Categories
पॉलिटिक्स

अगर पार्टी चाहेगी तो मैं लड़ूंगी : शीला दीक्षित

उत्तर प्रदेश 2017 में होने वाले चुनाव के लिए कांग्रेस की तरफ से मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार के रूप में शीला दीक्षित को पेश किया जा रहा है। इस पर शीला दीक्षित से पूछा गया तो उन्होेंने साफ कह दिया कि अगर पार्टी चाहेगी तो मैं लड़ूंगी।

शीला दीक्षित

पहले ख़बरें आ रही थी कि शीला उत्तर प्रदेश चुनाव में पार्टी का चेहरा बनने की इच्छुक नहीं है। शीला दीक्षित के नाम का सुझाव पार्टी के रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने दिया था। प्रशांत किशोर शीला को ब्राह्मण चेहरे के रूप में पेश करना चाहते थे।

पार्टी ने शीला को अपनी राय पर दोबारा गौर करने को कहा गया था। अब शीला ने अपने फैसले को बदल दिया है और नई भूमिका को स्वीकार करने का फैसला किया है। पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी से पिछले माह की शुरुआत में मुलाकात की थी।

पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शीला दीक्षित को दो विकल्प दिए थे एक यूपी में पार्टी का चेहरा बनने का और दूसरा पंजाब में चुनाव के लिए पार्टी की कमान संभालने का। तो शीला ने यूपी को चुना है।

आप को बता दें, शीला दीक्षित के ससुर उमाशंकर दीक्षित उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के दिग्गज नेता थे।

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments