हॉट टॉपिक्स

KaamKiKhabar – 30th October

देश और दुनिया की लेटेस्ट खबरें


1. 370 हटने के बाद कश्मीर में बड़े आतंकी हमले में 5 मजदूरों की हत्या

जम्मू कश्मीर के कुलगाम में मंगलवार रात अज्ञात हमलावरों ने पांच बाहरी मजदूरों हत्या कर दी और अन्य एक को घायल कर दिया। कुलगाम के काटरोसू इलाके में अज्ञात बंदूकधारियों ने बाहरी मजदूरों के एक समूह में गोलियां चलायी जिसमें छह मजदूरों को गोलियां लगी और उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने पांच मजदूरों को मृत घोषित कर दिया।

2. तमिलनाडु: 15 जिलों में भारी बारिश, कई जिलों में स्कूल-कॉलेज बंद

तमिलनाडु में बारिश का कहर जारी है. लगातार हो रही बारिश की वजह से तमिलनाडु के 6 जिलों में सभी स्कूल और कॉलेज बंद रहेंगे।  तिरुनेलवेल्ली, तूतीकोरिन, थेनी, विरुधुनगर, वेल्लोर और रामनाथपुरम में सभी स्कूल कॉलेज बंद रहेंगे। इसके साथ मौसम विभाग ने 15 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। यहां लगातार बारिश हो रही है।

3. हिंसा के साये में बंटने को तैयार, कल केंद्र शासित प्रदेश बन जाएंगे जम्मू-कश्मीर और लद्दाख

आतंकी हिंसा के साये और जबरदस्त सुरक्षा इंतजाम के बीच 31  अक्टूबर को जम्मू-कश्मीर और लद्दाख केंद्र शासित प्रदेश बन जाएंगे। छह अगस्त को संसद से पारित जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन कानून, 2019 के मुताबिक जम्मू-कश्मीर 114 सीटों की विधानसभा के साथ केंद्र शासित प्रदेश होगा। जबकि बिना विधानसभा वाला लद्दाख सीधे केंद्र से शासित होगा। देश की इतिहास में ऐसा पहली बार हो रहा है कि किसी राज्य को बांटकर दो केंद्र शासित प्रदेश का गठन किया गया है।

4. सवालों के घेरे में यूरोपियन यूनियन के 27 सांसदों का कश्मीर दौरा

यूरोपियन यूनियन के 27 सांसदों का जम्मू-कश्मीर दौरा मंगलवार को ही डल झील में सफर के साथ ही खत्म हो गया।  शुरू से ही इस दौरे को लेकर सवाल उठाए जा रहे थे। लेकिन अब यह सवालों के घेरे में घिर गया है। 27 में से चार सांसद कश्मीर गए ही नहीं।  इन सांसदों की शिकायत थी कि उन्हें हालात समझने की खुली छूट नहीं दी जा रही थी।  सवाल ये भी उठ रहा है कि इन सांसदों में ज़्यादातर दक्षिणपंथी रुझान वाले हैं। इस दौरे का इंतज़ाम किसने किया? किसने इसको पैसा दिया? इसके अलावा कश्मीर के कई नेताओं ने शिकायत की, कि उन्हें इस समूह से मिलने नहीं दिया गया।

5. सऊदी अरब में बोले मुकेश अंबानी- हां, भारत में है आर्थ‍िक सुस्ती

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने यह स्वीकार किया है कि भारतीय अर्थव्यवस्था में सुस्ती का दौर है।  हालांकि, उन्होंने इसे अस्थायी बताया है और कहा है कि सरकार ने हाल में जो कदम उठाए हैं, उनसे अगली तिमाहियों में अर्थव्यवस्था को तेजी मिलेगी। सऊदी अरब के शहर रियाद में आयोजित सालाना निवेश मंच ‘फ्यूचर इनवेस्टमेंट इनिशिएटिव’ को संबोधित करते हुए  मुकेश अंबानी ने यह बात कही।

6. केजरीवाल का एलान, विद्यार्थियों और बुजुर्गों की यात्रा भी हो सकती है मुफ्त

महिलाओं के बाद दिल्ली सरकार बुजुर्गों और विद्यार्थियों को भी बसों में मुफ्त सफर करा सकती है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का कहना है कि महिलाओं के मुफ्त सफर की योजना से मिले अनुभव के आधार पर बुजुर्गों व विद्यार्थियों को भी इसके दायरे में लाया जाएगा।

7. पाकिस्तान के मंत्री का विवादित बयान- जो देश भारत का समर्थन करेगा, मिसाइल दागेंगे

पाकिस्तान के एक मंत्री अली अमीन गंडापुर अपने बयान से विवादों में घिर गए जब उन्होंने एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि जो देश कश्मीर मसले पर भारत का सपॉर्ट करेगा, उस पर मिसाइल दागी जाएगी। कश्मीर और गिलगिट बालटिस्तान मामलों के मंत्री अली अमीन का यह विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

और पढ़े: देश और दुनिया की लेटेस्ट खबरें

8. ब्रिटेन में 12 दिसंबर को होगा आम चुनाव, सांसदों ने किया वोट

ब्रितानी संसद के निचले सदन ‘हाउस ऑफ़ कॉमन्स’ में 12 दिसंबर के चुनाव के पक्ष में 438 सांसदों ने वोट दिया और विरोध में 20 लोग है शामिल।  ब्रिटेन में अब 12 दिसंबर को चुनाव होगा और 13 दिसंबर को नतीजे भी आ जाएंगे।  इस तरह 418 वोटों के बहुमत से ब्रितानी प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के 12 दिसंबर को चुनाव कराने की योजना कामयाब हो गई। इसी के साथ ये पिछले पाँच वर्षों में ब्रिटेन का तीसरा आम चुनाव होगा।

9.  सऊदी अरब का दौर खत्म कर लौटे पीएम मोदी, आतंकवाद की चुनौती से निपटने में सहयोग का किया वादा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज तड़के सऊदी अरब का दौरा खत्म कर नई दिल्ली लौटे। पीएम मोदी का खाड़ी देश का दौरा कई मायनों में खास रहा।29  अक्टूबर  को भारत और सऊदी अरब ने तेल-गैस, रक्षा, नागर विमानन समेत विभिन्न प्रमुख क्षेत्रों में कई समझौतों पर हस्ताक्षर किए।

10. जलवायु कार्यकर्ता थनबर्ग का पर्यावरण अवॉर्ड लेने से इनकार, कहा- इसके लिए किसी पुरस्कार की जरूरत नहीं

स्वीडन की 16 वर्षीय जलवायु कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग ने मंगलवार को पर्यावरण अवॉर्ड लेने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि जलवायु आंदोलन के लिए विज्ञान को सुनने की जरूरत है न कि अवॉर्ड लेने की। युवा जलवायु कार्यकर्ता के ‘फ्राइडेज फॉर फ्यूचर’ मूवमेंट में लाखों लोग शामिल हुए थे।इसे लेकर स्टॉकहोम में नॉर्डिक काउंसिल ने उन्हें सम्मानित किया था। साथ ही  संगठन का वार्षिक पर्यावरण पुरस्कार देने की घोषणा की गई थी लेकिन पुरस्कार की घोषणा होने के बाद थनबर्ग की प्रतिनिधि ने दर्शकों से कहा कि वह पुरस्कार या 350,000 डेनिश क्रोनर (लगभग 36,83,000 रु.) की पुरस्कार राशि को स्वीकार नहीं करेंगी।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Hey, wait!

अगर आप भी चाहते हैं कुछ हटके वीडियो, महिलाओ पर आधारित प्रेरणादायक स्टोरी, और निष्पक्ष खबरें तो ऐसी खबरों के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करें और पाए बेकार की न्यूज़अलर्ट से छुटकारा।