Categories
धार्मिक

भारत के वो आठ मंदिर जिसमे पुरुषों का प्रवेश है प्रतिबद्धित

भारत के कुछ खास ऐसे मंदिर जहा केवल महिलाये को ही मिलता है प्रवेश


सबरीमाला मंदिर 2018 मे काफी चर्चे मे रहा। पर आख़िरकार वहा भी महिलाओ को जाने की अनुमति दे दी गई. इस फैसले को ऐतिहासिक बताया गया। पर क्या आप जानते है भारत में कुछ मंदिर भी है जहाँ पुरषो को जाने की अनुमति नहीं है? चलिए आज जानते है की वो कौन -कौन से मंदिर है जहाँ पर पुरषो का जाना मना है

1. अट्टुकल मंदिर

अट्टुकल मंदिर जो की केरला में है यहा केवल महिलाये ही पूजा कर सकती है. यहा पुरषो को प्रवेश की अनुमति नहीं है. पोंगल के त्यौहार पर यहां 30 लाख महिलाओं ने शिरकत की थी. जिसके चलते ये मंदिर गिनीज़ वर्ल्ड बुक में भी शामिल हुआ

2. भगवती मां मंदिर

भगवती मां मंदिर जो की कन्याकुमारी में है यहा भगवती की कन्या रूप में पूजा की जाती है और यहा पुरषो को प्रवेश की अनुमति नहीं है और यहा केवल अलबत्ता संन्यासी पुरुष ही मंदिर की गेट तक जा सकते है

3. ब्रह्मा मंदिर

ब्रह्मा मंदिर जो की पुष्कर में है यह मंदिर 14 वीं शताब्दी में बना गया था इस में केवल कुंवारे पुरुष ही जा सकते है यहा शादीशुदा पुरुषों को जाने की अनुमति नहीं है लोगो का ऐसा माना था की यहा भगवान ब्रह्मा ने पुष्कर झील में अपनी पत्नी देवी सरस्वती के साथ एक यज्ञ किया था. लेकिन सरस्वती किसी बात के लिए नाराज हो गईं. तब उन्होंने मंदिर को शाप दिया था की किसी भी शादीशुदा पुरुषों को मंदिर के आंतरिक परकोटे तक जाने की अनुमती नहीं होगी अगर कोई शादीशुदा पुरुषों अंदर जाता है तो उसके वैवाहिक जीवन समस्या आयेगी.

4. संतोषी मां मंदिर

जैसा की सभी लोग जानते है की शुक्रवार को महिलाएं और कुंवारी लड़कियां संतोषी मां का व्रत रखती है और व्रत की दौरान उन्हे खट्टी चीजे खाने की अनुमती नहीं होती. पुरुष भले ही संतोषी मां की पूजा करते होंगे लेकिन शुक्रवार को उनका संतोषी मां की मंदिर में जाना वर्जित होता है.

Read more:  महिलाओं को सबरीमाला मंदिर प्रवेश कराके थाइलैंड नहीं बनाना है

5. कामरूप कामाख्या मंदिर

जो की असम में है यह महिलाओं को मासिक धर्म चक्र के दौरान परिसर में प्रवेशकी अनुमति देता है.यहा केवल महिलाएं और संन्यासी ही सेवा कर सकते है.यहा मां सती के मासिक धर्म कोबहुत शुभ माना जाता है

6. छक्कूलाथुकावु मंदिर

छक्कूलाथुकावु मंदिर जो की केरला में है जिसमे महिलाओं की पूजा होती है.यह मांभगवती का मंदिर है यहां के पुरुष दिसंबर के महीने में महिलाओ के लिए दस दिन  का उपवास रखते हैं और पहले शुक्रवार को महिला श्रद्धालुओं के पैर धोते है इस  दिन को धनु की नाम से जाना जाता है और इन दिनों पुरषो का वहा जाना वर्ज़ित है

7. माता मंदिर मुजफ्फरपुर

माता मंदिर मुजफ्फरपुर, जो की बिहार में है यहां एक तय समय में पुरषो को यहा परिसरमें प्रवेश की  अनुमति नहीं होती.इसके क़ानून इतने कड़े होते है की इस समय मंदिर की पंडितों को भी प्रवेश की अनुमती नहीं होती इस समय केवल  महिलाएंही यह प्रवेश कर सकती है

8. त्र्यंबकेश्वर मंदिर

त्र्यंबकेश्वर मंदिर,नासिक का एक ऐसा मंदिर है जहा एक सीमा की बाद महिलाओ को जानेकी अनुमती नहीं थी उससे आगे केवल पुरुष जा सकते थे लेकिन जब ये बाम्बे हाईकोर्ट में पहुंचा तो पुरुषों के भीआंतरिक परकोटे में जाने पर पाबंदी लगा दिया गया.
Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.in

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments