मिशन मंगल का टीजर आउट, चंद सेकंड में दिखाई दिया देश का प्यारा इतिहास

0

मिशन मंगल का टीजर आउट  


अक्षय कुमार की आगामी फिल्म मिशन मंगल का टीजर लांच कर दिया है। 45 सेकंड के इस टीजर में देश के सपने और इतिहास को बखूबी दिखाया गया है। यह फिल्म भारत में सक्सेस हुए मार्स ऑर्बिटर मिशन से जुड़ी हुई है।मिशन मंगल का पहला टीजर इस फिल्म के स्टार कास्ट के साथ रिलीज किया गया है। यह फिल्म मशहूर डायरेक्टर जगन शक्तिप द्वारा डायरेक्ट की गयी है।

11 जुलाई को रिलीज किया गया टीजर

11 जुलाई को मिशन मंगल का पहला टीजर सभी के सामने लाया गया है। इस टीजर में अक्षय कुमार यानी राकेश धवन सेटेलाईट लांच करने के लिए अपने टीम को कमांड देते नजर आ रहे हैं। टीम में कई बड़े सितारे लीड रोल के तौर पर कार्य कर रहे हैं। बता दें की फिल्म की कहानी भारत में 2013 में लांच किये गए मार्स ऑर्बिटर मिशन पर आधारित है।

लीड रोल में शामिल हैं ये कलाकार

फिल्म मिशन मंगल में लीड रोल में कुल 8 कलाकार शामिल हैं। अक्षय कुमार, तापसी पन्नू, विद्या बालन, सोनाक्षी सिन्हा,शरमन जोशी, कीर्ति कुल्हारी, नित्या मेनन लीड रोल में नजर आएंगे। इसके अलावा भी इस फिल्म में कई बड़े स्टार शामिल हैं।

अक्षय कुमार हमेशा से ही देश से जुडी अच्छी फिल्म देते आए है और मिशन मंगल फिल्म अक्षय की करियर

की एक बड़ी फिल्म साबित होगी

इस दिन रिलीज होगी फिल्म

फिल्म को रिलीज करने की तारीख 15 अगस्त तय की गई है। सूत्रों की माने तो देश से जुड़ी इस फिल्म को रिलीज करने का सबसे अच्छा अवसर स्वतंत्रता दिवस है। फिल्म इंडस्ट्री में देशभक्ति से जुड़ी फिल्म अकसर गणतंत्र दिवस या स्वतंत्रता दिवस के मौके पर रिलीज की जाती है।

इसरो ISRO ने किया कमेंट

11 जुलाई को टीजर लांच के बाद इसरो ने अक्षय कुमार द्वारा पोस्ट किए गए टीजर में रिप्लाई करते हुए लिखा “एक देश..एक सपना… इंडिया स्पेस की सुपरपावर बनने वाला है। कुछ दिनों में नया पड़ाव पार करने वाले हैं -#Chandrayaan 2

वहीँ, अक्षय ने इस कमेंट का रिप्लाई करते हुए कहते हैं “ISRO के लिए आसमान में कोई सीमा नहीं रही है। चंद्रयान 2 के लिए टीम को शुभकामनाएं।”

इस मिशन पर आधारित है फिल्म की कहानी

5 नवंबर 2013 को 2:38pm पर भारत के आंध्र प्रदेश में स्थित एसडीएससी स्पेस सेण्टर में पोलर सेटेलाईट लांचिंग वीकल राकेट सी-25 के जरिये मंगल्यान को छोड़ा गया था।

इंडिया के पहले और भी कई बड़े देश जैसे चाइना, अमेरिका ने भी मिशन मंगल की कोशिश की थी। लेकिन, उनके कई मिशन फेल हो गए थे। बाकी देशों ने कुल मिलाकर 51 मिशन लांच किये थे जिनमे से सिर्फ 21 मिशन ही सफल हो पाए थे। जबकि, इंडिया के इसरो का मार्स ऑर्बिटर मिशन बिना किसी फेलियर के मंगल के ऑर्बिट में जा सका और वहां पर जुडी कई जानकारियां दे पाने में सक्षम रहा।

उन्ही दिनों अमेरिका की स्पेस एजेंसी द्वारा मावेन मिशन भी लांच किया गया था। इस मिशन में अमेरिका पहले 6 बार फ़ैल हुआ था। अमेरिका की सेटेलाईट के प्रवेश होने के 48 घंटे बाद ही हमारा सेटेलाईट भी मंगल के ऑर्बिट पर पहुंच चुका था।इस तरह भारतीय वैज्ञानिकों के लिए यह गौरव की बात थी।

इतना ही नहीं यह मिशन बहुत ही कम लागत में पूरा हुआ है। इस मिशन में 450 करोड़ का ख़र्च आया था जो नासा के खर्चे से 10 गुना कम है।

अक्षय कुमार का बयान

अक्षय कुमार ने कहा कि वे हमेशा से ही इस तरह की फिल्म का हिस्सा बनना चाहते थे जो आंगे वाली पीढ़ी के लिए एक प्रेरणा का स्रोत बन सके और उन्हें प्रभावित करे।

Read More:- 12 साल  में इतना बदल चुके है दर्शील सफारी , यहाँ देखे exclusive picture 

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here