16 Years of Kal Ho Naa Ho: इस फिल्म के यह कुछ ख़ास पल और डायलॉग्स जिसे आप कभी नहीं भुला सकते

0
19
kal ho na ho dialogue

kal ho na ho dialogues: आज भी रुला देते है अमन के यह कुछ सेंटी डायलॉग्स


kal ho na ho dialogues: 2003  में आज के ही दिन हुई रिलीज़ फिल्म ‘कल हो ना हो’ ने कर लिए है अपने 16 साल पूरे और आज भी जब यह फिल्म देखते है तो ऐसा लगता है जैसे कुछ छूट गया हो। इस फिल्म का हर एक सीन यह दर्शाता  है की ख़ुशी और दुःख मानो सब एक साथ हो गए हो। लेकिन इस फिल्म के साथ कई सारी अच्छी यादें भी जुड़ी है जिसे आप कभी चाह कर भी नहीं भुला सकते। जी हाँ, इस फिल्म में शाहरुख खान, सैफ अली खान और प्रीती ज़िंट के किरदार ने फैन्स को रुलाया  ही नहीं बल्कि उनका दिल भी जीता है। इसलिए आज हम इस फिल्म की कुछ ख़ास पल और डायलॉग्स के बारे में जानेंगे जिस से अमन और नैना ने किया सभी के दिलों  पर राज

इस फिल्म से जुड़ी कुछ ख़ास यादें :

1. नैना का चश्मा : नैना का वो भोला भाला सा चेहरा और उसका चश्मा जिस पर अमन का दिल आ गया था । यह चश्मा नैना को बोरिंग दर्शाता है लेकिन असल में काफी कूल लगता है। तभी से चश्में को एक  फैशन स्टेटमेंट के तौर पर देखा गया!

2. डायरी सीन : सिर्फ शाहरुख़ , सैफ और हम ही जानते थे कि  जो भी  वो उस डायरी को देख कर बोलते थे उस डायरी में कुछ नहीं लिखा होता था!  उस खाली सफेद पन्नों से यह जरूर पता चल गया था की नैना के लिए अमन का प्यार काफी गहरा और सच्चा है।

3.फिल्म का टाइटल ट्रैक :सोनू निगम की आवाज़ और शंकर-एहसान-लॉय द्वारा गाया गया यह सॉन्ग कल हो ना हो एक आइकोनिक सॉन्ग बन गया । इस गाने के  जो लिरिक्स है वो जीवन के उदासपान को खत्म कर के ख़ुशी से जीने को दर्शाता है। वही शाहरुख़ खान का वो डायलॉग “हंसो जियो मुसकराओ, क्या पात कल हो ना हो”  जो हमेशा दिल को छू जाता है।

4. नैना और जेनिफर का बॉन्ड: नैना  और जेनिफर का बॉन्ड थोड़ा खट्टा – मीठा है यह दोनों  माँ- बेटी फिल्म  में एक दूसरे से काफी लड़ती है लेकिन मुश्किल में एक-दूसरे के साथ खड़ी  रहती है। सिर्फ एक नैना ही थी जो अपनी माँ जेनिफर के लिए एक ढाल बनकर खड़ी रहती है, जब भी उस पर उंगलियाँ उठाई जाती है और वो जेनिफर ही है जो जानती है कि उसकी मजबूत बेटी नैना कब सबसे ज्यादा कमजोर है।

और पढ़ें: The Family Man season 2: फिर वापस आ रहा है श्रीकांत, शुरू हुई आज से शूटिंग

अब बात करते है  इस फिल्म के वो सेंटी डायलॉग्स जिसे सुनकर आँखों से आँसू  नहीं रुकते:

1. आज एक हँसी और बाँट लो, आज एक दुआ और माँग लो
आज एक आँसू और पी लो, आज एक ज़िन्दगी और जी लो
आज एक सपना और देख लो , आज क्या पता की कल  हो न हो

2.  तुम्हारे पास जो भी है तुम्हारे हिसाब से कम है
लेकिन किसी दूसरे के नज़र से देखो  तो तुम्हारे पास बहुत कुछ है।

3. मैं तुम्हे ज़िन्दगी भर प्यार करूँगा और मरते दम तक प्यार करूँगा

4. प्यार तो बहुत लोग करते है लेकिन मेरे जैसा प्यार कोई नहीं कर सकता
क्योंकि किसी के पास तुम हो नहीं हो

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments