भारत

14वें आसियान-भारत शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए मोदी हुए रवाना

भारत के प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी 14वें आसियान-भारत शिखर सम्मेलन और 11वें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए रवाना हो गए है।

बुधवार यानि आज से शुरू हो रही दो दिन की यात्रा से पहले अपने एक बयान में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, कि हमारी एक्ट-ईस्ट नीति के संदर्भ में आसियान महत्वपूर्ण साझेदार है और यह हमारे उत्तर-पूर्वी क्षेत्र के आर्थिक विकास के लिए महत्वपूर्ण भी है।

narendra-modi_650x400_81473054288

भारत के प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी

लाओस की राजधानी में आसियान और पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलनों में हिस्सा लेने जाने की पूर्व-संध्या पर नरेन्‍द्र मोदी ने यह भी कहा कि भारत दक्षिण-एशियाई देशों के साथ भौतिक और डिजिटल संपर्क बढ़ाने और आधुनिक और एक दूसरे से जुड़ी दुनिया का उपयोग आपसी फायदे के लिए करने का इच्छुक है।

प्रधानमंत्री मोदी ने दक्षिण पूर्वी एशियाई देशों के साथ भारत के संबंध को ऐतिहासिक बताते हुए कहा कि हमारे जुड़ाव और पहल को एक शब्द से व्यक्त किया जा सकता है, वह शब्‍द है ‘कनेक्टिविटी’।

आप को बता दें, विश्व नेताओं के साथ द्विपक्षीय बैठक के दौरान कुछ महत्वपूर्ण विषय भी प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के एजेंडा में शामिल होगों। इन शिखर सम्मेलनों में आसियान के दस राष्ट्राध्यक्ष, शासन प्रमुख और 11वें पूर्वी एशियाई सम्मेलन में 18 देश हिस्सा ले रहे हैं।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Back to top button