Categories
सेहत

क्या आप जामुन के ऐसे अनोखे फायदों के बारे में जानते हैं..

दांत दर्द से भी देता है निजात


गर्मी के दिन आते ही हम सबके दिमाग में फलों के नाम पर सबसे पहले आम और जामुन ही आता है। यह दोनों ही ऐसे फल हैं जो गर्मी में मिलते हैं। यात्रा के दौरान भी आपने ट्रेन में कई बार देखा होगा कि जामुन बिक्री होने के लिए आते हैं। कई लोग इसे चाव से लेते हैं। काले रंग का यह छोटा फल जितना खाने में टेस्टी होता है उतना ही फायदेमंद भी है। अगर आप भी अभी तक जामुन को पसंद नहीं करते हैं तो आज ही खाना शुरु कर दें इसके कई फायदे हैं जो आपको डॉक्टर के पास जाने से बचा सकते हैं। तो चलिए जानते हैं जामुन के कुछ फायदों के बारे में….

पथरी को गलाता है

कई लोगो को किडनी में स्टोन हो जाता है। जिसके कारण उन्हें असहनीय दर्द भी होता है। लेकिन क्या आपको पता है जामुन इस स्टोन को गला सकता है। इसके लिए आपको रोज इसका जूस बनाकर पीना होगा। इसका  बनाना भी बहुत आसान है। छोटे साइज की पथरी गलाने के लिए 10 मिली जामुन के रस में 250मिग्रा सेंधा नमक मिलाकर दिन में 2 से 3 बार पीएं। इससे आसानी से पेशाब के रास्ते पथरी बाहर निकल जाएगी।

पीलिया में मददगार’

पीलिया के दौरान अक्सर लोगों को खाने की इच्छा नहीं होती है। ऐसे समय में अगर आप जामुन के 10-15 मिली रस में 2 चम्मच शहद मिलाकर पीते है। तो पीलिया का असर तो कम होता ही है साथ ही बल्ड की कमी भी दूर हो जाती है।

डायबिटीज के मरीजों के फायदेमंद

डायिबिटीज के मरीजों को अक्सर कई तरह की परेशानी होती है। अगर आप इस परेशानी से राहत पाना चाहते हैं तो जामुन नहीं बल्कि जामुन के पेड़ की जड़ आपके लिए बहुत फायदेमंद हैं। इसके लिए आपको जामुन के 100ग्राम जड़ को साफ करके उसे 250 मिली पानी के साथ मिलाकर पीस लेना है। अब इसमें 20 ग्राम मिश्री डालकर सुबह-शाम खाने पीना होगा। इससे आपको शुगर में फायदा मिलेगा।

Read more: अनलॉक में न भूले कोरोना के इन बेसिक नियमों को

त्वचा और आंखे के लिए फायदेमंद

कोई फल खाने में भी स्वादिष्ट हो और साथ ही उससे खूबसूरती भी मिले तो सोने पे सुहागा जैसी बात हो जाती है। जामुन के पत्ते और छाल को पीसकर लगाने से त्वचा में कई तरह के फायदे मिलते हैं। जामुन का रस फेस पर लगाने से पिम्पल्स नहीं होते हैं। इतना ही नहीं यह जूस आंखों की बीमारी से भी निजात दिलाता है।

दांत दर्द से निजात

दांत की दर्द इतनी असहनीय होते हैं कि उस वक्त लोगों को लगता है कि कुछ भी मिल जाए जिससे वह दर्द से राहत पा सके। ऐसी  ही दर्द के लिए जामुन के पत्ते बहुत ही फायदेमंद हैं। इसके लिए आपको जामुन के पत्ते का राख बनाकर दांत और मसूड़े पर मसलना होगा। इससे मसूड़े भी मजबूत होते हैं। इतना ही नहीं जामुन के रस से कुल्ला करना से पाइरिया भी ठीक हो जाता है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

जाने कौन है मेकअप को लेकर समाज की रूढ़िवादी सोच को तोड़ने वाले अंकुश बहुगुणा

जाने समाज की मेकअप को लेकर सोच बदलने वाले अंकुश बहुगुणा के बारे में


जब भी हम लोग मेकअप की बात करते है तो हम सभी लोगों के मन में सबसे पहले एक महिला का चित्र बनता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हमारे समाज के लोगों के मन में ये बात बचपन से ही डाल दी जाती है कि मेकअप सिर्फ महिलाओं के लिए बना है। आपने भी देखा होगा कि अक्सर मेकअप के विज्ञापन में महिलाओं को ही दिखाया जाता है। मेकअप के विज्ञापनों में तो पुरुष न के बराबर होते हैं। यह हमारे समाज की एक रूढ़िवादी सोच है, जो जमाने से चलती आ रही है। और हमेशा से ही इस सोच को महिलाओं पर थोप दिया गया है। लेकिन जैसा की हम सभी लोग जानते है कि हर रूढ़िवादी सोच को तोड़ने के लिए कोई ना कोई  जरूर सामने आता है। इस रूढ़िवादी सोच को तोड़ने के लिए सामने आये इंस्टाग्रामर और सोशल मीडिया इंफ्लूएंसर अंकुश बहुगुणा। तो चलिए जानते है कौन है अंकुश बहुगुणा।

और पढ़ें: दादी की छोटी सी बागवानी को एक पोते गौरव ने बनाया लाखों का बिज़नेस

जाने कौन है अंकुश बहुगुणा

आपको बता दे कि अंकुश बहुगुणा एक इंस्टाग्रामर है जो अक्सर सोशल मीडिया पर अपनी फन वीडियोज डालते रहते है। इतना ही नहीं इसके अलावा अंकुश बहुगुणा मेकअप से संबंधित भी कई सारी वीडियो सोशल मीडिया पर डालते रहते है। अंकुश बहुगुणा सोशल मीडिया पर कई वीडियो ऐसी डालते है जिसमे वो पुरुष के मेकअप की बात कर रहे होते है। कुछ समय पहले अंकुश बहुगुणा ने एक फोटो शेयर किया था जिसमे उन्होंने आइलाइनर लगाया हुआ था और उन्होंने वो फोटो अपने ट्विटर हैंडल  पर शेयर किया था। जिसके कैप्शन में उन्होंने लिखा था “मेरे आइलाइनर से आपको डर नहीं लगता बल्कि आपको मेरी आजादी से ज्यादा डर लगता है”।

जाने कैसे अंकुश बहुगुणा ने दी रूढ़िवादी सोच को चुनौती

आपको बता दे कि अंकुश बहुगुणा की इस मेकअप वाली फोटो को बॉलीवुड अभिनेत्री सोनम कपूर ने अपने इंस्टाग्राम स्टोरी के तौर पर शेयर किया था। यूं तो अंकुश बहुगुणा पुरुष के मेकअप को लेकर कई सारी फोटो और वीडियो शेयर करते रहते है लेकिन कुछ समय पहले अंकुश बहुगुणा ने एक वीडियो शेयर किया था जिसे बॉलीवुड अभिनेत्री सोनम कपूर ने अपने इंस्टाग्राम स्टोरी पर शेयर किया था जिसके बाद वो वीडियो काफी ज्यादा वायरल हो गया। अंकुश बहुगुणा की इस वीडियो ने रूढ़िवादी सोच को चुनौती दी। इस वीडियो ने उन लोगों की सोच को भी चुनौती दी, जो कहते है कि मेकअप सिर्फ महिलाओं के लिए बना होता है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
काम की बात करोना लाइफस्टाइल

अगर आप भी गर्मियों में चाहते हैं चमकदार त्वचा, तो कुछ इस तरह करें अपनी त्वचा की देखभाल

गर्मियों में आपको फॉलो करना चाहिए एक अच्छा स्किन रूटीन


हम में से ज्यादातर लोगों को गर्मी इसलिए पसंद नहीं होती क्योंकि गर्मियों में सूरज का पारा हाई हो जाता है जिसके कारण तेज गर्मी और ह्यूमिडिटी पहले से सक्रिय त्वचा को और अधिक ऑयल ग्लैंडस कर देती है। जिसके कारण हमारे टी-जोन के आसपास ढेर सारा ऑयल, रैशेज, सन बर्न और टैन जैसी कई सारी समस्याएं एक साथ होने लग जाती हैं। इसलिए आपको इन सारी चीजों से बचने के लिए गर्मियों में एक अच्छा स्किन रूटीन फॉलो करना चाहिए। तो चलिए आज हम आपको बताएंगे कैसे आप गर्मियों में भी अपनी त्वचा को चमकदार बना सकते हैं।

समय समय पर अपना फेस वाश बदलते रहे: किसी भी व्यक्ति के लिए अपने चेहरे को साफ रखना स्किन रूटीन का पहला स्टेप होता है। आपको बता दें कि डॉक्टर्स का कहना है कि जैसे हम अपने दिल ही हिफाजत करने के लिए अपना तेल बदलते रहते है ठीक उसी प्रकार हमको अपनी स्किन को अच्छा रखने के लिए समय समय पर फेस वाश बदलते रहना चाहिए। गर्मियों का मौसम गर्म और उमस भरा होता है जिसके कारण हवा में नमी होती है। इसलिए इस मौसम में हमें अपने चेहरे पर अधिक तेल दिखता है। इसलिए आपको अपनी स्किन के हिसाब से ही अपने फेस वाश का चुनाव करना चाहिए।

ImageSource- Pixabay

सनस्क्रीन: सनस्क्रीन गर्मियों की एक ऐसी क्रीम है जिसे आप चाह कर भी नहीं भूल सकते है। यह आपके चेहरे, हाथ, पैर या शरीर के किसी भी अन्य हिस्से को सूर्य की अल्ट्रावायलेट किरणों से सुरक्षा रखने का काम करता है। आपको बता दे कि सूर्य की अल्ट्रावायलेट किरणें न सिर्फ हमारी स्किन को टैन करता है, बल्कि उसे डल और बेजान भी बनाता है। आपको बता दें कि सूर्य की किरणों से होने वाला सनटैन इतना ज्यादा खतरनाक होता है कि यह आसानी से और जल्दी नहीं हटता।

और पढ़ें:  अगर गर्मियों में हो रही है शादी, तो दुल्हन ऐसे रखें मेकअप का खास ख्याल

डाइट में शामिल करें फल और सब्जियां: अगर आपको लगता है कि एंटीऑक्सीडेंट या सनस्क्रीन लगाने से आपकी स्किन को सब कुछ मिल जायेगा तो आप बिलकुल गलत है। क्योंकि अगर आप एक अच्छी और चमकदार स्किन चाहते है तो आपको अपने खाने-पीने के रूटीन में भी सुधार करना होगा। आपको अपने डाइट में फल और सब्जियों का इंटेक भी बढ़ाना होगा। क्योंकि ये बात तो हम अभी लोग जानते है कि गर्मियों के मौसम में खान-पान का स्वस्थ होना, ब्यूटी प्रोडक्टस के ब्रांडेड होने से भी कहीं ज्यादा जरूरी है इस लिए आपको अपनी डाइट पर विशेष ध्यान देना चाहिए।

Image Source- Pixabay

हाइड्रेट रहे: गर्मियों में खुद को हाइड्रेट रखने का सबसे अच्छा तरीका है पानी पिएं और खूब पानी पिएं। अगर आपसे नार्मल पानी नहीं पिया जाता, तो आप नारियल पानी, गरम पानी, अदरक वाला पानी पी सकते हैं। लेकिन गर्मियों में हर दो घंटे के अंतराल पर एक गिलास भर कर पानी पीना अपना नियम बना लें। क्योंकि पानी आपके शरीर से टॉक्सिन को बाहर निकाल देता है और आपके शरीर को हाइड्रेट रखता है। साथ ही आपकी त्वचा में नमी बरकरार रखता है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

अगर गर्मियों में हो रही है शादी, तो दुल्हन ऐसे रखें मेकअप का खास ख्याल

गर्मियों में ब्राइडल मेकअप के दौरान ध्यान रखें ये बातें


गर्मियों में शादी या पार्टी में जाना किसी भी लड़की या महिला के लिए काफी मुश्किल होता है क्योंकि शादी में तैयार तो सभी को होना होता है लेकिन उफ्फ ये गर्मी! पसीने के कारण मेकअप तो टिकता ही नहीं, लेकिन बिना मेकअप पार्टी में जाने की बात तो सोच भी नहीं सकते, ऐसे में करें तो क्या। आप चाहो भी तो, मौसम को बदलना आपके हाथ में नहीं है लेकिन मेकअप को और उसे करने का अंदाज तो आपके हाथ में है आप उसे तो जरूर बदल सकते हैं। इस मौसम अगर आपको शादी में जाना है या फिर आपकी खुद की शादी है और आपको ब्राइडल मेकअप करना है तो आपको कुछ बातों को ध्यान में रखना होगा। जिससे की आप अपने मेकअप को बहने से बचा सकते हैं।

गर्मियों में मेकअप के दौरान इस्तेमाल करें शिमर प्रोडक्ट्स: अगर आप गर्मियों में ब्राइडल मेकअप करने के लिए जा रहे है तो ग्लोइंग स्किन, सॉफ्ट आइज, रोजी चीक और लिप्स ये कुछ ऐसे स्टेप है जो आपको गर्मी में नेचुरल लुक देने का काम करेंगे। इसलिए आपको गर्मियों में लाइट और सॉफ्ट मेकअप ही रखना चाहिए। आज के समय में आपको मार्किट में शिमर प्रोडक्ट्स आसानी से मिल जायेगे। इसलिए आपको ब्राइडल मेकअप के दौरान भी शिमर प्रोडक्ट्स ही इस्तेमाल करने चाहिए। आप गर्मियों में अगर फाउंडेशन यूज कर रहे है तो शिमर फाउंडेशन यूज करें, इससे पूरे चेहरे पर चमक आ जाती है।

Image Source- Pixabay

 

वाटरप्रूफ फाउंडेशन: अगर आप गर्मियों में तैयार होने के लिए फाउंडेशन यूज़ करने जा रहे हैं तो आपको वाटरप्रूफ फाउंडेशन यूज़ करना चाहिए। लेकिन चेहरे पर लिक्विड या क्रीमयुक्त फाउंडेशन लगाते समय आपको किसी ठंडी जगह पर खड़ा हो जाना चाहिए। इससे आपको बाकी मेकअप करते समय पसीना नहीं आएगा और फाउंडेशन आपके चेहरे पर सही तरह से लग जाएगा।

Image Source- Pixabay

और पढ़ें: जाने लिंकेडीन कैसे आपको जॉब सर्च करने में मदद करता है साथ ही जाने बेस्ट जॉब वेबसाइट के बारे में

लिपस्टिक: अगर हम बात करें लिपस्टिक की तो गर्मियों में आपके लिप्स पर लम्बे समय तक लिपस्टिक टिकी रहे, तो इसके लिए आपको पहले होंठ पर हल्का फाउंडेशन लगाना चाहिए। उसके बाद ही आपको लिपस्टिक का एक कोट लगाना चाहिए। उसके बाद आपको लिप लाइनर से अपने होंठों को सही शेप देनी चाहिए। लिपस्टिक लगाने से पहले ध्यान रखे आपके लिप लाइनर का कलर आपकी लिपस्टिक से मिलता जुलता ही होना चाहिए।

Image Source- Pixabay

आंखों के लिए: शादी हो या फिर कोई और पार्टी। उनमें थोड़ी बहुत भीड़ भाड़ तो होती ही है। जिसके कारण हल्का पसीना आने पर भी आपकी आँखों का मेकअप खराब हो सकता है। इससे बचने के लिए आंखों का मेकअप करते समय लिक्विड आइलाइनर के बजाय वाटरप्रूफ लाइनर का इस्तेमाल करना चाहिए और उसके बाद आंखों के ऊपर पाउडर बेस्ड आईशैडो लगाना चाहिए।

Image Source- Pixabay

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

क्या आपको भी लगता है Waxing करवाने से डर ?

3 टिप्स जो आपके waxing एक्सपीरियंस को बनाएगा painless


Remove this fear from your mind before getting waxedआज के समय में सुन्दर दिखना भला किसे पसंद नहीं होता? आज के समय में खुद को सुन्दर बनाने और दिखाने के लिए मार्किट में बहुत सारी चीजे मौजूद है। आज के समय में किसी भी लड़की को अपने फेस और बॉडी पर बाल बिलकुल भी पसंद नहीं होते है। इस लिए आज के समय में बॉडी और फेस पर मौजूद अनचाहे बालों को हटाने के लिए कई सारी तकनीक मौजूद हैं। रेजर से लेकर वैक्सिंग तक आज के समय में हमारे पास बहुत सारी चीजे उपलब्ध है। लेकिन इन सभी चीजों में से रेजर को बाल हटाने के लिए सबसे कम दर्दनाक माना जाता है। लेकिन वैक्सिंग एक ऐसी चीज है जिसे आपको थोड़ा दर्द जरूर महसूस होगा लेकिन वैक्सिंग को आप लंबे समय के लिए कर सकते है। अगर आप दो से तीन सप्ताह के लिए हेयर फ्री रखना चाहती है तो आप वैक्सिंग को चुन सकती है। लेकिन ज्यादातर लड़किया जब भी वैक्सिंग के बारे में सोचती है तो वह इसे होने वाले दर्द के बारे में सोच कर ही सेहम जाती है। तो चलिए आज हम आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताएंगे जिन्हे आप ध्यान में रख कर वैक्सिंग से होने वाले दर्द से बच सकते है।

बालों के बहुत लंबे होने का इंतजार न करें: अपने देखा होगा कि बहुत सारी महिलाएं बालों की अच्छी ग्रोथ होने के बाद ही वैक्सिंग करवाने का प्लॉन करती है। क्योंकि अक्सर महिलाओं को लगता है लम्बे बालों में वैक्सिंग करवाना ही अच्छा रहेगा। लेकिन ऐसा बिलकुल भी नहीं है आपको न तो बिलकुल छोटे बालों में वैक्सिंग करनी चाहिए न ही बहुत बड़े बालों में। ऐसा इसलिए क्योंकि  अगर आपके बाल बहुत छोटे होंगे हो तो वो वैक्सिंग की पकड़ में नहीं आएंगे और अगर बहुत बड़े होंगे तो आपको वैक्सिंग के समय बहुत ज्यादा दर्द होगा।

Read more: एक समय पर ये बॉलीवुड हसीनाएं थी ओवरवेट, लेकिन आज बन चुकी है लोगों की फिटनेस इंस्पिरेशन

प्रेग्नेंसी में नहीं करनी चाहिए वैक्सिंग:
 अपने देखा होगा कि जब भी कोई महिला अपने प्रेग्नेंसी के दौर में होती है तो उस समय पर वो अपने शिशु को लेकर अधिक सतर्क हो जाती है। और लोगों द्वारा सुनी सुनाई बातों पर भी विश्वास करने लगती है। कुछ महिलाये मानती है  कि प्रेग्नेंसी के दौरान वैक्सिंग नहीं करवानी चाहिए, क्योंकि इससे बच्चे पर बुरा असर पड़ता है। जबकि ऐसा बिलकुल भी नहीं है। आप चाहो तो अपने प्रेग्नेंसी के दौर में भी वैक्सिंग करवा सकती हैं। इस समय पर हार्मोनल का उतार-चढ़ाव अधिक होने के कारण आपकी स्किन अधिक सेंसेटिव हो जाती है ये बिलकुल आपके पीरियड के समय की तरह होता है।

वैक्सिंग के दौरान आपकी स्किन पर रिंकल्स हो सकते हैं: कुछ महिलाओं का माना है कि वैक्सिंग के बाद स्किन पर रिंकल्स हो सकते है। क्योकि वैक्सिंग के दौरान स्किन को स्ट्रेच किया जाता है, जिसके कारण यह सैगिंग हो सकती है या फिर आपको रिंकल्स की समस्या हो सकती हैं। लेकिन ये गलत है क्योकि एक अच्छा वैक्सिंग थेरेपिस्ट हमेशा वैक्स करते समय आपकी स्किन को कोई नुकसान नहीं होने देता। इसलिए वैक्सिंग के लिए हमेशा आपको एक अच्छा पार्लर का चयन करना चाहिए।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

How to use foundation on face: अगर आपको भी चाहिए एक परफेक्ट मेकअप लुक, तो न करें फाउंडेशन से जुड़ी ये गलतियां

जानें फाउंडेशन और कंसीलर इस्तेमाल करने का सही तरीका


आपने देखा होगा कि ज्यादातर लड़कियों के मेकअप बॉक्स में फाउंडेशन क्रीम जरूर होती है क्योंकि फाउंडेशन और कंसीलर ये एक ऐसी चीज होती है जो भले ही सबसे आम मेकअप प्रोडक्ट्स में से एक हो लेकिन इनका सही इस्तेमाल अभी भी बहुत से लोगों को करना नहीं आता है. तो चलिए आज हम आपकी इसी सिलसिले में मदद करने की कोशिश कर रहे हैं.  जिससे की आप फाउंडेशन और कंसीलर लगाने में कोई गलती ना करें और सही तरीके से फाउंडेशन और कंसीलर का इस्तेमाल कर सके.

फाउंडेशन लगाने से पहले स्किन को एक्सफॉलिएट और मॉइश्चराइज़ ना करें

अगर आप दीवाली के समय पर अपने घर की बिना घिसाई के पेंट करने लगेंगी तो ना तो पेंट अच्छी तरह हो पाएगा और न ही वो ज़्यादा दिनों तक टिकेगा.  यही लॉजिक आपकी स्किन के मेकअप पर भी लागू होता है. अगर आप अपनी गंदी और फ्लेकी स्किन को बिना साफ़ किये उस पर फाउंडेशन लगाने लगेगी तो आप कितने भी अच्छे और मेकअप प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल कर ले वो मेसी और टैकी ही लगेगा.  अगर आप एक अच्छा मेकअप लुक चाहती है तो इसके लिए नियमित रूप से एक्सफॉलिएट करना और मॉइश्चराइज़ करना बहुत ज़रूरी है.  मेकअप लगाने और स्किन को एक्सफॉलिएट करने के बीच में कम से कम 3-4 घंटे का गैप रखना चाहिए. ठीक इसी तरह मॉइश्चराइज़र लगाने के तुरंत बाद फाउंडेशन ना लगाएं. मॉइश्चराइज़र को 10-15 अब्ज़ॉर्ब होने का टाइम दें.

 

और पढ़ें: 5 फल जिनका प्रेग्नेंसी के दौरान बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए सेवन

Image source – canva

प्राइमर: बहुत सारे लोगों को लगता है कि प्राइमर जरूरी नहीं है लेकिन ऐसी कई कारण हैं जो प्राइमर को मेकअप का एक अहम हिस्सा बनाता है. मेकअप शुरू करने से पहले एक स्मूद बेस की ज़रूरत होती है. जिसके लिए प्राइमर बहुत ज़्यादा ज़रूरी है. प्राइमर आपके पोर्स को भर के अनइवेन एरियाज़ को भर देता है.

कंसीलर: एक बहुत ही नार्मल गलती जो हम सभी लोग करते है. हम में से ज़्यादातर लोग दाग-धब्बों और झाइयों को छुपाने के लिए हम फाउंडेशन से पहले कंसीलर लगाते हैं.  अब कंसीलर लगाने के बाद जब आप फाउंडेशन लगा कर उसे ब्लेंड करती हैं तो उसके साथ ही पहले से लगाया हुआ कंसीलर भी ब्लेंड हो जाता है और आपके ब्लेमिशेज़ फिर से नज़र आने लगते हैं.

चेहरे के कुछ हिस्सों पर ज्यादा प्रोडक्ट लगाना: चेहरे के कुछ हिस्सों पर आपको बहुत अच्छे से ब्लेंड करने की ज़रूरत है वो है आपके नाक की टिप और जॉलाइन.  इन दो जगहों पर आपको अपने फाउंडेशन और कंसीलर को शीयर होने तक ब्लेंड करना चाहिए. इससे आपका मेकअप लुक बहुत प्यार आएगा.

 

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

जानें रोजाना योगासन करने से आपको कैसे मिल सकती है हेल्दी और ग्लोइंग स्किन

जानें हेल्दी और ग्लोइंग स्किन पाने में योग का योगदान


क्या आपको पता है हमारे डेली ब्यूटी रूटीन में, मन और दिमाग की शांति और आध्यात्मिक संतुलन एक बेहद जरूरी भूमिका निभाते हैं.  इस बात पर भले ही हमारा ध्यान नहीं जाता, लेकिन हमारी त्वचा से जुड़ी अधिकतर समस्याएं हमारे शरीर के फ्लूइड्स में असंतुलन होने से हमारा रक्त संचार खराब होने लगता है और एक्सरसाइज ना करने से ओर अधिक तनाव होने लगता हैं. लेकिन इन सभी चीजों को संतुलित करने में योग हमारी काफी ज्यादा मदद करता है. इतना ही नहीं योग हमारी त्वचा की खूबसूरती बढाने में हमारी मदद करता है.  तो चलिए आज हम आपको रोजाना योगासन करने के फायदे बताएंगे और साथ ही जाने रोजाना योगासन करने से आपको कैसे मिल सकती है हेल्दी और ग्लोइंग स्किन.

 

रक्त संचार: शायद अगर अपने ध्यान दिया हो तो स्किन में इंफ्लेमेशन और फ्री रेडिकल्स के कारण हमारी स्किन पर एजिंग साइन दिखने लगते है. क्या आपको पता है रोजाना योग का अभ्यास करने से चेहरे में रक्त का प्रवाह बढ़ता है साथ ही साथ ऑक्सीजन और अन्य पोषक तत्वों को स्किन की सेल्स तक पहुँचता है. आपको रोजाना उत्तानासन पोज़ करना चाहिए क्योकि इसमें सिर नीचे की ओर जाता है जिससे स्किन को ब्लड की आपूर्ति होती है और आपकी सेल्स को ऑक्सीजन बूस्ट मिलता है.

 

और पढ़ें: जानें सर्दियों में अदरक का काढ़ा पीने के अद्भुत फायदे, एलर्जी से लेकर पाचन तक में है बेहद फायदेमंद

 

 

झुर्रियों को कम करे: क्या आपको पता है योग जितना आपकी सेहत के लिए फायदेमंद है उतना ही ये आपकी त्वचा के लिए फायदेमंद है. रोजाना योग करना आपकी त्वचा को टाइट और स्मूथ बनाने के लिए भी बहुत फायदेमंद है. रोजाना योग करने से आपके माथे की मांसपेशियों और आंखों के आस-पास की स्किन को हम करने में मदद मिलती है.

 

चेहरे का फैट: अक्सर लोगों के सामने ये समस्या आती है जब उनको एक समय के बाद अपने गाल और चेहरे पर आ रहा फैट उनको बिलकुल भी पसंद नहीं आता.  ऐसे में आप योग कर के इस फैट को कम कर सकते है गाल, होंठों और जबड़े के लिए भी योग आसन मौजूद हैं. इनकी सहायता से आप अपने चेहरे का फैट कम कर सकते है.

 

डबल चिन: अपने अक्सर लोगों में डबल चिन देखा होगा.  लेकिन क्या आपको पता है ये समस्या लोगों में कहां से पैदा होती है अक्सर लोगों में डबल चिन मुख्य रूप से अत्यधिक वजन, कोलेजन की कमी और बढ़ती उम्र के कारण होता है. जो हमारे चेहरे की अपीयरेंस को खराब कर सकता है. इसलिए आपको रोजाना योग करना चाहिए इससे आपको इस तरह की समस्या नहीं आती.

 

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

अगर आप भी सर्दियों में होने वाले डैंड्रफ से है परेशान तो अपनाये ये घरेलू उपचार

जाने डैंड्रफ से छुटकारा दिलाने वाले घरेलू उपायों के बारे में


सर्दियों में डैंड्रफ होना एक सामान्य त्वचा की स्थिति है.  जो हमारे स्कैल्प पर प्रभाव डालती है. सर्दियों में डैंड्रफ होने के अनेकों कारण है. वैसे तो डैंड्रफ होना एक तरह की गंभीर समस्या है और सर्दियों में ये और भी ज्यादा खतरनाक हो जाती है. इतना ही नहीं सर्दियों में डैंड्रफ के कारणों में भी बढ़ोत्तरी हो जाती है और हमें अपने बालों पर डैंड्रफ के कई लक्षण देखने को मिलते हैं.  जिनमें से ज्यादातर लोगों को स्कैल्प की परत का गिरना और हल्की खुजली की समस्या होती है.  आपने देखा होगा की लोग बहुत सारे ऐसे प्रोडक्ट इस्तेमाल करते है जो डैंड्रफ से छुटकारा दिलाने का दावा करते है.  लेकिन ये बात तो हम सभी लोग जानते है कि घरेलू उपाय से बेहतर कुछ नहीं हो सकता. मार्किट में मिलने वाले प्रोडक्ट से कई गुना ज्यादा घरेलू उपचार प्रभावी होते है तो चलिए आज हम आपको डैंड्रफ से छुटकारा दिलाने वाले घरेलू उपायों के बारे में बतायेगे.

 

1. वैज्ञानिक शोध के मुताबिक, अगर आपके पास एक ऑयली स्कैल्प है, तो आपके सर पर रूसी का अनुभव होने की अधिक संभावना होती है.  ऐसे में अगर आप अपने बालों की देखभाल नहीं करते हैं तो इससे स्थिति और भी ज्यादा खराब हो सकती  है। हमारे स्कैल्प पर अत्यधिक तेल उत्पादन हमारे सर पर रूसी के लिए आधार है क्योंकि तेलीयता खमीर नामक एक  बैक्टीरिया की वृद्धि की ओर जाता है.

 

और पढ़ें: जाने उन प्रोडक्ट्स के बारे में जो स्ट्रेच मार्क्स को कम करने में करेंगे आपकी मदद।

 

 

2. अगर आपके पास एक ड्राई स्कैल्प है तो आप पहले से ही दूसरे लोगों की तुलना में कुछ क्षेत्रों में चंचलता और खुजली का अनुभव कर सकते हैं.  ऐसे में अगर आप तेल न लगाए तो सूखे स्कैल्प में नमी की कमी हो जाएगी और आपके सर पर डैंड्रफ की समस्या आने लगेगी.  अत्यधिक शैंपू करना  प्राकृतिक तेलों की स्कैल्प को छीन सकता है इसलिए आपको बार- बार बाल भी नहीं धोने चाहिए.

 

3. अगर आप कार्डियो और वजन जैसे लंबे अंतराल के लिए गंभीर व्यायाम से गुजर रहे हैं तो ऐसी स्थिति में आपको पसीना ज्यादा आने का खतरा होता है. साथ ही साथ आपको ऐसी स्थिति में डैंड्रफ भी ज्यादा होने की संभावना होती है. ऐसे में आपको ये सुनिश्चित करना चाहिए कि अभ्यास के बाद आप अपने बालों को धो लें.

 

4. सर पर डैंड्रफ होने में उम्र भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है. क्योंकि किसी भी व्यक्ति के शरीर में वसामय ग्रंथियां गतिविधि की ऊंचाई होती हैं.  ये ग्रंथियां स्कैल्प पर लगातार और इस आयु वर्ग के बीच तेल का उत्पादन करती हैं. जिसके कारण रूसी अधिक जिद्दी हो जाती और जल्दी हटती भी नहीं है.

 

5. अगर आप लम्बे समय तक अपने बालों को धोने से बच रहे हैं तो आपको रूसी का सामना करना पड़ सकता है. अगर आपके पास एक ऑयली स्कैल्प है तो आपको सप्ताह में कम से कम दो बार अपने अयाल को धोना चाहिए यानि की अपने बालों को धोना चाहिए क्योंकि आपकी स्कैल्प की सफाई न करने से गंभीर मृत त्वचा कोशिकाएं और तेल का निर्माण हो सकता है, जो देखने में आपको रूखा लगेगा.

 

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

अगर आप भी लोहड़ी पर चाहते है परफेक्ट पंजाबी लुक, तो फॉलो करे ये ड्रेस्सप आइडियाज

लोहड़ी पर पंजाबी लुक के लिए फॉलो करें ये टिप्स


साल की शुरुआत के साथ ही सबसे पहला त्यौहार लोहड़ी का आता है.  यह उत्तर भारत का एक लोकप्रिय त्यौहार है. लेकिन लोहड़ी का त्यौहार सबसे ज्यादा पंजाब में मनाया जाता है.  पंजाब के अलावा ये त्यौहार हरियाणा, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, और जम्मू-कश्मीर में भी काफी धूमधाम से मनाया जाता है. वैसे तो लोहड़ी हो या फिर कोई और त्यौहार लड़कियां हमेशा नए लुक को अजमाती रहती है.  अगर हम लोहड़ी की बात करें तो इस दिनों ज्यादातर लड़कियां चाहती है कि उनके लुक में पंजाबी टच जरूर आएं.  अगर आप भी इस लोहड़ी पर पंजाबी लुक चाहते है तो आप फॉलो कर सकते है ये टिप्स….

 

लोहड़ी पर ब्राइट कलर्स पहनें: अगर आप लोहड़ी पर पंजाबी लुक चाहते है तो आप इस दिन ब्राइट कलर्स पहन सकते है. आप रेड, चेरी रेड, ऑरेंज, ग्रीन, मेहरुन, रॉयल ब्लू जैसे ब्राइट कलर्स पहन सकते है. अगर आपका मन पटियाला सूट पहने का है तो आपको ट्रेडिशनल पटियाला सूट ही पहनना चाहिए.  तो ही आपका परफेक्ट पंजाबी लुक आएगा. अगर आप अपने लुक को और ज्यादा परफेक्ट बनाना चाहती हैं तो लोहड़ी पर पटियाला सलवार के साथ नी लैंथ से ऊपर का कुर्ता अवॉइड करे.

 

और पढ़ें: अगर आप भी है टैटू लवर, तो इन टीवी एक्ट्रेसेज के बोल्ड टैटूज आपको कर सकते है आकर्षित

 

फुलकारी दुपट्टा: अगर आपके पास कोई हैवी पटियाला सूट नहीं है और न ही आप बनवाना चाहते है तो कोई  टेंशन वाली बात नहीं है। आप चाहे तो किसी भी रंग के प्लेन पटियाला या फिर किसी हल्की इंब्रायड्री वाले सूट के साथ हैवी फुलकारी  दुपट्टा ले सकते हैं.

 

परिन्दी को जरूर इस्तेमाल करे: आपने देखा होगा कि ज्यादातर लोग लोहड़ी के दिन पटियाला सलवार कमीज पहना पसंद करती है.  पंजाबीयों में पटियाला सूट को ट्रे़डिशनल पहनावा माना जाता है. और अगर पंजाबी ट्रे़डिशनल पहन वे की बात करे तो कोई भी परिन्दी को कैसे भूल सकता है। लोहड़ी के दिन लड़कियां बड़े चाव से इनका यूज करती हैं.

 

जूतियां: जब आप लोहड़ी पर ट्रे़डिशनल पटियाला सूट पहनते है और साथ में फुलकारी दुपट्टा के साथ परिन्दी पहनते है तो उसके बाद जो आपका लुक निकल कर आता है वो बेहद खूबसूरत होता है और आपके इस बेहद खूबसूरत लुक पर चार चाँद जब लग जाते है जब आप इसके साथ जूतियां पहनते है. आप चाहो तो लोहड़ी पर घुंघरू और कशीदे वाली जूतियां भी पहन सकते है.  ये आपको एक परफेक्ट लुक देगा.

 

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

जानें सर्दियों में स्टीम लेने के अनोखे फायदे

स्टीम से सर्दी जुखाम के साथ-साथ फ्लू से भी मिलता है छुटकारा


जैसा की हम सभी लोग जानते है कि सर्दियों का मौसम शुरू होने के साथ ही ज्यादातर लोगों को सर्दी, जुकाम, खांसी और फ्लू जैसी बीमारियां हो जाती हैं. बदलते मौसम के साथ ये होना एक नार्मल बात है.  इन बीमारियों से निपटने के कई घरेलू नुस्खे है. जोकि अक्सर हमारी दादी, नानी या माँ हमें देती रहती हैं.  जिनमें से एक है गर्म पानी से भाप लेना.गर्म पानी से भाप लेना एक सरल और तुरंत राहत पहुंचाने वाला तरीका है.  लेकिन कुछ लोगों का कहना होता है कि ये कोई काम नहीं करता. बल्कि कुछ लोगों को भाप लेने का सही तरीका पता नहीं होता है. तो चलिए जानते है भाप लेने का सही तरीका.

जाने भाप लेने का सुरक्षित तरीका

अगर हम भाप को सुरक्षित तरीके से लेने की बात करते है तो डॉक्टर के अनुसार, एक बड़े कटोरे में पर्याप्त मात्रा में पानी लें और उसमें हर्बल और जरूरत के हिसाब से मिंट (पुदीना)मिला लें. उसके बाद अपने सिर को किसी साफ और हल्के तौलिए से ढक लें और कटोरे को अपने सर से लगभग 30 सेंटीमीटर की दूरी पर रखें. ध्यान रहे कि पानी का कटोरा और आपका सिर उस तौलिये से अच्छी तरह ढका रहे. उसके बाद आपको एक या दो मिनट तक नाक से सांस लेनी होगी. उसके बाद एक ब्रेक लें और फिर दोबारा ऐसा ही करें.

और पढ़ें: अगर आप भी चाहते है सर्दियों में सुंदर, लंबे  और चमकदार बाल, तो फॉलो करें ये हेयर केयर टिप्स

जाने कैसे काम करती है भाप

सर्दियों के मौसम में ज्यादातर लोगों को सर्दी, जुकाम, खांसी और फ्लू जैसी बीमारियां हो जाती हैं। ऐसे में भाप लेने से नाक और गले के जरिए फेफड़ों तक गर्म हवा पहुंचती है. जिसे आपको सर्दी, जुकाम और खांसी में काफी ज्यादा राहत मिलती है. गर्म भाप लेना एक चिकित्सीय तरीका है.  इस प्रक्रिया के द्वारा नाक और गले तक गर्म हवा पहुंच जाती है. जिसे काफी ज्यादा रहत मिलती है. गर्म भाप लेने से बंद नाक खुलती है जिसे आपको सांस लेने में दिक्कत नहीं होती. इतना ही नहीं गर्म भाप लेने से शरीर का तापमान भी बढ़ता है. साथ ही साथ ब्लड धमनी का विस्तार हो जाता है.

सर्दियों में भाप लेने के फायदे

1. सर्दी, जुकाम, खांसी और फ्लू जैसी बीमारियां में भाप लेना रामबाण की तरह काम करता है. भाप लेने से न केवल आपकी सर्दी ठीक होगी, बल्कि गले में जमा हुआ कफ भी आसानी से निकल जाता है.

2. सर्दियों के मौसम में अस्थमा के रोगियों को देखभाल की खास जरूरत होती है. अगर आपको अस्थमा की परेशानी है तो आप भाप ले सकते है इससे आपको सांस फूलने से राहत मिलेगी.

3. अगर आपके फेस पर मुंहासे हैं तो आप बिना देर किए अपने चेहरे को भाप दीजिए. इससे आपके रोमछिद्रों में जमी गंदगी और सीबम आसानी से निकल जांएगे और आपकी त्वचा साफ हो जाएगी.

4. अगर आपको अपने फेस से झुर्रियों को हटाना है तो भाप लेना आपके लिए एक अच्छा ऑप्शन है. मृत त्वचा को हटाने एवं झुर्रियों को कम करने में भाप बेहद फायदेमंद होती है.

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com