क्या बिना शादी के कुंवारी लड़कियाँ रख सकती है करवाचौथ का व्रत ?

0
60
karwachauth 2019

कुंवारी लड़कियाँ का करवा चौथ का फ़ास्ट रखना सही है?


हर सुहागन के लिए करवा चौथ का व्रत बेहद ख़ास होता है क्योंकि इस दिन सभी सुहागने व्रत रख कर अपने पति की लम्बी आयु की मनोकामना करती है। इस साल करवा चौथ 17 अक्टूबर को मनाया जायेगा। इस दिन व्रत में सुबह सरगी खाई जाती है और शाम को चाँद देख कर व्रत खोला जाता है। इस बार उपवास का समय 13 घंटे 56 मिनट का है। सुबह 6:21 से रात 8:18 तक। इसलिए सरगी सुबह 6:21 से पहले ही खा लें।

क्या बिना शादी के कुंवारी लड़की रख सकती है करवाचौथ का व्रत ?

करवाचौथ का व्रत सिर्फ सुहागिन महिलाएं ही नहीं बल्कि कुंवारी लड़कियां भी रखती हैं। ज्योतिषी की माने तो कुंवारी लड़कियां भी करवाचौथ का व्रत रख सकती हैं। इससे उन्हें करवामाता का आशीर्वाद ही मिलेगा।

आज कल तो ज्यादातर कुँवारी लड़कियाँ करवाचौथ का व्रत या तो प्रेमी के लिए रखती है या फिर अपने होने वाले मंगेतर के लिए। अगर आपका अभी किसी से कोई रिश्ता नहीं बना है तो भी आप अपने भावी पति का ख्याल कर व्रत रख सकती हैं। इस व्रत को रखने के लिए जो नियम सुहागनों  के लिए बनाये गए है वही यह नियम कुंवारी लड़कियों के लिए भी रखा गया है। लेकिन एक नियम है जो कुंवारी लड़कियों के लिए अलग है अगर आप अपने प्रेमी या मंगेतर के लिए व्रत नहीं रख रहीं हैं तो निर्जल व्रत रखने की बजाय निराहार व्रत रहें।

और पढ़ें: शादी के बाद पहला करवाचौथ क्यों होता है हर लड़की के लिए खास

1. इसके अलावा कुंवारी लड़कियां करवा चौथ माता, भगवान शिव और माता गौरी की पूजा करे साथ ही उनकी कथा सुने।

2. कुंवारी लड़कीयां चाँद देख कर नहीं बल्कि तारे को देख कर अपना फ़ास्ट तोड़े।

3. कुंवारी लड़कियां बिना  छन्नी के  तारो को  जल से अर्घ्य देकर पूजा करें और व्रत खोलें।

तो यह है कुछ नियम जो हर लड़की करवा चैयत पर फॉलो कर सकती है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com