Categories
बिना श्रेणी

कॉमेडिन जिनको हंसी की जगह मिली जेल की हवा और सोशल मीडिया पर लोगों की नफरत

साल की शुरुआत में ही मुनव्वर फारुकी को बिना सबूत के मिली जेल की हवा


कॉमेडियन एक ऐसा शख्स जो अपनी बातों से उदास चेहरों पर हंसी की एक मुस्कुराहट ले आते हैं. लेकिन पिछले कुछ समय से देखा जा रहा है कि कॉमेडियन पर अपने ही द्वारा की गई कॉमेडी के कारण सुर्खियों में बने रहते हैं. आज ‘काम की बात’ में हम ऐसे ही कॉमेडियन की हिस्ट्री बताएंगे जो कॉन्ट्रोवर्सी में बने रहते हैं.

 

मुनव्वर फारुकी

 

साल  की शुरुआत ही कॉमेडियन की गिरफ्तारी से हुई है. मुनव्वर फारुकी पहले भी अपनी कॉमेडी के कारण खबरों में बने रहते हैं. अक्सर पॉलिटिक्ल कॉमेडियन के कारण वह सुर्खियों में बना रहता है. इस साल की शुरुआत में ही कॉमेडियन मुनव्वर फारुकी को इंदौर में विरोध का सामना करना पड़ा है. इंदौर में मुनव्वर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. उस पर आरोप है कि इंदौर के एक कैफे में कॉमेडी के दौरान  हिंदू देवी देवताओं का मजाक उड़ाया और गृहमंत्री अमित शाह पर गोधरा कांड के लिए आपत्तिजनक मजाक किया था. इस बात का दावा बीजेपी की विधायक मालिनी गौर के बेटे एकलव्य गौर ने किया. जिसके बाद मुनव्वर समेत उसके चार साथियों एडविन एंटनी प्रकाश व्यास, प्रतीम व्यास और निलिन यादव के खिलाफ आईपीसी की धारा 295-A, 298, 269,288 और 34 के तहत मामला दर्ज किया है. वहीं इस बारे में एकलव्य गौर ने मीडिया को बताया कि वह और उसके साथी बकायदा टिकट खरीदकर कॉमेडी शो में पहुंच थे. जहां फारुकी को कॉमेडियन के तौर बुलाया गया था. एकलव्य का कहना है कि वहां हिंदु देवी देवताओं का मजाक बनाया गया. इतना ही नहीं गृहमंत्री अमितशाह पर अनुचित जिक्र भी किया गया था. वह हमेशा ही अपने शो में इस तरह की टिप्पणियां करता है. आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद हमने पहले शो के रुकवाया और बाद में इन्हें तुकोगंज पुलिस थाने ले गए.  इन सबके बीच जिस वीडियो का जिक्र लगातार किया जा रहा है पुलिस पड़ताल  में वह वीडियो में नहीं मिली. तुकोगंज को पुलिस का कहना है कि उन्हें मुनव्वर के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिल पाया है. लेकिन हैरानी की बात यह है कि अभी तक इस मामले में मुनव्वर और सदाकत खान को जमानत नहीं मिल पाई है.

 

और पढ़ें: किसान आंदोलन में स्लोगन और बॉयकॉट का नारा बना रहा है इसे और मजबूत

 

कुणाल कामरा

 

लंबे समय से यह देखा जा रह है कि कॉमेडियन को भी टारगेट किया जा रहा है. कभी सवाल पूछने पर तो कभी लोगों को हंसाने को लेकर. कुणाल कामरा दूसरा नाम है जो हमेशा अपने बयानों के कारण खबरों में बने रहते हैं. कुणाल साल 2019  के लोकसभा चुनाव से पहले अंबानी के घर के बाहर क्लिपबोर्ड लेकर बैठ गए थे. हाल ही में एक्टर सुशांत सिंह की मौत के बाद आर भारत न्यूज चैनल द्वारा लगातार लोगों को टारगेट बनाए जाने बाद कुणाल और अनुराग कश्यप आर भारत के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी के लिए  के चप्पल तोहफे के तौर पर ले गए थे. कुणाल हमेशा ही अपनी कॉमेडी में राजनीति को रखते है.  वह हर एक राजनीति घटना पर तेज नजर रखते हैं. पिछले साल अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर चलती बहस के बीच कुणाल ने एक ट्वीट कर अदालत की अवमानना के दायरे में आ गया था. दरअसल कुणाल ने एक ट्वीट करते हुए सुप्रीम कोर्ट की फोटो पर तिरंगा की जगह भगवा झंड़ा लगा दिया था. इसके बाद तो कुणाल पर अवमानना का केस बनना तय था और हुआ भी कुछ ऐसा ही न्यायमूर्ति अशोक भूषण, न्यायमूर्ति आर सुभाष रेड्डी और न्यायमूर्ति एम. आर.शाह की पीठ ने नोटिस जारी कर  कुणाल को जवाब देने का निर्देश दिया था.  इस बारे में अटॉर्नी जनरल के.वेणुगोपाल ने कुणाल  के खिलाफ आप राधिक अवमानना की कार्यवाही शुरु करने पर सहमति देते हुए कहा था कि ट्वीट खराब भावना के तहत किए गए थे और यह समय है जब लोग समझें कि शीर्ष अदालत पर ढिठाई से हमला करने पर अदालत अवमानना अधिनियम 1971 के तहत सजा हो सकती है. आपको बता दें अदालत के कारण बताओ के बाद भी कुणाल ने माफी मांगने से इंकार कर दिया था.

अग्रिमा जोशुआ

 

मुंबई से  ताल्लुक रखने वाली कॉमेडियन अग्रिम जोशुआ का नाम पिछले साल जुलाई के महीने में लॉकडाउन के दौरान सुर्खियों में आया. इससे पहले तक बहुत कम ही लोग इसे जानते थे. अग्रिमा का एक वीडियो क्लिप खूब वायरल हुआ जिसमें यह दिखाने की कोशिश की गई  कि वह मराठा गौरव छत्रपति शिवाजी महाराज का मजाक उड़ रही है. कुछ सेकेंड की इस वीडियो ने अग्रिमा के खिलाफ एफआईआर तक दर्ज करवा दी. लोगों द्वारा तरह-तरह की धमकियां दी जानी लगी. यहां तक की उसे रेप की धमकियां दी जाने लगी. शुभम मिश्रा ने तो उसे दम भर गालियां दी और रेप की धमकी दी थी. जबकि वीडियो के पूरे हिस्से में अपमान जैसा कुछ दिखा नहीं था. दरअसल अग्रिमा जोशुआ ने अपने कॉमेडी शो में समुद्र में बन रही छत्रपति शिवाजी महाराज की मूर्ति का  जिक्र करते हुए क्वेरा के जवाब का जिक्र किया था. जिसकी वीडियो को एडिट करके लोगों को सामने प्रस्तुत किया. इस सारी घटना के बाद अग्रिमा ने सोशल मीडिया पर माफी भी मांगी थी.

 

कीकू शारदा

 

कॉमेडी नाइटस विथ कपिल में हम सभी कीकू शारदा की कॉमेडी से लोटपोट हो जाते हैं. लेकिन आपको पता है इनकी यही कॉमेडी इनको जेल की हवा तक खिला चुकी है. साल 2016 में बाबा राम रहीम की जीवनी पर बनी फिल्म एमएसजी2 की रिलीज से पहले ही कॉमेडी नाइट्स विद कपिल में इस फिल्म  के सीन एक कॉमेडी एक्ट पेश किया था. जिसके बाद यह कहते हुए कीकू पर एफआईआर दर्ज की गई थी उससे भक्तों की आस्था पर ठेस पहुंच सकती है.

सुरलीन कौर

 

 

सुरलीन कौर भी लॉकडाउन के दौरान अपने कॉमेडी वीडियो के कारण सुर्खियों में आ गई थी. सुरलीन हमेशा ही अपनी कॉमेडी में वेद, संस्कृत, कामसूत्र का जिक्र करती थी. लेकिन स्कॉन पर कॉमेडी करना उसे महंगा पड़ गया. अपनी कॉमेडी में सुरलीन ने स्कॉन के ऋषि मुनियों और हिंदू धर्म पर टिप्पणी की थी. जिसके पर स्कॉन ने आपत्ति जताते हुए एफआईआर दर्ज करवाई थी. जिसके बाद सुरलीन कौर को माफी मांगनी पड़ी थी.

 

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments