निर्भया के दोषी मुकेश ने लगाई राष्ट्रपति से गुहार, भेजी मर्सी पेटिशन

0
3

निर्भया के दोषी मुकेश ने लगाई राष्ट्रपति से गुहार


16 दिसंबर 2012 को निर्भया के साथ हुई रेप और दरिंदगी की घटना ने सारे देश को शौक में डाल दिया था। हाल ही में दिल्ली कोर्ट ने निर्भया के चारों दोषियों मुकेश, पवन, विनय और अक्षय के खिलाफ डेथ वारंट या ब्लैक वारंट जारी करके फांसी के लिए 22 जनवरी सुबह 7 बजे का समय तय किया था। लेकिन 14 जनवरी 2020 को मुकेश ने राष्ट्रपति के पास अपनी मर्सी पेटिशंन यानि दया याचिका दायर भेजी हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने क्या किया याचिका पर

निर्भया गैंगरेप केस के चारों दोषियों में से दो दोषियों की सुधारात्मक याचिका यानि क्यूरेटिव पेटिशन को सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को खारिज कर दिया था। पहले विनय कुमार शर्मा ने अंतिम प्रयास के तहत कोर्ट में सुधारात्मक याचिका दायर की थी और फिर मुकेश सिंह ने भी पेटिशन दायर की थी। न्यायमूर्ति एन वी रमण की अध्यक्षता वाली पांच न्यायाधीशों की पीठ ने मौत की सजा पाने वाले चार मुजरिमों में से विनय शर्मा और मुकेश कुमार की सुधारात्मक याचिकाएं खारिज कर दीं।उसके बाद मुकेश ने आखिरी प्रयास के तौर पर राष्ट्रपति को मर्सी पेटिशन भेजकर दया की गुहार लगाई हैं।

पांच न्यायाधीशों की पीठ में हुई सुनवाई

दोषी विनय शर्मा और मुकेश की ओर से दायर की गई  क्यूरेटिव पेटिशन पर जस्टिस एनवी रमना, जस्टिस अरुण मिश्रा, जस्टिस रोहिंटन फली नरीमन, जस्टिस आर. भानुमति और जस्टिस अशोक भूषण की पांच जजों वाली बेंच ने सुनवाई की। कोर्ट के दोषियों को फांसी दिए जाने के फैसले के बाद अब आखिरी मौका राष्ट्रपति को दया याचिका भेजने का विकल्प बचता हैं। ईसिस का सहारा लेते हुए मुकेश ने अपनी याचिका दाखिल की हैं।

Read more: दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 – आम आमदी पार्टी के उम्मीदवारों की लिस्ट जारी

22 जनवरी डेथ वारंट जारी

निर्भया गैंगरेप मामले में दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने 7 जनवरी 2020 को सभी चारों दोषियों मुकेश, पवन गुप्ता, विनय शर्मा और अक्षय कुमार सिंह के खिलाफ डेथ वारंट जारी किया था जिसके अनुसार उन्हें  22 जनवरी को सुबह 7 बजे फांसी दी जानी है।

विनय की सुधारात्मक याचिका दायर

दोषी विनय कुमार शर्मा ने फांसी के फंदे से बचने के अंतिम प्रयास के तहत 9 जनवरी को सुप्रीम कोर्ट में सुधारात्मक याचिका दायर की थी जिसे अस्वीकार कर दिया गया है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments