मनोज बाजपेयी की एक्टिंग दमदार , मगर लिखावट कमजोर


मनोज बाजपेयी की एक्टिंग दमदार , मगर लिखावट कमजोर


सात उचक्‍के की कहानी

मनोज बाजपेयी की एक्टिंग दमदार , मगर  लिखावट कमजोर:- आज बड़े पर्दे पर संजीव शर्मा के द्वारा डायरेक्‍ट की फिल्‍म ‘सात उचक्‍के’ रिलीज हो गई है। दो घंटे 19 मिनट की फिल्‍म की कहानी एक पागलखाने से शुरू होती है और पुरानी दिल्‍ली की दीवान साहेब की हवेली में खत्‍म होती है। दीवान साहेब का किरदार अभिनेता अनुपम खेर ने निभाया है और वो हवेली मे रहते है। फिल्‍म में पप्‍पी जाट नाम का एक लड़का है, जिसका किरदार मनोज बाजपेयी ने निभाया है। हग्गू , खप्‍पे, अज्‍जी, बब्‍बे और जग्गी तिरछा नाम के दोस्‍तों के साथ मिलकर पप्‍पी जाट ए‍क खजाने को लूटने का प्‍लान बनाता है। इस प्‍लान में मदद करने के लिए सोना नाम की एक लड़की भी जुड़ती है। सोना का किरदार अभिनेत्री अदिति शर्मा ने निभाया है। इस प्‍लान में पप्‍पी जाट कितने सफल होते है और क्‍या-क्‍या समस्‍या का सामाना करना पड़ता है। ये सब जानने के लिए आपको फिल्‍म देखनी होगी।

मनोज बाजपेयी की एक्टिंग दमदार , मगर लिखावट कमजोर
सात उचक्‍के

फिल्‍म के बारे में

फिल्‍म की लिखावट कमजोर है, आपको फिल्‍म देखते हुए वन लाइनर्स पर हंसी तो आएगी लेकिन पूरी में ये ही देखना मुश्किल लगेगा। अभिनेता मनोज बाजपेयी की एक्टिंग दमदार है तो वहीं अनुपम खेर और अन्‍नू कपूर की कास्टिंग ठीक नही है। अदिति शर्मा और विजय राज की एक्टिंग आप का दिल छू लेगी लेकिन फिल्‍म में इस्‍तेमाल की गई गालियों शायद पसंद ना आए। इस फिल्‍म में आप को पुरानी दिल्‍ली देखने को जरूरी मिलेगी।

फिल्‍म के गानों के बारे में

फिल्‍म के गाने ‘नजर लागी राजा’ और ‘छाप तिलक’ जैसे लोकगीत बहुत अच्‍छे से फिल्‍माए गए है। आप को फिल्‍म के गाने काफी पसंद आ सकते है। इस फिल्‍म को बनाए और प्रमोशन समेत लागत 12 करोड़ रूपये बताई जा रही है। इस फिल्म को एक साल पहले ही बनकर तैयार किया जा चुका था मगर सेंसर सर्टिफिकेट मिलने के लिए काफी मशक्कत की गई।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Story By : AvatarPriya Tayal
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
%d bloggers like this: