हॉट टॉपिक्स

पीएम मोदी ने बढ़ते कोरोना केस के बीच आज आठ राज्यों के मुख्यमंत्री से की वीडियो कांफ्रेंस के जरिए बाताचीत

केजरीवाल ने की 1000 आईसीयू बेड की मांग


कोरोना के बढ़ते कहर के बीच आज पीएम मोदी ने आठ सबसे प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से वीडियो कांफ्रेंस के जरिए बातचीत की.  जिसमें पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह शामिल नहीं हुए .सभी सात राज्यों में महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, गुजरात, राजस्थान, छत्तीसगढ़, दिल्ली, केरल के मुख्यमंत्री शामिल हुए.  इस मीटिंग के दौरान कोरोना वैक्सीन पर देश के प्लान की बात की गई. कांफ्रेंस में पीएम मोदी मे मुख्यमंत्रियों से कहा है कि वैक्सीन पर सरकार की नजर है. लेकिन हमें हर तरह की जरुरी सतर्कता पर ध्यान देने की जरुरत है. इतना ही नहीं पीएम मोदी से सभी मुख्यमंत्रियों को कहा है कि सभी कोविड19 को लेकर अपनी सलाह लिखित मे दें. कोई किसी पर अपने विचार न थोपे, ब्लकि सभी साथ मिलकर काम करें.  साथ ही कहा है हम चाहते हैं कि वैक्सीन हर नागरिक तक पहुंचे लेकिन पहली प्राथमिकता फ्रंटलाइन वर्कर्स की होगी.

केजरीवाल ने कहा प्रदूषण भी एक बड़ा कारण

कांफ्रेंस में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि 10 नवंबर के बाद कोरोना की थर्ड वेब के बाद केस बढ़ने लगे. उन्होंने बताया कि अचानक से बढ़े केस के पीछे कई कारण है. जिसमें सबसे प्रमुख है प्रदूषण पड़ोस के राज्यों में पराली जलाने के कारण स्थिति बहुत खराब हो गई है. जिस पर केंद्र सरकार को जरुरी कदम उठाने चाहिए.  साथ ही बढ़ते केस के बीच 1000 अतिरिक्त आईसीयू बेड की मांग की है.

और पढ़ें: गरीबों, मुस्लिमों, शोषितों के खिलाफ UAPA का इस्तेमाल कर रही है बीजेपी – ओवैसी

ममता दीदी ने की जीएसटी बकाया की मांग

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बैठक में बताया कि राज्य में अब सौ फीसदी आरटी-पीसीआर टेस्ट हो रहे हैं. इसके अलावा राज्य में नाइट कर्फ्यू लगाया जा रहा है.  वहीं ममता दीदी ने कांफ्रेंस ने जीएसटी का मुद्दा उठाया. उन्होंने पीएम से मांग की है कि केंद्र सरकार को राज्य सरकार का जीएसटी बकाया जारी करना चाहिए. काफ्रेंस में अपनी बात को रखते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बताया कि महाराष्ट्र सरकार ने एक टास्क फोर्स का गठन किया है. जो वैक्सीन के वितरण पर काम रही है. इतना ही नहीं हम सीरम इंस्टीट्यूट के अदार पूनावाला के संपर्क में बने हुए हैं.

पीएम मोदी का शायराना अंदाज

पीएम मोदी ने आज की वीडियो कांफ्रेंस में अपना संबोधन देते हुए कहा है कि केंद्र और राज्य सरकारों  की कोशिशों के बाद आज हम विश्व के कई देशों से अच्छी हालात मे हैं. हमारा रिकवरी रेट बढ़ रहा है. साथ ही डेथ रेट में कमी आई है. हमें आगे भी अपने प्रयास को जारी रखना होगा. ताकि इसे कम किया जा सके.

पीएम ने कहा कि जब से लोगों ने लापरवाही बरतनी शुरु कर दी है. केस लगातार बढ़ रहे हैं. लेकिन मैं बार-बार आप सबसे कहता हूं जबतक दवाई नहीं तबतक ढिलाई नहीं. शायराना अंदाज में पीएम ने यह भी कहा कि हमें ऐसी स्थिति नहीं लानी है जिससे यह कहना पड़े कि” हमारी किश्ती वहां डूबी जहां पानी कम था”.

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button