जौहर की न्यू ईयर पार्टी: कुछ समय पहले करण जौहर के घर का एक वीडियो वायरल हुआ था. इस वीडियो में बॉलीवुड के बड़े-बड़े एक्टर्स नशे की हालत में नजर आ रहे थे. वीडियो को देख कर ऐसा लगता है कि वीडियो करण जौहर ने शूट किया था. इस वीडियो के वायरल होने के बाद सेलिब्रिटीज को लोगों की आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था. हालांकि इस पर करण जौहर ने सफाई देते हुए कहा कि इस पार्टी में कोई भी ड्रग्स का सेवन नहीं कर रहा था बल्कि सभी लोग नए साल को साथ में एंजॉय कर रहे थे. लेकिन दीपिका पादुकोण ने इस मामले में चुप्पी का ही सहारा लिया.

और पढ़ें: ‘बिग बॉस’ के घर पर रोमांस के लिए जाने जाते थे ये कंटेस्टेंट, बाहर निकलते ही हो गया अलग

RK टैटू: अगर हम बॉलीवुड में रिलेशनशिप की बात करें तो दीपिका पादुकोण और रणबीर कपूर का रिश्ता काफी ज्यादा पॉपुलर था. लेकिन ये रिश्ता ज्यादा समय तक नहीं चला और दोनों बहुत जल्दी अलग हो गए. दीपिका ने इस रिलेशनशिप के दौरान अपनी गर्दन में पीछे RK का टैटू बनवाया था, जिसका मतलब था रणबीर कपूर. ब्रेकअप के बाद भी लम्बे समय तक दीपिका ने वो टैटू नहीं हटाया था. लेकिन 2018 में दीपिका और रणवीर सिंह की शादी के समय लोगों को फोटोस में दीपिका की गर्दन पर टैटू नजर नहीं दिखा, तो उनको लगा शायद दीपिका ने शादी से पहले टैटू हटा दिया होगा. लेकिन उसके बाद अगले ही साल ईशा अंबानी की शादी में लोगों को दीपिका की गर्दन पर वो टैटू फिर से नजर आया. दीपिका का ये टैटू इतना बड़ा नेशनल इंटरेस्ट बन जाएगा. शायद इसका उनको भी अंदाजा न हो.

राम-लीला कॉन्ट्रोवर्सी: पद्मावत से पहले दीपिका पादुकोण फिल्म राम-लीला में नजर आई थीं. इस फिल्म का पूरा नाम ‘गोलियों की रासलीला’ है. इस फिल्म को लेकर कुछ हिंदू धार्मिक संस्थाओं ने जमकर विरोध किया था. उनका कहना था कि यह फिल्म के लिए भगवान राम के नाम का गलत इस्तेमाल किया गया है. हालांकि इस बात पर सफाई देते हुए संजय लीला भंसाली ने कहा कि फिल्म के हीरो और हीरोइन का नाम राम और लीला है. इस फिल्म में ऐसा कुछ नहीं है. जो रामलीला के मंचन के दौरान नजर आता है. लेकिन लोगों ने उनकी एक नहीं सुनी. आखिरकार उन्हें फिल्म का टाइटल बदल कर ‘गोलियों की रासलीला राम-लीला’ करना पड़ा था.

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
बॉलीवुड

आदित्य पंचोली का विवादों से नाता है पुराना

आदित्य पंचोली पर चल रहे है यह सभी मुक़दमे


बॉलीवु़ड इंडस्ट्री का विवादों से नाता बहुत पुराना हैं. विवाद छोटे हो या बड़े बॉलीवु़ड इंडस्ट्री में लगे ही रहते है. इस इंडस्ट्री में विवादों का होना आम बात हैं। बॉलीवुड सेलेब्रिटी हमेशा विवादों से ही घिरे रहते हैं। कभी ये विवाद आपसी झगडे को लेकर होता है तो कभी करियर स्ट्रैस की वजह से तो कभी एक दूसरे से जलन की वजह से और कभी लव- स्टोरी में किसी और के आने से. इस इंडस्ट्री में कुछ ऐसे लोग है जो हमेशा ही विवादों में घिरे रहते है और उनमे से एक है “आदित्य पंचोली”.

आदित्य पंचोली का फ़िल्मी करियर और विवादों का दौर 

आदित्य पंचोली एक ऐसे स्टार है जिनके फिल्मी करियर में इतने विवाद आये है कि उनका फ़िल्मी करियर ही डूब गया। आदित्य के ऊपर कुछ ऐसे संगीन आरोप लगे है जिससे उनका फिल्मी करियर डूबने के कगार पर आ गया। आदित्य ने अपना फिल्मी करियर नेगिटिव और सपोर्टिंग रोल से शुरू किया था। साल 1985 में फिल्म “शहादत” से बॉलीवु़ड में डेब्यू करने वाले आदित्य की यह फिल्म सुपरहिट साबित हुई। इसके बाद आदित्य की कुछ और फिल्मे आई जैसे “साथी”, “आतिश” भी सुपरहिट रही।

कैसा रहा शादी के बाद आदित्य पंचोली का फ़िल्मी करियर

1985 में बॉलीवु़ड में डेब्यू करने के एक साल बाद आदित्य पंचोली ने “जरीना वहाब” के साथ शादी की लेकिन दोनों लम्बे समय तक इस    रिश्ते में खुश नहीं रह पाए और उसके बाद दोनों के जीवन में विवादों का दौर शूरु हो गया। इसका असर आदित्य के फ़िल्मी करियर पर भी पड़ने लगा और लगातार उनकी फिल्मे फ्लॉप होती गयी।

क्या -क्या विवाद हुए आदित्य के जीवन में 

साल 2011 में एक एयरलाइन और उसके क्रू मेंबर्स से बदतमीज़ी और झगड़ा
साल 2013 में आदित्य के उपर देर रात अपने पड़ोसी से मारपीट करने का आरोप
आदित्य पर “पब ब्रॉल” में शामिल होने का भी आरोप लगा
राबिया खान ने आदित्य के उपर भद्दा मजाक करने का भी आरोप लगाया
“पूजा बेदी” ने यौन संबंध बनाने का भी आरोप लगाया
आदित्य की जिंदगी का सबसे बड़ा विवाद – रेप मुकदमा – आदित्य और कंगना की जोड़ी बॉलीवुड में हीट थी कि तभी कंगना ने उनपर रेप का आरोप लगा दिया। करीब 13 सालों से चल रहे इस मुक़दमे का फैसला अभी भी फैसला नहीं आया।

Read More:- हिना खान के इन स्टाइलिश लुक्स ने दिया बी-टाउन ब्यूटीज़ को टक्कर

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.com

Categories
मनोरंजन लेटेस्ट

सोशल मीडिया पर बयां  किया  अनुराग  कश्यप ने अपना दर्द , कही यह बड़ी बात

अनुराग कश्यप ने छोड़ा अपना ट्विटर अकाउंट

अपनी हर बात का बेबाकी से जवाब देने वाले डायरेक्टर अनुराग कश्यप ने अपना ट्विटर छोड़ दिया है. उन्होंने  अपने ट्विटर अकाउंट को छोड़ने कि  वजहअपने माता – पिता को आने वाले अनजान फोन कॉल्स और बेटी को मिल रही धमकियों को बताई.साथ ही ट्विटर अकाउंट को छोड़ने से पहले अनुराग नेसोशल मीडिया पर  अपना  दर्द बयां

उन्होंने ट्विटर छोड़ने से पहले लिखा ‘जब आपके माता-पिता को फोन आने लग जाएं और आपकी बेटी को ऑनलाइन धमकियां मिलने लगे तो फिर कोईभी बात नहीं करना चाहेगा. कोई वजह या कोई भी तर्क नहीं बचेगा. दबंगों का राज होगा और दबंगई जीने का नया तरीका. सबको नया भारत मुबारक होऔर आप इसमें रह सकें. आपको खुशियां और तरक्की मिले. ये मेरा आखिरी ट्वीट होगा क्योंकि मैं ट्विटर छोड़ रहा हूं. जब मैं बिना डर के बोल नहीं सकतातो मैं बोलूंगा ही नहीं. गुड बाय.’ यह कहकर उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट डिलीट कर दिया.

 मॉब लिंचिंग के  मामले में भी ट्रोल हो चुके है अनुराग

ऐसा पहली बार नहीं है जब अनुराग कश्यप किसी विवादित बयान को  लेकर ट्रोल हुए थे. इस से पहले भी अनुराग  मॉब  लिंचिंग को लेकर प्रधानमंत्री कोपत्र लिखने वालों में नाम होने की वजह से भी ट्रोल हो चुके है.आपको बता दे की हाल ही में अनुराग ने जम्मूकश्मीर से  आर्टिकल 370 हटाने के बाद  केंद्र सरकार के इस फैसले पर ट्वीट किया था.ट्वीट में अनुराग ने पीएम मोदी का नाम लिए बिना ही उन पर निशाना साधा था. जिसमे उन्होंने कश्मीर पर लिए गए इस फैसले को लेकर खुद को कंफ्यूज बताया था.

वही इस ट्वीट को लेकर अनुराग दक्षिणपंथियों के निशाने पर आ गए. जिसके बाद अनुराग को जमकर ट्विटर  अकाउंट पर ट्रोल किया गया था.भारी ट्रोलिंगके बाद अनुराग ने फिर से ट्वीट किया और लिखा कि वो आर्टिकल 370 को समझ नहीं पाए हैं.

Read More:- दीपिका और प्रियंका के फेक फॉलोवर्स की लिस्ट  है लम्बी : जाने कितनी सच्चाई है इस ख़बर मे?

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.com