हॉट टॉपिक्स

National Girl Child Day: बालिका दिवस के मौके पर जाने सरकार द्वारा लड़कियों का उत्साह बढ़ाने के लिए उठाए गए ‘ऐतिहासिक कदम’

National Girl Child Day: लड़कियों की मदद के लिए सरकार द्वारा उठाएं गए कदम : क्या आपको इनके बारे मे पता है?


Highlights:

  • जाने कब और क्यों मनाया जाता है राष्ट्रीय बालिका दिवस।
  • जनवरी को ही क्यों मनाया जाता है राष्ट्रीय बालिका दिवस।
  • सरकार द्वारा लड़कियों की मदद के लिए उठाएं गए कदम।

National Girl Child Day: हमारे देश में हर साल राष्ट्रीय बालिका दिवस 24 जनवरी को मनाया जाता है। आज के समय पर हमारे देश की लड़कियों की हिस्सेदारी हर क्षेत्र में है। लेकिन एक दौर ऐसा भी था जब लड़कियों को पैदा होने से पहले ही मार दिया जाता था और अगर लड़कियों का जन्म हो भी जाएं तो उन्हें कई प्रकार की कुप्रथाओ का शिकार होना पड़ता था और उन मे से एक थी बाल विवाह की प्रथा। लड़कियों के साथ लड़कों की तुनला में होने वाले भेदभाव और उनके साथ होने वाले अत्याचार के खिलाफ भारत सरकार आजादी के बाद से ही प्रयासरत हो गई थी। लड़कियों को आगे बढ़ाने और उनको प्रथम पायदान पर लाने के लिए सरकार द्वारा कई कानून लागू किए गए। इसी उद्देश्य से राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाने की शुरुआत भी की गई। लेकिन इस खास दिन को 24 जनवरी को मनाने की भी एक खास वजह है यह वजह भारत की पहली महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी से जुड़ी हुई है तो चलिए विस्तार से जानते है कब और क्यों हुई राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाने की शुरुआत। सिर्फ 24 जनवरी को ही क्यों मनाया जाता है बालिका दिवस?

जाने कब मनाया जाता है राष्ट्रीय बालिका दिवस

हर साल राष्ट्रीय बालिका दिवस 24 जनवरी को मनाया जाता है। इस ख़ास दिन को मनाने की शुरुआत साल 2009 से हुई। महिला बाल विकास मंत्रालय ने पहली बार राष्ट्रीय बालिका दिवस 24 जनवरी 2009 को मनाया था।

National Girl Child Day
National Girl Child Day

24 जनवरी को ही क्यों मनाया जाता है राष्ट्रीय बालिका दिवस।

हर साल हमारे देश में 24 जनवरी को राष्ट्रीय बालिका दिवस के तौर पर मनाया जाता है। यह दिवस 24 जनवरी को मनाने के पीछे एक ख़ास वजह है वो वजह इंदिरा गांधी से जुड़ी हुई है। ये बात तो हम सभी लोग जानते है कि साल 1966 में इंदिरा गांधी देश की पहली महिला प्रधानमंत्री बनी थी और 24 जनवरी को उन्होंने शपथ ली थी। इस लिए हमारे देश के इतिहास और महिलाओं के सशक्तिकरण में 24 जनवरी का दिन महत्वपूर्ण है।

Read more: INS Ranvir Explosion: आंतरिक कंपार्ट्मेंट में हुये विसफोट से हुआ हादसा, क्या आप जानते है 2007 से 2017 तक हो चुके है 62 बड़े हादसे?

सरकार द्वारा महिलाओं की सहायता के लिए शुरू की गई हेल्पलाइन 181

भारत सरकार द्वारा महिलाओं की मदद के लिए वुमन हेल्पलाइन 181 शुरू किया है। अच्छी बात यह है कि यह हेल्पलाइन नंबर देश के 28 राज्यों को कवर करती है। बता दें कि पिछले एक साल में इस हेल्पलाइन के जरिए 11 लाख महिलाओं ने शिकायत दर्ज कराई है और उनका निस्तारण किया गया है।

National Girl Child Day
National Girl Child Day

महिलाओं के लिए ऑनलाइन शिकायत सुविधा She Box

भारत सरकार द्वारा कार्यस्थल पर महिलाओं के साथ यौन उत्पीड़न की घटनाओं को रोकने के लिए और महिलाओं की मदद के लिए ऑनलाइन शिकायत दर्ज कराने की सुविधा शुरू की गई है। फिर चाहे वो सरकारी क्षेत्र की महिला कर्मचारी हो या फिर हो निजी क्षेत्र की, वह बिना किसी डर के ऑनलाइन शिकायत दर्ज करा सकती हैं।

Read more: Marriage Strike Trends on Twitter: क्या है Marriage Strike और क्यों है पुरुषों को महिलाओं के लिए होने जा रहे इस कानून में बदलाव से दिक्कत?

सरकार द्वारा कामकाजी महिलाओं के लिए हॉस्टल

सरकार द्वारा वर्किंग वीमेन हॉस्टल स्कीम शुरू की गई है इस स्कीम को शुरू करने का मुख्य मकसद कामकाजी महिलाओं को सुरक्षित और कम खर्चीला आवास उपलब्ध कराना है। इतना ही नहीं इन वर्किंग वीमेन हॉस्टल में छोटे बच्चों के लिए Day care सुविधा भी होती है। इस वर्किंग वीमेन हॉस्टल योजना के तहत पिछले साढ़े तीन साल में ऐसे हॉस्टल के 69 प्रस्ताव मिले हैं, जिनमें से 54 नए हॉस्टल बनाने के प्रस्तावों को भी मंजूरी दी गई है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Back to top button