काम की बात करोना

जानें कानपुर के सीओ और कांस्टेबल महिला वाले प्रसंग के बारे में क्या कहता है कानून

कानून विशेषज्ञ की राय से जाने पूरा मामला

कानपुर की छुट्टी और ड्यूटी की कहानी ने सबको चौंका दिया। हर कोई बस महिला कांस्टेबल और सर्कल ऑफिसर की बात कर रहा है। कहानी कुछ ऐसी है उन्नाव के सीओ अपने ही सर्कल के थाने में तैनात एक महिला कांस्टेबल के  साथ एक होटल में पाए गए और इस कहानी का भंडा फुट गया। लेकिन इस कहानी का अंत नहीं होता अगर सीओ ने अपना फोन ना ऑफ किया होता तो।

खबरों की मानें तो उन्नाव के सीओ छुट्टी लेकर घर के लिए निकले थे। लेकिन घर से पहुंचने के बजाए कानपुर के एक होटल में पहुंच गए। देर रात तक जब उनका फोन नहीं लगा और सीओ घर नहीं पहुंचे तो पत्नी ने चितिंत होकर पुलिस अधिकारियों को उनके पति के घर न पहुंचने की सूचना दे दी। साथ ही हत्या की भी आशंका जताई। बस इसके बाद ही सर्विलांस टीम ने सीओ की तलाशी शुरु कर दी जो खत्म एक होटल में जाकर हुई। जहां सीओ महिला कांस्टेबल के साथ रुके थे। इस बात की  प्रामणिकता होटल की सीसीटीवी कैमरे से होती है। जहां चेकइन के दौरान दोनों में अपने आईडी के तौर पर आधार कार्ड दिया था

और पढ़ें: मंत्रिमंडल विस्तार में महिलाओं की सूची ने रचा इतिहास, त्रिपुरा की चर्चा है सबसे ज्यादा

अब इस मामले में देखने वाली बात यह है कि कानूनी तौर पर यह सब सही है। इस बारे में हमने दिल्ली हाईकोर्ट के वकील शशांक कुमार से जब बात की तो उन्होंने बताया कि कानूनी तौर पर देखा जाए तो दोनों से वयस्क हैं और रजामंदी से एक साथ रह सकते हैं। लेकिन किसी शख्स की पत्नी को अगर इस बात से दिक्कत है तो वह तलाक ले सकती है और तलाक नहीं भी लेती है तो वह अलग रहकर जीवनयापन करने के लिए खर्चा ले सकती है।  वैसे राइट टू प्राइवेसी के तहत दो मैरिट कप्पल साथ रह सकते हैं लेकिन शादी नहीं कर सकते हैं।

शशांक बताते हैं कि कानून में कई बार नैतिकता को भी ध्यान में रखा जाता है। उन्नाव वाले केस में नैतिकता ही सबसे अहम है। यहां देखने वाली बात यह है कि अगर महिला कांस्टेबल सीओ के अधिकार क्षेत्र में काम करती है या उसकी जूनियर है तो नैतिकता के तहत सर्विस रुल का उल्लंघन है। कोई भी व्यक्ति अपने सहकर्मी के साथ इस तरह के संबंध नहीं रख सकता है। सर्विस रुल्स के अनुसार यह नैतिकता के दायरे में आते हैं।

 

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Back to top button
Hey, wait!

अगर आप भी चाहते हैं कुछ हटके वीडियो, महिलाओ पर आधारित प्रेरणादायक स्टोरी, और निष्पक्ष खबरें तो ऐसी खबरों के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करें और पाए बेकार की न्यूज़अलर्ट से छुटकारा।