#DeathAnniversayRajeshKhanna – ‘सुपरस्टार’ की उपाधि के थे मालिक


बॉलीवुड के काका की 7th डेथ एनिवर्सरी


18 जुलाई साल 2012 में बॉलीवुड के काका ने आखिरी सांस ली थी.जी हाँ, “सुपर स्टार”  राजेश खन्ना ने इस दिन दुनिया को अलविदा कह दिया था और हमारे बीच में से वो स्टार जो कहता था ”जिंदगी एक सफर है सुहाना…यहां कल क्या हो किसने जाना”, सबको छोड़कर चला गया था.69 वर्ष के राजेश खन्ना का निधन किडनी इन्फेक्शन की वजह से हुई थी  

राजेश खन्ना का करियर

29 दिसंबर 1942 को पंजाब के अमृतसर में जन्मे राजेश खन्ना ने साल 1965 में यूनाइटेड प्रोड्यूसर्स और फिल्मफेअर टैलेंट हंट वालो से अपने करियर की शुरूआत की थी. इस टैलेंट हंट के जरिए वो 10000 लोगो में से चुने गए थे. राजेश खन्ना ने ना सिर्फ ये शो जीता बल्कि उनके पास लोगों के दिलों को भी जीतने का  हुनर था.

साल 1966 में पहली हिट फिल्म ‘आखिरी खत’ रिलीज के बाद से उनका फ़िल्मी करियर शुरू हुआ और एक के बाद एक सुपर हिट फिल्मों का सिलसिला जारी रहा. ‘आराधना’ और ‘दो रास्ते’ जैसे कई सुपरहिट हिट फिल्में देकर उन्होंने “सुपरस्टार” की उपाधि हासिल कर ली.1969 से 1971 के दशक में उन्हें एक साथ 15 हिट फिल्में देने वाले दिवंगत अभिनेता राजेश खन्ना का रिकॉर्ड अभी भी कायम हैं.

फैंस के बीच काफी लोकप्रिय रहने वाले राजेश जी की लोकप्रियता लड़कियों के बीच भी बहुत हिट थी. कभी -कभी तो उन्हें खून से लिखे खत मिलते थे. उन के स्टूडियों या प्रोड्यूसर के ऑफिस के बाहर राजेश खन्ना के लिए लड़कियों की लाइन लगी रहा करती थी। यहाँ तक की लड़कियां उनकी कार को भी नहीं छोड़ती थी और उससे चुम चुमकर सफेद रंग की उकार को गुलाबी कर दिया करती थी.

तू पसंद है किसी और की, तुझे चाहता कोई और है….

7 साल तक अभिनेत्री अंजू महेन्द्रू के साथ चले अफेयर पर पर्दा डालकर 1972 में राजेश जी ने डिंपल कपाडिया के साथ शादी कर ली. अहमदाबाद के नवरंगपुरा स्पोर्ट्स क्लब में चीफ गेस्ट बनकर गए राजेश जी ने अपना दिल डिंपल कपाड़िया को  दे दिया था. पहली नजर की दीवनगी शादी में बदल गयी. हालाँकि डिंपल के परिवार वाले इस शादी के खिलाफ थे.  उस समय डिंपल सिर्फ 16 साल की और राजेश 31 साल के थे.

राजेश खन्ना जी की फिल्मों के 10  बेहतरीन डायलॉग्स

1. “जिंदगी और मौत ऊपर वाले के हाथ में है जांहपनाह। उसे न तो आप बदल सकते हैं न ही मैं” फिल्म ‘आनंद’

2.”बाबू मोशाय जिंदगी बड़ी होनी चाहिए लंबी नहीं” फिल्म ‘आनंद’

3.”मैंने तुमसे कितनी बार कहा पुष्पा मुझे ये आंसू नहीं देखे जाते। आई हेट टियर्स” फिल्म ‘अमर प्रेम’

4.”मैंने तेरा नमक खाया है इसलिए तेरी नजरों में नमक हराम जरूर हूं” फिल्म ‘नमक हराम’

5.”मैं मरने से पहले मरने नहीं चाहता” फिल्म ‘सफर’

6.”इंसान को दिल दे, दिमाग दे, जिस्म दे पर कमबख्त ये पेट न दे” फिल्म ‘रोटी’

7.”एक छोटा सा जख्म बहुत गहरा दाग बन सकता है” फिल्म ‘अराधना’ से

8.”सेठ जिसे तुम खरीदने चले हो उसके चेहरे पर लिखा है नॉट फॉर सेल” फिल्म ‘अवतार’

9.न कोई तरंग है, न कोई उमंग है … मेरी ज़िन्दगी भी क्या एक कटी पतंग है

10.इस दुनिया में जब तक भलाई रुपए और पैसों से न तौली जाये … वह भलाई नहीं कहलाती

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.com

 

Story By : AvatarHemlata Gupta
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
%d bloggers like this: