पॉलिटिक्स

भारत को विकास इंजन की जरूरत : अरुण जेटली

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए उपलब्ध हर अवसर का लाभ उठाने का विश्वास दिलाते हुए आज कहा की ‘देश को कुछ अतिरिक्त वृद्धि के इंजनों की जरूरत है और अब हमारा ध्यान निजी निवेश की गति में सुधार लाने पर है।’ विदेशी निवेशकों को बुनियादी ढांचा क्षेत्र में निवेश के लिए आमंत्रित करते हुए। जेटली ने यह विश्वास दिलाया की, वस्तु और सेवा कर (जीएसटी) जैसे सुधार जल्द पारित हो जायेंगे। उन्होंने कहा की ‘शोरशराबे के लोकतंत्र’ के बावजूद भारत में वास्तव में कोई भी सुधार प्रस्ताव इस तरीके से नहीं अटका है।’

Arun-Jaitley

जेटली उद्योग मंडल सीआईआई तथा सलाहकार कंपनी बीसीजी द्वारा विश्व आर्थिक मंच (wef) की साल में होने वाली बैठक के दौरान नाश्ते पर आयोजित ‘भारत-दुनिया की वृद्धि का अगला इंजन’ पर आयोजित सत्र के दौरान अलग से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा, ‘हमारा शोरशराबे वाला लोकतंत्र है। लेकिन मैंने पाया है कि अब अधिक से अधिक लोग ऐसे हैं, जो वृद्धि का समर्थन करते हैं, जिसके मुकाबले दूसरों की संख्या काफी कम है’।

वित्त मंत्री ने यह भी कहा कि ‘किसी भी अर्थव्यवस्था को वृद्धि के कई इंजनों की जरूरत होती है।’ वित्त मंत्री ने कहा, ‘पूर्व में हमारे पास ऐसे इंजनों की संख्या काफी कम थी।’

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Back to top button