बिना श्रेणीलाइफस्टाइल

World Laughter Day 2019: तनावमुक्त जीवन जीने के लिए ज़रूरी है हँसी

अच्छे स्वास्थय के लिए  हँसना है जरुरी


हँसी एक दर्द मिटाने की दवा है शारीरिक बीमारियों और तनाव को दूर रखता है. बचपन मे हम खूब हस्ते है और खूब खिलखिलाते है लेकिन जैसे जैसे हम बड़े होते जाते है हमारे चेहरे  से हसी गायब होती जा रही है. शायद इसीलिए इस दिन को बनाने की आवश्यकता पड़ी और हमे याद दिलाया जा सके की हसँना हमारे लिए कितना ज़रूरी है.

कब मनाया जाता है ‘वर्ल्ड लाफ्टर डे ‘ ?

1998 से वर्ल्ड लाफ्टर डे हर वर्ष मनाया जाता है. भारत मे पहली बार लाफ्टर डे 10 मई 1998 को मनाया  गया था.  इसकी शुरुआत वर्ल्ड वाइड लाफ्टर योग मूवमेंट के फाउंडर डॉ. मदन कटारिया
ने की थी.
हॅसने से खून बढ़ता हैं , हम सेहतमंद रहते है और हसना हमारे स्वास्थ्य के लिए कितना ज़रूरी है ये हम सब लोग जानते ही है. बावजूद इसके हमारी भागदौड़ भरी  ज़िन्दगी से हसी गायब हो गयी है.
जाने हँसने से स्वाथ्य लाभ  क्या है?
ब्लड प्रेशर –
 से रक्तचाप को स्थिर रखने मे मदद मिलती है. ये दिल के दौरे और स्ट्रोक के जोखिम को कम करता है. जब आप खुल कर हस्ते है तो आपका  ब्लड प्रेशर नीचे  गिरता है जिसके कारण आपका स्ट्रेस लेवल भी कम होता है. जो हाइपरटेंशन रोगियों के लिए विशेष रूप से सहायक होता है.
कार्डियक हेल्थ 
हसना कार्डियक हेल्थ के लिए बहुत ज़रूरी है क्योकि ये हार्ट को पंप करने मे  मदद करता है ये एक अच्छी कार्डियक एक्सरसाइज है. जो बेडरेस्ट कर रहे रोगोयो के लिए काफी अच्छी है.
ऐब्स
लाफ्टर सेशन सही मे आपके पेट को कम कर सकता है क्योकि ये मासपेशियो के क्षेत्र मे सिकुड़न और राहत प्रदान करने मे मदद करता है. ये पेट के लिए बहुत ही आसान वर्कआउट है इसलिए फ्लैट पेट पाने के लिए लाफ्टर सेशन बहुत सहायक होता है.
तनाव को दूर भगाये – 
हसी तनाव हॉर्मोने को कम करती  है और प्रतिरक्षा कोशिकाओं और संक्रमण से लड़ने वाली एंटीबाडी को बढ़ाती है , जिससे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है.
डॉ. मदन कटारिया द्वारा लिया गया एक क्वोट – 
हसता हुआ चेहरा आपकी शान बढ़ाता है 
और हसकर किया हुआ काम आपकी पहचान बढ़ाता है. 
Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.in
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button
Hey, wait!

अगर आप भी चाहते हैं कुछ हटके वीडियो, महिलाओ पर आधारित प्रेरणादायक स्टोरी, और निष्पक्ष खबरें तो ऐसी खबरों के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करें और पाए बेकार की न्यूज़अलर्ट से छुटकारा।