दिल्ली में आज से शुरू होगा सीरोलॉजिकल सर्वे, एंटीबॉडी से लगाएंगे कोरोना संक्रमण का पता


गृह मंत्रालय का बड़ा बयान, 20 हजार लोगों की एंटीबॉडी से की जाएगी जांच


अभी पूरा देश कोरोना वायरस के कारण परेशान है। ऐसे में कल गृह मंत्रालय ने सीरोलॉजिकल सर्वे की जानकारी देते हुए कहा कि 20 हजार लोगों में एंटीबॉडी से जांच की जाएगी। कोरोना वायरस का पता लगाने और इससे रोकने के लिए आज से दिल्ली में सीरोलॉजिकल सर्वे की शुरुआत की जाएगी। गृह मंत्रालय की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक अब आधे घंटे में ब्लड टेस्ट के आधार पर यह पता लगाया जायेगा कि व्यक्ति के शरीर में कोरोना वायरस से लड़ने के लिए एंटीबॉडी है या नहीं। अगर हम इससे आसान शब्दों में समझे तो इसका मतलब है अगर कोई व्यक्ति कोरोना वायरस से सक्रमित होता है और अगर उस व्यक्ति में किसी भी प्रकार का लक्षण नहीं दिखता, तो पांच से सात दिन में उस व्यक्ति के शरीर में एंटीबॉडी बनना शुरू हो जाती है।

सीरोलॉजिकल सर्वे ली जाएगी आरोग्य सेतु और इतिहास मोबाइल एप की मदद

एंटीबॉडी से जांच कर यह पता लगाया जायेगा कि व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव है या नहीं। साथ ही इससे ये भी पता चल जायेगा कि दिल्ली में किस इलाके में सबसे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव लोग है और किस इलाके में सबसे ज्यादा लोग इससे ठीक हुए है। कुछ दिन पहले गृह मंत्री अमित शाह ने अरविंद केजरीवाल और उपराज्यपाल अनिल बैजल से सीरोलॉजिकल सर्वे पर चर्चा की थी। यह सर्वे एनसीडीसी और दिल्ली सरकार संयुक्त रूप से मिल कर करेंगे। गृह मंत्रालय के अनुसार सीरोलॉजिकल सर्वे आज से शुरू किया जायेगा। साथ ही इस सीरोलॉजिकल सर्वे में टीम आरोग्य सेतु और इतिहास मोबाइल एप की मदद लेगी।

और पढ़ें: अगर आप डाइट में खाते हैं ये चीजें तो कोरोना वायरस रहेगा दूर

serological survey delhi

दिल्ली सरकार को है दिशा-निर्देशों का इंतजार

सोशल मीडिया से मिली जानकारी के मुताबिक 21 जून को हुई बैठक में गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली के हर घर की स्क्रीनिंग और सर्वे के मास्टर प्लान पर चर्चा की था। सीरोलॉजिकल सर्वे प्लान के लिए केंद्र ने दिल्ली सरकार को भरोसा दिया था कि मास्टर प्लान में गृह मंत्रालय के पास दस दिन की रणनीति है। लेकिन अब दिल्ली सरकार का कहना है कि वो पिछले एक हफ्ते से प्लान के विस्तृत दिशा-निर्देशों का इंतजार कर रहे है। दिल्ली सरकार के सूत्रों का कहना है कि इस तरह के महत्वपूर्ण अभियान के लिए जल्द से जल्द दिशा-निर्देश मिलना बेहद जरूरी है। बिना किसी मास्टर प्लान और दिशा-निर्देशों के दिल्ली सरकार के लिए यह असमंजस में है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Story By : AvatarAarti bhardwaj
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
%d bloggers like this: