India Against Abuse रेप की धमकी से लेकर विचार न मिले पर गालियों तक: क्यों बन गई हैं ये आम बात?

0
368
india against abuse

यूट्यूब पर सरेआम दी जाती है गालियां


टेक्नोलॉजी ने लड़ाईयां, बुलिंग, धमकियों को भी अलग रुप  दे दिया है। अब आमने-सामने नहीं ब्लकि सोशल साइट पर यह सारी चीजें होती है। लोगों के विचारों से असहमत होकर उनके साथ गाली गलौज आजकल आम बात है. जिससे कई लोग जूझ रहे हैं। बुलिंग और धमकियों से बचने के लिए कई लोग सोशल साइट पर खुलकर अपने विचारों को नहीं रखते। आज के दौर में यह एक आम नागरिक के लिए मुसीबत बनती जा रही है।

अहम बिंदु

–    सोशल साइड पर बढ़ती बुलिंग

–    एक्टर्स की अपील

–    सब्सक्राइबर में कमी

–    आईटी एक्ट

india against abuse

कोरोना के इस दौर में जब ज्यादातर लोग अपने घरों में फ्री हैं। सभी सोशल साइट का खूब प्रयोग कर रहे हैं. इसी दौरान 19 जुलाई को कॉमोडियन अग्रिमा जोशुआ का एक वीडियो खूब वायरल हुआ। जिसमें उसने मुंबई मे बन रहे छत्रपति शिवाजी जी महाराज की मूर्ति पर टिप्पणी करी थी। यह वीडियो एक साल पुराना था। लेकिन लोग फ्री है तो खुदाई के दौरान किसी ने खाई से बाहर निकाल लिया। जिसके बाद शुरु हुआ असली खेल। सोशल मीडिया का पूरा गैंग आ गए अग्रिमा को सबक सीखाने के लिए. जिसमें अग्रिम पंक्ति मे यूट्यूबर शुभम मिश्रा थे। जिसने दमभर गालियां और रेप तक की धमकियां दी। इसके बाद दो चार और मराठी भाषी भी और ट्यूबर हिंदुस्तानी भाऊ ने कमान संभाली। जो कानून को धत्ता बोलते हुए सरेआम लड़की को धमकियां दे रहे थे। ऐसा पहले बार नहीं हुआ है जब किसी के साथ ऐसी साइबर बुलिंग हो रही है। लेकिन हर बार लोग इसे इग्नोर करके आगे बढ़ जाते थे। लेकिन इस बार महिलाएं ने इसके खिलाफ आवाज उठाई और बॉलीवुड अभिनेत्रियों द्वारा एक पिटीशन साइन किया है। इसके साथ ही #indiaAgainstAbuse भी ट्रेंड किया। जिसमें आम लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया दी।

इस मुहिम को सबसे पहले अभिनेत्रियों ने शुरु किया। जिसमें बॉलीवुड से लेकर टीवी एक्टर और यूटयूबर भी शामिल हो गई। ट्विटर पर सबने अपनी आपनी राय रखी। सबका का कहना था कि इन सबके खिलाफ कड़े से कड़े कदम उठाए जाएं।

और पढ़ें: लॉकडाउन और बेरोजगारी: कोरोना काल में हुए कई सपने खाक

कुछ अभिनेत्रियों के ट्वीट

स्वास्तिक मुखर्जी – अभी हाल ही में दिल बेचारा फिल्म में किजी की मां का रोल करने वाली स्वास्तिक का कहना है कि हमसे से ज्यादातर लोगों को रोज किसी न किसी तरह से हरैस किया जाता है। अब समय है कि हम इन सबके खिलाफ अपनी आवाज को बुलंद करें। आइए सब मिलकर इस वायरस के खिलाफ एकजुट हो।

स्वरा भास्कर -स्वरा ने ट्वीट करते हुए लिखा मैंने पिटीशन को साइन कर दिया है। लड़कियों तुम भी आगे आओ।

संध्या मृदुल-संध्या ने ट्विटर पर एक वीडियो अपलोड करते हुए कहा कि कई बार अगर आपकी बहन को राह चलते कोई गाली देता है तो आपको दर्द होता है वैसा ही दर्द हमें भी होता है। इसलिए गालियां देना बंद करें. एक डिवेट को डिवेट ही रहने दे। हम गाली नहीं सुनेगे। हम गाली डिर्जव नहीं करते हैं।

दीया मिर्जा-एक्टर ने कड़े शब्द कहा बस करो अब बहुत हो गया।अब हम महिलाओं पर हो रहे प्रतिदिन ऑनलाइन हरैसमेंट का अंत करना चाहते हैं। मेरे साथ #indiaAgainstAbuse का हिस्सा  बने।

सोनम के आहूजा- अब बहुत हुआ जो ऑनलाइन प्रतिदिन महिलाओं पर हो रही प्रताड़ना को खत्म किया जाएं।

ऐसा पहली बार नहीं हुआ जब किसी सोशल मीडिया पर ऐसा हरैस किया जा रहा है. और ऐसा भी नहीं है यह सिर्फ एक्टर, एक्टर्स या कॉमेडियन के साथ ही हो रहा है। इसमें कई आम लोग भी शामिल है. जिसे लोग बुरी तरह से हरैस करते हैं।

india against abuse

केदारनाथ पर बात करने वाली लड़की तो याद होगी आपको। रिवा मावी, जिसने केदारनाथ की स्थिति का वीडिया बनाया था। उसके बाद क्या, लोगों का बड़ा झुंड रिवा को सबक सीखाने के लिए लाइन में आ गया। जो सारेआम उसे रेप और जान से मारने तक की धमकी दे रहा था। इस घटना ने मॉडल और यूट्यबूर को पूरी तरह से मानसिक तनाव में ला दिया था। अभी दो दिन पहले तमिल अदाकारा विजयलक्ष्मी ने साइबर बुलिंग से परेशान हो कर सुसाइड करने की कोशिश की। लेकिन वह बच गई। विजयलक्ष्मी ने सुसाइड करने से पहले सोशल साइड पर एक वीडियो अपलोड किया जिसमें उन्होंने सीमा और उसके कुछ साथियों द्वारा बुलिंग किए जाने का जिक्र किया।

आम जिदंगी में भी हजारों लोग से रोज ऐसी बुलिंग का शिकार होते हैं. कुछ लोग हिम्मत वाले होते है वो इन सबपर ज्यादा गौर नहीं करते. लेकिन कुछ लोग ये सारी चीजें बर्दाश्त नहीं कर पाते हैं और ऐसे लोग या तो सोशल साइड से ही दूर हो जाते है या फिर अपने विचारों को ही व्यक्त करना छोड़ देते हैं। वेबसाइड स्क्रॉल.इन की एक खबर के मुताबिक पिछले एक साल में महिलाओं और किशोर पर साइबर बुलिंग में 36 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है।

लगातार बढ़ते ऑनलाइन प्लेटफॉर्म ने लोगों को अपनी प्रतिभा को बढ़ाने का मौका तो दिया है। लेकिन उनकी सुरक्षा कोई ग्रैन्टी नहीं है. जिसके कारण आराम से कोई भी किसी को कुछ भी कह कर निकल जा रहा है। कुछ यूट्यूबर ऐसे है जो सरेआम गाली गलौज कर रहे हैं। लेकिन उन्हें रोकने वाला कोई नहीं है। हिंदुस्तानी भाऊ के नाम से मशहूर यूट्यूबर को 42.1k लोगों ने सब्सक्राइबर कर रखा है। यह शख्स सारेआम लोगों को गालियों देता है। और इसके सब्सक्राइबर की संख्या देखिए। अब जब ऐसे लोग को एक बड़ा तबका फॉलो करता है तो आप खुद ही अंदाज लगाए कि हालात कैसे हैं। ये तो एक यूट्यूबर की कहानी है ऐसे और भी कितने हैं। शुभम मिश्रा जिसकी हरकत के कारण यह अभियान चलाना पड़ा उसने अपना अकांउट डिलीट कर दिया है। पहले उसके भी हजारों में सब्सक्राइबर थे। जरुरी है ऐसे लोगों का सामूहिक तौर पर बहिष्कार किया जाए।

साइबर बुलिंग के लिए कानून

साइबर बुलिंग के लिए कानून आईटी एक्ट 2000 के धारा 67 में दिया गया है।

– धारा 67 के अनुसार अगर कोई व्यक्ति किसी इलेक्ट्रॉनिक माध्यम द्वारा कोई आपत्तिजनक चीज के प्रकाशित करता है तो उसको दंडित किया जाएगा।

– आईपीसी की धारा 507 के अनुसार, जो भी कोई अनाम संसूचना द्वारा या उस व्यक्ति का, जिसने धमकी दी हो, नाम या निवास-स्थान छिपाने का पूर्वोपाय करके आपराधिक अभित्रास का अपराध करेगा तो उसे दो साल की सजा दी जाएंगी।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com