मनोरंजन

Rakshabandhan Review: कॉमेडी और इमोशन्स का सही बैलेंस है रक्षाबंधन साथ ही देती है ख़ास सोशल मैसेज

Rakshabandhan Review: कहानी और कास्ट दोनों में है दम, इस रक्षाबंधन ‘रक्षाबंधन’  जरूर देखें


Highlights: 
  • फिल्म 11 अगस्त को हो रही है रीलीज
  • फिल्म की कहानी, कास्ट काफी दमदार हैं।

ऐसी फिल्म जो आपको एक बार फिर उस सामाजिक कुप्रथा के बारे में सोचने पर मजबूर कर देगी जो सालों से हमारे समाज को खोखला बना रही है। ऐसी कहानी जो एक बार फिर उस सामाजिक मुद्दे को उठाती है जिसको हम मूक दर्शक बन किसी ठंडे बस्ते में डाल देते हैं। हम बात कर रहे हैं अक्षय कुमार की फिल्म रक्षाबंधन की। शायद ये हिंदी सिनेमा के उन फिल्मों में शामिल हो चुकी है जिसे लेकर किसी भी तरह का फैसला सुनाना थोड़ा मुश्किल हो सकता है। सबसे पहले तो जानले की अक्षय कुमार और पूरी स्टार कास्ट ने एक बेहतरीन फिल्म दी है।

फिल्म का सबसे मजबूत हिस्सा है फिल्म की कहानी। वो इसलिए क्योंकि कहीं – न – कहीं इस कहानी से हर इंसान रिलेट कर सकता है। फिल्म का मुख्य मुद्दा है दहेज। कहानी नाचती है एक ऐसे भाई के ईर्द – गिर्द जो अपनी बहनों का घर बसाने के लिए अपनी जान तक दाव पर लगा देता है। हम आपके सस्पेंस को ज्यादा नहीं तोड़ेंगे

आइए एक नज़र डालते हैं –

कहानी – फिल्म की सबसे मजबूत कड़ी है फिल्म की कहानी। इस फिल्म की कहानी हर उस आम इंसान की है जो दहेज की कुप्रथा में शामिल खुद को पाता है। कहानी बेहद संवेदनशील है जो मात्र संवेदना पर आके ही नहीं रूकती। कहानी फिल्म के लार्जर दैन लाइफ कंटेट को परोसती है जो दहेज जैसी कुप्रथा को हटाने की समाज से चीख – चीख कर गुजारिश करता है।

Read more: Kshama Bindu Honeymoon: क्षमा बिंदु बन गई Queen, जा रही है अकेले हनीमून पर!

फिल्म की कहानी आपको एक मिनट के लिए भी पलक झपकाने नहीं देगी। कहानी में इतना दम है जो आपको आखिरी पल तक जोड़े रखेगी। फिल्म में कॉमेडी और इमोशन्स को बखूबी बैलेंस कर रखा गया है जो बड़े अच्छे से दहेज जैसी कुप्रथा को चैलेंज करता दिखता है।

कास्ट – फिल्म की कास्ट बहुत मजबूत है। अक्षय कुमार फिल्म की जान हैं। ऐसे कई सीन्स हैं जिनमें उन्होंने अपनी एक्टिंग के रस को ऐसा निचोरा है जो सालों – साल तक लोगों के जेहन में रहेगा। फिल्म के ऐसे कई सीन्स हैं जिनमें वह बहुत प्योर लगे हैं। फिल्म में अक्षय कुमार के कैरेक्टर और उनकी एक्टिंग का साथ निभाया है भूमि पेडनेकर ने। भूमि की बेबाक एक्टिंग और डॉयलॉग डिलवरी पूरे फिल्म में कमाल की लगी है। अक्षय की बहनों के किरदार में सादिया खतिब, सेहेजमीन कौर, दीपिका खन्ना और स्मृति श्रिकांत ने अपने रोल्स बखूबी निभाये हैं।

गानें – गानों ने फिल्म में तड़का लगाया है प्यार, लगाव और इमोश्न्स का। सीन्स के साथ गानें इतने फिट बैठते हैं जिसका कोई जवाब नहीं है। फिल्म के गानें इतने दमदार हैं जो खुद फिल्म की कहानी बयाँ करते हैं। अरजीत और श्रेया की आवाज़ में फिल्म के गानें रक्षाबंधन त्योहार के गानों की लिस्ट में नया आयाम जोड़ने में सफल रहे हैं।

Read more: Gold Digger Actresses : रानी से विद्या तक जिन्हे so- called society ने दिया Gold Digger का टैग!

डायरेक्शन – फिल्म की कहानी जितनी उम्दा है उतनी ही उम्दा है फिल्म का डायरेक्शन। फिल्म को पुरानी दिल्ली की गलियों में फिल्माया गया है जो दर्शकों को खुद से कनेक्ट कर पाने में पूरा सफल रहा है। फिल्म में सीन्स के ट्रांजिशन काबिले – तारीफ रहे हैं।

तो इस रक्षाबंधन आप जाएं अपने भाई – बहनों के साथ इस फिल्म का लुफ्त उठाने और घर लाएं ढ़ेर सारा प्यार और लगाव।

फिल्म आपके नजदीकी सिनेमाघरों में 11 अगस्त को रीलीज हो रही है।
अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com
Back to top button