लेटेस्ट

मोदी सरकार को मिली नई कामयाबी, जल्द बढ़ेगी भारत के एयरफोर्स की ताक़त

 बढ़ेगी भारत के एयरफोर्स और आर्मी की ताकत


कल्याणी और राफेल एडवांस सिस्टम लिमिटेड के बीच 1000 BARAK-8 MRSAM मिसाइल किट बनाने का समझौता हुआ है और मोदी  सरकार के दूसरे कार्यकाल कि यह दूसरी बड़ी कामयाबी है. भारत के एयरफोर्स और आर्मी की ताकत दुगनी हुई है और इससे पहले चंद्रयान-2 मिशन  पूरा हुआ था  . बता दे कि कल्याणी और राफेल एडवांस सिस्टम लिमिटेड के बीच 1000 BARAK-8 MRSAM मिसाइल किट बनाने का समझौता हुआ है. यह समझौता 100 मिलियन डॉलर का है. इसके उत्पादन इकाई की स्थापना हैदराबाद के रक्षा और एरोस्पेस हब में की गई है. बराक मिसाइल की किट भारतीय वायुसेना को सप्लाई की जाएगी जिसके बाद आर्मी  कि ताक़त  दुगनी हो जाएगी

इन 8 बराक मिसाइलें बनाने का काम तेलगाना स्थित बीडीएल कंपनी मीडियम रेंज करेगी. बीडीएल  कंपनी रक्षा मंत्रालय के अंतर्गत चलती  है. इससे पहले  स्पाइस स्मार्ट बम का निर्माण हैदराबाद यूनिट में किया गया था, जिसे बालाकोट एयरस्ट्राइक में गिराए गए थे. वही अब 1000 बराक-8 मिसाइल किट भारतीय सेना और एयरफोर्स को सप्लाई किए जाएंगे.

 भारत का सपना , चाँद मिशन भी हुआ पूरा

इसके अलावा भारत का चाँद मिशन यानी चंद्रयान -2 भी पूरा हो गया  है. जब भारत पहली बार चंद्रमा की सतह पर लैंडर और रोवर उतारेगा. इसे तैयार करने में तक़रीबन 11 साल का समय लगा.भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान  संगठन भारत के चंद्रयान -2 मिशन को 15 जुलाई को लॉन्च करेगा. चंद्रयान-2 का ऑर्बिटर चांद से 100 किमी ऊपर चक्कर लगाते हुए लैंडर और रोवर से प्राप्त जानकारी को इसरो सेंटर पर भेजेगा

साथ ही 400 मीटर की दूरी तय कर यह चाँद से सभी जानकारी को विक्रम लैंडर  पर भेज कर  लैंडर से ऑर्बिटर को डाटा भेजेगा. ऑर्बिटर उसे इसरो सेंटर पर भेजेगा. इस पूरी प्रक्रिया में करीब 15 मिनट लगेंगे.15 जुलाई को लॉन्च के बाद अगले 16 दिनों में चंद्रयान-2 पृथ्वी के चारों तरफ 5 बार ऑर्बिट बदलेगा फिर 6 सितम्बर को चांद के दक्षिणी ध्रुव के पास लैंडिंग करेगा.

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.com

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button
Hey, wait!

अगर आप भी चाहते हैं कुछ हटके वीडियो, महिलाओ पर आधारित प्रेरणादायक स्टोरी, और निष्पक्ष खबरें तो ऐसी खबरों के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करें और पाए बेकार की न्यूज़अलर्ट से छुटकारा।